का राहुल गांधी गायति तुष्टिकरणस्वरं, ध्रुवीकरणस्य कारणेन २० कोटि जनेषु संकटम् ! क्या राहुल गांधी अलाप रहे हैं तुष्टीकरण राग, ध्रुवीकरण की वजह से 20 करोड़ लोगों पर खतरा !

0
126

कांग्रेस सांसद: राहुल गांधी इति काळं लंदने अस्ति ! कैम्ब्रिज विश्वविद्यालये आइडियाज फॉर इंडिया इत्यां स्वोपदेशम् ध्रीति ! केचन दिवसं पूर्वम् सः लद्दाखस्य प्रकरणमुत्थित: कथित: च् स्म तत युक्रेने यत् रूसम् कृतवान तैव सर्वम् चिनम्, लद्दाखे कृतस्य प्रयत्नम् करोति !

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी इस समय लंदन में हैं ! कैंब्रिज विश्वविद्यालय में आइडियाज फॉर इंडिया में अपनी राय रख रहे हैं ! कुछ दिन पहले उन्होंने लद्दाख का मुद्दा उठाया और कहा था कि यूक्रेन में जो रूस ने किया वही सब चीन, लद्दाख में करने की कोशिश कर रहा है !

यस्यातिरिक्तं भौमवासरम् सः हिंदुत्वम् गृहीत्वा स्व उपदेशम् धृत: ! तु तेन सह २० कोटिनां जनसंख्या संकटे यस्यापि उल्लेखम् कृतवान ! राहुल गांधी कथित: तत हिंदुत्वम् प्रत्यां सः पठितमस्ति !

इसके अलावा मंगलवार को उन्होंने हिंदुत्व को लेकर अपनी राय रखी ! लेकिन उसके साथ 20 करोड़ की आबादी खतरे में इसका भी जिक्र किया ! राहुल गांधी ने कहा कि हिंदुत्व के बारे में उन्होंने पढ़ा है !

यत्रैव भाजपायाः स्वयं सेवकसंघस्य च् वार्तास्ति तर्हि यस्मिन् हिंदुत्वस्य भावनाम् नास्ति, कश्चित राष्ट्रवाद नास्ति तस्मिन् च् नैव हिंदू नैव च् राष्ट्रवादस्योल्लेखम् अस्ति तेन इदृशं परिलक्ष्यति तत कश्चितान्य नाम विचार्यतुं भविष्यति !

जहां तक बीजेपी और आरएसएस की बात है तो इनमें हिदुत्व की भावना नहीं है, कोई राष्ट्रवाद नहीं है और उसमें ना तो हिंदू और ना ही राष्ट्रवाद का जिक्र है ! उन्हें ऐसा लगता है कि कोई और नाम सोचना होगा !

राहुल गांधी अत्रैव न विरमित: ! सः भाजपा स्वयं सेवक संघे च् घातन् कथित: तत संविधानस्य मूल स्वरूपेण क्रीड़ा क्रियते ! ध्रुवीकरणस्य राजनित्या २० कोटि जनानां जीवनम् प्रभावितं क्रियते !

राहुल गांधी यहीं नहीं रुके ! उन्होंने बीजेपी और आरएसएस पर हमला करते हुए कहा कि संविधान के मूल ढांचे से खिलवाड़ किया जा रहा है ! ध्रुवीकरण की राजनीति से 20 करोड़ लोगों की जिंदगी को प्रभावित किया जा रहा है !

सम्प्रति प्रश्नमिदमस्ति तत राहुल गांधी एकं प्रति यदा भाजपायां सांप्रदायिकतायाः राजनित्यारोपम् आरोप्यति तर्हि का सः स्वयं २० कोट्याः उल्लेखित्वा तुष्टिकरणस्य राजनितिं न करोति !

अब सवाल यह है कि राहुल गांधी एक तरफ जब बीजेपी पर सांप्रदायिकता की राजनीति का आरोप लगाते हैं तो क्या वो खुद 20 करोड़ का जिक्र कर तुष्टीकरण की राजनीति नहीं कर रहे हैं !

राहुल गांधी कथित: तत भारतं बदस्याज्ञादाता इंस्टिट्यूशन इत्यां व्यवस्थितघातम् भवति ! सः कथित: इति प्रकारस्य राजनित्या कश्चितस्य साधुता भवकं नास्ति !

राहुल गांधी ने कहा कि भारत को बोलने की अनुमति देने वाले इंस्टिट्यूशन पर व्यवस्थित हमला हो रहा है ! उन्होंने कहा कि इस तरह की राजनीति से किसी का भला होने वाला नहीं है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here