ये भारते न्यवसन्ति तै: भारतस्य विधानस्य सम्मानं कर्तुम् भविष्यन्ति-अश्विनी वैष्णव: ! जो भारत में रहते हैं उन्हें भारत के कानून का सम्मान करना होगा-अश्विनी वैष्णव !

0
425

नवनियुक्त केंद्रीय सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव: गुरूवासरम् कथितः तत भारते ये जनाः न्यवसन्ति कार्याणि कुर्वन्ति च् तै: देशस्य विधानानामनुपालनं कर्तुम् भविष्यन्ति !

नव नियुक्त केंद्रीय सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बृहस्पतिवार को कहा कि भारत में जो लोग रहते हैं और काम करते हैं उन्हें देश के नियमों का अनुपालन करना होगा !

वैष्णव: भाजपा महासचिव (संगठन) बीएल संतोषेण सहात्र दलीय कार्यालये गोष्ठ्याः अनंतरम् संवाददाताभिः अयम् कथितः !

वैष्णव ने भाजपा महासचिव (संगठन) बी एल संतोष के साथ यहां पार्टी कार्यालय में बैठक के बाद संवाददाताओं से यह कहा !

इदम् पृच्छने तत माइक्रोब्लॉगिंग मंच ट्विटर सूचना प्रौद्योगिकी विधानानामनुपालनं न करोति, सः कथितः तत भारते ये कश्चित न्यवसन्ति कार्याणि कुर्वन्ति च्, तै: देशस्य विधानानामनुपालनं कर्तुम् भविष्यन्ति !

यह पूछे जाने पर कि माइक्रोब्लॉगिंग मंच ट्विटर सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) नियमों का अनुपालन नहीं कर रहा है, उन्होंने कहा कि भारत में जो कोई रहता है और काम करता है, उसे देश के नियमों का अनुपालन करना होगा !

ओडिशातः सांसदः वैष्णव: बुधवासरं मंत्रि परिषद मंत्रिण: रूपे शपथम् नीतः ! तेन सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालयेन सह सह धूमयानस्य अपि प्रभारम् दत्त: !

ओडिशा से सांसद वैष्णव ने बुधवार को कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की ! उन्हें सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय के साथ साथ रेलवे का भी प्रभार दिया गया है !

सः कथितः ततेदम् जिम्मेवारिम् दत्तुम् सः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदिणरभारिम् सन्ति ! वैष्णव: कथितः तत तस्य प्रमुखबलम् पंक्त्यां स्थिता: अंतिम जनस्य जीवनम् सुदृढ़े भविष्यति !

उन्होंने कहा कि यह जिम्मेदारी देने के लिए वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आभारी हैं ! वैष्णव ने कहा कि उनका मुख्य जोर कतार में खड़े अंतिम व्यक्ति के जीवन को बेहतर बनाने पर होगा !

केचन मासम् पूर्व, सः ब्रिटेने ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय छात्र संघस्याध्यक्षा एवं कर्नाटकस्य वासिन् रश्मि सामंतस्य त्यागपत्रम् नस्लवादस्य गम्भीर्य प्रकरण कथमानः साइबर भारम् भारयस्य प्रकरण राज्यसभायां उत्थित: स्म !

कुछ महीने पहले, उन्होंने ब्रिटेन में ऑक्सफोर्ड (विश्वविद्यालय) छात्र संघ की अध्यक्ष एवं कर्नाटक की रहने वाली रश्मि सामंत के इस्तीफे को नस्लवाद का गंभीर मामला बताते हुए साइबर धौंस जमाने का मुद्दा राज्यसभा में उठाया था !

ज्ञापयन्तु तत आईटी विधानस्यानुपालने येन प्रकारेण ट्विटर एकेन प्रकारेण स्वरम् स्वरितं स्म तस्यानंतरम् कलहम् बर्धितं स्म ! ट्वितरे आरोपम् भवति तत तः मैनिपुलेटेड मीडिया इत्यस्य संबंधे भिन्न भिन्न मानदंडानां पालनम् करोति !

बता दें कि आईटी रूल्स के अनुपालन में जिस तरह से ट्विटर ने एक तरह से हल्ला बोल दिया था उसके बाद तकरार बढ़ गई थी ! ट्विटर पर आरोप लग रहा है कि वो मैनिपुलेटेड मीडिया के संबंध में अलग अलग मानदंडों का पालन करता है !

यस्यातिरिक्त यदा नवाईटी विधानानामनुरूपम् विधानानामारंभस्य वार्ता कथ्यैति तदा तां प्रति न भवितं ! तु अधुना ट्वितरम् प्रति कथितं तत तः ६ तः ८ सप्ताहानामभ्यांतरं सक्षमापवाद अधिकारिण: नियुक्तिम् करिष्यति !

इसके अलावा जब नए आईटी रुल्स के तहत नियमों को लागू करने की बात कही गई तो उसकी तरफ से आनाकानी की गई ! लेकिन अब ट्विटर की तरफ से कहा गया है कि वो 6 से 8 हफ्ते के भीतर सक्षम शिकायत अधिकारी की नियुक्ति करेगा !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here