21.1 C
New Delhi
Tuesday, November 30, 2021

योगिण: बर्धित: प्रतिष्ठा पीएम मोदिण: च् तस्मिन् विश्वासम्, किं उत्तरप्रदेशे भाजपां दत्तुमुपलभ्यष्यते जयम् ? योगी का बढ़ता कद और पीएम मोदी का उन पर भरोसा, क्या UP में बीजेपी को दिला पाएगी जीत ?

Must read

उत्तर प्रदेशस्य मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथेन स्व ट्वीटरे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदिण: सह द्वे चित्रे प्रस्तुत: ! यस्यानंतरम् त्वरितेव इमौ चित्रे वायरल इति भवितं !

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा अपने ट्विटर अकाउंट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ दो तस्वीरें पोस्ट की गई ! इसके बाद तुरंत ही ये तस्वीरें वायरल हो गई !

इति चित्रम् गृहीत्वा भाजपा नेतृणाम् भांति भांति प्रकारस्य प्रतिक्रिया: आगच्छन्ति सहैव भाजपा समर्थकै: इति चित्रस्य बहु अर्थम् निःसृन्ते ! उत्तर प्रदेशे भवक: अग्रिम २०२२ विधानसभा निर्वाचनम् सर्वाणि राजनीतिक दलानि जनान् प्रलोभनस्य बहु प्रयत्नम् करोति !

इस तस्वीर को लेकर बीजेपी नेताओं की तरह तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं साथ ही बीजेपी समर्थकों द्वारा इस तस्वीर के कई मायने निकाले जा रहे हैं ! यूपी में होने वाले आगामी 2022 विधानसभा चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक पार्टियां जनता को लुभाने की पुरजोर कोशिश कर रही है !

इदृशेषु सीएम योगिना सह पीएम मोदिण: एतयो चित्रयो बहु अर्थम् निःसृन्ते ! सम्प्रति लगभगम् इदम् स्पष्टम् भवितं तत सीएम योगिण: नेतृत्वे इव यूपी विधानसभायाः निर्वाचनम् रणिष्यते भाजपाम् प्रत्येन च् मुख्यमंत्रिण: मुखम् योगी आदित्यनाथ: इव भविष्यति !

ऐसे में सीएम योगी के साथ पीएम मोदी की इन तस्वीरों के बड़े मायने निकाले जा रहे हैं ! अब लगभग यह साफ हो गया है कि सीएम योगी के नेतृत्व में ही यूपी विधानसभा का चुनाव लड़ा जाएगा और बीजेपी की ओर से मुख्यमंत्री का चेहरा योगी आदित्यनाथ ही होंगे !

सहैव इति चित्राभ्यां इदम् प्रदर्शस्य प्रयत्नम् कृतवान तत पीएम मोदिण: विश्वासम् योगी आदित्यनाथे पूर्ण रूपेणाचलमस्ति ! योगिण:-मोदिण: युगम् अग्रिम विधानसभा निर्वाचने वृहदप्रभावं स्थापितुं शक्नोति !

साथ ही इस तस्वीर के जरिए यह दिखाने की कोशिश की गई है कि पीएम मोदी का भरोसा योगी आदित्यनाथ पर पूरी तरह से कायम है ! योगी-मोदी की जोड़ी आगामी विधानसभा चुनाव में बड़ा प्रभाव डाल सकती है !

केचन मासानि पूर्व इदृशानि वार्तानि आगतं स्म तत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथेन केंद्रीय नेतृत्व खिन्न: चरति ! तत काळम् लक्ष्मणनगरात् गृहीत्वा इंद्रप्रस्थ एव आरएसएस इतस्य भाजपायाः च् वृहदानां नेतृणाम् सततं गोष्ठ्यः अभवन् !

कुछ महीने पहले ऐसी खबरें आई थीं कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से केंद्रीय नेतृत्व नाराज चल रहा है ! उस दौरान लखनऊ से लेकर दिल्ली तक आरएसएस और बीजेपी के बड़े नेताओं की लगातार बैठकें हुई !

विपक्षी दलै: अत्रैव कथितानि तत पीएम मोदी अमित शाह: च् सीएम योगिना प्रसन्नम् न स्त: ! तु इति चित्रयो अनंतरम् तानि भविष्यकथनेषु विरामम् अभवत् पीएम मोदिना चिदम् ज्ञापयस्य प्रयत्नम् कृतवन्तः !

विपक्षी पार्टियों द्वारा यहां तक कहा गया कि पीएम मोदी और अमित शाह सीएम योगी से खुश नहीं हैं ! लेकिन इस तस्वीर के बाद उन सभी अटकलों पर विराम लग गया है और पीएम मोदी द्वारा यह बताने की कोशिश की गई है !

तेन योगी आदित्यनाथे पूर्णविश्वासमस्ति तः च् योगिना सह पूर्ण दृढ़ताया सह स्थित: ! इति ट्वीतेन एकः वार्ता अन्य ज्ञातम् भवति तत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी योगी आदित्यनाथस्य च् मध्य कति निकषाम् अस्ति इति चित्राभ्यां विपक्षी नेतृषु अपि उच्चाटनम् अभवत् !

