राजनैतिक नाटकमारंभितं, कश्चित कथ्यति सीएए निर्वर्तयतु, अनुच्छेद ३७० आरंभनीयं:- मुख्तार अब्बास नकवी ! सियासी ड्रामा शुरू हो गया, कोई कह रहा है कि CAA को हटाओ, अनुच्छेद 370 को लागू करना चाहिए:-मुख्तार अब्बास नकवी !

0
142

यदेन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी त्र्यान् कृषि विधेयकान् पुनर्नियस्य वार्ता कृतमस्ति, तदेन केचन-केचन स्वराणि नागरिकता संशोधन विधेयकम् अनुच्छेद च् ३७० अपि पुनर्नियस्य वार्ता: कुर्वन्ति !

जब से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 3 कृषि कानूनों को वापस लेने की बात की है, तब से कुछ-कुछ आवाजें नागरिकता संशोधन कानून और अनुच्छेद 370 को भी वापस लेने की बातें कर रही हैं !

यस्मिन् केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी कथित: तत राजनैतिक नाटकमारंभितं ! कश्चित कथ्यति तत सीएए निरस्तं करणीयं, अनुच्छेद ३७० निरस्तं सम्पादनीयं !

इसी पर केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है कि सियासी ड्रामा शुरू हो गया है ! कोई कहता है कि सीएए को निरस्त कर देना चाहिए, अनुच्छेद 370 के निरस्त को खत्म करना चाहिए !

ते इदम् भलीभांति ज्ञायन्ति तत सीएए नागरिकता अपहृतं प्रत्ये नास्ति अपितु बांग्लादेशे, पकिस्ताने, अफगानिस्ताने उत्पीड़ितान् अल्पसंख्यकान् नागरिकता प्रदानम् प्रत्ये अस्ति !

वे यह अच्छी तरह जानते हैं कि सीएए नागरिकता छीनने के बारे में नहीं है बल्कि बांग्लादेश, पाकिस्तान, अफगानिस्तान में उत्पीड़ित अल्पसंख्यकों को नागरिकता प्रदान करने के बारे में है !

चौपलायां केंद्रीयमंत्री मुख्तारअब्बास नकवी कथित: तत अनुच्छेद ३७० निरस्तेन सह जम्मू-कश्मीरयो लद्दाखे च् बहवः प्रकरणानां समाधानं भवितं जनान् मुख्यधारायां आनीतं ! ते अपि राजनीतिक प्रक्रियायाः अंशानि निर्मयन्ति !

मुरादाबाद में केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि अनुच्छेद 370 के निरस्त होने के साथ जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में बहुत सारे मुद्दों का समाधान हो गया है और लोगों को मुख्यधारा में लाया गया है ! वे भी राजनीतिक प्रक्रिया का हिस्सा बन रहे हैं !

प्रमुख मुस्लिम संगठन जमीयत उलेमा-ए-हिंद शुक्रवासरम् सर्वकारेण नागरिकता (संशोधन) अधिनियमम् अपि पुनर्नियस्याग्रहम् कृतवान !

प्रमुख मुस्लिम संगठन जमीयत उलेमा-ए-हिंद ने शुक्रवार को सरकार से नागरिकता (संशोधन) अधिनियम को भी वापस लेने का आग्रह किया !

अमरोहाया बसपा सांसद दानिश अली अपि सीएए विना कश्चित विलंबेण निरस्तस्य आह्वानम् कृतवान ! अली ट्वीतं कृतः तत त्र्यान् कृषि विधेयकान् निरस्तं एकम् स्वागत योग्यम् पगमस्ति !

अमरोहा से बसपा सांसद दानिश अली ने भी सीएए को बिना किसी देरी के निरस्त करने का आह्वान किया ! अली ने ट्वीट किया कि 3 कृषि कानूनों को निरस्त करना एक स्वागत योग्य कदम है !

अहम् शक्ति शाली राज्य सत्ता तेन च् सहयोगीम् धन युक्त सखाभिः रणितुम्, बलिदानम् कर्तुम् पराजितुम् च् तेषामिच्छा शक्तिभिः कृषकान् शुभाषयः ददामि ! प्रधानमंत्री मोदीमपि सीएए इत्ये पुनर्विचारणीयं विना कश्चित च् विलंबस्य सीएए इतम् निरस्तं करणीयं !

मैं शक्तिशाली राज्य सत्ता और उनके साथी पूंजीवादी दोस्तों से लड़ने, बलिदान करने और हराने की उनकी इच्छा शक्ति के लिए किसानों को बधाई देता हूँ ! प्रधानमंत्री मोदी को भी सीएए पर पुनर्विचार करना चाहिए और बिना किसी देरी के सीएए को निरस्त करना चाहिए !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here