समीर वानखेड़े इत्या: विरुद्धम् भवितुं शक्नोति कार्यवाहिम्, सम्यक् प्रकारेणान्वेषणम् नकृतस्य आरोपम् ! समीर वानखेड़े के खिलाफ हो सकती है कार्रवाई, सही तरह से जांच नहीं करने का आरोप !

0
87

आर्यन खानम् क्रूज ड्रग्स प्रकरणे उपकृतम् ळब्धं ! एनसीबी इतम् प्रत्या पूर्ण ६ सहस्र पृष्ठस्य चार्जशीट प्रस्तुतं यस्मिन् आर्यन खानम् क्लीन चिट दत्तं ! तु इति प्रकरणे एनसीबी इत्या: तत्कालीन जोनल डायरेक्टर रमित: समीर वानखेड़े इत्यां कार्यवाहिम् भवितुं शक्नोति !

आर्यन खान को क्रूज ड्रग्स में राहत मिल गई है ! एनसीबी की तरफ से कुल 6 हजार पेज की चार्जशीट पेश की गई जिसमें आर्यन खान को क्लीन चिट दी गई है ! लेकिन इस केस में एनसीबी के तत्कालीन जोनल डॉयरेक्टर रहे समीर वानखेड़े पर कार्रवाई हो सकती है !

सूत्राणामनुरूपं सः सम्यक् रूपेणान्वेषणम् न कृतः ! ज्ञापयन्तु तत समीर वानखेड़े इत्या: अन्वेषणस्य प्रकारेषु एनसीपी इत्या: नेता नवाब मलिक: बहु प्रश्नं उत्थितरासीत् ! सः कथित: तत वानखेड़े प्राप्ति रैकेट इति चालयति ! क्रूज इत्यां येन ड्रग्स इत्या: वार्ता सः करोति स्म तत तर्हि केवलं कुचक्रमासीत् ! प्रकरणम् केवलं अधिमुलस्यासीत् !

सूत्रों के मुताबिक उन्होंने ठीक ढंग से जांच नहीं की ! बता दें कि समीर वानखेड़े की जांच के तरीकों पर एनसीपी के नेता नवाब मलिक ने कई सवाल खड़े किए थे ! उन्होंने कहा कि वानखेड़े वसूली रैकेट चलाते हैं ! क्रूज पर जिस ड्रग्स की बात वो कर रहे थे वो तो सिर्फ छलावा था ! मामला फिरौती का था !

नवाब मलिकस्यारोपानां अनंतरम् राजनैतिकउष्णितं एनसीबी इतम् प्रत्या च् वानखेड़े इत्या: विरुद्धम् अन्वेषणमपि आरंभितं केचनकालांतरम् च् तस्य स्थानांतरण कृतवन्तः ! समीर वानखेड़े इत्या: स्थानांतरणे अपि बहुप्रकारस्य प्रश्नमुत्थितं यद्यपि एनसीबी रूटीन स्थानांतरणम् ज्ञापितमासीत् !

नवाब मलिक के आरोपों के बाद सियासत गरमाई और एनसीबी की तरफ से वानखेड़े के खिलाफ जांच भी शुरू हुई और कुछ समय बाद उनका तबादला कर दिया गया ! समीर वानखेड़े के तबादले पर भी कई तरह के सवाल उठे हालांकि एनसीबी ने रूटीन ट्रांसफर बताया था !

आर्यन खानम् क्लीन चिट दत्तन् चार्जशीट इत्यां लिखितमस्ति तत तेन पार्श्वेण ड्रग्स इत्या: अनुप्राप्ति नाभवत् स्म ! आर्यन खानस्यातिरिक्तं १९ अन्य आरोपिण: बंधनम् कृतवान स्म ! द्वयं त्यक्त्वा सर्वा: आरोपिण: यद्यपि स्वतंत्रपत्रे बाह्य सन्ति !

आर्यन खान को क्लीन चिट देते हुए चार्जशीट में लिखा गया है कि उनके पास से ड्रग्स की बरामदगी नहीं हुई थी ! आर्यन खान के अलावा 19 अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था ! दो को छोड़कर सभी आरोपी फिलहाल जमानत पर बाहर हैं !

एनसीबी एके कथने कथितं तत गुप्तसूचनायाः आधारे एनसीबी मुम्बै २ अक्टूबर २०२१ तमम् विक्रांतम्, इश्मीतं, अरबाजम्, आर्यनम् गोमितम् च् इंटरनेशनल पोर्ट टर्मिनल, मुम्बै पोर्ट ट्रस्ट इत्यां यद्यपि नूपुरम्, मोहकम् मुनमम् च् कार्डेलिया क्रूज इत्यां बंधनम् कृतमासातीत् !

