मनीष गुप्ता प्रकरणे पीड़ित कुटुंबेण मेलित: सीएम योगी, भार्यायाः लब्धिष्यति सर्वकारी दासता ! मनीष गुप्ता प्रकरण में पीड़ित परिवार से मिले CM योगी, पत्नी को मिलेगी सरकारी नौकरी !

0
414

गोरक्षपुरे कथित रूपेणारक्षककर्मभि: बर्बरतापूर्ण ताडितस्यानंतरमभवत् एकस्य वणिज: मनीष गुप्तायाः निधनस्य प्रकरणमुद्दतम् भविते !

गोरखपुर में कथित रूप से पुलिस कर्मियों द्वारा बर्बरतापूर्ण पिटाई किए जाने के बाद हुई एक कारोबारी मनीष गुप्ता की मौत का मामला तूल पकड़ता जा रहा है !

इति मध्य मनीष गुप्तायाः परिजनै: अद्य सीएम योगी आदित्यनाथ: मेलनम् कृतः पीड़ित कुटुंबम् च् यथायोग्य न्यायस्य विश्वासम् दत्त: !

इस बीच मनीष गुप्ता के परिजनों से आज सीएम योगी आदित्यनाथ ने मुलाकात की और पीड़ित परिवार को हरसंभव न्याय का भरोसा दिया !

मेलनस्यानंतरम् मनीष गुप्तायाः भार्या ज्ञापिता तत मुख्यमंत्री तस्या: वार्तानेकस्याभिभावक इव शृणुतः न्यायस्य विश्वासम् दत्त:, सहैवाभियोगम् गोरक्षपुरम् स्थानांतरणस्योद्घोषम् कृतः !

मुलाकात के बाद मनीष गुप्ता की पत्नी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने उनकी बातों को एक अभिभावक की तरह सुना और इंसाफ का भरोसा दिलाया, साथ ही केस को गोरखपुर ट्रांसफर करने का ऐलान किया !

मेलनस्य काळम् सीएम योगी पीड़ित कुटुंबस्य आरोपान् शृणुतः दोषिणां विरुद्धं कठोर कार्यवाहिम् कृतस्याश्वासनम् दत्त: ! येन सहैव सीएम मनीष गुप्ताया: पुत्रस्य पठनस्य व्ययं दत्तुम् दृढ़कथनमपि कृतः !

मुलाकात के दौरान सीएम योगी ने पीड़ित परिवार के आरोपों को सुना और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आश्वासन दिया ! इसके साथ ही सीएम ने मनीष गुप्ता के बेटे की पढ़ाई का खर्चा उठाने का वादा भी किया !

वार्तायाः अनुरूपम् कर्णपुर विकास प्राधिकरणे ओएसडी पदस्य सृजनम् करिष्यते वणिज: मनीष गुप्तायाः भार्या मीनाक्षी गुप्ताम् च् पदे प्रतिनियुक्तं करिष्यते ! मुख्यमंत्री जनपद प्रशासनम् क्षतिपूर्ति १० लक्ष रूप्यकै: बर्धनस्य प्रस्तावम् दत्त: !

खबर के मुताबिक कानपुर विकास प्राधिकरण में ओएसडी पद का गठन किया जाएगा और व्यवसायी मनीष गुप्ता की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता को पद पर प्रतिनियुक्त किया जाएगा ! मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को मुआवजा 10 लाख रुपये से बढ़ाने का प्रस्ताव भी दिया !

दृष्टिगतम् सन्ति तत सोमवासरम् रात्रि रामगढ़ताल आरक्षिस्थान क्षेत्रे एके आश्रयस्थले कर्णपुर वासिन् रियल एस्टेट इति वणिज: मनीष गुप्ता स्व द्वे मित्रे प्रदीपेण हरी चौहानस्य च् सह वासित: स्म ! बहु रात्रि आरक्षकः आश्रयस्थले निरीक्षणाय प्राप्त: स्म !

गौरतलब हैं कि सोमवार रात रामगढ़ताल थाना क्षेत्र में एक होटल में कानपुर निवासी 36 वर्षीय रियल एस्टेट कारोबारी मनीष गुप्ता अपने दो दोस्तों प्रदीप और हरी चौहान के साथ ठहरे थे ! देर रात पुलिस होटल में निरीक्षण के लिए पहुंची थी !

निरीक्षणस्य काळमिदम् ळब्ध: तत त्र्या: जना: गोरक्षपुरस्य सिकरीगंज स्थितं महादेवापणस्य वासिन् चन्दन सैनिण: परिचयपत्रस्याधारे एके कक्षे वासिता: !

निरीक्षण के दौरान यह पाया गया कि तीन लोग गोरखपुर के सिकरीगंज स्थित महादेवा बाजार के निवासी चंदन सैनी के पहचान पत्र के आधार पर एक कमरे में ठहरे हुए हैं !

संदेहोत्पादिते प्रश्नोत्तरस्य काळम् कथित रूपेण आरक्षकै: ताडितस्यानंतरमाहत: मनीषस्य संदिग्ध रूपेण गोरक्षपुर चिकित्सीय विद्यालये निधनम् अभवत् स्म !

संदेह होने पर पूछताछ के दौरान कथित रूप से पुलिस द्वारा पिटाई के बाद घायल मनीष की संदिग्ध हालात में गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में मौत हो गई थी !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here