33.1 C
New Delhi

कारागारे अस्वस्थम् भवित: नवजोत सिंह सिद्धो: स्वास्थ्य, चिकित्सालये कृतवान प्रवेशम् ! जेल में बिगड़ी नवजोत सिंह सिद्धू की तबीयत, अस्पताल में किए गए भर्ती !

Date:

Share post:

कारागारे अवरुद्धं कांग्रेसनेता नवजोत सिंह सिद्धो: स्वास्थ्यासाधो: अनंतरम् तेन चिकित्सीय निरीक्षणाय पटियालायाः राजिंद्र चिकित्सालयं आनीतमस्ति ! वस्तुतः अधिकविवरणस्य प्रतीक्षामस्ति !

जेल में बंद कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू की तबीयत खराब होने के बाद उन्हें मेडिकल चेकअप के लिए पटियाला के राजिंद्र अस्पताल लाया गया हैं ! फिलहाल अधिक विवरण की प्रतीक्षा है !

१९९८ तमस्य रोड रेज इति प्रकरणे सर्वोच्च न्यायालयेण सिद्धूम् एकस्य वर्षस्य सश्रम कारावासस्य दंडम् शृणुतमस्ति यस्यानंतरम् तेन २० मईम् पटियाला सेंट्रल कारागारे धृतमासीत् !

1988 के रोड रेज मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा सिद्धू को एक साल की सश्रम कारावास की सजा सुनाई गई है जिसके बाद उन्हें 20 मई को पटियाला सेंट्रल जेल में रखा गया था !

वार्तायाः अनुरूपम् सिद्धू दृढ़कथनम् कृतमस्ति तेन गोधूमेण अधिहृषतामस्ति, इदृशे सः कारागारस्य भोजनम् भक्षणेन न कृतवान ! सूत्राणां अनुसारम् सिद्धू कारागारस्य द्धिदलम् करपट्टिकां न खादति ! ते केवलं शाकम् खादित्वा वसति !

खबर के मुताबिक सिद्धू ने दावा किया है कि उन्हें गेहूं से एलर्जी है, ऐसे में उन्होंने जेल का खाना खाने से इनकार कर दिया है ! सूत्रों के अनुसार सिद्धू जेल की दाल रोटी नहीं खा रहे हैं ! वे सिर्फ सलाद खाकर गुजारा कर रहे हैं !

भवतः ज्ञापयन्तु तत नवजोत सिंह सिद्धूं पटियाला केंद्रीय कारागारस्य कक्षक्रमांक १० इत्यां धृतं ! सिद्धूम् रोड रेज प्रकरणे एकस्य वर्षस्य दंडं शृणुतं ! सः कारागारे प्रथमरात्रि भोजनम् न खादितमासीत् !

आपको बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू को पटियाला केंद्रीय कारागार की बैरक संख्या 10 में रखा गया है ! सिद्धू को रोड रेज मामले में एक साल की सजा सुनाई गई है ! उन्होंने जेल में पहली रात खाना नहीं खाया था !

सूत्रा: ज्ञापिता: तत सिद्धूम् कक्षे चत्वारः अन्य वंदिनै: सह धृतं ! सः ज्ञापित: तत सिद्धू कारागारे प्रथमरात्रि भोजनम् खादित: कुत्रचित सः प्रथमेव भोजनम् खादित्वा आगतमासीत् !

सूत्रों ने बताया कि सिद्धू को बैरक में चार अन्य कैदियों के साथ रखा गया है ! उन्होंने बताया कि सिद्धू ने जेल में पहली रात खाना नहीं खाया क्योंकि वह पहले ही खाना खाकर आए थे !

कंदुकक्रीड़ायाः विश्वेण राजनित्यां आगतः ५८ वर्षीय सिद्धू शुक्रवासरं न्यायालयस्य समक्षमात्मसमर्पणम् कृतमासीत्, यत्रतः तेन पटियाला कारागारम् प्रेषितं आसीत् !

क्रिकेट की दुनिया से राजनीति में आए 58 वर्षीय सिद्धू ने शुक्रवार को अदालत के समक्ष आत्मसमर्पण किया था, जहां से उन्हें पटियाला जेल भेज दिया गया था !

सर्वोच्च न्यायालय: १९८८ तमस्य रोड रेज एकं ३४ वर्षम् पुरातन प्रकरणे सिद्धूम् एकं वर्षम् सश्रम कारावासस्य दंडम् शृणुतमासीत् ! अतएव तेन कारागारे कार्यमपि कर्तुं भविष्यति !

सुप्रीम कोर्ट ने 1988 के रोड रेज के एक 34 साल पुराने मामले में सिद्धू को एक साल सश्रम कारावास की सजा सुनाई है ! इसलिए उन्हें कारागार में काम भी करना होगा !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

पञ्जाबे सर्वाः जी मीडिया चैनल प्रतिबन्धिताः, एषा पत्रिका-स्वातन्त्र्यस्य उपरि आक्रमणं नास्ति वा ? पंजाब में जी मीडिया के सभी चैनल बैन, क्या यह प्रेस...

पञ्जाबे सर्वाः जी न्यूज चैनल प्रतिबन्धिताः सन्ति। चैनल तस्य घोषणा कृता अस्ति ! पञ्जाबे जी-मीडिया इत्यस्य सर्वाः चैनल...

६ जैन साध्व्यः मार्गेण गच्छन्तः आसन्, अल्ताफ् हुसैन् शेखः प्रथमं तान् अनुधावन् ततः पट्ट्या प्रहारं कृतवान् ! सड़क से गुजर रहीं थी 6 जैन...

गुजरातस्य भरूच्-नगरे, अल्ताफ् हुसैन् शेख् नामकः एकः पुरुषः मार्गे गच्छतां जैन साध्वीं आक्रान्तवान्। जैनः साध्वीं आक्रमनात् पूर्वं दीर्घकालं...

फतेहपुरस्य शिव-कवितायो: पुनः गृहागमनस्य कथा ! फतेहपुर के शिव-कविता की घरवापसी की कहानी !

उत्तरप्रदेशस्य फ़तेह्पुर्-नामकस्य उजाड़ेग्रामे, २० वर्षेभ्यः पूर्वं इस्लाम्-मतं स्वीकृत्य वञ्चितः एकः हिन्दु-दम्पती इदानीं हिन्दु-मतं प्रति प्रत्यागतः अस्ति! शिवप्रसादलोधिः, कविता...

वाहिद कुरैशी इत्यनेन मथुरायाः पञ्जाबी बाजार इत्यस्य नाम इस्लामिक बाजार इति परिवर्तितम् ! मथुरा की पंजाबी बाजार के नाम को वाहिद कुरैशी ने बदलकर...

उत्तरप्रदेशस्य मथुरा-जनपदस्य कोसिकलां ग्रामे एकः मुस्लिम्-दुकानदारः विपण्याः नाम परिवर्तितवान्। सः स्वस्य स्थानात् प्रदत्तानां वस्तूनां प्रचारसामग्रीनां च सञ्चिकासु पञ्जाबी-बजार्...