एनसीबी ने एक बयान में कहा कि गुप्त सूचना के आधार पर एनसीबी मुंबई ने 2 अक्टूबर 2021 को विक्रांत, इश्मीत, अरबाज, आर्यन और गोमित को इंटरनेशनल पोर्ट टर्मिनल, मुंबई पोर्ट ट्रस्ट पर जबकि नूपुर, मोहक और मुनम को कॉर्डेलिया क्रूज पर पकड़ा था !

आर्यनम् मोहकम् च् त्यक्त्वा सर्वा: आरोपिण: पार्श्वै: मादक पदार्थम् ळब्धमासीत् ! आरंभे एनसीबी मुम्बै प्रकरणस्यान्वेषणं कृतं ! अनंतरे प्रकरणस्यान्वेषणाय नव देहल्यां एनसीबी मुख्यालयं प्रत्या संजय कुमार सिंह डीडीजी (संचालनम्) इत्या: अध्यक्षतायां एकस्य विशेषान्वेषण दलस्य गठनम् कृतवान !

आर्यन और मोहक को छोड़कर सभी आरोपियों पास से मादक पदार्थ मिले थे ! शुरुआत में एनसीबी मुंबई ने मामले की जांच की ! बाद में मामले की जांच के लिये नयी दिल्ली में एनसीबी मुख्यालय की तरफ से संजय कुमार सिंह डीडीजी (संचालन) की अध्यक्षता में एक विशेष जांच दल का गठन किया गया !

११ नवंबर २०२१ तमं प्रकरणस्यान्वेषणं एसआईटी स्वहस्ते नीतमासीत् ! चार्जशीट इत्यां उल्लेखमस्ति तत संदेहस्य स्थानम् प्रमाणस्याधारे अन्वेषणम् कृतं ! एसआईटी इत्या: अन्वेषणस्याधारे १४ आरोपिनां विरुद्धम् एनडीपीसी अधिनियमस्य विभिन्न धारानां अनुरूपम् अपवादम् पंजीकृते !

11 नवंबर 2021 को मामले की जांच एसआईटी ने अपने हाथ में ले ली थी ! चार्जशीट में जिक्र है कि संदेह की जगह प्रमाण के आधार पर जांच की गई ! एसआईटी की जांच के आधार पर 14 आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत शिकायत दर्ज की जा रही है !

षडान्य जनानां विरुद्धम् साक्ष्यानां अभावे अपवादम् न पंजीकृते ! इति मध्य एनसीबी शुक्रवासरं प्रकरणे आरोपपत्रम् प्रस्तुतं ! एजेंसी रजिस्ट्री इत्या: समक्षम् आरोपपत्रं कोषितं विशेष एनडीपीएस न्यायालयं च् अभिलेखानां सत्यापनस्यानंतरम् यस्य संज्ञानम् नेष्यते !

छह अन्य व्यक्तियों के खिलाफ सबूतों के अभाव के चलते शिकायत दर्ज नहीं की जा रही है ! इस बीच एनसीबी ने शुक्रवार को मामले में आरोप पत्र दाखिल किया ! एजेंसी ने रजिस्ट्री के समक्ष आरोप पत्र जमा किया और विशेष एनडीपीएस अदालत दस्तावेजों के सत्यापन के बाद इसका संज्ञान लेगी !

इति वर्षम् मार्चे विशेष न्यायालयं अन्वेषणम् एजेंसी इतम् आरोपपत्रम् प्रस्तुताय ६० दिवसस्य काळम् दत्तमासीत् ! एनसीबी इति प्रकरणे पूर्ववर्षम् ३ अक्टूबरम् आर्यन खानम् बंधने कृतमासीत् स्वतंत्र पत्रम् ळब्धस्यानंतरम् च् तेन तैव मासम् कारागारतः मुक्तम् कृतवान स्म !

इस साल मार्च में विशेष अदालत ने जांच एजेंसी को आरोप पत्र दाखिल करने के लिए 60 दिन का समय दिया था ! एनसीबी ने इस मामले में पिछले साल 3 अक्टूबर को आर्यन खान को गिरफ्तार किया था और जमानत मिलने के बाद उन्हें उसी महीने जेल से रिहा कर दिया गया था !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here