18.1 C
New Delhi

यदि प्राणवायु स्तरं न्यूनमसि तदा भीत: न, प्रोन पोजिशन तः लब्धिष्यति सहाय्य ! अगर आक्सीजन स्तर कम हो तो डरे नहीं, प्रोन पोजिशन से मिलेगी मदद !

Date:

Share post:

भारतेदानीं कालम् कोरोनायाः द्वितीय प्रहारस्य समाघातम् करोति ! देशस्य भिन्न भिन्न नगरेषु चिकित्सालय स्वयं प्राणवायु सिलेंडर इत्यस्य न्यूनतायाः समाघातम् कुर्वन्ति तदा रुग्णानां स्वांस इत्यवरोधितानि !

भारत इस समय कोरोना के दूसरे लहर का सामना कर रहा है ! देश के अलग अलग शहरों में अस्पताल खुद ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी का सामना कर रहे हैं तो मरीजों की सांस उखड़ी पड़ी है !

वस्तुतः यत् रुग्णानां प्राणवायो: स्तरम् ८० तः न्यूनम् सन्ति तेन प्राणवायो: अत्यावश्यकताम् अस्ति ! एतानां सर्वानां मध्य यदि भवतः प्राण वायो: स्तरम् ९० तः ९४ इत्यस्य मध्यास्ति तदा भवान् गृहैव केचन विशेषं व्यायामेण प्राणवायो: स्तरम् सुव्यवस्थितं कर्तुम् शक्नोन्ति !

दरअसल जिन मरीजों का ऑक्सीजन का स्तर 80 से नीचे हैं उन्हें आक्सीजन की सख्त दरकरार है ! इन सबके बीच अगर आपका आक्सीजन का स्तर 90 से 94 के बीच है तो आप घर पर ही कुछ खास व्यायाम के जरिए ऑक्सीजन लेवल को मेंटेन कर सकते हैं !

अत्रे वयं प्रोनिंग पोजिशन इतम् प्रत्ये बदिष्यामः यस्य सहाय्येन भवान् प्राणवायो: स्तरम् सुव्यवस्थितं कर्तुम् शक्नोन्ति ! प्रोन पोजिशन इत्ये कश्चितापि जनः उदरं प्रति विश्रामितुम् शक्नोति !

यहां पर हम प्रोनिंग पोजिशन के बारे में बताएंगे जिसकी मदद से आप ऑक्सीजन के स्तर को मेंटेन कर सकते हैं ! प्रोन पोजिशन में कोई भी शख्स पेट के बल लेट सकता है !

उदरं प्रति विश्रामे कालेन तेन एकमोपधानम् मस्तकस्य उपरि, द्वे उपधाने वक्षस्यतले एकम् उपधानम् जानो: पार्श्व भवनीयम् ! अस्यानंतरम् तीव्र स्वांसम् ग्रहणीयम् !

पेट के बल लेटते समय से उसे एक तकिया माथे के ऊपर , दो तकिया चेस्ट के नीचे और एक तकिया घुटने के पास होना चाहिए ! इसके बाद तेज सांस लेना चाहिए !

यस्मात् इदम् लाभम् भवति तत फुफ्फुसे पर्याप्त मात्रायाम् प्राणवायो: प्राप्यति वदने च् प्राणवायो: स्तरम् सुव्यवस्थितं भव्यते ! इदृशं कृते कश्चितापि जनान् प्राणवायू हेतु त्वरित चिकित्सालयस्य सिलेंडर इत्यस्य च् आवश्यकतां न भवति !

इससे फायदा यह होता है कि फेफड़े में पर्याप्त मात्रा में आक्सीजन पहुंचती है और शरीर में आक्सीजन का स्तर मेंटेन हो जाता है ! ऐसा करने पर किसी भी शख्स को ऑक्सीजन के लिए तुरंत अस्पताल या सिलेंडर की जरूरत नहीं होती है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

