25.7 C
New Delhi

टूलकिट प्रकरणे पीएम मोदी: कथितः बहु शिक्षिता: सन्ति सम्पूर्ण विश्वे आतंक,हिंसा प्रसारका: जनाः ! टूलकिट मामले पर PM मोदी ने कहा काफी शिक्षित हैं दुनिया भर में आतंक,हिंसा फैलाने वाले लोग !

Date:

Share post:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी: शुक्रवासरम्म कथितः तत इदृशं बहवः शिक्षिता: निपुणा: च् जनाः सन्ति यत् सम्पूर्ण विश्वे आतंक हिंसा च् प्रसारयन्ति ! यद्यपि द्वितीयम्प्रति इदृशं जनाः अपि सन्ति यत् कोविड-१९ यथैव महामारिना जनान् रक्षणार्थाय स्व जीवनम् संकटे क्षिपन्ति !

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि ऐसे बहुत सारे शिक्षित एवं निपुण लोग हैं जो दुनिया भर में आतंक और हिंसा फैला रहे हैं ! जबकि दूसरी ओर ऐसे लोग भी हैं जो कोविड- 19 जैसी महामारी से लोगों को बचाने के लिए अपना जीवन खतरे में डाल रहे हैं !

प्रधानमंत्री कथितः तत इदम् केवल्यं विचारधारायाः न अपितु विचारस्यापि विषयमस्ति ! पीएम अयम् वार्ता पश्चिम बङ्ग स्थित विश्वभारती विश्विद्यालयस्य दीक्षांत समारोहम् सम्बोधितमानः कथितः !

प्रधानमंत्री ने कहा कि यह सिर्फ विचारधारा का नहीं बल्कि सोच का भी विषय है ! पीएम ने यह बात पश्चिम बंगाल स्थित विश्व भारती विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए कही !

पीएम कथितः भवताम् ज्ञानम्,भवताम् कार्यकौशलम्,एकम् समाजम्,एकम् राष्ट्रम् गौरवान्वितमपि कृतशक्नोति ताः च् समाजम् दुर्नामानां ध्वंसितानां च् तिमिरे अपि प्रेषितुम् शक्नोति !

पीएम ने कहा आपका ज्ञान,आपकी स्किल, एक समाज को,एक राष्ट्र को गौरवान्वित भी कर सकती है और वो समाज को बदनामी और बर्बादी के अंधकार में भी धकेल सकती है !

पीएम कथितः भवतः केवलं एकस्य विश्वविद्यालयस्यैव अंशानि न सन्ति,अपितु एकस्य जीवंत परम्परायाः अंशानि अपि सन्ति ! गुरुदेवः यदि विश्वभारतीम् केवलं एकस्य विश्वविद्यालयस्य रूपे द्रष्टुम् इच्छति,तदा तः येन वैश्विक विश्वविद्यालयम् कश्चित अन्य वा नाम दत्तुम् शक्नोति स्म,तु सः येन विश्वभारती विश्वविद्यालय नाम इति दत्त: !

पीएम ने कहा आप सिर्फ एक विश्वविद्यालय का ही हिस्सा नहीं हैं,बल्कि एक जीवंत परंपरा का हिस्सा भी हैं ! गुरुदेव अगर विश्व भारती को सिर्फ एक यूनिवर्सिटी के रूप में देखना चाहते, तो वो इसे ग्लोबल यूनिवर्सिटी या कोई और नाम दे सकते थे,लेकिन उन्होंने इसे विश्व भारती विश्वविद्यालय नाम दिया !

गुरुदेवस्य विश्वभारतिना अपेक्षासीत् तत अत्र यद् शिक्षतुमागमिष्यति ताः सम्पूर्ण विश्वम् भारतस्य भारतीयतायाः च् दृष्टेन द्रक्ष्यति ! गुरुदेवस्य अयम् प्रारूपम् भ्रमस्य,त्यागस्य आनंदस्य च् मूल्यै: प्रेरितमासीत् अतएव सः विश्वभारतीम् शिक्षणस्य इदृशं स्थानम् निर्मयतः यद् भारतस्य समृद्ध धरोहरमात्मसात कृतानि !

गुरुदेव की विश्व भारती से अपेक्षा थी कि यहां जो सिखने आएगा वो पूरी दुनिया को भारत और भारतीयता की दृष्टि से देखेगा ! गुरुदेव का ये मॉडल भ्रम,त्याग और आनंद के मूल्यों से प्रेरित था इसलिए उन्होंने विश्व भारती को सिखने का ऐसा स्थान बनाया जो भारत की समृद्ध धरोहर को आत्मसात करे !

