32.1 C
New Delhi
Tuesday, June 28, 2022

क्वाडम् न्यूनकाले निर्मितं महत् स्थानं, पठन्तु पीएम मोदिण: भाषणस्य वृहत् वार्ता: ! क्वाड ने कम समय में बनाया महत्वपूर्ण स्थान, पढ़ें पीएम मोदी के भाषण की बड़ी बातें !

Must read

जयपानस्य टोक्यो इत्यां आयोजितं क्वाड लीडर्स गोष्ठ्याः द्वितीय दिवसं भौमवासरम् जयपानस्य प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदिण: स्वागतम् कृतः ! अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन: अपि प्रधानमंत्री मोदिण: क्वाड शिखर सम्मेलने स्वागतम् कृतः कथित: च् !

जापान के टोक्यो में आयोजित हो रहे क्वाड लीडर्स समिट के दूसरे दिन मंगलवार को जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत किया ! अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने भी प्रधानमंत्री मोदी का क्वाड शिखर सम्मेलन में स्वागत किया और कहा !

भवता व्यक्तिगतरूपे पुनः मेलित्वा बहु सम्यक् अनुभवति ! तत्रैव क्वाड लीडर्स गोष्ठ्या प्रथम स्व उद्घाटनोद्बोधने पीएम मोदी कथित: ततेयत् न्यून काले क्वाड समुहम् विश्वस्तरे एकं महत् स्थानम् निर्मितमस्ति !

आपसे व्यक्तिगत तौर पर दोबारा मिलकर बहुत अच्छा लग रहा है ! वहीं क्वाड लीडर्स समिट से पहले अपने उद्घाटन भाषण में पीएम मोदी ने कहा कि इतने कम समय में क्वाड समूह ने विश्व स्तर पर एक महत्तवपूर्ण स्थान बना लिया है !

पीएम कथित: तताद्य क्वाड इत्या: क्षेत्रम् विस्तृतं भवितं स्वरूपम् च् प्रभाविन् भवितं ! अस्माकं परस्परविश्वासम्, दृढ़ संकल्पम् लोकतांत्रिक शक्तिन् नवोर्जोत्साहम् च् ददाति ! क्वाड इत्याः स्तरे अस्माकं परस्परसहाय्येण एकं मुक्त, स्पष्ट समावेशी इंडो पैसिफिक क्षेत्रम् प्रोत्साहनम् लब्धति !

पीएम ने कहा कि आज क्वाड का दायरा व्यापक हो गया है और स्वरूप प्रभावी हो गया है ! हमारा आपसी विश्वास, दृढ़ संकल्प लोकतांत्रिक शक्तियों को नई ऊर्जा और उत्साह दे रहा है ! क्वाड के स्तर पर हमारे आपसी सहयोग से एक फ्री, ओपन और समावेशी इंडो पैसिफिक क्षेत्र को प्रोत्साहन मिल रहा है !

यत् अस्माकं संयुक्तोद्देश्यमस्ति, प्रधानमंत्री अग्रम् कथित: तत कोविड-१९ इत्या: विपरीत परिस्थितिनां उपरांत वयं सुरक्षौषधि वितरणं, जलवायु कार्यवाहिं आपूर्ति श्रृंखला कोमलतां, आपदायां प्रतिक्रियाम्, आर्थिक सहाय्य यथा बहु क्षेत्रेषु परस्परसमन्वयं बर्धितमस्ति !

जो हम सभी का साझा उद्देश्य है, प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि कोविड-19 की विपरीत परिस्थितियों के बावजूद हमने वैक्सीन वितरण, जलवायु कार्रवाई, आपूर्ति श्रृंखला लचीलापन, आपदा में प्रतिक्रिया, आर्थिक सहयोग जैसे कई क्षेत्रों में आपसी समन्वय बढ़ाया है !

पीएम मोदी कथित: तत यस्मात् इंडो-पैसिफिक इत्यां शांति, समृद्धि स्थिरताम् च् सुनिश्चितं भवति ! क्वाड हिंद-प्रशांताभ्यां एकस्य रचनात्मक प्रारूपेण सहाग्रम् बर्ध्यति ! अस्माकं परस्परविश्वासम् एवं संकल्पम् लोकतांत्रिक शक्तिन् नवोर्जाम् ददाति !

पीएम मोदी ने कहा कि इससे इंडो-पैसिफिक में शांति, समृद्धि और स्थिरता सुनिश्चित हो रही है ! क्वाड हिंद-प्रशांत के लिए एक रचनात्मक एजेंडे के साथ आगे बढ़ रहा है ! हमारा आपसी विश्वास एवं संकल्प लोकतांत्रिक ताकतों को नई ऊर्जा दे रहा है !

प्रधानमंत्री कथित: तत अमेरिकाया, ऑस्ट्रेलियाया जयपानेण सह सदस्यदेशानां परस्पर विश्वासम् दृढ़ संकल्पलोकतांत्रिक शक्तिन् च् नवोर्जोत्साहम् च् ददाति !

प्रधानमंत्री ने कहा कि अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और जापान सहित सदस्य देशों का आपसी विश्वास और दृढ़ संकल्प लोकतांत्रिक शक्तियों को नई ऊर्जा और उत्साह दे रहा है !

इति काळम् प्रधानमंत्री मोदी निर्वाचनम् जये ऑस्ट्रेलियायाः पीएम एंथनी अल्बानीजेण बधाई अपि दत्त: ! सहैव कथित: शपथग्रहणस्य २४ घटकानि अनंतरम् अस्माकं मध्य भवतः उपस्थितिम् क्वाड मित्रतायाः शक्तिं यं प्रति च् भवतः प्रतिबद्धतां प्रदर्शयति !

इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने चुनाव जीतने पर ऑस्ट्रेलियाई पीएम एंथनी अल्बनीज को बधाई भी दी ! साथ ही कहा कि शपथ लेने के 24 घंटे बाद हमारे बीच आपकी उपस्थिति क्वाड दोस्ती की ताकत और इसके प्रति आपकी प्रतिबद्धता को दर्शाती है !

जयपानस्य प्रधानमंत्री फुमियो किशिदायाः निमंत्रणे, पीएम मोदिणा अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेनेण ऑस्ट्रेलियायाः च् प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीजेण सह टोक्यो इत्यां तृतीय क्वाड लीडर्स गोष्ठ्यां प्रतिभागयन्ति !

जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा के निमंत्रण पर, पीएम मोदी अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीज के साथ टोक्यो में तीसरे क्वाड लीडर्स समिट में भाग ले रहे हैं !

Disclaimer The author is solely responsible for the views expressed in this article. The author carry the responsibility for citing and/or licensing of images utilized within the text. The opinions, facts and any media content in them are presented solely by the authors, and neither Trunicle.com nor its partners assume any responsibility for them. Please contact us in case of abuse at Trunicle[At]gmail.com

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article