12.1 C
New Delhi

कोरोना इति रोगद्रव्यम् गृहित्वा समाजवादी दलस्य नेतु: असंगत कथनं ! कोरोना वैक्सीन को लेकर समाजवादी पार्टी के नेता का बेतुका बयान !

Date:

Share post:

कोरोना वैक्सीन इतम् गृहित्वा नेतृणाम् कथनानां अंतम् भवति न परिलक्ष्यति नव प्रकरणे एक: अन्य समाजवादी दलस्य नेता आईपी सिंह:,यत् सपायाः राष्ट्रीय प्रवक्ता: सन्ति पूर्व राज्यमंत्री: चासीत् !

कोरोना वैक्सीन को लेकर नेताओं की बयानबाजी का अंत होता नहीं दिख रहा है ताजा मामले में एक और समाजवादी पार्टी के नेता आईपी सिंह जो सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं और पूर्व राज्यमंत्री थे !

सः असंगत कथनं दत्तवान अकथयत् च् तत प्रधानमंत्री महोदयः योगीम् च् कोरोना इत्यस्य टीका इति संधानीयः ! इत्यात् पूर्व सपा प्रमुख अखिलेशः अपि कोविड-१९ इति रोगद्रव्यम् गृहत्वाद्भुत् कथनमदीयते !

उन्होंने बेतुका बयान दिया है और कहा है कि प्रधानमंत्री जी और जोगी को कोरोना का टीका लगवाना चाहिए ! इससे पहले सपा प्रमुख अखिलेश भी कोविड-19 वैक्सीन को लेकर अजीब बयान दे चुके हैं !

समाजवादी दलस्य राष्ट्रीयाध्यक्ष अखिलेश यादवस्य कथनमस्ति तत सः भाजपाया: रोगद्रव्यम् न संधिष्यति कुत्रचित भाजपाया: रोगद्रव्ये तेन विश्वासम् नास्ति !

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का कहना है कि वो बीजेपी की वैक्सीन नहीं लगवाएंगे क्योंकि बीजेपी की वैक्सीन में उन्हें भरोसा नहीं है !

येन सहैव सः अकथयत् तत यदा स्व सरकारः आगमिष्यति तर्हि सर्वाणि रोगद्रव्यम् संधिष्यति तत्रैव भाजपाया: कथनमस्ति तत एकः शिक्षित जनः प्रवादकर्ता कीदृशं भवशक्नोति !

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जब अपनी सरकार आएगी तो सबको वैक्सीन लगवाएंगे वहीं बीजेपी का कहना है कि एक पढ़ा लिखा शख्स अफवाहबाज कैसे हो सकता है !

पूर्व राज्यमंत्री आईपी सिंह: ट्वीतकृत्वाकथ्यते तत टीकाकरण इति भाजपाकार्यकर्ताणां संघ कार्यकर्ताणां च् सर्वात् प्रथम: भवनीय: साधु भविष्यति छायाग्राहिकायाम् प्रत्येकक्षण वासिन् प्रधानमंत्री महोदयम् योगी महोदयम् च् कोरोना इत्यस्य टीका संधनीयः !

पूर्व राज्य मंत्री आईपी सिंह ने ट्वीट कर कहा है कि टीकाकरण भाजपाइयों और संघियों का सबसे पहले होना चाहिए बेहतर होगा कैमरे पर हर पल रहने वाले प्रधानमंत्री जी और जोगी को कोरोना का टीका लगवाना चाहिए !

तत्रैव मिर्जापुरस्य सपा एमएलसी आशुतोष सिन्हा: कथ्यति तत टीकेषु केचन भवशक्नोति, यत् क्षतिम् दाशक्नोति ! श्व जनाः कथिष्यन्ति तत टीका इति जनसंख्याम् हनाय/न्यूनाय अदीयते स्म ! भवान् नपुंसकापि भवशक्नोति, केचनापि भवशक्नोति !

वहीं मिर्जापुर के सपा एमएलसी आशुतोष सिन्हा कहते हैं कि टीके में कुछ हो सकता है, जो नुकसान पहुंचा सकता है ! कल लोग कहेंगे कि टीका आबादी को मारने/घटाने के लिए दिया गया था ! आप नपुंसक भी हो सकते हैं, कुछ भी हो सकता है !

भाजपाया: कथनमस्ति तत अखिलेश यादवस्य मानसिक सन्तुलनम् कुत्रैव सुप्तम् अगम्यते ! कश्चितापि जनः इदृशं वार्ता: कृतशक्नोति ! अयम् बहु आश्चर्यस्य वार्तामस्ति तत कश्चित जनः केवलं राजनीतिक लाभायाननुयोज्यं दृष्टिम् सम्मुखमप्रदर्शयते !

बीजेपी का कहना है कि अखिलेश यादव का मानसिक संतुलन कहीं सोने चला गया है ! कोई भी शख्स इस तरह की बातें कर सकता है ! यह बड़े आश्चर्य की बात है कि कोई शख्स सिर्फ राजनीतिक फायदे के लिए गैरजिम्मेदार नजरिया सामने रखा है !

तत्रैव अखिलेश यादवस्य वार्तामस्ति किं सः शिक्षित: सन्ति किं सः इति प्रकारस्यैव वार्ता: विचार्यति ! भाजपा अयमपि कथं तत तुष्टिकरणस्य राजनीते कश्चितस्य जीवनेन केलिस्य आज्ञाम् न दाशक्नुते !

