तुर्किना युज्यम् सन्ति पीएफआई इत्यस्य सम्पर्क: ! तुर्की से जुड़े हैं PFI के तार !

0
526

प्रतीक चित्र

पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया इत्यस्य कथितः राष्ट्र विरोधिन् गतिविधिषु सम्मिलितं गृहित्वा उत्तर प्रदेशेन,कर्नाटकेन केरलेन उद्भवति साक्ष्यानां आलोके प्रमुखः मुस्लिम संगठन: सूफीस्लामिक आयोग: केंद्रीय गृहमंत्रालयेन नव रूपेण प्रार्थना कृतमस्ति तत सः इति समूहे प्राथमिकतायाः आधारे प्रतिबंधयतु !

पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के कथित राष्ट्रविरोधी गतिविधियों में शामिल होने को लेकर उत्तर प्रदेश,कर्नाटक और केरल से उभरते सबूतों के आलोक में प्रमुख मुस्लिम संगठन सूफी इस्लामिक बोर्ड ने केंद्रीय गृह मंत्रालय से नए सिरे से अपील की है कि वह इस समूह पर प्राथमिकता के आधार पर प्रतिबंध लगाए !

सूफी आयोगस्य गुजरात क्षेत्रस्य प्रमुखः सैयद खालिद मियां नकवी उल हुसैनी: अबदत्,वयं सरकारेण अनुरोधम् कृतः तत सः अस्माकं देशस्य हितानां विरुद्धम् कार्यकर्ता संगठनै: सह तुर्कौ पीएफआई इत्यस्य नव सम्पर्कनां संज्ञान ग्रहणतु ! इदृशस्य सम्पर्क: मया पीड़ित: करोमि !

सूफी बोर्ड के गुजरात विंग के प्रमुख सैयद खालिद मियां नकवी उल हुसैनी ने बताया,हमने सरकार से अनुरोध किया है कि वह हमारे देश के हितों के खिलाफ काम करने वाले संगठनों के साथ तुर्की में पीएफआई के नए संपर्कों का संज्ञान ले ! इस तरह के लिंक हमें परेशान करते हैं !

तुर्के: विवादास्पद संगठनस्य आईएचएच (इंसान हक वे हुर्रियतलेरी) नेतृभिः सह पीएफआई सदस्यानां कथित सभायाम् सूफी आयोगस्य पदाधिकारी: कथयतु तत भारतीय संस्थानि इदृशं संबंधानां गहनताया अन्वेषणस्य आवश्यकतामस्ति,येन भारते सद्भाव भंगम् भवितुम् नाशक्नुते !

तुर्की के विवादास्पद संगठन आईएचएच (इंसान हक वे हुर्रियतलेरी) के नेताओं के साथ पीएफआई सदस्यों की कथित बैठक पर सूफी बोर्ड के पदाधिकारी ने कहा कि भारतीय एजेंसियों को ऐसे रिश्तों की गहराई से जांच करने की जरूरत है,ताकि भारत में सद्भाव भंग न हो सके !

गुजरातस्य मेहसाणायाः प्रसिद्धम् दरगाहस्य पीर सैयद खालिद मियां: कथयतु,गृहमंत्रालयम् तिव्रेण अग्रम् बर्धनीय: एते संगठने प्रतिबंधनीयः ! सः कथयतु तत आईएचएच आईएसआईएस यथा चरमपंथी इति संगठनै: युज्यन् !

गुजरात के मेहसाणा की मशहूर दरगाह के पीर सैयद खालिद मियां ने कहा,गृह मंत्रालय को तेजी से आगे बढ़ना चाहिए और इस संगठन पर प्रतिबंध लगाना चाहिए ! उन्होंने कहा कि आईएचएच आईएसआईएस जैसे चरमपंथी संगठनों से जुड़ा हुआ है !

