चिराग पासवानमस्ति स्वरामेणाशाम्, बदित:, हनुमानमेव प्रधानमंत्री महोदयस्य प्रत्येक संकट काले सहाय्य दत्त: ! चिराग पासवान को है अपने राम से उम्मीद, बोले, हनुमान की तरह प्रधानमंत्री जी का हर मुश्किल दौर में साथ दिया !

0
250

लोकजनशक्ति दले उत्पन्नम् कलहेण विह्वल: चिराग पासवान: स्व रामेण अर्थतः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदिणाशांवित:, सः कथितः तताहम् हनुमानमेव प्रधानमंत्री महोदयस्य प्रत्येक संकट काले सहाय्य दत्त: !

लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) में मचे घमासान से परेशान चिराग पासवान ने अपने राम यानी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उम्मीद लगाई है,उन्होंने कहा है कि मैंने हनुमान की तरह प्रधानमंत्री जी का हर मुश्किल दौर में साथ दिया !

अद्य यदा हनुमानस्य राजनीतिक वधस्य प्रयासं भवति तर्हि अहमेदम् विश्वासम् करोमि ततेदृशे रामः निस्तब्धताया न द्रक्ष्यते ! सः कथितः अहं प्रारंभतः स्पष्टितः तत मम गठबंधनं भाजपाया सहाभवतामहम् च् अद्यैव भाजपाया सह स्थितोस्मि !

आज जब हनुमान का राजनीतिक वध करने का प्रयास किया जा रहा है तो मैं यह विश्वास करता हूँ कि ऐसे में राम खामोशी से नहीं देखेंगे ! उन्होंने कहा मैंने शुरू से स्पष्ट किया कि मेरा गठबंधन बीजेपी के साथ हुआ है और मैं आज तक बीजेपी के साथ खड़ा हूँ !

भाजपाया: प्रत्येक नीतिगत निर्णयानां अहम् समर्थनं कृतः यद्यपि नीतीश महोदय: यस्य प्रत्येक निर्णयानां विरोधित: ! अधुना इमानि निर्णयम् सहाय्य ददान्ति नीतीश महोदयस्य वा !

भाजपा के हर नीतिगत फैसले का मैंने समर्थन किया जबकि नीतीश जी ने इनके हर फैसले का विरोध किया ! अब ये फैसला बीजेपी को लेना है कि वो आने वाले समय में मेरा साथ देते हैं या नीतीश जी का !

पासवान: कथितः मम कुटुंबस्य जनाः इव मम दलम् त्रोटनस्य कार्यम् कृतवान, इदानीं मया स्व दलम् शून्यतः तं स्थाने गृहित्वा गमनमस्ति यत्र पितु दलम् सदैव गृहित्वा गन्तुम् इच्छति स्म !

पासवान ने कहा कि मेरे परिवार के लोगों ने ही मेरी पार्टी को तोड़ने का काम किया है, फिलहाल मुझे अपनी पार्टी को शून्य से उस मुकाम पर लेकर जाना है जहां पापा पार्टी को हमेशा लेकर जाना चाहते थे !

अस्माकं पक्षेयत् दृढ़मस्ति तत मया यस्मिन् कश्चित भ्रांति: नास्ति तत पितु यत् दलम् स्व अतिपरिश्रमेण निर्मित: स्म, तस्य नाम प्रतीक च् द्वयो मम पार्श्व रमिष्यति !

हम लोगों का पक्ष इतना मजबूत है कि मुझे इसमें कोई संदेह नहीं है कि पापा ने जो पार्टी अपने खून-पसीने से बनाई ​थी, उसका नाम और चिन्ह दोनों हमारे पास रहेंगे !

तत्रैव भविष्यस्य संभावनाषु वार्ता कृतमानः चिराग: कथितः मम पितु लालू महोदय: च् सदैवान्तिकमेव मित्रे स्तः ! आरजेडी नेता तेजस्वी यादवाहम् च् बाल्यकालात् परस्परं ज्ञायत:, अस्माकमगाध मित्रता स्तः, सः मम लघु भ्रातः अस्ति !

वहीं भविष्य की संभावनाओं पर बात करते हुए चिराग ने कहा मेरे पिता और लालू जी हमेशा करीबी दोस्त रहे हैं ! आरजेडी नेता तेजस्वी यादव और मैं बचपन से एक-दूसरे को जानते हैं, हमारी गहरी दोस्ती है, वह मेरा छोटा भाई है !

यदा बिहारे निर्वाचनस्य कालमागमिष्यति तदा दलम् गठबंधने अंतिम निर्णयम् निष्यति ! पूर्व वर्षमभवत् विधानसभा निर्वाचनस्य कालम् चिराग पासवान: स्वं पीएम मोदिण: हनुमान: इति कथितः स्म !

जब बिहार में चुनाव का समय आएगा तब पार्टी गठबंधन पर अंतिम फैसला लेगी ! पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव के दौरान चिराग पासवान ने खुद को पीएम मोदी का हनुमान कहा था !

यद्यपि अद्यापि वर्तमाने यदा तेन प्रश्नम् कृतं तत बिहार विधानसभा निर्वाचनस्य कालम् भवान् स्वं हनुमान: कथितः स्म देशस्य च् एकमोच्च नेतारम् (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी:) रामः इति कथितः स्म !

हालांकि अभी हाल में जब उनसे सवाल किया गया कि बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान आपने खुद को हनुमान कहा था और देश के एक बड़े नेता (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) को राम कहा था !

अस्य कालम् यदा हनुमान: संकटे अस्ति तदा भवान् कश्चितैव प्रकारस्य सहाय्य याचिष्यति रामेण ? यस्य उत्तरे चिराग: कथितः हनुमानम् यदि सहाय्य याचितुम् भवति रामेण, तदापि हनुमान: कस्य प्रकारस्य रामः कस्य प्रकारस्य च् !

इस वक्त जब हनुमान संकट में है तो आप किसी तरह की मदद मांगेंगे राम से ? इसके जवाब में चिराग ने कहा हनुमान को अगर मदद मांगनी पड़े राम से, तो फिर हनुमान काहे के और राम काहे के !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here