21.8 C
New Delhi

आदानास्यारोपाननिल देशमुखरकर्मा: कथितः च्, परमबीर सिंहोपरि करिष्यामि अप्रतिष्ठायाः अभियोगम् ! वसूली के आरोपों को अनिल देशमुख ने नकारा और कहा,परमबीर सिंह पर करूंगा मानहानि का केस !

Date:

Share post:

उद्योगपति मुकेश अंबानिणरावासं एंटीलियायाः पार्श्व २५ फरवरी इतम् विस्फोटकै: पूर्ण स्कार्पियो इत्यस्य अनुप्राप्ति: यस्यानंतरम् च् वाहनस्वामीमनसुखहिरेनस्य संदिग्ध परिस्थित्यां निधनस्य प्रकरणे आश्चर्यजनकारोपम् संमुखम् आगच्छन्ति !

उद्योगपति मुकेश अंबानी के आवास एंटीलिया के पास 25 फरवरी को विस्‍फोटकों से भरे स्‍कॉर्पियो की बरामदगी और इसके बाद वाहन मालिक मनसुख हिरेन की संदिग्‍ध परिस्थितियों में मौत के मामले में सनसनीखेज आरोप सामने आ रहे हैं !

मुंबैरक्षकस्यायुक्त: रमित: परमबीर सिंह: महाराष्ट्रस्य सीएम उद्धव ठाकरेम्पत्रम् लिखित्वा राज्यस्य गृहमंत्री अनिल देशमुखे बहुतीक्ष्ण आरोपमारोपित:, यस्मिन् अधुना सः उत्तरं दत्त: !

मुंबई पुलिस के कमिश्नर रहे परमबीर सिंह ने महाराष्‍ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर राज्‍य के गृहमंत्री अन‍िल देशमुख पर संगीन आरोप लगाए हैं, जिस पर अब उन्‍होंने जवाब दिया है !

अनिल देशमुख: ट्वीत् कृत्वा परमबीर सिंहस्य आरोपान् पूर्णरूपेण निरस्त: कथितः च् ततास्य प्रकरणे सः अप्रतिष्ठायाः अभियोगं करिष्यति ! सः बलदत्वा कथितः तत कुत्रचित प्रकरणे परमबीर सिंह: स्वयं पाशयन्ति, येन कारणम् सः तयोपरि अनृतमारोपमारोपयन्ति !

अनिल देशमुख ने ट्वीट करके परमबीर सिंह के आरोपों को सिरे से खारिज किया और कहा कि इस मामले में वह मानहानि का केस करेंगे ! उन्‍होंने जोर देकर कहा कि चूंकि मामले में परमबीर सिंह खुद फंस रहे हैं, इसलिए वह उन पर गलत आरोप लगा रहे हैं।

स्व ट्वीते सः कथितः,पूर्वारक्षकरायुक्त: परम बीर सिंह: अनृतमारोपमारोपित:, यद्यपि स्वम् रक्षितुम् शक्नुतः ! सद् तदैदमस्ति तत मुकेश अंबानी: मनसुख हिरेन: चभियोगे सचिन वाजे इत्यस्य भूमिकाम् गृहित्वा यथा-यथा अनुसंधानं अग्रम् बर्ध्यति, यस्मात् मिस्टर सिंहस्यापि नाम संलग्न भवस्य वार्ता संमुखमागच्छति !

अपने ट्वीट में उन्‍होंने कहा,पूर्व पुलिस आयुक्‍त परमबीर सिंह ने गलत आरोप लगाए हैं, ताकि खुद को बचा सकें ! सच तो यह है कि मुकेश अंबानी और मनसुख हिरेन केस में सचिन वाजे की भूमिका को लेकर जैसे-जैसे जांच आगे बढ़ रही है, इससे मिस्‍टर सिंह के भी तार जुड़े होने की बात सामने आ रही है !

अनिल देशमुख: अस्य संबंधे एकम् कथनमपि प्रसृतः, यस्मिन् सः कथितः तत यदि तेन एतादृशं कश्चित सूचनामासीत्, यस्यारोपम् सः अधुनारोपित: तत तं प्रत्ये पूर्व प्रकाशनम् किं न कारित: स्म ? सचिन वाजे इत्यस्य बंधनस्य अनंतरम् अति दिवसानि एव सः मूकम् किमासीत् ?