उन्हें योगी आदित्यनाथ पर पूरा भरोसा है और वो योगी के साथ पूरी मजबूती के साथ खड़े हैं ! इस TWEET से एक बात और पता चलती है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ के बीच कितनी नजदीकी है इस फोटो से विपक्षी नेताओं में भी खलबली मची हुई है !

उत्तर प्रदेशस्य पूर्व मुख्यमंत्री समाजवादी दलस्य प्रमुख: अखिलेश यादव: ट्वित्वा चित्रयो व्यंग कृतन् अलिखत् तत ‘दुनिया की खातिर सियासत में कभी यूं भी करना पड़ता है बे मन से कंधे पर रखा हाथ कुछ कदम संग चलना पड़ता है इति !

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने ट्वीट कर फोटो पर तंज कसते हुए लिखा है कि दुनिया की खातिर सियासत में कभी यूं भी करना पड़ता है बे मन से कंधे पर रखा हाथ कुछ कदम संग चलना पड़ता है !

पूर्व केचन मासेषु येन प्रकारेण केंद्र सर्वकारम् अधि मूल्याणि, कृषक आन्दोलनेण सह अन्य वस्तूनि गृहीत्वा तीक्ष्ण आलोचनानां समाघातम् कर्तुं भवितं, यस्मात् इदम् स्पष्टमस्ति तत केंद्रीय नेतृत्वाय यूपी विधानसभायाः निर्वाचनम् प्रतिष्ठायाः विषयमभवत् !

पिछले कुछ महीनों में जिस तरीके से केंद्र सरकार को महंगाई, किसान आंदोलन सहित अन्य चीजों को लेकर कड़ी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा है, इससे यह साफ है कि केंद्रीय नेतृत्व के लिए यूपी विधानसभा का चुनाव प्रतिष्ठा का विषय बन गया है !

इदृशेषु भाजपायाः सर्वा: वृहद नेतृणाम् योगी आदित्यनाथे इवापेक्षाम् स्थिता: तस्य च् नेतृत्वे विधानसभा निर्वाचनम् रणस्य वार्ता कथ्यते ! आगन्तुका: दिवसेषु योगिण:-मोदिण: युगम् भवतः बहवः मंचेषु दर्शितं लब्धिष्यति !

ऐसे में बीजेपी के सभी बड़े नेताओं की योगी आदित्यनाथ पर ही आस टिकी है और उन्ही के नेतृत्व में विधानसभा चुनाव लड़ने की बात कही जा रही है ! आने वाले दिनों में योगी-मोदी की जोड़ी आपको ज्यादातर मंचों पर देखने को मिलेंगी !

केचनेव मासेषु यूपी विधानसभायाः निर्वाचनम् भवितमस्ति ! इदृशेषु राजनीतिक विश्लेषकाः विदा: कथ्यन्ति तत इति चित्राभ्यां इदम् ज्ञापस्य प्रयत्नम् कृतः तत भाजपायां सर्वा: सम्यकस्ति योगी आदित्यनाथ: च् मुख्यमंत्रिण: पदाय सर्वमान्य नेता अस्ति !

कुछ ही महीनों में यूपी विधानसभा का चुनाव होना है ! ऐसे में राजनीतिक विश्लेषक और जानकार कह रहे हैं कि इस तस्वीर के जरिए यह बताने का प्रयास किया गया है कि बीजेपी में सब कुछ ठीक है और योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री के पद के लिए सर्वमान्य नेता हैं !

पीएम मोदिण: योगिण: स्कंधे हस्तम् धृतस्यार्थमस्ति तत भाजपायाः वृहद नेतारः यत् उत्तरप्रदेशस्य मुख्यमंत्री निर्मयस्य स्वप्नम् दृष्यन्ति स्म सम्प्रति सर्वा: इदम् स्वप्नम् त्यजन्तु !

पीएम मोदी का योगी के कंधे पर हाथ रखने का मतलब है कि बीजेपी के बड़े नेता जो यूपी के मुख्यमंत्री बनने का सपना देख रहे थे अब वो सभी यह सपना छोड़ दें !

सम्प्रति इदम् दर्शनम् बहु विनोदपूर्णम् भविष्यति तत योगिण:-मोदिण: युगम् अग्रिम विधानसभा निर्वाचने कति निपुणता कर्तुम् भवति ! तु एकः वार्ता तर्हि स्पष्टमस्ति तत विपक्षाय ययो उत्तरम् सरलम् न भविष्यति !

अब यह देखना काफी दिलचस्प होगा कि योगी- मोदी की जोड़ी आगामी विधानसभा चुनाव में कितना कमाल कर पाती है ! लेकिन एक बात तो साफ है कि विपक्ष के लिए इनकी काट आसान नहीं होगी !

Disclaimer The author is solely responsible for the views expressed in this article. The author carry the responsibility for citing and/or licensing of images utilized within the text. The opinions, facts and any media content in them are presented solely by the authors, and neither Trunicle.com nor its partners assume any responsibility for them. Please contact us in case of abuse at Trunicle[At]gmail.com

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article