25.1 C
New Delhi

नड्डा: चलचित्रम् प्रसृत्वा अपृच्छयत्,अयम् किं मायु: भवति राहुल महोदयः ? नड्डा ने वीडियो शेयर कर पूछा,ये क्या जादू हो रहा है राहुल जी ?

Date:

Share post:

नव कृषि विधेयकानि गृहित्वा एकम् प्रति कांग्रेस सततं सरकारे प्रहारयति तर्याणि विधेयकानि निरस्तं कृतस्य याचनां करोति,तत्रैव द्वितीयं प्रति भाजपा कांग्रेसस्य नेतृणाम् पुरातन चलचित्रम् ट्वीत कृत प्रत्युत्तरम् करोति !

नए कृषि कानूनों को लेकर एक तरफ कांग्रेस लगातार सरकार पर हमले कर रही हैं और तीनों कानूनों को निरस्त करने की मांग कर रही है,वहीं दूसरी तरफ बीजेपी कांग्रेस के नेताओं के पुराने वीडियो ट्वीट कर पलटवार कर रही है !

नव चलचित्र कांग्रेस नेता राहुल गाँधीयाः सम्मुखमागतवान,येन भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा: स्वयं प्रसृतकृतवान ! चलचित्र प्रसृतमानः नड्डा: राहुल गाँधीयां प्रहारमबदत् अकथयत् च् तत राहुल गांधी पूर्व यस्य वंचकति स्म अद्य तेनैवस्य विरोधम् कुर्वन्ति !

ताजा वीडियो कांग्रेस नेता राहुल गांधी का सामने आया है जिसे बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने खुद शेयर किया है ! वीडियो शेयर करते हुए नड्डा ने राहुल गांधी पर हमला बोला है और कहा है कि राहुल गांधी पहले जिसकी वकालत करते थे आज उसी का विरोध कर रहे हैं !

नड्डा: अकथयत् इयम् किं मायु: भवति राहुल महोदयः ? पूर्व भवान् येन कार्यस्य विरोधम् करोति ! देशहितेन, कृषकहितेन भवतः केचन आवश्यक्ताम् नास्ति ! भवतम् केवलं राजनीतिम् क्रियेत् !

नड्डा ने कहा ये क्या जादू हो रहा है राहुल जी ? पहले आप जिस चीज की वकालत कर रहे थे, अब उसका ही विरोध कर रहे है ! देशहित, किसान हित से आपका कुछ लेना-देना नही है !आपको सिर्फ राजनीति करनी है !

तु भवतः दुर्भगयमस्ति तत सम्प्रति भवतः पाखंडम् न चरिष्यति ! देशस्य जनः कृषकः च् भवतः द्वयप्रकारस्य चरित्रम् अज्ञायते !

लेकिन आपका दुर्भाग्य है कि अब आपका पाखंड नही चलेगा ! देश की जनता और किसान आपका दोहरा चरित्र जान चुके है !

अयम् चलचित्रम् तं कालस्यास्ति यदा राहुल गांधी अमेठीयाः सांसदः अभव्यते स्म ! इति चलचित्रे राहुल गांधी: कथ्यति,केचन वर्ष पूर्व उत्तरप्रदेशे मम भ्रमणमासीत्,एक: कृषकः मया अपृच्छानि कथ्यानि च्, राहुल महोदयः भवान्माम् अवगमयतु वयं अल्लुक: विक्रयाम: २ रूप्यकानि किलो इति तु यदा अस्माकं शिशुनि चिप्स इति क्रयाम: तर्हि १० रूपकस्य पैकेट इत्यागत: तस्मिन् च् एकम् अल्लुकम् भवति !

यह वीडियो उस समय का है जब राहुल गांधी अमेठी के सांसद हुआ करते थे ! इस वीडियो में राहुल गांधी कहते हैं,कुछ साल पहले यूपी में मेरा दौरा था,एक किसान ने मुझसे पूछा और कहा,राहुल जी आप हमें समझाइए हम आलू बेचते हैं 2 रुपये किलो लेकिन जब हमारे बच्चे चिप्स खरीदते हैं तो 10 रुपये का पैकेट आता है और उसमें एक आलू होता है !

तदा कृषकः मया अकथयत् तत बदानि इयम् का मायु: भवति ! अहम् तं कृषकै: अपृच्छम् तत भवतम् किं कारणम् ज्ञायति ! तर्हि तं कृषका: अकथयत् तत राहुल महोदयः कारणम् इयमस्ति तत यत् फैक्ट्रियां इति ख्यापयति तत् मत् द्रुतम् परिलक्ष्यामि !