अनिल देशमुख ने इस संबंध में एक बयान भी जारी किया, जिसमें उन्‍होंने कहा कि अगर उन्‍हें ऐसी कोई सूचना थी, जिसका आरोप उन्‍होंने अब लगाया है तो इसके बारे में पहले खुलासा क्‍यों नहीं किया था ? सचिन वाजे की गिरफ्तारी के बाद इतने दिनों तक वह चुप क्‍यों थे ?

यदि सः दृढकथनं करोति तत वाजे: तेन जनवरी इत्यैव इदम् ज्ञानम् दत्त: स्म, तदा सः येन स्पष्टम् किं न कृतः ? प्रकरणम् ध्यान भ्रमस्य कुचक्र कथमानः देशमुख: सीएम उद्धव ठाकरे तः याचनां कृतः तत सः संपूर्ण प्रकरणस्य निष्पक्षं स्वतत्रं वा अनुसंधानम् कारयन्तु !

अगर वह दावा कर रहे हैं कि वाजे ने उन्हें जनवरी में ही यह जानकारी दी थी, तो उन्होंने इसे जाहिर क्यों नहीं किया ? मामले को ध्‍यान भटकाने की साजिश करार देते हुए देशमुख ने सीएम उद्धव ठाकरे से अपील की कि वह पूरे मामले की निष्‍पक्ष व स्वतंत्र जांच कराएं !

स्व कथने सः परमबीर सिंहस्य सचिन वाजेस्य निकषा संबंधस्यापि उल्लेख्यतः कथितः च् तत सः परमबीर सिंहरेवासीत्, येन वाजेम् जून २०२० तमे १६ वर्षस्य निलंबनस्यानंतरम् पुनया अगद: स्म ! परमबीर सिंहस्य आरोपान् अनृतं कथमानः सः कथितः तत सः तस्य विरुद्धम् अप्रतिष्ठायारभियोगम् पंजीकृतं करिष्यति !

अपने बयान में उन्‍होंने परमबीर सिंह और सचिन वाजे के करीबी रिश्‍ते का भी जिक्र किया और कहा कि वह परमबीर सिंह ही थे, जिन्‍होंने वाजे को जून 2020 में 16 साल के निलंबन के बाद फिर से सेवा में बहाल किया था ! परमबीर सिंह के आरोपों को झूठ करार देते हुए उन्‍होंने कहा कि वह उनके खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर करेंगे !

अत्रोल्लेखनियमस्ति तत प्रकरणे सचिन वाजेम् १३ मार्च इतम् मुंबई आरक्षके बहु वृहद परिवर्तनं कृतरैति, यस्यानुरूपम् परमबीर सिहम् होमगार्ड इत्यस्य डीजी निर्मयतः, यद्यपि हेमंत नगरालेम् मुंबैरक्षकस्यायुक्त: निर्मयतः !

यहां उल्‍लेखनीय है कि मामले में सचिन वाजे को 13 मार्च को गिरफ्तार किया गया तो 17 मार्च को मुंबई पुलिस में कई बड़े बदलाव किए गए, जिसके तहत परमबीर सिंह को होमगार्ड का डीजी बनाया गया, जबकि हेमंत नगराले को मुंबई पुलिस का आयुक्‍त बनाया गया !

संपूर्ण प्रकरणस्यानुसंधानं एनआईए इति करोति ! परमबीर सिंहम् यदा स्थानांतरित: तदा शिवसेना येन विध्यानुरूपम् स्थानांतरण कथितः, तु गृहमंत्री अनिल देशमुख: कथितः तत केचन गम्भीर्य प्रमादारभवत् यस्यानंतरम् तेन स्थानांतरित: अधुना च् परमबीर सिंहेन सीएम उद्धव ठाकरेम् पत्रम् लेखनस्य वार्ता संमुखमागत: !

पूरे मामले की जांच एनआईए कर रही है ! परम बीर सिंह को जब हटाया गया तो शिवसेना ने इसे रूटीन ट्रांसफर कहा, लेकिन गृहमंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि कुछ गंभीर गलतियां हुई जिसके बाद उन्हें हटाया गया और अब परमबीर सिंह द्वारा सीएम उद्धव ठाकरे को पत्र लिखे जाने की बात सामने आई है !

