21.8 C
New Delhi

एंटीलिया विस्फोटास्त्र प्रकरणं,आरक्षकं लब्धम् महत्वपूर्ण संकेतं,पीपीई वस्त्रे दृष्यत: सन्दिग्धम् ! एंटीलिया बम केस,पुलिस को मिला अहम सुराग,PPE किट में दिखा संदिग्ध !

Date:

Share post:

फोटो साभार टाइम्स नाउ हिंदी

एंटीलिया विस्फोटास्त्रम् मुंबई आरक्षकम् वृहद संकेतम् लभ्धम् ! प्रकरणस्य अन्वेषणे संलग्नम् मुंबई आरक्षकम् सीसीटीवी चलचित्रे एंटीलियायाः बाह्य पीपीई वस्त्रम् धारितम् एकम् संदिग्ध जनः गन्तुम् दृष्यत: !

एंटीलिया बम केस में मुंबई पुलिस को बड़ा सुराग हाथ लगा है ! मामले की जांच में जुटी मुंबई पुलिस को सीसीटीवी फुटेज में एंटीलिया के बाहर पीपीई किट पहना एक संदिग्ध व्यक्ति जाता दिखाई दिया है !

आरक्षकम् अनुभूयति तत अयम् संदिग्ध जनः लोकयानस्य चालक: अस्ति तः स्कॉर्पियो इति वाहन व्यवस्थित कृतेन पूर्व उद्योगपति मुकेश अंबान्या: गृहस्य आर्श्वस्य-पार्श्वस्य गुप्तरूपेण अवलोकित: !

पुलिस को लगता है कि यह संदिग्ध व्यक्ति कार का चालक है और इसने स्कॉर्पियो पार्क करने से पहले उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के आस-पास की रेकी की !

अस्यानंतरम् सः संदिग्धम् लोकयानम् व्यवस्थित्वा तत्रात् द्वितीय लोकयानम् इनोवा इत्ये अधितिष्ठ भूत्वा पलायित: ! इमे द्वयो लोकयाने कुत्रात् प्राप्ते अस्यान्वेषणाय मुंबई आरक्षकः बहवः सीसीटीवी इति चलचित्राणि अन्वेषणति !

इसके बाद उसने संदिग्ध कार को पार्क कर वहां से दूसरी कार इनोवा में सवार होकर फरार हुआ ! ये दोनों कारें अंबानी के आवास कहां से पहुंची इसकी जांच के लिए मुंबई पुलिस तमाम सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है !

एकम् इदृशैव सीसीटीवी चलचित्रे पीपीई वस्त्रम् धारित: अयम् संदिग्धम् जनः दृश्यत: ! ज्ञापयन्तु तत गृहमंत्रालय अस्य प्रकरणस्य अन्वेषणम् राष्ट्रीय अन्वेषण संस्थाम् समर्पितम् !

एक ऐसे ही सीसीटीवी फुटेज में पीपीई किट पहने यह संदिग्ध व्यक्ति दिखाई दिया ! बता दें कि गृह मंत्रालय ने इस मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी को सौंप दी है !

प्रकरणस्य अन्वेषणितम् एटीएस दलम् स्कॉर्पियो इत्यस्य स्वामी मनसुख हिरेनस्य जङ्गमदूरभाषयंत्रम् लभ्धानि ! एटीएस इमे जङ्गमदूरभाषयंत्रम् वसई स्थानेन लभ्धवान !

मामले की जांच कर रही एटीएस टीम को स्कॉर्पियो के मालिक मनसुख हीरेन के मोबाइल फोन हाथ लगे हैं ! एटीएस ने ये मोबाइल फोन वसई लोकेशन से बरामद किए हैं !

मनसुखस्य शव येन स्थानेन लभ्ध: तत् स्थानेन वसई बहु द्रुतमस्ति ! इदृशेषु मनसुखस्य निधनम् प्रकरणस्य रहस्यम् अति दीर्घम् जात: ! अन्वेषणे संमुखम् आगतः तत मनसुख: गत ४ मार्च इतम् द्वये जङ्गमदूरभाषयंत्रे गृहित्वा गृहात् निःसृत: स्म !

मनसुख का शव जिस स्थान से मिला उस जगह से वसई काफी दूर है ! ऐसे में मनसुख की मौत मामले का रहस्य और गहरा गया है ! जांच में सामने आया है कि मनसुख गत चार मार्च को दो मोबाइल फोन लेकर घर से निकले थे !

