28.1 C
New Delhi
Tuesday, June 15, 2021

कोरोना संक्रमणेन द्रुतं रमितं तदा स्वीकरोन्तु इमानि युक्ति ! कोरोना संक्रमण से दूर रहना है तो अपनाएं ये उपाय !

Must read

कोविड-१९ इत्यस्य द्वितीय प्रहारम् बहु घातकं बद्यते ! स्वास्थ्य विशेषज्ञानां कथनानि सन्ति तत महामार्या: इदम् द्वितीय प्रहारम् पूर्वतः अधिकं संक्रमकमस्ति ! अर्थतः तत इदम् तीव्रताया जनान् स्वावृत्यां नयन्ति ! अत्रैव तत यस्मात् मृत्युदरमपि प्रथमतः संभवत: अधिकमस्ति !

कोविड-19 की दूसरी लहर ज्यादा घातक बताई जा रही है ! स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि महामारी की यह दूसरी लहर पहले से ज्यादा संक्रामक है ! यानि कि यह तेजी से लोगों को अपनी चपेट में ले रही है ! यहां तक कि इससे मृत्युदर भी पहले से संभवत: ज्यादा है !

द्वितीय प्रहारे बालका: युवा: चपि अस्य बंधने आगच्छन्ति ! द्वितीय प्रहारेण कश्चितापि आयु वर्गमवशेषम् नास्ति ! कोरोनायाः टीका दत्तस्य अनंतरमपि जनाः संक्रमयन्ति ! अर्थतः तत इति महामार्या शत प्रतिशतम् सुरक्षा अद्यापि नास्ति !

दूसरी लहर में बच्चे और युवा भी इसकी गिरफ्त में आ रहे हैं। दूसरी लहर से कोई भी आयु वर्ग अछूता नहीं है ! कोरोना का टीका लगवाने के बाद भी लोग संक्रमित हो रहे हैं ! यानि कि इस महामारी से सौ प्रतिशत सुरक्षा अभी नहीं है !

कोरोनायाः इदम् द्वितीय प्रहारम् भारते येन तीव्रताया बर्ध्यति तेन पश्यस्यानंतरम् विशेषज्ञानां मान्यतानि सन्ति तत संक्रमण अद्यापि अति प्रसरिष्यते ! अतएव जनान् अति सतर्कस्यावश्यकतामस्ति ! विशेषज्ञा: कोरोना संक्रमणेन द्रुताय केचन युक्तिमपि ज्ञापितानि !

कोरोना की यह दूसरी लहर भारत में जिस तेजी के साथ बढ़ रही है उसे देखने के बाद विशेषज्ञों का मानना है कि संक्रमण अभी और फैलेगा ! इसलिए लोगों को ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है ! विशेषज्ञों ने कोरोना संक्रमण से दूर रहने के लिए कुछ उपाय भी सुझाएं हैं !

इति युक्तिन् स्वीकृत्वा महामार्या: क्षेत्रे आगमनेन रक्षणम् भवितुम् शक्नोति ! कोरोनाया संक्रमितं भवस्यानंतरम् नापितु प्रथम सतर्क रमस्य आवश्यकतामस्ति ! जनान् तानि सर्वाणि युक्तिम् करणीय: तत तानि यस्मात् संक्रमितं नासि !

इन उपायों को अपनाकर महामारी के दायरे में आने से बचा जा सकता है ! कोरोना से संक्रमित होने के बाद नहीं बल्कि पहले सावधान रहने की जरूरत है ! लोगों को वे सभी उपाय करने चाहिए कि वे इससे संक्रमित न हो !

देशे पूर्व बहु दिवसै: कोरोना संक्रमणस्य प्रकरणं त्रय लक्षतः अधिकमागच्छन्ति ! संक्रमणस्येदम् संख्या चत्वारः लक्षमेव प्राप्तुम् दर्शितं ! चिकित्सालयेषु कोरोना रुग्णेभ्यः अधुना स्थानं अवशेषम् नास्ति ! चिकित्सालयं नव प्रकरण नीतेन न करिष्यन्ते !

देश में पिछले कई दिनों से कोरोना संक्रमण के मामले तीन लाख से ज्यादा आ रहे हैं ! संक्रमण की यह संख्या चार लाख तक पहुंचती दिखी है ! अस्पतालों में कोरोना मरीजों के लिए अब जगह नहीं बची है ! अस्पताल नए केस लेने से इंकार करने लगे हैं !

संक्रमण प्रसरस्य स्थितिम् पश्यमानः स्वास्थ्य विशेषज्ञानां मानितानि सन्ति ततागतेषु दिवसेषु संक्रमणस्य आंकड़ा प्रतिदिनम् ४ लक्षातधिकं भवितुम् शक्नोति ! चिकित्सालयेषु चिकित्सीय प्राणवायो: संकटम् पश्यमानः रुग्णानां सुश्रुषायाम् संकटम् भवितुम् शक्नोति ! अतएव आवश्यकमस्ति तत अस्य महामारी तः निवृत्तम् !

