28.1 C
New Delhi
Tuesday, June 15, 2021

कास्ति हिमंता बिस्वा सरमा: यत् निर्मितः असमस्य नव मुख्यमंत्री, अधिवक्तातः मुख्यमंत्री एव कीदृशं रमितं यात्राम् ! कौन हैं हिमंता बिस्वा सरमा जो बने हैं असम के नए मुख्यमंत्री, वकील से CM तक कैसा रहा है सफर !

Must read

असमस्य नव मुख्यमंत्री अधुना हिमंता बिस्वा सरमा: भविष्यति, असमस्य मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल: राज्यपालं स्व त्यागपत्रं दत्त: तत्रैव गुवाहाट्याम् भाजपा विधायकानां गोष्ठ्याम् हिमंता बिस्वा सरमा: नामे हस्ताक्षरं अभवत् !

असम के नए मुख्यमंत्री अब हिमंता बिस्वा सरमा होंगे, असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया वहीं गुवाहाटी में बीजेपी विधायकों की बैठक में हिमंता बिस्वा सरमा नाम पर मुहर लग गई !

अधुना सः असमस्य मुख्यमंत्री पदस्य शपथम् नीष्यते तस्य सीएम निर्मयस्य इदम् यात्राम् सरलं न रमितं, एकम् दृष्टिम् तस्य राजनीतिक जीवने ! हिमंता बिस्वा सरमा: सर्बानंद सोनोवाल: च् ययो: तः कौ राज्यस्य कार्यभारं स्वीकरिष्यत: !

अब वो असम के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे, उनका सीएम बनने का ये सफर आसान नहीं रहा है, एक नजर उनके राजनीतिक जीवन पर ! हिमंत बिस्वा सरमा और सर्बानंद सोनोवाल इनमें से कौन राज्य की कमान संभालेगा !

येन गृहित्वा बहु मंथनं अभवत् शनिवासरम् च् द्वयो इन्द्रप्रस्थमपि आहूतौ, अंततः लाभम् हिमंता बिस्वा सरमायाः हस्तौ आगतः अधुना च् सः प्रदेशसस्य कार्यभारं ग्रहतुम् गच्छति !

इसे लेकर काफी मंथन हुआ और शनिवार को दोनों दिल्ली भी बुलाए गए, आखिर बाजी हिमंता बिस्वा सरमा के हाथों ही लगी और अब वो प्रदेश की कमान संभालने जा रहे हैं !

असमे सततं द्वितीयदा भाजपायाः नेतृत्वे एनडी ए इत्यस्य सर्वकार: निर्मयस्य पश्च हिमंता बिस्वा सरमायाः बहु स्वेदस्खलनं बद्यते कथ्यते तत सः लोकप्रियतायाः प्रकरणे सर्बानंद सोनोवाल: तः कश्चितापि रूपे न्यूनम् नास्ति !

असम में लगातार दूसरी बार बीजेपी के नेतृत्व में एनडीए की सरकार बनने के पीछे हिमंता बिस्वा सरमा की जबर्दस्त मेहनत बताई जाती है कहा जाता है कि वो लोकप्रियता के मामले में सर्बानंद सोनोवाल से किसी भी मायने में कम नहीं हैं !

इति निर्वाचने तस्य बहु तीक्ष्ण प्रचाराभियानं, तीव्रमाक्रामकं वा रणनीतिम् भाजपायाः जयस्य महत्वपूर्ण कारणं रमितम् यस्य कारणं दलम् तेन सर्बानंदस्य स्थानं सीएमपदे अधिकमोपयुक्तं मानितं !

इस चुनाव में उनका जोरदार प्रचार अभियान, तेज व आक्रामक रणनीति बीजेपी की जीत की अहम वजह रही जिसके चलते पार्टी ने उन्हें सर्बानंद की जगह सीएम पद पर ज्यादा उपयुक्त माना !

हिमंता बिस्वा सरमा: असमस्य जालुकबारी विधानसभा आसनेन सततं पंचमदा विधायकः निर्मितः, जालुकबारी विधानसभासनं असमस्य बागपत जनपदे आगच्छति !

हिमंत बिस्वा सरमा असम की जालुकबारी विधानसभा सीट से लगातार पांचवीं बार विधायक बने हैं, जालुकबारी विधानसभा सीट असम के बागपत जिले में आती है !

२०२१ तमे भाजपायाः हिमंता बिस्वा सरमा: इंडियन नेशनल कांग्रेसस्य रामेन चंद्र बोरठाकुरं १०१९११ मतानां अन्तरेण पराजित: स्म, वर्तमाने सीएए विरोधी प्रदर्शनं कोरोनायाः स्थितिम् नियंत्रणे तस्य महती भूमिकाम् रमित: !

