12.1 C
New Delhi

अकस्मात् इंद्रप्रस्थस्य भ्रमणे सीएम योगी:, अद्य शाहेन मेलिष्यति, श्व पीएम मोदिना, नड्डाया सह गोष्ठिम् ! अचानक दिल्ली के दौरे पर CM योगी, आज शाह से मिलेंगे, कल PM मोदी, नड्डा के साथ बैठक !

Date:

Share post:

उत्तरप्रदेशस्य मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ: गुरूवासरम् सायं इंद्रप्रस्थं प्राप्तयति ! राजधान्या: तस्य इदम् भ्रमणमकस्मात् भवति !

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार शाम दिल्ली पहुंच रहे हैं ! राजधानी का उनका यह दौरा अचानक हो रहा है !

अद्य तस्य मेलनम् गृहमंत्री अमित शाहेन भवितमस्ति ! शुक्रवासरम् सः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदिण: भारतीय जनता दलस्य राष्ट्रीयाध्यक्ष: जेपी नड्डाया मेलिष्यति !

आज उनकी मुलाकात गृह मंत्री अमित शाह से होनी है ! शुक्रवार को वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिलेंगे !

केचन दिवसानि पूर्व दलस्य एवं संघस्य नेतारः लक्ष्मणनगरम् प्राप्ताः स्म ते मुख्यमंत्रिणा सह विधायकानि मंत्रिभिः एवमोमुख्यमंत्रिभिः सह भिन्न-भिन्न गोष्ठ्य: कृत्वा तेभ्यः प्रतिक्रियां नीताः !

कुछ दिनों पहले पार्टी एवं संघ के नेता लखनऊ पहुंचे थे और उन्होंने मुख्यमंत्री सहित विधायकों मंत्रियों एवं उप मुख्यमंत्रियों के साथ अलग- अलग बैठकें करके उनसे फीडबैक लिया !

उत्तरप्रदेशे २०२२ तमे भविष्यति विधानसभा निर्वाचनम् एतानि गोष्ठिनां अनंतरम् उत्तरप्रदेशे मंत्रिमंडलविस्तारं नेतृत्वं च् गृहित्वा परिकल्पना: भवितुमारंभितानि ! यद्यपि मुख्यमंत्री परिकल्पनानि निरस्त: !

यूपी में 2022 में होगा विधानसभा चुनाव, इन बैठकों के बाद यूपी में मंत्रिमंडल विस्तार और नेतृत्व को लेकर अटकलें लगनी शुरू हुईं ! हालांकि मुख्यमंत्री ने इन अटकलों को खारिज किया !

उत्तरप्रदेशे २०२२ तमे विधानसभा निर्वाचनम् भविष्यति ! अस्य तत्परतायां अद्यैवेण संलग्न: ! अवगम्यते तत प्रधानमंत्रिणा, गृहमंत्रिणा दल अध्यक्षेन च् सह सीएमयोगिण: भवकः गोष्ठ्यां निर्वाचनी तत्परताषु चर्चाम् भवितुम् शक्नोति !

यूपी में 2022 में विधानसभा चुनाव होगा ! इसकी तैयारी में भाजपा अभी से जुट गई है ! समझा जाता है कि पीएम, गृह मंत्री और पार्टी अध्यक्ष के साथ सीएम योगी की होने वाली बैठकों में चुनाव तैयारियों पर चर्चा हो सकती है !

दलस्य शीर्ष नेतृभिः सह उत्तरप्रदेशे चरितानि कोरोना टीकाकरणमभियाने पंचायत निर्वाचनी परिणामेषु अपि चर्चाम् भवितुम् शक्नोति !

पार्टी के शीर्ष नेताओं के साथ उत्तर प्रदेश में चल रहे कोरोना टीकाकरण अभियान और पंचायत चुनाव नतीजों पर भी चर्चा हो सकती है !

इदृशैव चर्चाम् चरति स्म तत विधानसभा निर्वाचनानि हृदये धृतमानः यूपी मंत्रिमंडले विस्तारं भवितुम् शक्नोति निर्वाचनी समीकरणं हृदये धृतमानः विशेषं समुदायानां नेतृन् यस्मिन् दत्तुम् शक्नोति !

ऐसी चर्चा चल रही थी कि विधानसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए यूपी मंत्रिमंडल में विस्तार हो सकता है और चुनावी समीकरण को ध्यान में रखते हुए खास समुदायों के नेताओं को उसमें जगह दी जा सकती है !

अस्यातिरिक्तं संगठनानां एवं संस्थानानां रिक्तं पदेषु अपि नियुक्तिनां परिकल्पनानि स्म ! गत रविवासरम् दलस्योपाध्यक्ष: एवं उत्तरप्रदेशस्य प्रभारी राधा मोहन सिंह: मंत्रिपरिषद विस्तारस्य परिकल्पनान् निरस्तं !

इसके अलावा संगठनों एवं संस्थानों के खाली पड़े पदों पर भी नियुक्तियां होने की अटकलें थी ! गत रविवार को पार्टी के उपाध्यक्ष एवं यूपी के प्रभारी राधा मोहन सिंह ने कैबिनेट विस्तार की अटकलों को खारिज कर दिया !

यद्यपि ते कथिता: तत मुख्यमंत्री कालानुसारे रिक्तपदानि नियुक्त्य: कर्तुम् शक्नोति ! सिंह: उत्तरप्रदेशस्य राज्यपाल आनंदी बेन पटेलयापि मेलनम् कृतः ! मंत्रिपरिषदे परिवर्तनस्य प्रश्ने सः कथितः इदृशं केचन नास्ति !