अतएव आईएचएच इत्येन सह पीएफआई कार्यकर्तानां सम्पर्क: यदि सन्ति,तर्हि अयम् अस्माकं देशस्य सुरक्षायाम् गम्भीर्य संकटम् भवितुम् शक्नोति ! केचन पीएफआई कार्यकर्तानां विरुद्धानि राष्ट्रीय अन्वेषण संस्थानां वर्तमानान्वेषणेन आतंकी संगठनै: सह तस्य गहन मूलानां अभिज्ञायति !

इसलिए आईएचएच के साथ पीएफआई कार्यकर्ताओं के लिंक यदि हैं,तो यह हमारे देश की सुरक्षा पर गंभीर खतरा हो सकता है ! कुछ पीएफआई कार्यकर्ताओं के खिलाफ राष्ट्रीय जांच एजेंसी की हालिया जांच से आतंकी संगठनों के साथ उनकी गहरी जड़ें का पता चलता है !

पीएफआई इत्यस्य विरुद्धम् मनी लॉन्ड्रिंग इत्यस्य एकस्य प्रकरणस्य अन्वेषणम् कृतमानः प्रवर्तन निदेशालय: वर्तमाने केरलस्य कोच्चे एकम् न्यायालयम् उद्घाटित: तत पीएफआई इत्यस्य छात्रक्षेत्रम् नेता केए रउफ शरीफम् संदिग्ध विदेशी धनसंग्रहक्रमांकै: बहु मात्रायाम् ज्ञानमप्राप्तयत् !

पीएफआई के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले की जांच करते हुए प्रवर्तन निदेशालय ने हाल ही में केरल के कोच्चि की एक अदालत को खुलासा किया कि पीएफआई के छात्र विंग नेता केए रऊफ शरीफ को संदिग्ध विदेशी खातों से भारी मात्रा में जानकारी मिली !

ईडी स्व रिमांड इति सूचनापत्रे कथयतु तत शरीफ: चत्वारः जनानि उत्तरप्रदेशस्य हाथरसस्य यात्रायै वित्तपोषित: कृतवान स्म,यत्र कथित रूपे सामूहिक दुष्कर्मस्यानंतरम् एका दलित महिलायाः निधनम् अभव्यते !

ईडी ने अपनी रिमांड रिपोर्ट में कहा है कि शरीफ ने चार लोगों को उत्तर प्रदेश के हाथरस की यात्रा के लिए वित्त पोषित किया था,जहां कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार के बाद एक दलित महिला की मौत हो गई !

सर्वाणि चत्वारि जनानि उत्तरप्रदेश आरक्षकः पूर्व वर्ष अक्टूबर इत्ये सामाजिक सौहार्द नाशानां कलहउद्दतानां च् आरोपे बंदिम् कृतः स्म ! कर्नाटकारक्षकम् २०२० तमस्य आरम्भे बेंगलुरु कलहेषु पीएफआई इत्यस्य विरुद्धम् प्राथमिक साक्ष्यमपि प्राप्नोति स्म !

सभी चार लोगों को यूपी पुलिस ने पिछले साल अक्टूबर में सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने और दंगे भड़काने के आरोप में गिरफ्तार किया था ! कर्नाटक पुलिस को 2020 की शुरुआत में बेंगलुरु दंगों में पीएफआई के खिलाफ प्राथमिक सबूत भी मिले थे !

सीएए विरोधिन् उपद्रव इंद्रप्रस्थ उपद्रवानां कालम् वृहद रूपे हिंसायाम् पीएफआई इत्यस्य कथित भूमिकायाम् सैयद खालिद मियां: कथयतु तत इंद्रप्रस्थ आरक्षकः उपद्रवानां वित्त पोषणस्य प्रकरणेषु इस्लामिक संगठनस्य वरिष्ठ पदाधिकारिणा बंदिम् कृतवान स्म !

सीएए विरोधी हलचल और दिल्ली दंगों के दौरान बड़े पैमाने पर हिंसा में पीएफआई की कथित भूमिका पर सैयद खालिद मियां ने कहा कि दिल्ली पुलिस ने दंगों की फंडिंग के मामले में इस्लामिक संगठन के वरिष्ठ पदाधिकारियों को गिरफ्तार किया था !

