भारते ओमिक्रोनेतस्य ९६१ प्रकरणानि, ३३ दिवसं अनंतरमेके दिवसे आगतं १०००० तः अधिकं प्रकरणानि ! भारत में ओमिक्रोन के 961 मामले, 33 दिन बाद एक दिन में आए 10000 से अधिक केस !

0
121

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालयस्य संयुक्त सचिव: लव अग्रवाल: कथित: तत भारते ३३ दिवसानां अनंतरम् कोविड १९ इतस्य १०००० तः अधिकं प्रकरणानि पंजीकृतानि ! प्रकरणेषु तीव्र वृद्धिम् दर्शन् तीक्ष्ण पर्यवेक्षणस्यावश्यकतामस्ति !

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि भारत में 33 दिनों के बाद कोविड 19 के 10,000 से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं ! मामलों में तेज वृद्धि को देखते हुए कड़ी निगरानी की आवश्यकता है !

भारतस्य १४ जनपदेषु साप्ताहिक प्रकरणस्य सकारात्मकता सूचकांक ५-१० प्रतिशतस्य मध्य अस्ति ! भारतस्य ८ जनपदानि १० प्रतिशततः अधिकं साप्ताहिक सकारात्मक सूचकांकमस्ति ! साप्ताहिक प्रकरणानां सकारात्मकता सूचकांकस्य चाधारे महाराष्ट्र, तमिलनाडु, पश्चिम बंग, इंद्रप्रस्थ, कर्नाटक गुजरात च् चिंतायाः विषयस्य रूपे उत्पादकानि राज्याणि सन्ति !

भारत के 14 जिलों में साप्ताहिक मामले की सकारात्मकता दर 5-10% के बीच है ! भारत के 8 जिले 10% से अधिक साप्ताहिक सकारात्मक दर है ! साप्ताहिक मामलों और सकारात्मकता दर के आधार पर महाराष्ट्र, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, दिल्ली, कर्नाटक और गुजरात चिंता के विषय के रूप में उभरने वाले राज्य हैं !

सः कथित: तत भारते पूर्वसप्ताहमौसतन ८००० तः अधिकं प्रकरणानि प्रतिदिन पंजीकृतानि ! संपूर्ण प्रकरणानां सकारात्मकता सूचकांक ०.९२ प्रतिशतं अस्ति ! २६ दिसंबरस्यानंतरात् देशे प्रतिदिनम् १०००० प्रकरणानि संमुखानि आगच्छन्ति !

उन्होंने कहा कि भारत में पिछले सप्ताह औसतन 8,000 से अधिक मामले प्रति दिन दर्ज किए गए ! कुल मिलाकर मामले की सकारात्मकता दर 0.92% है ! 26 दिसंबर के बाद से देश में रोजाना 10,000 मामले सामने आ रहे हैं !

मिजोरमस्य ६ जनपदेषु, अरुणाचल प्रदेशस्य एके जनपदे, पश्चिम बंगस्य कोलकाताया सह ८ जनपदेषु १० प्रतिशततः अधिकस्य साप्ताहिक सकारात्मकता सूचकांक पंजीकृते ! भारते ओमिक्रोनेतस्य ९६१ प्रकरणानि सन्ति, येषुतः ३२० रूग्णा: स्वास्थ्यलाभं लब्धिता: !

मिजोरम के 6 जिलों, अरुणाचल प्रदेश के एक जिले, पश्चिम बंगाल के कोलकाता सहित 8 जिलों में 10% से अधिक की साप्ताहिक सकारात्मकता दर नोट की जा रही है ! भारत में ओमीक्रोन के 961 मामले हैं, जिनमें से 320 रोगी ठीक हो चुके हैं !

लव अग्रवाल: कथित: १२१ देशेषु ओमिक्रोनेतस्य ज्ञातमभवत् ! संपूर्णविश्वे ३३०३७९ प्रकरणानि सन्ति ५९ इतस्य च् निधनमभवन् ! डब्ल्यूएचओ इतस्य २८ दिसंबरस्य सूचनायाः अनुसारम् ओमिक्रोन इति प्रमुख वैरिएंट इतस्य रूपे उद्भवति ! डेल्टा इतस्य तुलनायां चिकित्सालये चिकित्साहेतो: अत्यय: न्यून तु अधि डेटा इति आगमनस्यावश्यकतामस्ति !

लव अग्रवाल ने कहा कि 121 देशों में ओमीक्रोन का पता चला है ! दुनिया भर में 330379 मामले हैं और 59 की मौत हुई है ! WHO के 28 दिसंबर के अपडेट के अनुसार, ओमीक्रोन प्रमुख वेरिएंट के रूप में उभर रहा है ! डेल्टा की तुलना में अस्पताल में भर्ती होने का जोखिम कम लेकिन अधिक डेटा आने की आवश्यकता है !

लव अग्रवाल: कथित: तत भारते लगभगम् ९० प्रतिशत वयस्क जनसंख्याम् प्रथम मात्रा लब्धिता: ! आईसीएमआर इतस्य डीजी डॉ बलराम भार्गव: कथित: तत सर्वाणि कोविड टीकानि यथा तानि भारतस्य, इजराइलस्य, अमेरिकायाः यूरोपस्य यूके इतस्य चिनस्यवासि, मुख्यरूपेण आम- संशोधितानि भवन्ति !

लव अग्रवाल ने कहा कि भारत में लगभग 90% वयस्क आबादी को पहली खुराक लग चुकी है ! आईसीएमआर के डीजी डॉ बलराम भार्गव ने कहा कि सभी कोविड टीके चाहे वे भारत, इजरायल, अमेरिका, यूरोप, यूके या चीन के हों, मुख्य रूप से रोग-संशोधित होते हैं !

तानि संक्रमणम् नावरोधयन्ति ! सुरक्षारूपे मात्रा मुख्यरूपेण संक्रमणस्य गम्भीर्यतां न्यूनकर्तुं, चिकित्सालये स्वास्थ्यलाभळब्धुम् मृत्यु अवरोधनाय चस्ति ! टीकाकरणेन पूर्वे अनंतरे च् मास्क इतस्य उपयोगमावश्यकमस्ति सामूहिक समारोहै: विवर्जनीयं ! कोविड-१९ संक्रमणस्यानंतरम् आम प्रतिरोधक क्षमताम् लगभगम् नव मासानि एव उपलब्धं रमति !

वे संक्रमण को नहीं रोकते हैं ! एहतियाती खुराक मुख्य रूप से संक्रमण की गंभीरता को कम करने, अस्पताल में भर्ती होने और मृत्यु रोकने के लिए है ! टीकाकरण से पहले और बाद में मास्क का उपयोग जरूरी है और सामूहिक समारोहों से बचना चाहिए ! कोविड-19 संक्रमण के बाद रोग प्रतिरोधक क्षमता करीब नौ महीने तक बरकरार रहती है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here