12.1 C
New Delhi

सोमवती अमावस्यायां ज्येष्ठा नक्षत्रे अनुभूष्यते वर्षस्य अंतिम सूर्यग्रहणम्,इति राशेभ्यः पीड़ाम् ! सोमवती अमावस्‍या पर ज्‍येष्‍ठा नक्षत्र में लगेगा साल का अंत‍िम सूर्यग्रहण,इन राश‍ियों के लिए परेशानी !

Date:

Share post:

फोटो साभार सोलर एक्लिप्स 2020

समस्त निर्णय हिन्दू पंचांग के अनुसार !

इति वर्षस्य अंतिम सूर्यग्रहणं १४ दिसंबर इतम् सायंकालम् ७ वादनित्वा ५ पलात् प्रारंभ भविष्यति १५ दिसंबर इत्यस्य रात्रि १२ वादनित्वा २१ पले समाप्तम् भविष्यति वा ! इयम् ग्रहण वृश्चिक राशि ज्येष्ठा नक्षत्रे वा अनुभूष्यति ! इयम् ग्रहण पूर्ण मार्तंड ग्रहणमस्ति !

इस वर्ष का अंतिम सूर्य ग्रहण 14 दिसम्बर को सायंकाल 07 बजकर 05 मिनट से प्रारंभ होगा व 15 दिसम्बर की रात्रि 12 बजकर 21 मिनट पर समाप्त होगा। यह ग्रहण वृश्चिक राशि व ज्येष्ठा नक्षत्र पर लगेगा। यह ग्रहण पूर्ण सूर्य ग्रहण है।

इयम् दक्षिण अमेरिकायाः,दक्षिण अफ्रीकायाः, अटलांटिक,हिन्द महासागर प्रशांत महासागरस्य केचन स्थानेषु दृष्यमस्ति ! इयम् ग्रहण भारते दृश्यम् नास्ति ! भारते दृश्यम् न भवस्य कारणम् अत्रे सूतिका मान्य न भविष्यति तु प्रत्येक राशिनि प्रभावितं भविष्यति !

यह साउथ अमेरिका,साउथ अफ्रीका, अटलांटिक, हिन्द महासागर व प्रशांत महासागर के कुछ जगहों पर दृश्य है। यह ग्रहण भारत में दृश्य नहीं है। भारत में दृश्य न होने के कारण यहां पर सूतक मान्य नहीं होगा लेकिन प्रत्येक राशियां प्रभावित होंगी।

मेष:-स्वास्थस्य प्रति सचेतमरहत् ! धनस्य अकारणम् व्ययम् भवशक्नोति !

मेष-स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें ! धन का अनायास व्यय हो सकता है !

वृष:-धनस्य व्ययम् भवशक्नोति ! मानसिक रूपे पीड़ाम् भवशक्नोति !

वृष-धन का व्यय हो सकता है ! मानसिक तौर पर परेशान हो सकता है !

मिथुन:-स्वास्थ्यम् गृहित्वा धनस्य व्ययम् भव शक्नोति ! दासम् गृहित्वा कलहस्य सम्भावनाम् अस्ति !

मिथुन-स्वास्थ्य को लेकर धन का व्यय हो सकता है ! जॉब को लेकर तनाव की सम्भावना है !

कर्क:-कश्चितापि प्रकारस्य विवादेण परिवर्जयते ! अवरुद्धम् धनम् प्राप्तशक्नोति ! पारिवारिक कलहस्य सम्भावनाम् भविष्यति !

कर्क-किसी भी प्रकार के विवाद से बचें। रुका धन मिल सकता है ! पारिवारिक तनाव की संभावना रहेगी !

सिंह:-उच्चाधिकारिभिः कलहस्य सम्भावनाम् भविष्यति ! धनस्य व्यय स्वास्थ्य कारणेषु भव शक्नोति !

सिंह-उच्चाधिकारियों से तनाव की संभावना रहेगी ! धन का व्यय स्वास्थ्य कारणों पर हो सकता है !

कन्या:-मध्यम प्रभावम् भविष्यति ! धनस्य व्ययम् भविष्यति ! कश्चित धार्मिक अनुष्ठानस्य सम्भावनाम् भविष्यति !

कन्या-मध्यम प्रभाव रहेगा ! धन का व्यय होगा। किसी धार्मिक अनुष्ठान की सम्भावना रहेगी !

तुला:-विपणने आंशिक क्षतिस्य सम्भावनाम् भविष्यति ! कश्चित मित्रेण वैचारिक मतभेदम् भवशक्नोति !


तुला-व्यवसाय में आंशिक नुकसान की संभावना रहेगी ! किसी मित्र से वैचारिक मतभेद हो सकता है !

वृश्चिक:-धनक्षतिम् ! दासम् विपणनं वा गृहित्वा कश्चित अवरोधम् आगमशक्नोति ! कश्चित संबन्धे कलहस्य सम्भावनाम् भविष्यति !

वृश्चिक-धन हानि ! जॉब व व्यवसाय को लेकर कोई बाधा आ सकती है ! किसी रिश्ते में तनाव की संभावना रहेगी !

धनु:-दासम् विपणने वा कश्चित निर्णयं गृहित्वा द्विविधम् भविष्यति ! धनस्य अकारणं व्ययम् पीड़ाम् कृतशक्नोति !

धनु-जॉब व व्यवसाय में किसी निर्णय को लेकर कंफ्यूज रहेंगे ! धन का अनायास व्यय परेशान कर सकता है !

मकर:-स्वास्थ्यम् गृहित्वा सचेतमरहत् ! दासे पीड़ाम् आगमशक्नोति !

