28.1 C
New Delhi
Thursday, August 5, 2021

एंटीलिया विस्फोटास्त्र प्रकरणं,आरक्षकं लब्धम् महत्वपूर्ण संकेतं,पीपीई वस्त्रे दृष्यत: सन्दिग्धम् ! एंटीलिया बम केस,पुलिस को मिला अहम सुराग,PPE किट में दिखा संदिग्ध !

Must read

फोटो साभार टाइम्स नाउ हिंदी

एंटीलिया विस्फोटास्त्रम् मुंबई आरक्षकम् वृहद संकेतम् लभ्धम् ! प्रकरणस्य अन्वेषणे संलग्नम् मुंबई आरक्षकम् सीसीटीवी चलचित्रे एंटीलियायाः बाह्य पीपीई वस्त्रम् धारितम् एकम् संदिग्ध जनः गन्तुम् दृष्यत: !

एंटीलिया बम केस में मुंबई पुलिस को बड़ा सुराग हाथ लगा है ! मामले की जांच में जुटी मुंबई पुलिस को सीसीटीवी फुटेज में एंटीलिया के बाहर पीपीई किट पहना एक संदिग्ध व्यक्ति जाता दिखाई दिया है !

आरक्षकम् अनुभूयति तत अयम् संदिग्ध जनः लोकयानस्य चालक: अस्ति तः स्कॉर्पियो इति वाहन व्यवस्थित कृतेन पूर्व उद्योगपति मुकेश अंबान्या: गृहस्य आर्श्वस्य-पार्श्वस्य गुप्तरूपेण अवलोकित: !

पुलिस को लगता है कि यह संदिग्ध व्यक्ति कार का चालक है और इसने स्कॉर्पियो पार्क करने से पहले उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के आस-पास की रेकी की !

अस्यानंतरम् सः संदिग्धम् लोकयानम् व्यवस्थित्वा तत्रात् द्वितीय लोकयानम् इनोवा इत्ये अधितिष्ठ भूत्वा पलायित: ! इमे द्वयो लोकयाने कुत्रात् प्राप्ते अस्यान्वेषणाय मुंबई आरक्षकः बहवः सीसीटीवी इति चलचित्राणि अन्वेषणति !

इसके बाद उसने संदिग्ध कार को पार्क कर वहां से दूसरी कार इनोवा में सवार होकर फरार हुआ ! ये दोनों कारें अंबानी के आवास कहां से पहुंची इसकी जांच के लिए मुंबई पुलिस तमाम सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है !

एकम् इदृशैव सीसीटीवी चलचित्रे पीपीई वस्त्रम् धारित: अयम् संदिग्धम् जनः दृश्यत: ! ज्ञापयन्तु तत गृहमंत्रालय अस्य प्रकरणस्य अन्वेषणम् राष्ट्रीय अन्वेषण संस्थाम् समर्पितम् !

एक ऐसे ही सीसीटीवी फुटेज में पीपीई किट पहने यह संदिग्ध व्यक्ति दिखाई दिया ! बता दें कि गृह मंत्रालय ने इस मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी को सौंप दी है !

प्रकरणस्य अन्वेषणितम् एटीएस दलम् स्कॉर्पियो इत्यस्य स्वामी मनसुख हिरेनस्य जङ्गमदूरभाषयंत्रम् लभ्धानि ! एटीएस इमे जङ्गमदूरभाषयंत्रम् वसई स्थानेन लभ्धवान !

मामले की जांच कर रही एटीएस टीम को स्कॉर्पियो के मालिक मनसुख हीरेन के मोबाइल फोन हाथ लगे हैं ! एटीएस ने ये मोबाइल फोन वसई लोकेशन से बरामद किए हैं !

मनसुखस्य शव येन स्थानेन लभ्ध: तत् स्थानेन वसई बहु द्रुतमस्ति ! इदृशेषु मनसुखस्य निधनम् प्रकरणस्य रहस्यम् अति दीर्घम् जात: ! अन्वेषणे संमुखम् आगतः तत मनसुख: गत ४ मार्च इतम् द्वये जङ्गमदूरभाषयंत्रे गृहित्वा गृहात् निःसृत: स्म !

मनसुख का शव जिस स्थान से मिला उस जगह से वसई काफी दूर है ! ऐसे में मनसुख की मौत मामले का रहस्य और गहरा गया है ! जांच में सामने आया है कि मनसुख गत चार मार्च को दो मोबाइल फोन लेकर घर से निकले थे !

महाराष्ट्रस्य गृहमंत्रालय सोमवासरं अस्य प्रकरणस्यान्वेषणम् एनआईए इतम् समर्पितम् ! अधुना अस्य सम्पूर्ण प्रकरणस्य अन्वेषणम् करिष्यति ! महाराष्ट्रस्य पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस: एनआईए अन्वेषणस्य याचनां कृतः स्म !

महाराष्ट्र के गृह मंत्रालय ने सोमवार को इस मामले की जांच एनआईए को सौंप दी ! अब इस पूरे केस की जांच एनआईए करेगी ! महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने एनआईए जांच की मांग की थी !

गत २५ फरवरी इतम् अंबानिय: गृहात् बाह्य स्थापित स्कॉर्पियो इत्येन विस्फोटक सामग्री जिलेटिनस्य लगभगम् २० सालाकानि लभ्धवान ! अस्यातिरिक्तम् लोकयानेन एकम् पत्रम् लभ्धम् यस्मिन् अंबानी कुटुंबम् भर्तस्कानि !

गत 25 फरवरी को अंबानी के घर से बाहर पार्क स्कॉर्पियो से विस्फोटक सामग्री जिलेटिन की करीब 20 छड़े बरामद हुईं ! इसके अलावा कार से एक पत्र मिला जिसमें अंबानी परिवार को धमकी दी गई !

केचन दिवसानि अनंतरम् एसयूवी इत्यस्य स्वामियः शव लभ्धवान यस्य परिचयं मनसुख हिरेनस्य रूपे अभवत् ! मनसुखस्य शव ठाणेस्य मुब्रा क्रीक इत्ये लभ्धवान !

कुछ दिनों बाद एसयूवी के मालिक का शव बरामद हुआ जिसकी पहचान मनसुख हीरेन के रूप में हुई ! मनसुख का शव ठाणे के मुब्रा क्रीक में बरामद हुआ !

Disclaimer The author is solely responsible for the views expressed in this article. The author carry the responsibility for citing and/or licensing of images utilized within the text. The opinions, facts and any media content in them are presented solely by the authors, and neither Trunicle.com nor its partners assume any responsibility for them. Please contact us in case of abuse at Trunicle[At]gmail.com

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article