ईदगाहे गणेश पूजनम् दर्श वयं अभवम पीड़िता:, पुनः कदापि इदृशं नासि, अंजुमन-ए-इस्लाम दत्तवान न्यायालय गमनस्य भर्त्सकः, बदितं ९९९ वर्षाणि एव भूमि अस्माकं ! ईदगाह में गणेश पूजा देख हम हो गए परेशान, दोबारा कभी ऐसा न हो, अंजुमन-ए-इस्लाम ने दी कोर्ट जाने की धमकी, बोला 999 साल तक जमीन हमारी !

0
57

इस्लामी समूहम् अंजुमन-ए-इस्लाम कथनमस्ति तत कर्नाटकस्य हुबल्या: जनपदस्य ईदगाह क्षेत्रे गणेश चतुर्थी उत्सवस्याज्ञादत्तुं हुबली-धारवाड़ नगर निगमस्यायुक्तस्य विरुद्धम् कर्नाटकोच्च न्यायालये अवमाननायाः प्रकरणम् पंजिकरिष्यति !

इस्लामी समूह अंजुमन-ए-इस्लाम कहना है कि वह कर्नाटक के हुबली जिले के ईदगाह मैदान में गणेश चतुर्थी उत्सव की अनुमति देने के लिए हुबली-धारवाड़ नगर निगम के आयुक्त के खिलाफ कर्नाटक उच्च न्यायालय में अवमानना ​​का मामला दर्ज करेगा !

संस्था इदम् वार्ता तदा कथितं, यदा कर्नाटक उच्च न्यायालयं उत्सवस्याज्ञा स्वयं दत्तं आसीत् ! अंजुमन-ए-इस्लामस्य उपाध्यक्ष: अल्ताफ नवाज: कथित: तत मुस्लिम समुहम् हुबली-धारवाड़ नगर निगमायुक्तम् अवमाननायै न्यायालये नेष्यते !

संस्था ने यह बात तब कही, जब कर्नाटक हाईकोर्ट ने उत्सव की अनुमति खुद दी थी ! अंजुमन-ए-इस्लाम के उपाध्यक्ष अल्ताफ नवाज ने कहा कि मुस्लिम समूह हुबली-धारवाड़ नगर निगम आयुक्त को अवमानना ​​के लिए अदालत में ले जाएगा !

सः कथित: वयं ईदगाह क्षेत्रे द्वितीय समुदायस्य धार्मिक गतिविधिषु अवरोधनस्य निर्देशम् दत्तुं उच्च न्यायालयस्य गमिष्यामः ! सर्वोच्च न्यायायळं अस्माकं संगठनम् ९९९ वर्षाणां लीज इत्याय ईदगाह क्षेत्रम् दत्तवान !

उन्होंने कहा हम ईदगाह मैदान में दूसरे समुदाय की धार्मिक गतिविधियों पर रोक लगाने का निर्देश देने के लिए उच्च न्यायालय का रुख करेंगे ! सुप्रीम कोर्ट ने हमारे संगठन को 999 साल की लीज के लिए ईदगाह मैदान दिया है !

अल्ताफ नवाज: कथित: धार्मिक उद्देश्येभ्यः इति भूम्या: प्रयुज्य यदि कश्चित द्वितीय समुदायं करोति तर्हि तत न्यायालयस्यावमानना भविष्यति ! वयं अन्य समुदायानां उत्सवस्य विरुद्धम् नास्ति, तु ईदगाह क्षेत्रे त्रय दिवसीय गणेशोत्सवं अस्माभिः वास्तवे पीड़ितं कृतवन्तः !

अल्ताफ नवाज ने कहा धार्मिक उद्देश्यों के लिए इस जमीन का उपयोग अगर कोई दूसरा समुदाय करता है तो वह अदालत की अवमानना ​​​​होगी ! हम अन्य धार्मिक समुदायों के उत्सव के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन ईदगाह मैदान में तीन दिवसीय गणेश उत्सव ने हमें वास्तव में परेशान कर दिया है !