सः कथयतु,आरक्षकः स्व कार्यम् करोति तु वयं पीएफआई इत्यस्य अनृतं प्रचारम् गृहित्वा चिंतित: सन्ति ! ते तानि जनानि संकेते मुस्लिम युवानि पथभ्रष्ट कृतस्य प्रयत्नम् कुर्वन्ति यत् राष्ट्रस्य विरुद्धमस्ति !

उन्होंने कहा,पुलिस अपना काम कर रही है लेकिन हम पीएफआई के झूठे प्रचार को लेकर चिंतित हैं ! वे उन लोगों के इशारे पर मुस्लिम युवाओं को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं जो राष्ट्र के खिलाफ हैं !

वयं सर्वाणि शांति: इच्छाम: अतएव च् सूफी आयोग: पीएफआई इत्ये प्रतिबंधस्य अभियान: आरंभित: ! अस्य उद्देश्यम् सांप्रदायिक सौहार्द सुनिश्चित: कृतमस्ति !

हम सभी शांति चाहते हैं और इसलिए सूफी बोर्ड ने पीएफआई पर प्रतिबंध लगाने का अभियान शुरू किया है ! इसका उद्देश्य सांप्रदायिक सौहार्द सुनिश्चित करना है !

पीएफआई इत्यस्य विरुद्धम् न्यायालयेषु हिंसा, आतंकी गतिविधिणां मनी लॉन्ड्रिंग इत्यस्य च् द्वादशेनाधिकम् प्रकरणानां विरोधम् करोतीति, तत्रैव संगठनस्य कथनमस्ति तत भारतस्य उत्तर दक्षिणी वा क्षेत्रेषु अभवत् उपद्रवेषु तस्य कश्चित भूमिकाम् नासीत्,यथा तत बहु विधेयकम् प्रवर्तन संस्थाभिः चित्रिताक्रियते !

पीएफआई के खिलाफ अदालतों में हिंसा, आतंकी गतिविधियों और मनी लॉन्ड्रिंग के एक दर्जन से अधिक मामलों का विरोध किया जा रहा है,वहीं संगठन का कहना है कि भारत के उत्तर या दक्षिणी हिस्से में हुए दंगों में उसकी कोई भूमिका नहीं थी,जैसा कि कई कानून प्रवर्तन एजेंसियों द्वारा चित्रित किया गया है !

पीएफआई इत्यस्य विरुद्धम् दस्तावेजी साक्ष्यानां आधारे उत्तरप्रदेश सरकारः प्रथम विवादास्पद इस्लामिक संगठने प्रतिबंधस्य पगम् उत्थित: स्म !

पीएफआई के खिलाफ दस्तावेजी सबूतों के आधार पर यूपी सरकार ने पहले विवादास्पद इस्लामिक संगठन पर प्रतिबंध लगाने का कदम उठाया था !

इदृशस्य गम्भीर्य आरोपै: निश्चिंत पीएफआई इति संगठनम् न्याय,स्वतंत्रता सुरक्षा च् सुनिश्चिताय जनानि सशक्ताय प्रतिबद्ध: एकम् नव-सामाजिकान्दोलनस्य रूपे वर्णनम् करोति !

इस तरह के गंभीर आरोपों से बेफिक्र पीएफआई संगठन को न्याय,स्वतंत्रता और सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए लोगों को सशक्त बनाने के लिए प्रतिबद्ध एक नव-सामाजिक आंदोलन के रूप में वर्णन करता है !

यस्मिन् बहु शाखानि सन्ति यत् समाजस्य विभिन्न वर्गानि एव प्राप्तम् ध्रीति,यस्मिन् राष्ट्रीय महिला शाखा कैम्पस फ्रंट ऑफ इंडिया च् सम्मिलित: सन्ति !

इसमें कई शाखाएं हैं जो समाज के विभिन्न वर्गों तक पहुंच रखते हैं,जिनमें राष्ट्रीय महिला मोर्चा और कैम्पस फ्रंट ऑफ इंडिया शामिल हैं !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here