महाराष्ट्रस्य गृहमंत्रालय सोमवासरं अस्य प्रकरणस्यान्वेषणम् एनआईए इतम् समर्पितम् ! अधुना अस्य सम्पूर्ण प्रकरणस्य अन्वेषणम् करिष्यति ! महाराष्ट्रस्य पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस: एनआईए अन्वेषणस्य याचनां कृतः स्म !

महाराष्ट्र के गृह मंत्रालय ने सोमवार को इस मामले की जांच एनआईए को सौंप दी ! अब इस पूरे केस की जांच एनआईए करेगी ! महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने एनआईए जांच की मांग की थी !

गत २५ फरवरी इतम् अंबानिय: गृहात् बाह्य स्थापित स्कॉर्पियो इत्येन विस्फोटक सामग्री जिलेटिनस्य लगभगम् २० सालाकानि लभ्धवान ! अस्यातिरिक्तम् लोकयानेन एकम् पत्रम् लभ्धम् यस्मिन् अंबानी कुटुंबम् भर्तस्कानि !

गत 25 फरवरी को अंबानी के घर से बाहर पार्क स्कॉर्पियो से विस्फोटक सामग्री जिलेटिन की करीब 20 छड़े बरामद हुईं ! इसके अलावा कार से एक पत्र मिला जिसमें अंबानी परिवार को धमकी दी गई !

केचन दिवसानि अनंतरम् एसयूवी इत्यस्य स्वामियः शव लभ्धवान यस्य परिचयं मनसुख हिरेनस्य रूपे अभवत् ! मनसुखस्य शव ठाणेस्य मुब्रा क्रीक इत्ये लभ्धवान !

कुछ दिनों बाद एसयूवी के मालिक का शव बरामद हुआ जिसकी पहचान मनसुख हीरेन के रूप में हुई ! मनसुख का शव ठाणे के मुब्रा क्रीक में बरामद हुआ !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

जोधपुरस्य सर्वकारी विद्यालये हिजाब धारणे संलग्ना: छात्रा: ! जोधपुर के सरकारी स्कूल में हिजाब पहनने पर अड़ी छात्राएँ !

राजस्थानस्य जोधपुरे हिजाब इतम् गृहीत्वा प्रश्नं अभवत् ! सर्वकारी विद्यालये छात्रा: हिजाब धारणे गृहीत्वा संलग्नवत्य:, तु तेषां परिजना:...

मेलकम् दर्शनमगच्छन् हिंदू महिला: शमीम: सदरुद्दीन: चताडताम्, उदरे अकुर्वताम् पादघातम् ! मेला देखने गईं हिन्दू महिलाओं को शमीम और सदरुद्दीन ने पीटा, पेट पर...

उत्तरप्रदेशस्य फर्रुखाबाद जनपदे एकः हिंदू युवके, तस्य मातरि भगिन्यां च् घातस्य वार्ता अस्ति ! घातस्यारोपम् शमीमेण सदरुद्दीनेण च्...

हल्द्वानी हिंसायां आहूय-आहूय हिंदू वार्ताहरेषु अभवन् घातम् ! ऑपइंडिया इत्यस्य ग्राउंड सूचनायां रहस्योद्घाटनम् ! हल्द्वानी हिंसा में चुन-चुन कर हिंदू पत्रकारों पर हुआ हमला...

उत्तराखंडस्य हल्द्वानी हिंसायां उत्पातकाः आरक्षक प्रशासनस्यातिरिक्तं घटनायाः रिपोर्टिंग कुर्वन्ति हिंदू वार्ताहरानपि स्वलक्ष्यमकुर्वन् स्म ! ते आहूय-आहूय वार्ताहरेषु घातमकुर्वन्...

हल्द्वान्यां आहतानां सुश्रुषायै अग्रमागतवत् बजरंग दलम् ! हल्द्वानी में घायलों की सेवा के लिए आगे आया बजरंग दल !

हल्द्वान्यां अवैध मदरसा-मस्जिदम् न्यायालयस्य आज्ञायाः अनंतरम् प्रशासनम् धराभीम गृहीत्वा ध्वस्तकर्तुं प्राप्तवत् तु सम्मर्द: उग्राभवन् ! प्रस्तर घातमकुर्वन्, गुलिकाघातमकुर्वन्,...