जहां तक अखिलेश यादव की बात है क्या वो पढ़े लिखे हैं क्या वो भी इस तरह की ही बातें सोचते हैं ! बीजेपी ने यह भी कहा कि तुष्टीकरण की राजनीति में किसी की जिंदगी से खिलवाड़ की इजाजत नहीं दी जा सकती है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

[tds_leads input_placeholder="Email address" btn_horiz_align="content-horiz-center" pp_checkbox="yes" pp_msg="SSd2ZSUyMHJlYWQlMjBhbmQlMjBhY2NlcHQlMjB0aGUlMjAlM0NhJTIwaHJlZiUzRCUyMiUyMyUyMiUzRVByaXZhY3klMjBQb2xpY3klM0MlMkZhJTNFLg==" msg_composer="success" display="column" gap="10" input_padd="eyJhbGwiOiIxNXB4IDEwcHgiLCJsYW5kc2NhcGUiOiIxMnB4IDhweCIsInBvcnRyYWl0IjoiMTBweCA2cHgifQ==" input_border="1" btn_text="I want in" btn_tdicon="tdc-font-tdmp tdc-font-tdmp-arrow-right" btn_icon_size="eyJhbGwiOiIxOSIsImxhbmRzY2FwZSI6IjE3IiwicG9ydHJhaXQiOiIxNSJ9" btn_icon_space="eyJhbGwiOiI1IiwicG9ydHJhaXQiOiIzIn0=" btn_radius="0" input_radius="0" f_msg_font_family="521" f_msg_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsInBvcnRyYWl0IjoiMTIifQ==" f_msg_font_weight="400" f_msg_font_line_height="1.4" f_input_font_family="521" f_input_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEzIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMiJ9" f_input_font_line_height="1.2" f_btn_font_family="521" f_input_font_weight="500" f_btn_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEyIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMSJ9" f_btn_font_line_height="1.2" f_btn_font_weight="600" f_pp_font_family="521" f_pp_font_size="eyJhbGwiOiIxMiIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEyIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMSJ9" f_pp_font_line_height="1.2" pp_check_color="#000000" pp_check_color_a="#309b65" pp_check_color_a_h="#4cb577" f_btn_font_transform="uppercase" tdc_css="eyJhbGwiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjQwIiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJsYW5kc2NhcGUiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjMwIiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJsYW5kc2NhcGVfbWF4X3dpZHRoIjoxMTQwLCJsYW5kc2NhcGVfbWluX3dpZHRoIjoxMDE5LCJwb3J0cmFpdCI6eyJtYXJnaW4tYm90dG9tIjoiMjUiLCJkaXNwbGF5IjoiIn0sInBvcnRyYWl0X21heF93aWR0aCI6MTAxOCwicG9ydHJhaXRfbWluX3dpZHRoIjo3Njh9" msg_succ_radius="0" btn_bg="#309b65" btn_bg_h="#4cb577" title_space="eyJwb3J0cmFpdCI6IjEyIiwibGFuZHNjYXBlIjoiMTQiLCJhbGwiOiIwIn0=" msg_space="eyJsYW5kc2NhcGUiOiIwIDAgMTJweCJ9" btn_padd="eyJsYW5kc2NhcGUiOiIxMiIsInBvcnRyYWl0IjoiMTBweCJ9" msg_padd="eyJwb3J0cmFpdCI6IjZweCAxMHB4In0=" msg_err_radius="0" f_btn_font_spacing="1"]
spot_img

Related articles

रामचरितमानसस्यानादर:, रिक्तं रमवान् सपायाः हस्तम् ! रामचरितमानस का अपमान, खाली रह गए सपा के हाथ ?

उत्तर प्रदेशे वर्तमानेव भवत् विधान परिषद निर्वाचनस्य परिणाम: आगतवान् ! पूर्ण ५ आसनेभ्यः निर्वाचनमभवन् स्म् ! यत्र ४...

चीन एक ‘अलग-थलग’ और ‘मित्रविहीन’ भारत चाहता है

एक अमेरिकी रिपोर्ट के अनुसार, "पाकिस्तान के बजाय अब चीन, भारतीय परमाणु रणनीति के केंद्र में है।" चीन भी समझता है कि परमाणु संपन्न भारत 1962 की पराजित मानसिकता से मीलों बाहर निकल चुका है।

हमारी न्याय व्यवस्था पर बीबीसी का प्रहार

बीबीसी ने अपनी प्रस्तुति में भारत के तथाकथित सेकुलरवादियों, जिहादियों और इंजीलवादियों के उन्हीं मिथ्या प्रचारों को दोहराया है, जिसे भारतीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) ने न केवल वर्ष 2012 में सिरे से निरस्त कर दिया

मध्यप्रदेशे इस्लामनगरम् ३०८ वर्षाणि अनंतरम् पुनः कथिष्यते जगदीशपुरम् ! मध्यप्रदेश में इस्लाम नगर 308 साल बाद फिर से कहलाएगा जगदीशपुर !

मध्यप्रदेशस्य भोपालतः १४ महानल्वम् अंतरे एकं ग्रामम् इस्लामनगरमधुना जगदीशपुर नाम्ना ज्ञाष्यते ! केंद्र सर्वकार: ग्रामस्य नाम परिवर्तनस्याज्ञा दत्तवान्...