मकर-स्वास्थ्य को लेकर सचेत रहें ! जॉब में परेशानी आ सकती है !

कुंभ:-कश्चितापि कलहे मागत: ! पारिवारिक कलहस्य सम्भावनाम् भविष्यति !

कुंभ-किसी भी विवाद में मत पड़ें ! पारिवारिक तनाव की सम्भावना रहेगी !

मीन:-कश्चित अएच्छिक भयेन पीड़ाम् भव शक्नोति ! आमस्य कारणं मानासिकं पीड़ाम् धनस्य वा व्ययम् भवशक्नोति !

मीन-किसी अनचाहे भय से परेशान रह सकते हैं ! रोग के कारण मानसिक परेशानी व धन का व्यय हो सकता है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

[tds_leads input_placeholder="Email address" btn_horiz_align="content-horiz-center" pp_checkbox="yes" pp_msg="SSd2ZSUyMHJlYWQlMjBhbmQlMjBhY2NlcHQlMjB0aGUlMjAlM0NhJTIwaHJlZiUzRCUyMiUyMyUyMiUzRVByaXZhY3klMjBQb2xpY3klM0MlMkZhJTNFLg==" msg_composer="success" display="column" gap="10" input_padd="eyJhbGwiOiIxNXB4IDEwcHgiLCJsYW5kc2NhcGUiOiIxMnB4IDhweCIsInBvcnRyYWl0IjoiMTBweCA2cHgifQ==" input_border="1" btn_text="I want in" btn_tdicon="tdc-font-tdmp tdc-font-tdmp-arrow-right" btn_icon_size="eyJhbGwiOiIxOSIsImxhbmRzY2FwZSI6IjE3IiwicG9ydHJhaXQiOiIxNSJ9" btn_icon_space="eyJhbGwiOiI1IiwicG9ydHJhaXQiOiIzIn0=" btn_radius="0" input_radius="0" f_msg_font_family="521" f_msg_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsInBvcnRyYWl0IjoiMTIifQ==" f_msg_font_weight="400" f_msg_font_line_height="1.4" f_input_font_family="521" f_input_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEzIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMiJ9" f_input_font_line_height="1.2" f_btn_font_family="521" f_input_font_weight="500" f_btn_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEyIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMSJ9" f_btn_font_line_height="1.2" f_btn_font_weight="600" f_pp_font_family="521" f_pp_font_size="eyJhbGwiOiIxMiIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEyIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMSJ9" f_pp_font_line_height="1.2" pp_check_color="#000000" pp_check_color_a="#309b65" pp_check_color_a_h="#4cb577" f_btn_font_transform="uppercase" tdc_css="eyJhbGwiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjQwIiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJsYW5kc2NhcGUiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjMwIiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJsYW5kc2NhcGVfbWF4X3dpZHRoIjoxMTQwLCJsYW5kc2NhcGVfbWluX3dpZHRoIjoxMDE5LCJwb3J0cmFpdCI6eyJtYXJnaW4tYm90dG9tIjoiMjUiLCJkaXNwbGF5IjoiIn0sInBvcnRyYWl0X21heF93aWR0aCI6MTAxOCwicG9ydHJhaXRfbWluX3dpZHRoIjo3Njh9" msg_succ_radius="0" btn_bg="#309b65" btn_bg_h="#4cb577" title_space="eyJwb3J0cmFpdCI6IjEyIiwibGFuZHNjYXBlIjoiMTQiLCJhbGwiOiIwIn0=" msg_space="eyJsYW5kc2NhcGUiOiIwIDAgMTJweCJ9" btn_padd="eyJsYW5kc2NhcGUiOiIxMiIsInBvcnRyYWl0IjoiMTBweCJ9" msg_padd="eyJwb3J0cmFpdCI6IjZweCAxMHB4In0=" msg_err_radius="0" f_btn_font_spacing="1"]
spot_img

Related articles

रामचरितमानसस्यानादर:, रिक्तं रमवान् सपायाः हस्तम् ! रामचरितमानस का अपमान, खाली रह गए सपा के हाथ ?

उत्तर प्रदेशे वर्तमानेव भवत् विधान परिषद निर्वाचनस्य परिणाम: आगतवान् ! पूर्ण ५ आसनेभ्यः निर्वाचनमभवन् स्म् ! यत्र ४...

चीन एक ‘अलग-थलग’ और ‘मित्रविहीन’ भारत चाहता है

एक अमेरिकी रिपोर्ट के अनुसार, "पाकिस्तान के बजाय अब चीन, भारतीय परमाणु रणनीति के केंद्र में है।" चीन भी समझता है कि परमाणु संपन्न भारत 1962 की पराजित मानसिकता से मीलों बाहर निकल चुका है।

हमारी न्याय व्यवस्था पर बीबीसी का प्रहार

बीबीसी ने अपनी प्रस्तुति में भारत के तथाकथित सेकुलरवादियों, जिहादियों और इंजीलवादियों के उन्हीं मिथ्या प्रचारों को दोहराया है, जिसे भारतीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) ने न केवल वर्ष 2012 में सिरे से निरस्त कर दिया

मध्यप्रदेशे इस्लामनगरम् ३०८ वर्षाणि अनंतरम् पुनः कथिष्यते जगदीशपुरम् ! मध्यप्रदेश में इस्लाम नगर 308 साल बाद फिर से कहलाएगा जगदीशपुर !

मध्यप्रदेशस्य भोपालतः १४ महानल्वम् अंतरे एकं ग्रामम् इस्लामनगरमधुना जगदीशपुर नाम्ना ज्ञाष्यते ! केंद्र सर्वकार: ग्रामस्य नाम परिवर्तनस्याज्ञा दत्तवान्...