भाजपायै किं विशेषमस्ति डीडीसी इति निर्वाचनस्य परिणामं ? भाजपा के लिए क्यों खास है डीडीसी चुनाव का नतीजा ?

0
289

जम्मू-कश्मीरस्य जनपद विकास परिषद निर्वाचने भारतीय जनता दलम् सर्वात् वृहद दलम् निर्मित्वा उत्पद्यते ! निर्वाचने फारूक अब्दुल्लायाः नेता सप्त क्षेत्रीय दलानि गुपकर गठबंधनं भौमवासरम् सम्पूर्ण २८० इत्यैन २४४ आसनानां परिणाम आगतैव ९६ आसनेषु विजयते स्म तत्रैव भाजपा ७० आसनेषु विजयेण सह सर्वात् वृहद दलम् निर्मित्वा उत्पद्यते !

जम्मू-कश्मीर के जिला विकास परिषद चुनाव में भारतीय जनता पार्टी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है ! चुनाव में फारूक अब्दुल्ला के नेतृत्व वाला सात क्षेत्रीय दलों का गुपकर गठबंधन मंगलवार को कुल 280 में से 244 सीटों के परिणाम आने तक 96 सीटों पर जीत चुका था वहीं भाजपा 70 सीटों पर जीत के साथ सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी !

अद्याप्यैव ४६ निर्दलीय उम्मीदवाराणि विजयम् प्राप्तमस्ति ! कांग्रेसस्य अंशेषु २१ आसना: आगतवान ! डीडीसी निर्वाचनस्य परिणामं भाजपायै विशेषं महत्वम् धारयति कुत्रचित प्रथमदा तत्कश्मीर घट्याम् आसना: विजयति ! एनसी इति पीडीपी इत्यस्य च् गढ़युक्त प्रान्तरे आसनानि विजयित्वा भाजपा सन्देशम् दत्तवान तत घट्याम् तेन जनाः स्वीकार्यते !

अभी तक 46 निर्दलीय उम्मीदवारों को जीत मिली है ! कांग्रेस के हिस्से में 21 सीटें आयी हैं ! डीडीसी चुनाव के नतीजे भाजपा के लिए विशेष महत्व रखते हैं क्योंकि पहली बार उसने कश्मीर घाटी में सीटें जीती हैं ! एनसी और पीडीपी के गढ़ वाले इलाके में सीटें जीतकर भाजपा ने संदेश दिया है कि घाटी में उसे लोग स्वीकार्य करने लगे हैं !

प्रथमदा कश्मीर घट्याम् आसनानि विजयेत् भाजपा जम्मू-कश्मीरे सम्प्रत्यैवस्य निर्वाचने भाजपा जम्मू संभागे आसनानि विजयेतागतवान तु घट्याम् सम्प्रत्येव तस्य खाता इति नैद्घट्यते स्म !

पहली बार कश्मीर घाटी में सीटें जीती भाजपा
जम्मू-कश्मीर में अब तक के चुनाव में भाजपा जम्मू संभाग में सीटें जीतती आई है लेकिन घाटी में अब तक उसका खाता नहीं खुला था !

विगत काले एषः विधानसभा निर्वाचनं लोकसभा निर्वाचनं च् रणेत् तु घट्याम् तेन सफलताम् न प्राप्तम् तु डीडीसी इति निर्वाचने श्रीनगरे, पुलवामायाम्, बांदीपोरायाम् च् आसनानि विजयित्वा एषः स्व दस्तकम् दत्तवान !

बीते समय में वह विधानसभा चुनाव और लोकसभा चुनाव लड़े लेकिन घाटी में उसे सफलता नहीं मिली लेकिन डीडीसी चुनाव में श्रीनगर,पुलवामा और बांदीपोरा में सीटें जीतकर उसने अपनी दस्तक दे दी है !

घट्या: प्रान्त पीडीपी इति नेशनल कांफ्रेंस इत्यस्य च् गढ़म् मान्यते यद्यपि भाजपाया: शक्तिम् जम्मू क्षेत्रैव मान्यते स्म ! स्पष्टमस्ति तत घट्याम् इति विजयस्यानन्तरं भाजपाया: उत्साहं बर्धिष्यते ! भाजपाया: कथनमस्ति तत घट्याम् एषः २० तः अधिकम् निर्दलीय उम्मीदवाराणि स्व समर्थनं अददात् स्म इयम् च् उम्मीदवारम् विजयत: !

घाटी का इलाका पीडीपी और नेशनल कॉंफ्रेंस का गढ़ माना जाता है जबकि भाजपा का दबदबा जम्मू क्षेत्र तक माना जाता था ! जाहिर है कि घाटी में इस जीत के बाद भाजपा का उत्साह बढ़ेगा ! भाजपा का कहना है कि घाटी में उसने 20 से ज्यादा निर्दलीय उम्मीदवारों को अपना समर्थन दिया था और ये उम्मीदवार विजयी हुए हैं !