हालांकि उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री उचित समय पर खाली पदों नियुक्तियां कर सकते हैं ! सिंह ने यूपी की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल से भी मुलाकात की ! कैबिनेट में फेरबदल के सवाल पर उन्होंने कहा ऐसा कुछ नहीं है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

[tds_leads input_placeholder="Email address" btn_horiz_align="content-horiz-center" pp_checkbox="yes" pp_msg="SSd2ZSUyMHJlYWQlMjBhbmQlMjBhY2NlcHQlMjB0aGUlMjAlM0NhJTIwaHJlZiUzRCUyMiUyMyUyMiUzRVByaXZhY3klMjBQb2xpY3klM0MlMkZhJTNFLg==" msg_composer="success" display="column" gap="10" input_padd="eyJhbGwiOiIxNXB4IDEwcHgiLCJsYW5kc2NhcGUiOiIxMnB4IDhweCIsInBvcnRyYWl0IjoiMTBweCA2cHgifQ==" input_border="1" btn_text="I want in" btn_tdicon="tdc-font-tdmp tdc-font-tdmp-arrow-right" btn_icon_size="eyJhbGwiOiIxOSIsImxhbmRzY2FwZSI6IjE3IiwicG9ydHJhaXQiOiIxNSJ9" btn_icon_space="eyJhbGwiOiI1IiwicG9ydHJhaXQiOiIzIn0=" btn_radius="0" input_radius="0" f_msg_font_family="521" f_msg_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsInBvcnRyYWl0IjoiMTIifQ==" f_msg_font_weight="400" f_msg_font_line_height="1.4" f_input_font_family="521" f_input_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEzIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMiJ9" f_input_font_line_height="1.2" f_btn_font_family="521" f_input_font_weight="500" f_btn_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEyIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMSJ9" f_btn_font_line_height="1.2" f_btn_font_weight="600" f_pp_font_family="521" f_pp_font_size="eyJhbGwiOiIxMiIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEyIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMSJ9" f_pp_font_line_height="1.2" pp_check_color="#000000" pp_check_color_a="#309b65" pp_check_color_a_h="#4cb577" f_btn_font_transform="uppercase" tdc_css="eyJhbGwiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjQwIiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJsYW5kc2NhcGUiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjMwIiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJsYW5kc2NhcGVfbWF4X3dpZHRoIjoxMTQwLCJsYW5kc2NhcGVfbWluX3dpZHRoIjoxMDE5LCJwb3J0cmFpdCI6eyJtYXJnaW4tYm90dG9tIjoiMjUiLCJkaXNwbGF5IjoiIn0sInBvcnRyYWl0X21heF93aWR0aCI6MTAxOCwicG9ydHJhaXRfbWluX3dpZHRoIjo3Njh9" msg_succ_radius="0" btn_bg="#309b65" btn_bg_h="#4cb577" title_space="eyJwb3J0cmFpdCI6IjEyIiwibGFuZHNjYXBlIjoiMTQiLCJhbGwiOiIwIn0=" msg_space="eyJsYW5kc2NhcGUiOiIwIDAgMTJweCJ9" btn_padd="eyJsYW5kc2NhcGUiOiIxMiIsInBvcnRyYWl0IjoiMTBweCJ9" msg_padd="eyJwb3J0cmFpdCI6IjZweCAxMHB4In0=" msg_err_radius="0" f_btn_font_spacing="1"]
spot_img

Related articles

रामचरितमानसस्यानादर:, रिक्तं रमवान् सपायाः हस्तम् ! रामचरितमानस का अपमान, खाली रह गए सपा के हाथ ?

उत्तर प्रदेशे वर्तमानेव भवत् विधान परिषद निर्वाचनस्य परिणाम: आगतवान् ! पूर्ण ५ आसनेभ्यः निर्वाचनमभवन् स्म् ! यत्र ४...

चीन एक ‘अलग-थलग’ और ‘मित्रविहीन’ भारत चाहता है

एक अमेरिकी रिपोर्ट के अनुसार, "पाकिस्तान के बजाय अब चीन, भारतीय परमाणु रणनीति के केंद्र में है।" चीन भी समझता है कि परमाणु संपन्न भारत 1962 की पराजित मानसिकता से मीलों बाहर निकल चुका है।

हमारी न्याय व्यवस्था पर बीबीसी का प्रहार

बीबीसी ने अपनी प्रस्तुति में भारत के तथाकथित सेकुलरवादियों, जिहादियों और इंजीलवादियों के उन्हीं मिथ्या प्रचारों को दोहराया है, जिसे भारतीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) ने न केवल वर्ष 2012 में सिरे से निरस्त कर दिया

मध्यप्रदेशे इस्लामनगरम् ३०८ वर्षाणि अनंतरम् पुनः कथिष्यते जगदीशपुरम् ! मध्यप्रदेश में इस्लाम नगर 308 साल बाद फिर से कहलाएगा जगदीशपुर !

मध्यप्रदेशस्य भोपालतः १४ महानल्वम् अंतरे एकं ग्रामम् इस्लामनगरमधुना जगदीशपुर नाम्ना ज्ञाष्यते ! केंद्र सर्वकार: ग्रामस्य नाम परिवर्तनस्याज्ञा दत्तवान्...