इंदौर : दो हिन्दू लड़कियों को अगवा करके जबरन धर्म परिवर्तन करने के प्रयास में गिरफ्तार हुए सोहैल खान और हसन खान।

0
720

लव जिहाद को लेकर जहां सख्त कानून बन रहे है इसके बावजूद जिहादी लोग अपनी हरकतों से बाज  नही आ रहे है ।

इसी में अब जबरदस्ती करके  हिंदू लड़कियों के धर्म परिवर्तन का मामला सामने आया है ।

घटना देश के स्वच्छ शहर इंदौर की है जहां दो लड़कियों पर जबरदस्ती धर्म परिवर्तन करने का दवाब डाला गया था।

घटना शनिवार 27 फरवरी की है,जब आरोपी सोहैल खान और हसन खान ने अपना जन्मदिन मनाने के लिए दो लड़कियो को बुलाया था ।

दोनो लड़कियां उनके साथ पढ़ती है,इसलिए उनकी दोस्ती थी इन आरोपियों से , आरोपियों ने उनको पहले कैफे ले जाने का कहा था ।
फिर आरोपियों ने उनको अपनी कार में बिठाकर शहर से बाहर ले जानें लगे और रास्ते में उनके साथ छेड़खानी करने लगे जब लड़कियो ने उनसे वापस इंदौर चलने को कहा तो आरोपियों उन्होंने ने उन्हे  अपना धर्म परिवर्तन करने के लिए दवाब डाला।

लड़कियों ने जब चीखना चिल्लाना शुरू किया तब लोगों ने गाड़ी रुकवाकर आरोपियों की पिटाई की और उनको पुलिस के हवाले कर दिया।
मंडलेश्वर पुलिस ने आरोपियों को पकड़ कर इंदौर पुलिस के हवाले कर दिया।

आरोपियों के खिलाफ धार्मिक स्वातंत्र्य अधिनियम विधेयक 2020 सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज किया है।

अब बात यह देखने वाली है कि जब इतने लव जिहाद के मामले आ रहे है और इतने सूचना के माध्यम से लोगो द्वारा बताया जा रहा है जिहादी मानसिकता के बारे में तो भी इन लड़कियों को अक्ल नहीं आई।

इन लड़कियों को यही लगा होगा कि मेरा दोस्त है वो ऐसा नहीं है,मेरा ख्याल रखता है ,मुझे इन हिन्दू मुस्लिम की गंदी राजनीति में नहीं पड़ना वगेरह वगेरह।

यह एक कड़वा सच है आज के हिंदू समाज का कि लड़कियां खुद को बहुत आधुनिक बताने की कोशिश करती है,लेकिन वास्तविक सच से अनजान हैं ।

लडकी के परिवार के लोगों को भी यह दिखा नही की उनकी दोस्ती किस तरह के लोगो से है,अब आप बोलेंगे कि परिवार के लोगों को भला क्या पता होगा कि ऐसा कुछ हो जाएगा ?

लेकिन अगर परिवार के लोग अपनी बेटियो को बताते इस बारे में तो ऐसा कुछ नहीं हो पाता,और यह बात केवल इस परिवार पर नहीं बल्कि सभी हिंदू परिवारों पर लागू होती है।

अब देखिए इन जिहादियों की हरकत के बारे में जिहादी लडको ने एक बार भी नहीं सोचा कि उनकी इस हरकत से क्या अंजाम होगा मतलब उनको कानून का कोई डर नही है ना इनको किसी भी परिणाम की चिंता है।

उनको सिर्फ अपने जिहादी एजेंडे को फैलाना है,उनकी एक ही सोच है और वो यह है कि उनको किसी भी तरह से गज़वा ए हिन्द को बढ़ाना है।

लेख के माध्यम से हमारी यही कोशिश है कि ज्यादा से ज्यादा मात्रा में लोग जागरूक बने और अपनी बहन , बेटियों, माताओं की बताए कि क्या है आज की सच्चाई ।

वो तो लड़कियों ने समय पर मदद के लिए चिल्लाना शुरू कर दिया था नहीं तो ये जिहादी उनके साथ क्या गलत नही कर देते,यह सोच कर ही आत्म कांप उठती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here