सीएम इतम् अलिखत् पत्रे बलात् आदानम् शब्दस्य प्रयोगमभवत् ! गृहमंत्री अनिल देशमुखे आदानं समूहम् चालयस्यारोपमारोपित: यस्मिन् कथितः तत यस्य जिम्मेवारिम् सचिन वाजेम् दत्त: स्म !

सीएम को लिखे पत्र में जबरन वसूली शब्द का इस्तेमाल हुआ है ! गृहमंत्री अनिल देशमुख पर वसूली रैकेट चलाने का आरोप लगाते हुए इसमें कहा गया है कि इसकी जिम्मेदारी सचिन वाजे को दी गई थी !

तेन मदिरालय, जलपानगृहम् अन्य द्वितीय प्रतिष्ठानै: १०० कोटि रूप्यकाणि प्रत्येक मासम् आदानस्य लक्ष्यम् दत्त: स्म ! यस्मिन् आरक्षकः अधिकारिणाम् सहाय्य नीयते स्म !

उसे बार, रेस्टोरेंट और दूसरे प्रतिष्ठानों से 100 करोड़ रुपये हर महीने वसूली का लक्ष्य दिया गया था ! इसमें पुलिस अधिकारियों की मदद ली जाती थी !

गृहमंत्रिणि आरोपितं एतै: आरोपै: राज्ये राजनीतिक उष्णतापि तीव्रम् अभवत् ! भाजपा देशमुखस्य त्यागपत्रम् याचित: तदा गृहमंत्री स्वे आरोपित: आरोपान् अतथ्यपरक कथितः !

गृहमंत्री पर लगे इन आरोपों से राज्‍य में सियासी गहमाहमी भी तेज हो गई है ! बीजेपी ने देशमुख का इस्‍तीफा मांगा है तो गृह मंत्री ने खुद पर लगे आरोपों को बेबुनियाद करार दिया है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

जोधपुरस्य सर्वकारी विद्यालये हिजाब धारणे संलग्ना: छात्रा: ! जोधपुर के सरकारी स्कूल में हिजाब पहनने पर अड़ी छात्राएँ !

राजस्थानस्य जोधपुरे हिजाब इतम् गृहीत्वा प्रश्नं अभवत् ! सर्वकारी विद्यालये छात्रा: हिजाब धारणे गृहीत्वा संलग्नवत्य:, तु तेषां परिजना:...

मेलकम् दर्शनमगच्छन् हिंदू महिला: शमीम: सदरुद्दीन: चताडताम्, उदरे अकुर्वताम् पादघातम् ! मेला देखने गईं हिन्दू महिलाओं को शमीम और सदरुद्दीन ने पीटा, पेट पर...

उत्तरप्रदेशस्य फर्रुखाबाद जनपदे एकः हिंदू युवके, तस्य मातरि भगिन्यां च् घातस्य वार्ता अस्ति ! घातस्यारोपम् शमीमेण सदरुद्दीनेण च्...

हल्द्वानी हिंसायां आहूय-आहूय हिंदू वार्ताहरेषु अभवन् घातम् ! ऑपइंडिया इत्यस्य ग्राउंड सूचनायां रहस्योद्घाटनम् ! हल्द्वानी हिंसा में चुन-चुन कर हिंदू पत्रकारों पर हुआ हमला...

उत्तराखंडस्य हल्द्वानी हिंसायां उत्पातकाः आरक्षक प्रशासनस्यातिरिक्तं घटनायाः रिपोर्टिंग कुर्वन्ति हिंदू वार्ताहरानपि स्वलक्ष्यमकुर्वन् स्म ! ते आहूय-आहूय वार्ताहरेषु घातमकुर्वन्...

हल्द्वान्यां आहतानां सुश्रुषायै अग्रमागतवत् बजरंग दलम् ! हल्द्वानी में घायलों की सेवा के लिए आगे आया बजरंग दल !

हल्द्वान्यां अवैध मदरसा-मस्जिदम् न्यायालयस्य आज्ञायाः अनंतरम् प्रशासनम् धराभीम गृहीत्वा ध्वस्तकर्तुं प्राप्तवत् तु सम्मर्द: उग्राभवन् ! प्रस्तर घातमकुर्वन्, गुलिकाघातमकुर्वन्,...