21.8 C
New Delhi

हरक सिंह रावतम् भाजपातः किं निःसृत: ? सीएम पुष्कर सिंह धामी ज्ञापित: कारणम् ! हरक सिंह रावत को भाजपा से क्यों निकाला गया ? सीएम पुष्कर सिंह धामी ने बताई वजह !

Date:

Share post:

फोटो हरक सिंह रावत

आसन्न विधानसभा निर्वाचनेण पूर्वम् कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावतं भारतीय जनता दलतः निष्कासितं कृतस्यानंतरम् सोमवासरमुत्तराखंडस्य मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी दृढ़कथनम् कृतः तत सः स्वस्मै कुटुंबाय च् निर्वाचनपत्रस्य भारम् भारयति स्म !

आसन्न विधानसभा चुनाव से पहले कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत को भारतीय जनता पार्टी से निष्कासित किए जाने के बाद सोमवार को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दावा किया कि वह अपने और परिवार के लिए टिकट का दबाव बना रहे थे !

धामिण: अनुसारम् दळम् निश्चितं ततैकेन कुटुंबेण एकं जनमेव निर्वाचनपत्रम् दाष्यते ! प्रदेश भाजपा अध्यक्ष: मदन कौशिकेण सह नव इंदप्रस्थात् पुनः आगमनस्यानंतरम् देहरादूने वार्ताकारै: वार्तालापे मुख्यमंत्री कथित: तत दळम् हरक सिंह रावतम् कोटद्वार चिकित्सीय विद्यालयेण सह विकासस्य सर्वेषु प्रकरणेषु सदैव सम्मानम् दत्तं !

धामी के अनुसार पार्टी ने तय किया है कि एक परिवार से एक व्यक्ति को ही टिकट दिया जाएगा ! प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मदन कौशिक के साथ नई दिल्ली से लौटने के बाद देहरादून में संवाददाताओं से बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा कि पार्टी ने हरक सिंह रावत को कोटद्वार मेडिकल कॉलेज सहित विकास के सभी मुददों पर हमेशा सम्मान दिया !

सः कथित: तत अस्माकं दळम् विकासवादे राष्ट्रवादे च् चरकं दलमस्ति, वंशवादतः द्रुतं रमकं दलमस्ति ! वयं सर्वानां सहाय्यं, सर्वानां विकासं, सर्वानां विश्वासं सर्वानां प्रयासानां च् मंत्रं गृहीत्वाग्रम् बर्धाम: ! धामी कथित: तत रावतस्य वार्ताभि: बहुधा दळम् दुर्दम अभवत् !

उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी विकासवाद और राष्ट्रवाद पर चलने वाली पार्टी है, वंशवाद से दूर रहने वाली पार्टी है ! हम सबका साथ, सबका विकास सबका विश्वास और सबका प्रयास के मंत्र को लेकर आगे बढ़ रहे हैं ! धामी ने कहा कि रावत की बातों से कई बार पार्टी असहज हुई है !

सः कथित: तत तु पुनश्चपि, कुत्रचित अस्माकं वृहद दलमस्ति, अस्माकं वृहद कुटुंबमस्ति, अहम् सदैव तेन सह गृहीत्वा चरस्य प्रयत्नम् कृतः, तु परिस्थित्य: इदृशमेवाभवत् स्म, सः स्वेणसह स्वकुटुंबाय जनेभ्यः च् निर्वाचनपत्रस्य भारम् भारयति स्म !

उन्होंने कहा कि लेकिन फिर भी, चूंकि हमारी बड़ी पार्टी है, हमारा बड़ा परिवार है, हमने हमेशा उनको साथ लेकर चलने की कोशिश की, लेकिन परिस्थितियां ऐसी हो गई थीं, वह खुद समेत अपने परिवार के और लोगों के लिए टिकट का दबाव बना रहे थे !