2021 में बीजेपी के हिमंता बिस्वा सरमा ने इंडियन नेशनल कांग्रेस के रामेन चंद्र बोरठाकुर को 101911 वोटों के मार्जिन से हराया था, हाल में सीएए विरोधी प्रदर्शन और कोरोना के हालात को संभालने में उनकी अहम भूमिका रही है !

हिमंता: १९९२ तमे परास्नातकस्य शिक्षाम् पूर्णत:, हिमंता: सर्वकारी विधि विद्यालयात् विधिशिक्षा पूर्णतः गुवाहाटी विद्यालयात् विद्या वारिध्या: उपाधि नीत: सः वर्षम् १९९६ तः २००१ तमेव गुवाहाटी उच्चन्यायालये अधिवक्ता कार्यम् कृतः स्म !

हिमंता ने 1992 में पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की, हिमंता ने सरकारी लॉ कॉलेज से एलएलबी किया और गुवाहाटी कॉलेज से पीएचडी की उपाधि ली उन्होंने साल 1996 से 2001 तक गुवाहाटी हाईकोर्ट में प्रैक्टिस भी की थी !

हिमंता बिस्वा सरमा: २०१५ तमे कांग्रेस तः मतभेदस्यानंतरम् कांग्रेसेन सहाय्य त्याग भाजपायाः सहाय्य स्वीकृत: स्म ज्ञापयते तत पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोईना सह राजनीतिक मतभेदानां अनंतरम् कांग्रेस दलस्य सर्वै: विभागै: त्यागपत्रं अददात् स्म !

हिमंता बिस्वा सरमा ने 2015 में कांग्रेस से मतभेद के बाद हाथ का साथ छोड़ कमल का दामन थामा था बताते हैं कि पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई के साथ राजनीतिक मतभेदों के बाद उन्होंने कांग्रेस पार्टी के सभी विभागों से इस्तीफा दे दिया था !

अनंतरे सः भारतीय जनता दले मेलित: ! वर्षम् २०१६ तमस्य विधानसभा निर्वाचनस्य तत्पूर्व बिस्वा सरमां मुख्यमंत्री पदस्य सशक्त दायद: रूपे दृश्यते स्म तु तदा जयस्य ध्वजम् विधुननस्यानंतरम् दलम् सोनोवालं राज्यस्य सीएम इति निर्मितं स्म !

बाद में वो भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए ! साल 2016 के विधानसभा चुनाव के ऐन पहले बिस्वा सरमा को मुख्यमंत्री पद के सशक्त दावेदार के तौर पर देखा जा रहा था लेकिन तब जीत का परचम फहराने के बाद पार्टी ने सोनोवाल को राज्य का सीएम बनाया था !

हिमंता बिस्वा सरमायाः जन्म १ फरवरी १९६९ अभवत् स्म, सरमा: २०१६ तमस्य असम विधानसभायाः निर्वाचनम् जयस्य असमस्य मंत्रिपरिषदस्य मंत्री निर्मितं ! भाजपाया: केंद्रीय नेतृत्वेण तेन २०१६ तमे नार्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस इत्यस्य प्रमुखः निर्मयतं !

हिमंता बिस्वा सरमा का जन्म 1 फरवरी 1969 हुआ था, सरमा 2016 की असम विधानसभा की निर्वाचन जीत के असम के कैबिनेट मंत्री बने ! बीजेपी के केन्द्रीय नेतृत्व द्वारा उन्हें 2016 में नार्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायन्स का प्रमुख बनाया गया !

हिमंता बिस्वा सरमा: वर्तमान असमस्य स्वास्थ्य मंत्रिण: कार्यभारं स्वीकृत: स्म सरमा: ७ जून २००१ तमम् रिनिकी भूया सरमा तः पाणिग्रहणं कृतः ! तस्मात् तेन एक पुत्र नंदील बिस्वा सरमा: एका पुत्री सुकन्या सरमा चस्ति !

हिमंता बिस्वा सरमा वर्तमान असम के स्वास्थ्य मंत्री का पदभार संभाले हुए थे सरमा ने 7 जून 2001 को रिनिकी भूया सरमा से शादी की, जिनसे उन्हें एक बेटा नंदील बिस्वा सरमा और एक बेटी सुकन्या सरमा है !

Disclaimer The author is solely responsible for the views expressed in this article. The author carry the responsibility for citing and/or licensing of images utilized within the text. The opinions, facts and any media content in them are presented solely by the authors, and neither Trunicle.com nor its partners assume any responsibility for them. Please contact us in case of abuse at Trunicle[At]gmail.com

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article