प्रधानमंत्री कथितः तत भवतः यद् कुर्वन्ति अयम् बहवः भवताम् मानसिकतायाम् निर्भरति तत एषः सकारात्मकमस्ति नकारात्मकं वा ! मानवे द्वयाभ्यां संभावनानि सन्ति ! द्वयाभ्यां मार्गम् अनावृतम् !

प्रधानमंत्री ने कहा कि आप जो करते हैं यह बहुत कुछ आपकी मानसिकता पर निर्भर करता है कि वह पॉजिटिव है या निगेटिव ! मनुष्य में दोनों के लिए संभावनाएं हैं ! दोनों के लिए रास्ता खुला है !

संकटस्य हलस्य वा अंशम् निर्मितम् अस्माकं हस्तेषु अस्ति ! पीएम नव शिक्षा नीत्या: प्रशंसमानः तस्य प्रति कथितः तत अयम् आत्मनिर्भर भारतस्य दिशायाम् वृहद पगमस्ति ! अयम् नीति अनुसंधानं नवाचारं च् बर्धिष्यते !

समस्या अथवा समाधान का हिस्सा बनना हमारे हाथों में है ! पीएम ने नई शिक्षा नीति की सराहना करते हुए उसके बारे में कहा कि यह आत्मनिर्भर भारत की दिशा में एक बड़ा कदम है ! यह नीति अनुसंधान एवं नवाचार को बढ़ावा देगी !

पीएम कथितः तत सृजनात्मकतायाः कश्चित सीमा न भवति ! अस्य विचारम् ध्याने धृत्वा इव गुरुदेवः अस्य विश्वविद्यालयस्य स्थाप्यतः !

पीएम ने कहा कि सृजनात्मकता की कोई सीमा नहीं होती ! इस विचार को ध्यान में रखकर ही गुरुदेव ने इस विश्वविद्यालय की स्थापना की !

सः कथितः अयम् केवलं विश्वविद्यालयं न अपितु एकम् जीवंत परंपरायाः अंशमस्ति ! अस्य समारोहे पश्चिम बंगस्य राज्यपालः जगदीप धनखड़: केंद्रीय शिक्षामंत्री रमेश पोखरियाल निशंक: अपि चलचित्रवार्ताया संलग्नौ स्म !

उन्होंने कहा यह मात्र एक विश्वविद्यालय नहीं बल्कि एक जीवंत परंपरा का हिस्सा है ! इस समारोह में पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ और केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़े थे !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

कन्हैया लाल तेली इत्यस्य किं ?:-सर्वोच्च न्यायालयम् ! कन्हैया लाल तेली का क्या ?:-सर्वोच्च न्यायालय !

भवतम् जून २०२२ तमस्य घटना स्मरणम् भविष्यति, यदा राजस्थानस्योदयपुरे इस्लामी कट्टरपंथिनः सौचिक: कन्हैया लाल तेली इत्यस्य शिरोच्छेदमकुर्वन् !...

१५ वर्षीया दलित अवयस्काया सह त्रीणि दिवसानि एवाकरोत् सामूहिक दुष्कर्म, पुनः इस्लामे धर्मांतरणम् बलात् च् पाणिग्रहण ! 15 साल की दलित नाबालिग के साथ...

उत्तर प्रदेशस्य ब्रह्मऋषि नगरे मुस्लिम समुदायस्य केचन युवका: एकायाः अवयस्का बालिकाया: अपहरणम् कृत्वा तया बंधने अकरोत् त्रीणि दिवसानि...

यै: मया मातु: अंतिम संस्कारे गन्तुं न अददु:, तै: अस्माभिः निरंकुश: कथयन्ति-राजनाथ सिंह: ! जिन्होंने मुझे माँ के अंतिम संस्कार में जाने नहीं दिया,...

रक्षामंत्री राजनाथ सिंहस्य मातु: निधन ब्रेन हेमरेजतः अभवत् स्म, तु तेन अंतिम संस्कारे गमनस्याज्ञा नाददात् स्म ! यस्योल्लेख...

धर्मनगरी अयोध्यायां मादकपदार्थस्य वाणिज्यस्य कुचक्रम् ! धर्मनगरी अयोध्या में नशे के कारोबार की साजिश !

उत्तरप्रदेशस्यायोध्यायां आरक्षकः मद्यपदार्थस्य वाणिज्यकृतस्यारोपे एकाम् मुस्लिम महिलाम् बंधनमकरोत् ! आरोप्या: महिलायाः नाम परवीन बानो या बुर्का धारित्वा स्मैक...