सः कथित: अतएव दळमिदम् निर्णयम् ( तेन निष्कासितस्य) कृतं ! अहम् निश्चित: तत एकेन कुटुंबेण एकं जनमेव निर्वाचनपत्रम् दाष्यते ! कश्चित अपि कुटुंबम् वयं द्वे त्रीणि वा निर्वाचनपत्रम् न दाष्यामः, कुत्रचितास्माकं दळम् सदैव यस्य विरुद्धम् रमति !

उन्होंने कहा कि इसलिए पार्टी ने यह फैसला (उन्हें निष्कासित करने का) किया ! हमने तय किया है कि एक परिवार से एक व्यक्ति को ही टिकट दिया जाएगा ! किसी भी परिवार को हम दो या तीन टिकट नहीं देंगे, क्योंकि हमारी पार्टी हमेशा इसके खिलाफ रही है !

मुख्यमंत्री यद्यपीति वार्ताया नकृतः तत दले कुत्रैव कश्चित खण्डमस्ति अन्य वा विधायक: अपि भाजपा त्यजितुं शक्नोति ! सः कथित: ततकश्चित विधायक: कुत्रैव न गच्छति ! पूर्वमंत्री रावतस्य कांग्रेसे सम्मिलितस्य भविष्यकथनानां मध्य भाजपा रविवासरम् तेन षडवर्षाय दलतः निष्कासित: स्म !

मुख्यमंत्री ने हालांकि इस बात से इंकार किया कि पार्टी में कहीं कोई फूट है या अन्य विधायक भी भाजपा छोड़ सकते हैं ! उन्होंने कहा कि कोई विधायक कहीं नहीं जा रहा है ! पूर्व मंत्री रावत के कांग्रेस में शामिल होने की अटकलों के बीच भाजपा ने रविवार को उन्हें छह साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया था !

पौड़ीगढ़वाल जनपदस्य कोटद्वार विधानसभासनेण विधायक: रावत: स्वासनम् परिवर्तनेण सहैव स्व पुत्रवधु अनुकृत्ये अपि भाजपाया निर्वाचनपत्रम् याचयति स्म ! अवगम्यते तत एतेषु प्रकरणेषु भाजपायाः स्वीकृते सः कांग्रेसे सम्मिलितस्य संभावना: अन्वेषणति !

पौड़ी गढवाल जिले की कोटद्वार विधानसभा सीट से विधायक रावत अपनी सीट बदलने के साथ ही अपनी पुत्रवधु अनुकृति के लिए भी भाजपा से टिकट मांग रहे थे ! समझा जाता है कि इन मुददों पर भाजपा के राजी न होने पर वह कांग्रेस में शामिल होने की संभावनाएं टटोल रहे थे !

उल्लेखनियमस्ति ततोत्तराखंडस्य कैबिनेट मंत्री रावतम्, अनुशासनहीनतायाः आरोपमारोप्यन् भाजपा रविवासरम् षडवर्षाय दलतः निष्कासितं ! तेन यस्मात् पूर्व राज्य मंत्रिमंडलेणापि निःसृतं स्म ! रावत: उत्तराखंड मंत्रिमंडले वन श्रम च् मंत्री आसीत् !

उल्लेखनीय है कि उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री रावत को, अनुशासनहीनता का आरोप लगाते हुए भाजपा ने रविवार को छह साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया ! उन्हें इससे पहले राज्य मंत्रिमंडल से भी बर्खास्त कर दिया गया था। रावत उत्तराखंड मंत्रिमंडल में वन और श्रम मंत्री थे !

रावत: ताः १० कांग्रेस विधायकेषु सम्मिलिता: आसन्, यत् वर्ष २०१६ तमे तत्कालीन हरीश रावत सर्वकारस्य विरुद्धम् विद्रोहित्वा भाजपायां सम्मिलित: अभवत् स्म ! इत् इंदप्रस्थे मीडिया इत्येन वार्तालापे रावत: इति वार्तायाः पुष्टिम् कृतः, सः दलस्य केंद्रीय नेतृत्वेण स्व पुत्रवधुम् लैंसडाउनेण निर्वाचनपत्रदत्ते विचारम् कर्तुम् कथित: स्म !

