अजमेरे ९० प्रतिशतं न्यूनमभवत् जलपानगृहस्यायं, विश्रामस्थलानां बुकिंग्स निरस्तेण वृहत् क्षतिम् !अजमेर में 90 प्रतिशत घट गई रेस्टॉरेंट्स की कमाई, होटलों की बुकिंग्स रद्द होने से बड़ा नुकसान !

0
97

चिश्तिनां उद्दतम् कथनस्यानंतरम् शुक्रवासरमपि शून्यता, अजमेरस्य कार्यकर्तानां उद्दतानि कथनानां अनंतरमत्र ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्तिण: दरगाहे आगतानि जनानां संख्यायां अपि बहु न्युनता दर्शितं !

चिश्तियों के भड़काऊ बयान के बाद जुमे को भी सन्नाटा, अजमेर के खादिमों के भड़काऊ बयानों के बाद यहाँ ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती के दरगाह पर आने वाले लोगों की संख्या में भी भारी कमी देखी गई है !

अत्रैव तत शुक्रवासरम् (८जुलै:, २०२२) शुक्रवासरं भवस्यानंतरमत्र शून्यता प्रसृतं ! नूपुर शर्माम् गृहीत्वा दरगाहस्य त्र्या: कार्यकर्ता: अधुनैवोद्दतकः कथनम् दत्ता: ! उदयपुरे कन्हैया लालस्य शिरम् कर्तकाः जिहादिभिः अपि दरगाहस्य कार्यकर्तानां संबंधम् संमुखमागताः !

यहाँ तक कि शुक्रवार (8 जुलाई, 2022) को जुमा होने के बावजूद यहाँ सन्नाटा पसरा रहा ! नूपुर शर्मा को लेकर दरगाह के 3 खादिम अब तक भड़काऊ बयान दे चुके हैं ! उदयपुर में कन्हैया लाल का सिर कलम करने वाले जिहादियों से भी दरगाह के खादिमों के सम्बन्ध सामने आए हैं !

अत्र प्रथमाजमेरस्य एतेषु संक्रीण वीथिशु ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्तिण: दरगाहे आगतानां जनानां सम्मर्द: भवति स्म, अधुना सततं नकारात्मक कारणभिः मुख्यवार्ताषु रमस्यानंतरम् तत स्थितिम् नास्ति ! जलपानस्य ट्रांसपोर्ट इत्या: च् वाणिज्यानां शेष दिवसस्य समाघाते केवलं १० प्रतिशतं आयं भवितं !

जहाँ पहले अजमेर की इन संकरी गलियों में ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती के दरगाह पर आने वाले लोगों की भीड़ होती थी, अब लगातार नकारात्मक कारणों से सुर्खियों में रहने के बाद वो स्थिति नहीं है ! रेस्टॉरेंट्स और ट्रांसपोर्ट के कारोबारियों की बाकी दिन के मुकाबले मात्र 10% ही कमाई हो पाई !

इयतेव न, विश्रामस्थलेभ्यः कृतवान एडवांस बुकिंग्स अपि जनाः निरस्तं कुर्वन्ति ! कार्यकर्ता ऐनुद्दीन चिश्तिण: कथनमस्ति तत नगरस्य अर्थव्यवस्थाम् तेषु १५-२० सहस्र जनेषु स्थिताः, यत् प्रतिदिनमत्र आगच्छति स्म !

इतना ही नहीं, होटलों के लिए किए गए एडवांस बुकिंग्स भी लोग रद्द कर रहे हैं ! खादिम ऐनुद्दीन चिश्ती का कहना है कि शहर की अर्थव्यवस्था उन 15-20 हजार लोगों पर टिकी है, जो रोज यहाँ आते थे !

दरगाह आपणेन, देहली गेट इत्या, दिग्गी आपणेन खादिम क्षेत्रेण च्, कम्मानी गेट इत्या, अंदर कोटे इत्या सह लखन कोटरिण: विश्रामस्थलमतिथि गृहम् चपि वृहत् क्षतिम् उत्थायन्ति, कुत्रचित दरगाहस्य नमाजी नागच्छन्ति !

दरगाह बाजार, दिल्ली गेट, दिग्गी बाजार और खादिम मोहल्ला, कम्मानी गेट, अंदर कोटे सहित लखन कोटरी के होटल और गेस्ट हाउस भी रोज बड़ा नुकसान उठा रहे हैं, क्योंकि दरगाह के नमाजी नहीं आ रहे हैं !

वृहत् संख्यायां हिंदू अपि अजमेर शरीफ दरगाहे आगतुं करोति स्म, यै: ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्तिण: इतिहासम् प्रति न ज्ञातं ! एतेषु क्षेत्रेषु एकम्-एकम् गृहम् इदृशमेव यात्रिभिः अर्जयति ! टाइम्स ऑफ इंडिया (TOI) स्व वार्तायां इदमभिज्ञानम् दत्तमस्ति !

बड़ी संख्या में हिन्दू भी अजमेर शरीफ दरगाह पर आया करते थे, जिन्हें ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती के इतिहास के बारे में नहीं पता ! इन इलाकों में एक-एक घर ऐसे ही पर्यटकों से कमाता है ! टाइम्स ऑफ इंडिया (TOI) ने अपनी खबर में ये जानकारी दी है !

दरगाह क्षेत्रे जन्नत ग्रुप ऑफ विश्रामस्थलानां स्वामी रियाज खान: कथित: ततात्रागतेषु जनेषु घृणास्पद कथनै: प्रभावम् भवितमस्ति ! सः कथित: तत देशे यतापि भवति, तस्य अजमेरस्य आपणे वृहत् प्रभावं भवति !

दरगाह क्षेत्र में जन्नत ग्रुप ऑफ होटल्स के मालिक रियाज खान ने कहा कि यहाँ आने वाले लोगों पर घृणास्पद बयानों से असर पड़ा है ! उन्होंने कहा कि देश में जो भी होता है, उसका अजमेर के बाजार पर बड़ा प्रभाव पड़ता है !

यद्यपि, उदयपुरस्य घटनायाः अनंतरेण इव जनाः बुकिंग्स निरस्तं कर्तुं आरंभितानि स्म ! सोहन हलवा इतिभिः परिचयकः ख्वाजा गरीब नवाज मिष्ठान्नस्य स्वामी शदभ सिद्दीकी कथित: आयम् ९० प्रतिशतम् न्यूनमभवत् !

हालाँकि, उदयपुर की घटना के बाद से ही लोगों ने बुकिंग्स रद्द करने शुरू कर दिए थे ! सोहन हलवा के लिए जाने जाने वाले ख्वाजा गरीब नवाज स्वीट्स के मालिक शदभ सिद्दीकी ने कहा कि कमाई 90% घट गई है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here