तब किसान ने मुझसे कहा कि बताइए ये क्या जादू हो रहा है ! मैंने उन किसानों से पूछा कि आपको क्या कारण लगता है ! तो उन किसानों ने कहा कि राहुल जी कारण ये है कि जो फैक्ट्रियां लगती हैं वो हमसे दूर लगती हैं !

यदि वयं सरलं स्व वस्तुनि फैक्ट्री इत्येषु विक्रयाम: तर्हि यत् मध्यस्य मध्यस्तानि सन्ति तां लाभम् न भविष्यति अस्य सरलं लाभम् मह्यं प्राप्यष्यामि पूर्ण च् धनम् मह्यं प्राप्यष्यामि ! इयम् फूड पार्क (अमेठीयाम्) इत्यस्य पश्चस्य विचारमासीत् ! इयम् एकेन प्रकारेण अमेठीया तेन च् सह संलग्न्यते १०-१२ जनपदानां कृषकानां विचारमासीत् !

अगर हम डायरेक्टली अपना माल फैक्ट्रियों में बेचते हैं तो जो बीच के बिचौलियें हैं उनको फायदा नहीं होगा और इसका सीधा फायदा हमें मिलेगा और पूरा पैसा हमें मिलेगा ! ये फूड पार्क (अमेठी में) के पीछे की सोच थी ! ये एक प्रकार से अमेठी और उसके साथ लगे 10-12 जिलों के किसानों की सोच थी !

इत्यात् पूर्व जेपी नड्डा: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधीयाः एकम् पुरातनं चलचित्रं प्रसृतमानः अलिखत् स्म, कृषकानि भ्रामक: तेन च् तेषां अधिकारै: वंचिता कांग्रेसस्य सत् पुनः परिलक्षित अभवत् !

इससे पहले जेपी नड्डा ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का एक पुराना वीडियो शेयर करते हुए लिखा था,किसानों को भ्रमित करने और उन्हें उनके अधिकारों से वंचित रखने वाली कांग्रेस का सच फिर उजागर हुआ है !

सोनिया गांधी महोदया पूर्व कृषकेभ्यः मध्यस्थतामुक्त आपणस्य विधिवेत्ति करोति स्म ! इयम् कांग्रेसस्य अवसरयुक्त विचारम्,न्यून ज्ञानम् पुनः-पुनः च् वार्ताया परिवर्तनस्य प्रमाणं अस्ति !

सोनिया गांधी जी पहले किसानों के लिए बिचौलिया मुक्त बाजार की वकालत करती थी और अब इसका विरोध करती है ! ये कांग्रेस की मौकापरस्त सोच,कम जानकारी व बार-बार बात से पलटने का प्रमाण है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

कन्हैया लाल तेली इत्यस्य किं ?:-सर्वोच्च न्यायालयम् ! कन्हैया लाल तेली का क्या ?:-सर्वोच्च न्यायालय !

भवतम् जून २०२२ तमस्य घटना स्मरणम् भविष्यति, यदा राजस्थानस्योदयपुरे इस्लामी कट्टरपंथिनः सौचिक: कन्हैया लाल तेली इत्यस्य शिरोच्छेदमकुर्वन् !...

१५ वर्षीया दलित अवयस्काया सह त्रीणि दिवसानि एवाकरोत् सामूहिक दुष्कर्म, पुनः इस्लामे धर्मांतरणम् बलात् च् पाणिग्रहण ! 15 साल की दलित नाबालिग के साथ...

उत्तर प्रदेशस्य ब्रह्मऋषि नगरे मुस्लिम समुदायस्य केचन युवका: एकायाः अवयस्का बालिकाया: अपहरणम् कृत्वा तया बंधने अकरोत् त्रीणि दिवसानि...

यै: मया मातु: अंतिम संस्कारे गन्तुं न अददु:, तै: अस्माभिः निरंकुश: कथयन्ति-राजनाथ सिंह: ! जिन्होंने मुझे माँ के अंतिम संस्कार में जाने नहीं दिया,...

रक्षामंत्री राजनाथ सिंहस्य मातु: निधन ब्रेन हेमरेजतः अभवत् स्म, तु तेन अंतिम संस्कारे गमनस्याज्ञा नाददात् स्म ! यस्योल्लेख...

धर्मनगरी अयोध्यायां मादकपदार्थस्य वाणिज्यस्य कुचक्रम् ! धर्मनगरी अयोध्या में नशे के कारोबार की साजिश !

उत्तरप्रदेशस्यायोध्यायां आरक्षकः मद्यपदार्थस्य वाणिज्यकृतस्यारोपे एकाम् मुस्लिम महिलाम् बंधनमकरोत् ! आरोप्या: महिलायाः नाम परवीन बानो या बुर्का धारित्वा स्मैक...