जम्मू-कश्मीरम् विशेष राज्यस्य नाम दायकः अनुच्छेद ३७० इतम् केंद्र सर्कारम् गत पंच अगस्त २०१९ तमम् समाप्तम् कृतवान ! अस्य विरुद्धम् नेशनल कांफ्रेंस इति पीडीपी इत्यस्य च् नेतृत्वे राज्यस्य सप्त क्षेत्रीय दलानि पीपुल्स अलायंस फॉर गुपकर डिक्लयरेशन इति (पीएजीडी) निर्मित्वा निर्वाचनम् रणेत् !

जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को केंद्र सरकार ने गत पांच अगस्त 2019 को खत्म कर दिया ! इसके खिलाफ नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीडीपी के नेतृत्व में राज्य की सात क्षेत्रीय पार्टियों ने पीपुल्स अलायंस फॉर गुपकर डिक्लयरेशन (पीएजीडी) बनाकर चुनाव लड़ा !

निर्वाचने इति दला: अनुच्छेद ३७० इत्यस्य प्रत्यावर्तनम् एकम् वृहद प्रकरणमरचयत् स्म ! निर्वाचने गुपकर अलायंस इति सर्वातधिकम् आसनानि विजयेत् यद्यपि एकल दलस्य रूपे भाजपा सर्वातधिकम् आसनानि विजयेत् ! द्वयो इति विजयस्य भिन्न-भिन्नार्थ बद्यते !

चुनाव में इन दलों ने अनुच्छेद 370 की वापसी को एक बड़ा मुद्दा बनाया था ! चुनाव में गुपकर अलायंस ने सबसे ज्यादा सीटें जीती हैं जबकि सिंगल पार्टी के तौर पर भाजपा सबसे ज्यादा सीटें जीती हैं ! दोनों इस जीत के अलग-अलग मायने बता रहे हैं !

गुपकर अलायंस इत्यस्य कटनमस्ति जनाः अनुच्छेद ३७० इत्यस्य पुनर्स्थापनमैच्छति यद्यपि भाजपाया: दृढकथनमस्ति तत जनाः अनुच्छेद ३७० इत्येन अग्रम् अबर्ध्यते तत् च् विकासस्य राजनीतिम् स्वीकार्यते !

गुपकर अलायंस का कहना है कि जनता ने अनुच्छेद 370 की बहाली चाहती है जबकि भाजपा का दावा है कि जनता अनुच्छेद 370 से आगे बढ़ चुकी है और उसने विकास की राजनीति को अपनाया है !

सम्पूर्ण केंद्र शासित प्रदेशस्य दलम् निर्मयत् भाजपायाः इति विजये केंद्रीय मंत्री उधमपुरेण सांसद च् जितेंद्र सिंह: अकथयत् तत डीडीसी इति निर्वाचनस्य परिणामं भाजपाम् सम्पूर्ण राज्यस्य दलमनिर्मयते !

पूरे केंद्र शासित प्रदेश की पार्टी बनी भाजपा की इस जीत पर केंद्रीय मंत्री एवं उधमपुर से सांसद जितेंद्र सिंह ने कहा कि डीडीसी चुनाव के नतीजे ने भाजपा को अब पूरे राज्य की पार्टी बना दिया है !

सम्प्रति दलस्य उपस्थितिम् कश्मीरेण सह केंद्र शासित प्रदेशस्य सर्वाणि क्षेत्रेषु अभव्यते ! इदृशं प्रथमदा भविष्यति यदा डीडीसी इति निर्वाचने विजयत: उम्मीदवारम् जम्मू-कश्मीरस्य संविधानस्य स्थानम् भारतस्य संविधानस्य शपथम् गृहीष्यन्ति !

अब पार्टी की उपस्थिति कश्मीर सहित केंद्र शासित प्रदेश के सभी भागों में हो गई है ! ऐसा पहली बार होगा जब डीडीसी चुनाव में जीते हुए उम्मीदवार जम्मू-कश्मीर के संविधान की जगह भारत के संविधान का शपथ लेंगे !

राज्ये डीडीसी निर्वाचनं शांतिपूर्वकमभवत: जनानां च् अंशम् बर्धयेत् इत्यात् राज्ये शीघ्रेण विधानसभा निर्वाचनम् क्रियेत्शक्नोति ! इतिदा निर्वाचने जनाः बर्धित्वा अंशयते ! २०१९ तमस्य लोकसभा निर्वाचने श्रीनगर आसने केवलं ७.९ प्रतिशतम् मतदानयते स्म तु इतिदा अत्र ३५.३ प्रतिशतम् मतदानमभवत् !

राज्य में डीडीसी चुनाव शांतिपूर्वक संपन्न हुए हैं और लोगों की भागीदारी बढ़ी है इससे राज्य में जल्द से विधानसभा चुनाव कराए जा सकते हैं ! इस बार चुनाव में लोगों ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया है ! 2019 के लोकसभा चुनाव में श्रीनगर सीट पर मजह 7.9 प्रतिशत वोट पड़ा था लेकिन इस बार यहां 35.3 फीसदी मतदान हुआ !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here