रावत उन 10 कांग्रेस विधायकों में शामिल थे, जो वर्ष 2016 में तत्कालीन हरीश रावत सरकार के खिलाफ बगावत कर भाजपा में शामिल हुए थे ! इधर दिल्ली में मीडिया से बातचीत में रावत ने इस बात की पुष्टि की, उन्होंने पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व से अपनी पुत्रवधू को लैंसडाउन से टिकट देने पर विचार करने को कहा था !

सः दृढ़कथनम् कृतः उत्तराखंडे अग्रिम सर्वकार: कांग्रेसस्य निर्मिष्यति सः च् कांग्रेसाय कार्यम् करिष्यति ! रावत: इदमपि कथित: तत तेन दलतः निष्कासितेन पूर्वम् दलीय नेतृत्वम् कश्चित वार्ता न कृतः, तेन च् तस्य निष्कासनस्याभिज्ञानम् सोशल मीडिया इत्येन ळब्ध: ! इति प्रकारम् भाजपातः निष्कासने भावुक: अपि अभवत् !

उन्होंने दावा किया उत्तराखंड में अगली सरकार कांग्रेस की बनेगी और वह कांग्रेस के लिए काम करेंगे ! रावत ने यह भी कहा कि उन्हें पार्टी से निष्कासित किए जाने से पहले पार्टी नेतृत्व ने कोई बात नहीं की, और उन्हें उनके निष्कासन की जानकारी सोशल मीडिया से मिली ! इस प्रकार भाजपा से निकाले जाने पर वह भावुक भी हो गए !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

जोधपुरस्य सर्वकारी विद्यालये हिजाब धारणे संलग्ना: छात्रा: ! जोधपुर के सरकारी स्कूल में हिजाब पहनने पर अड़ी छात्राएँ !

राजस्थानस्य जोधपुरे हिजाब इतम् गृहीत्वा प्रश्नं अभवत् ! सर्वकारी विद्यालये छात्रा: हिजाब धारणे गृहीत्वा संलग्नवत्य:, तु तेषां परिजना:...

मेलकम् दर्शनमगच्छन् हिंदू महिला: शमीम: सदरुद्दीन: चताडताम्, उदरे अकुर्वताम् पादघातम् ! मेला देखने गईं हिन्दू महिलाओं को शमीम और सदरुद्दीन ने पीटा, पेट पर...

उत्तरप्रदेशस्य फर्रुखाबाद जनपदे एकः हिंदू युवके, तस्य मातरि भगिन्यां च् घातस्य वार्ता अस्ति ! घातस्यारोपम् शमीमेण सदरुद्दीनेण च्...

हल्द्वानी हिंसायां आहूय-आहूय हिंदू वार्ताहरेषु अभवन् घातम् ! ऑपइंडिया इत्यस्य ग्राउंड सूचनायां रहस्योद्घाटनम् ! हल्द्वानी हिंसा में चुन-चुन कर हिंदू पत्रकारों पर हुआ हमला...

उत्तराखंडस्य हल्द्वानी हिंसायां उत्पातकाः आरक्षक प्रशासनस्यातिरिक्तं घटनायाः रिपोर्टिंग कुर्वन्ति हिंदू वार्ताहरानपि स्वलक्ष्यमकुर्वन् स्म ! ते आहूय-आहूय वार्ताहरेषु घातमकुर्वन्...

हल्द्वान्यां आहतानां सुश्रुषायै अग्रमागतवत् बजरंग दलम् ! हल्द्वानी में घायलों की सेवा के लिए आगे आया बजरंग दल !

हल्द्वान्यां अवैध मदरसा-मस्जिदम् न्यायालयस्य आज्ञायाः अनंतरम् प्रशासनम् धराभीम गृहीत्वा ध्वस्तकर्तुं प्राप्तवत् तु सम्मर्द: उग्राभवन् ! प्रस्तर घातमकुर्वन्, गुलिकाघातमकुर्वन्,...