हुबल्या: ईदगाह क्षेत्रे हिन्दुभिः गणेश प्रतिमायाः स्थापना ३१ अगस्तं कर्नाटकोच्च न्यायालयेण आज्ञा ळब्धस्यानंतरम् कृतवान स्म ! तस्यानंतरम् ईदगाह क्षेत्रे गणेश चतुर्थ्या: उत्सवम् मानितं आसीत् !

हुबली के ईदगाह मैदान में हिंदुओं द्वारा गणेश प्रतिमा की स्थापना 31 अगस्त को कर्नाटक उच्च न्यायालय द्वारा अनुमति मिलने के बाद की गई थी ! उसके बाद ईदगाह मैदान में गणेश चतुर्थी का उत्सव मनाया गया था !

यस्य पूर्वम् याचिकायां अंजुमन-ए-इस्लामं धारवाड़ नगर निगमेण गणेश पूजनाय भूम्या: प्रयुजस्य आज्ञायाः विरुद्धम् तर्कम् दत्तवान स्म ! यद्यपि न्यायालयं इति तर्कम् निरस्तं कृतवान स्म ! यस्मिन् कथितमासीत् ततेदम् नगर निगमस्य भूमिमस्ति मुस्लिम: च् द्वितीय समुदायान् यस्य प्रयुज्येन न कर्तुं न शक्नुताः !

इसके पहले याचिका में अंजुमन-ए-इस्लाम ने धारवाड़ नगर निगम द्वारा गणेश पूजा के लिए साइट के उपयोग की मंजूरी के खिलाफ तर्क दिया था ! हालाँकि, अदालत ने इस तर्क को खारिज कर दिया था ! इसमें कहा गया था कि यह नगर निगम की जमीन है और मुस्लिम दूसरे समुदायों को इसके इस्तेमाल से मना नहीं कर सकते !

कुत्रचित् तेन वर्षे द्वयदा तत्र पूजन कृतस्याज्ञासीत् ! ज्ञापयतु तत कर्नाटकस्य हुबली जनपदस्य ईदगाह क्षेत्रे त्रयदिवसीय गणेशोत्सवस्य समापनं शुक्रवासरं अभवत् ! समापनस्य दिवसं मूर्तिम् सदाशिव नगरे निश्चित स्थाने विसर्जितं कृतवान !

क्योंकि उन्हें साल में दो बार वहाँ पूजा करने की अनुमति थी ! बता दें कि कर्नाटक के हुबली जिले के ईदगाह मैदान में तीन दिवसीय गणेश उत्सव का समापन शुक्रवार को हुआ ! समापन के दिन मूर्ति को सदाशिव नगर में तय स्थान पर विसर्जित कर दिया गया !

समापन यात्रायाः आयोजनम् रानी चेन्नमा क्षेत्रम् गजाननोत्सव महमण्डल्या कृतवान स्म ! आयोजका: यात्राया पूर्वम् एकं महामंगलार्थी (अनुष्ठानम्) आयोजितं गणेशस्य मूर्तिम् च् अलंकृतुं उपयोगकर्ता: आभूषणानां वस्त्राणां च् विक्रिम् कृतवान ! तस्यानंतरम् देवम् सदाशिव नगरे निर्मितं एके कृत्रिम तडागे विसर्जितं कृतवान !

समापन जुलूस का आयोजन रानी चेन्नम्मा मैदान गजानन उत्सव महामंडली द्वारा किया गया था ! आयोजकों ने जुलूस से पहले एक महामंगलार्थी (अनुष्ठान) आयोजित किया और गणेश की मूर्ति को अलंकृत करने के लिए उपयोग किए जाने वाले आभूषणों और कपड़ों की नीलामी की ! उसके बाद देवता को सदाशिव नगर में बने एक कृत्रिम तालाब में विसर्जित कर दिया गया !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here