[tds_leads input_placeholder="Email address" btn_horiz_align="content-horiz-center" pp_checkbox="yes" pp_msg="SSd2ZSUyMHJlYWQlMjBhbmQlMjBhY2NlcHQlMjB0aGUlMjAlM0NhJTIwaHJlZiUzRCUyMiUyMyUyMiUzRVByaXZhY3klMjBQb2xpY3klM0MlMkZhJTNFLg==" msg_composer="success" display="column" gap="10" input_padd="eyJhbGwiOiIxNXB4IDEwcHgiLCJsYW5kc2NhcGUiOiIxMnB4IDhweCIsInBvcnRyYWl0IjoiMTBweCA2cHgifQ==" input_border="1" btn_text="I want in" btn_tdicon="tdc-font-tdmp tdc-font-tdmp-arrow-right" btn_icon_size="eyJhbGwiOiIxOSIsImxhbmRzY2FwZSI6IjE3IiwicG9ydHJhaXQiOiIxNSJ9" btn_icon_space="eyJhbGwiOiI1IiwicG9ydHJhaXQiOiIzIn0=" btn_radius="0" input_radius="0" f_msg_font_family="521" f_msg_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsInBvcnRyYWl0IjoiMTIifQ==" f_msg_font_weight="400" f_msg_font_line_height="1.4" f_input_font_family="521" f_input_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEzIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMiJ9" f_input_font_line_height="1.2" f_btn_font_family="521" f_input_font_weight="500" f_btn_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEyIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMSJ9" f_btn_font_line_height="1.2" f_btn_font_weight="600" f_pp_font_family="521" f_pp_font_size="eyJhbGwiOiIxMiIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEyIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMSJ9" f_pp_font_line_height="1.2" pp_check_color="#000000" pp_check_color_a="#309b65" pp_check_color_a_h="#4cb577" f_btn_font_transform="uppercase" tdc_css="eyJhbGwiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjQwIiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJsYW5kc2NhcGUiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjMwIiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJsYW5kc2NhcGVfbWF4X3dpZHRoIjoxMTQwLCJsYW5kc2NhcGVfbWluX3dpZHRoIjoxMDE5LCJwb3J0cmFpdCI6eyJtYXJnaW4tYm90dG9tIjoiMjUiLCJkaXNwbGF5IjoiIn0sInBvcnRyYWl0X21heF93aWR0aCI6MTAxOCwicG9ydHJhaXRfbWluX3dpZHRoIjo3Njh9" msg_succ_radius="0" btn_bg="#309b65" btn_bg_h="#4cb577" title_space="eyJwb3J0cmFpdCI6IjEyIiwibGFuZHNjYXBlIjoiMTQiLCJhbGwiOiIwIn0=" msg_space="eyJsYW5kc2NhcGUiOiIwIDAgMTJweCJ9" btn_padd="eyJsYW5kc2NhcGUiOiIxMiIsInBvcnRyYWl0IjoiMTBweCJ9" msg_padd="eyJwb3J0cmFpdCI6IjZweCAxMHB4In0=" msg_err_radius="0" f_btn_font_spacing="1"]
spot_img

Related articles

ऑस्ट्रेलियायां बर्धयेत् हिंदू विरोधिन् क्रियारूपं, मंदिरेषु अभवन् घातानि ! ऑस्ट्रेलिया में बढ़ रहीं हिंदू विरोधी गतिविधियाँ, मंदिरों पर हुए हमले !

ऑस्ट्रेलियायां खालिस्तानी क्रियारूपम् बर्धते ! रविवासरम् (२९ जनवरी २०२३) मेलबर्न नगरस्य फेडरेशन चौके खलिस्तानस्य समर्थने जनमत संग्रहस्यायोजनम् कृतवान्...

बिहारे एनसीसी कैडेट अंकितम् मुस्लिम कट्टरपंथिन: हतवान् ! बिहार में NCC कैडेट अंकित को मुस्लिम कट्टरपंथियों ने मार डाला !

फोटो साभार ऑप इंडिया बिहारस्य गोपालगंज जनपदस्य बसडीला ग्रामे कट्टरपंथिन् मुस्लिम सम्मर्द: शाकम् क्रीतुं गतवान् अंकित नाम्नः युवकस्य शुक्रवासरम्...

किं पकिस्तानस्य जलमपि अवरुध्दिष्यति भारतं ? क्या पाकिस्तान का पानी भी बंद करेगा भारत ?

वर्ष १९६० तमे अभवत् सिंधु जल सन्ध्यां संशोधनाय भारतं पकिस्तानम् सूचनाम् प्रस्तुतवान् ! भारतस्य कथनमस्ति तत पकिस्तानस्य कार्यवहनानि...

पद्म विभूषण दत्तं मुलायम सिंह यादवस्य सम्मानस्योपहास:-सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ! पद्म विभूषण देना मुलायम सिंह यादव के सम्मान का मजाक-सपा नेता स्वामी...

समाजवादी दलस्य संस्थापक मुलायम सिंह यादवम् मरणोपरांत मोदी सर्वकारः भारतस्य द्वितीय सर्वात् वृहत् नागरिक सम्मानः पद्म विभूषणतः सम्मानितं...