अन्वेषणे पकिस्तानी आतंकी अशरफ: कथिष्यते रहस्यं, इंद्रप्रस्थोच्चन्यायलयस्य, आरक्षक मुख्यालयस्य सुचिन् कृतमासीत् ! पूछताछ में पाकिस्तानी आतंकी अशरफ उगलने लगा राज, दिल्ली HC, पुलिस HQ की रेकी की थी !

0
189

इंद्रप्रस्थस्य रमेशोद्यानेण भौमवासरमवरुद्धम् पकिस्तानी आतंकी अशरफ: अन्वेषणे रहस्यं कथिष्यते ! इंद्रप्रस्थारक्षकस्य विशेषदलस्य अन्वेषणे तं बहु गम्भीर्य रहस्योद्घाटनम् कृतः !

दिल्ली के रमेश पार्क से मंगलवार को गिरफ्तार पाकिस्तानी आतंकवादी अशरफ पूछताछ में राज उगलने लगा है ! दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की पूछताछ में उसने कई गंभीर खुलासे किए हैं !

इंद्रप्रस्थे वसमानः येन २०११ तमे इंद्रप्रस्थ उच्च न्यायालयस्य सुचिन् कृतमासीत् ! तस्य सुचिनस्य अनंतरमुच्च न्यायालयस्य पार्श्व विस्फोटम् अभवन् स्म ! यद्यपि, इति विस्फोटे तस्य किं भूमिकासीत् !

दिल्ली में रहते हुए इसने 2011 में दिल्ली हाई कोर्ट की रेकी की थी ! उसकी रेकी के बाद हाई कोर्ट के पास विस्फोट हुए थे ! हालांकि, इस विस्फोट में उसकी क्या भूमिका थी !

यं प्रत्ये आरक्षकः तस्मात् ज्ञानम् कृते संलग्न: ! इदम् इव न अशरफ: आरक्षकम् ज्ञापित: तत तं आइटीओ स्थितं इंद्रप्रस्थारक्षक मुख्यालयस्य अंतरराज्यीय बसयान् पत्तनस्य आईएसबीटी इतस्य सुचिनपि कृतमासीत् !

इस बारे में पुलिस उससे पता करने में जुटी है ! यही नहीं अशरफ ने पुलिस को बताया है कि उसने आईटीओ स्थित दिल्ली पुलिस मुख्यालय और अंतरराज्यीय बस अड्डा आईएसबीटी की रेकी भी की थी !

अशरफ: आईएसबीटी इतस्य सुचिन् कृत्वा तस्य अभिज्ञानम् पकिस्तानस्थितं स्व हैंडलर्स इतम् प्रेषित: स्म ! अशरफ: अन्वेषणे ज्ञापित: ततारक्षकः मुख्यालये जनान् बहु कालैवारक्षकः स्थितुम् न दत्त:, इति कारणेन तेनात्रस्य बहु अभिज्ञानम् न ळब्धितं !

अशरफ ने आईएसबीटी की रेकी कर उसकी जानकारी पाकिस्तान स्थित अपने हैंडलर्स को भेजी थी ! अशरफ ने पूछताछ में बताया कि पुलिस मुख्यालय पर लोगों को ज्यादा देर तक पुलिस रुकने नहीं देती, इस वजह से उसे यहां की ज्यादा जानकारी नहीं मिल पाई !

सूत्राणां कथनमस्ति तत विशेष दळम् देशे अभवत् आतंकी घटनासु त्यस्य भूमिकाम् प्रत्ये ज्ञातं करोति ! इंद्रप्रस्थे विगत वर्षेषु अभवत् विस्फोटेषु तस्य किं भूमिका रमति, आरक्षकः इदमपि ज्ञातं करोति !

सूत्रों का कहना है कि स्पेशल सेल देश में हुई आतंकी घटनाओं में उसकी भूमिका के बारे में पता कर रही हैं ! दिल्ली में विगत वर्षों में हुए धमाकों में उसकी क्या भूमिका रही है, पुलिस यह भी पता कर रही है !

उत्सवेण पूर्व अशरफस्य बंधनम् इंद्रप्रस्थारक्षकस्य एकस्य वृहद सफलतायाः रूपे दर्शिते ! पकिस्तानस्य गोपनीय संस्था इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस भारते स्व आतंकस्य रूपम् प्रसरायाशरफस्य अनाधिकृत प्रवेशं कारीत: स्म !

त्योहारों से पहले अशरफ की गिरफ्तारी को दिल्ली पुलिस की एक बड़ी सफलता के रूप में देखा जा रहा है ! पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस ने भारत में अपना आतंक का जाल फैलाने के लिए अशरफ की घुसपैठ कराई थी !

सः पूर्व १० वर्षभि: राजधान्यां रमति स्म ! तस्य पार्श्व तः एकम् एके-४७ राइफल, द्वयात्याधुनिक पिस्टल, १ हैंड ग्रेनेड, एके ४७ इतस्य ६० कारतूस, पिस्टल इतस्य ५० कारतूस, अप्रामाणिक परिचयपत्रम्, अनाधिकृत भारतीय पारपत्रम् द्वय च् दूरभाष यंत्रम् आहरित: !

वह पिछले 10 सालों से राजधानी में रह रहा था। उसके पास से एक एके-47 राइफल, दो आधुनिक पिस्टल, 1 हैंड ग्रेनेड, एके-47 के 60 कारतूस, पिस्टल के 50 कारतूस, फर्जी आई कार्ड, फर्जी भारतीय पासपोर्ट और दो मोबाइल फोन बरामद हुआ है !

सुकालैव यदि अशरफ: इंद्रप्रस्थारक्षकस्य हस्तानि न आगतः तर्हि अस्त्राणां इदम् भंडारम् वृहदोत्पातं आनितुम् शक्नोति स्म ! आईएसआई भारते स्व आतंकी कार्यान् कृतस्य जिम्मेवारिम् स्व इत्येव स्लीपर इतम् प्रदत्तम् स्म !

समय रहते यदि अशरफ दिल्ली पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा होता तो हथियारों का यह जखीरा बड़ी तबाही ला सकता था ! आईएसआई ने भारत में अपने आतंकी वारदातों को अंजाम देने की जिम्मेदारी अपने इसी स्लीपर को सौंपी थी !

स्पष्टमस्ति तताशरफ: उत्सवानां काळम् इंद्रप्रस्थे कश्चित स्थानमातंकी घातानां कुचक्रम् रचिष्यति ! आरक्षकः तस्मात् अन्वेषणम् करोति ! भवितुम् शक्नोति तत अग्रिम केचन दिवसेषु सः अन्य अप्रत्याशित एवं गम्भीर्य रहस्योद्घाटनम् कृतः !

जाहिर है कि अशरफ त्योहारों के समय दिल्ली में किसी जगह आतंकी हमलों की साजिश रचा होगा ! पुलिस उससे पूछताछ कर रही है ! हो सकता है कि अगले कुछ दिनों में वह और चौंकाने वाले एवं गंभीर खुलासे करे !

देशे इंद्रप्रस्थे च् रममानः सः केषाम् जनानां संपर्के आसीत् तत्रे च् तस्य सहाय्य केन कृतं, अन्वेषणे आरक्षकः इदमपि ज्ञातम् करिष्यति !

देश और दिल्ली में रहते हुए वह किन लोगों के संपर्क में था और यहां पर उसकी मदद किसने की, पूछताछ में पुलिस यह भी पता करेगी !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here