संक्रमण फैलने की दर को देखते हुए स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि आने वाले दिनों में संक्रमण का आंकड़ा प्रतिदिन 4 लाख से ज्यादा हो सकता है ! अस्पतालों में मेडिकल ऑक्सीजन की किल्लत को देखते हुए मरीजों के इलाज में दिक्कत हो सकती है ! इसलिए जरूरी है कि इस महामारी से बचा जाए !

कोरोनायाः अद्यापि कश्चित औषधि उपलब्धम् नास्ति ! कोरोनायाः टीका: यत् उपलब्धम् सन्ति तानि महामार्या रणाय शरीरस्य प्रतिरोधकम् क्षमतां बर्ध्यन्ति ! अर्थतः तत टीका भवतः आमात् शत प्रतिशतम् सुरक्षितं न करिष्यति अपितु भवताम् प्रतिरोधकम् क्षमता बर्धिष्यति !

कोरोना की अभी कोई दवा मौजूद नहीं है। कोरोना के टीके जो उपलब्ध हैं वे महामारी से लड़ने के लिए शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं ! यानि कि टीका आपको बीमारी से 100 फीसदी सुरक्षित नहीं करेगा बल्कि आपकी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएगा !

संक्रमित भवे भवन्तः गम्भीर्य रूपेण रुग्णा: न भविष्यन्ति आम प्राणघातक: न भविष्यति ! स्वास्थ्य विशेषज्ञानां कथनानि सन्ति कोरोनायां यदि नियंत्रणं प्राप्तमस्ति तदा अस्य संक्रमण प्रसारस्य श्रृंखलाम् त्रोटितुम् भविष्यति !

संक्रमित होने पर आप गंभीर रूप से बीमार नहीं होंगे और बीमारी जानलेवा नहीं होगी ! स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना पर अगर काबू पाना है तो इसके संक्रमण फैलाने की श्रृंखला (चेन) को तोड़ना होगा !

यस्मै आवश्यकमस्ति तत सर्वा: जनाः कोविड- १९ नियमस्य उचितं एवं जिम्मेवारिम् पूर्वकम् व्यवहरन्तु ! आवश्यकतायाः अनुसारेन मास्क डबलमास्क इत्यस्य च् प्रयोगम् कुर्वन्तु ! कोविड -१९ इत्यस्य नियमस्य जिम्मेवारिपूर्वकम् पालने इति महामार्या द्रुतम् भवितुम् शक्नोति !

इसके लिए जरूरी है कि सभी लोग कोविड- 19 प्रोटोकॉल का उचित एवं जिम्मेदारी पूर्वक व्यवहार करें ! जरूरत के हिसाब से मास्क और डबल मास्क का इस्तेमाल करें ! कोविड-19 का प्रोटोकॉल का जिम्मेदारीपूर्वक पालन करने पर इस महामारी से दूर रहा जा सकता है !

कोरोनायाः द्वितीय प्रहारे संक्रमित भवकेषु युवा वर्गस्य संख्याधिकमस्ति ! येन दृश्यमानः सर्वकार: एक मई तः १८ वर्षस्य उपर्या: जनान् टीका इति दत्तुम् गच्छति ! यस्मात् टीकाकरणं अभियाने तीव्रतागमिष्यति देशस्य एकम् वृहद वर्गम् महामार्या सुरक्षितं भविष्यति !

कोरोना की दूसरी लहर में संक्रमित होने वालों में युवा वर्ग की संख्या ज्यादा है ! इसे देखते हुए सरकार एक मई से 18 साल के ऊपर के व्यक्तियों को टीका लगाने जा रही है ! इससे टीकाकरण अभियान में तेजी आएगी और देश का एक बड़ा वर्ग महामारी से सुरक्षित होगा !

शिशून् महामार्या सुरक्षा प्रदत्तायापि सर्वकारम् उपयुक्तं टीकानीयम् ! कोरोना तः रणम् बहु क्षेत्रेषु रणनमस्ति ! इति महामारिम् पराजयाय टीकौषधि कोविड-१९ नियमं सर्वाणि आवश्यकं सन्ति ! सतर्कं जागरूकं च् भूत्वा कोरोना इतम् पराजितुम् शक्नोति !

बच्चों को महामारी से सुरक्षा प्रदान करने के लिए भी सरकार को उपयुक्त टीका लाना चाहिए ! कोरोना से लड़ाई कई मोर्चों पर लड़नी है ! इस महामारी को हराने के लिए टीका, दवा, कोविड-19 प्रोटोकॉल सभी जरूरी हैं ! सतर्क और जागरूक होकर कोरोना को हराया जा सकता है !

Disclaimer The author is solely responsible for the views expressed in this article. The author carry the responsibility for citing and/or licensing of images utilized within the text. The opinions, facts and any media content in them are presented solely by the authors, and neither Trunicle.com nor its partners assume any responsibility for them. Please contact us in case of abuse at Trunicle[At]gmail.com

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article