विशालमवरुद्धम् तौफीक: दानिश: रचितौ स्म कुचक्रम्, कलीम: बलात् स्वीकृतं कारित: स्मारोपम्, ७ दिवसानि कारागारे रमित: निर्दोष: युवक: ! विशाल को फंसाने तौफीक और दानिश ने रची थी साजिश, कलीम ने जबरन स्वीकार कराया था आरोप, 7 दिन जेल में रहा निर्दोष युवक !

0
101

राजस्थानस्य भीलवाड़ायां द्वयो मुस्लिम युवकौ एकं हिंदू युवकमवरुद्धाय सांप्रदायिक स्थितिम् नाशनाय च् यत् कार्यम् कृतमस्ति तताभिज्ञात्वा भवानपि विस्मित: रमिष्यते !

राजस्थान के भीलवाड़ा में दो मुस्लिम युवकों ने एक हिंदू युवक को फंसाने और सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने के लिए जो हरकत की है वह जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे !

आरोपिनौ तौफीक: दानिश: च् विशाल खटीक: नाम्न: युवकस्य सोशल मीडिया इत्या: लेखस्य स्क्रीनशॉट नीतौ तेन च् एडिट कृत्वा सांप्रदायिक आपत्तिपूर्णम् टिप्पणिकाम् लेखित्वा प्रसृतौ !

आरोपी तौफीक और दानिश ने विशाल खटीक नामक युवक के सोशल मीडिया के पोस्ट का स्क्रीनशॉट लिया और उसे एडिट करके सांप्रदायिक आपत्तिजनक टिप्पणी लिखकर वायरल कर दिया !

यस्यानंतरम् विशाल खटीकस्य विरुद्धम् जहाजपुर आरक्षिस्थाने प्रकरणम् पंजीकृतं ! आरक्षकः विशाळं बंधनम् कृत्वा कारागारम् प्रेषित: ! ७ दिवसानि अनंतरम् स्वतंत्रपत्रे युवक: बाह्यागत: तदा पूर्ण घटनाक्रमस्याभिज्ञानमारक्षकम् दत्त: ! युवक: पूर्ण रूपेण निर्दोष: आसीत् !

जिसके बाद विशाल खटीक के खिलाफ जहाजपुर थाने में मामला दर्ज हुआ ! पुलिस ने विशाल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया ! 7 दिन बाद जमानत पर युवक बाहर आया तब पूरे घटनाक्रम की जानकारी पुलिस को दी ! युवक पूरी तरह से बेकसूर था !

आरक्षकः विगत शुक्रवासरम् द्वयौ आरोपिनौ तौफीकं दानिशम् च् बंधनम् कृतवान ! एसपी चंचल मिश्रा ज्ञापिता ततारक्षकः जहाजपुरस्य गोल हथाई क्षेत्र वासिन् तौफीक: अर्थतः गुड्डू पुत्र अब्दुल मजीद पठानम् देशवाली क्षेत्रम् वासिन् दानिश: पुत्र जहांगीर पठानम् च् बंधनम् कृतः !

पुलिस ने बीते शुक्रवार को दोनों आरोपी तौफीक और दानिश को गिरफ्तार कर लिया है ! एसपी चंचल मिश्रा ने बताया कि पुलिस ने जहाजपुर के गोल हथाई मोहल्ला निवासी तौफीक उर्फ गुड्डू पुत्र अब्दुल मजीद पठान और देशवाली मोहल्ला निवासी दानिश पुत्र जहांगीर पठान को गिरफ्तार किया है !

एतौ आरोपिनौ विशाल खटीक: नाम्न: युवकस्य सोशल मीडिया कोषस्य स्क्रीनशॉट गृहीत्वा तेन एडिट कृतौ आपत्तिपूर्ण टिप्पणिका लेखित्वा प्रसृतौ ! आरोपिण: विशालेण शत्रुतासीत् ! अतएव द्वयो तेन अभिज्ञानदत्तुं इदम् कुचक्रम् कृतौ आस्ताम् !

इन आरोपियों ने विशाल खटीक नाम के युवक के सोशल मीडिया अकाउंट का स्क्रीनशॉट लेकर उसे एडिट किया और आपत्तिजनक टिप्पणी लिखकर वायरल कर दी ! आरोपियों की विशाल से दुश्मनी थी ! इसलिए दोनों उसे सबक सिखाने के लिए यह साजिश की थी !

मैसेज प्रसृते अंजुमन समित्या: अब्दुल सत्तार: विशालस्य विरुद्धम् प्रकरणम् पंजीकृतमासीत् ! स्वतंत्रपत्रे आगमनस्यानंतरम् विशाल: आरक्षकम् सत्यता ज्ञापितं द्वयो आरोपिण: च् विरुद्धमभियोगम् पंजीकृतं कारीतं !

मैसेज वायरल होने पर अंजुमन कमेटी के अब्दुल सत्तार ने विशाल के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था ! जमानत पर आने के बाद विशाल ने पुलिस को सच्चाई बताई और दोनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करवाया है !

आरक्षकः कुचक्ररचियतौ आरोपिनौ तौफीकम् दानिशम् च् बंधनम् कृत्वा कारागारम् प्रेषितमस्ति ! पीड़ित: विशाल खटीक: ज्ञापित: तत २० जूनम् आरक्षकः आगतः मह्यं च् पृच्छनम् कृतस्य बदित्वा आरक्षिस्थानम् नीत: ! आरक्षिस्थाने प्रथमेण बहवः जनाः स्थिताः याः बदन्ति स्म तत विशालं अस्माभिः प्रदत्तं, वयं यस्य खंड-खंड करिष्यामः !

पुलिस ने साजिश रचने वाले आरोपी तौफीक और दानिश को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है ! पीड़ित विशाल खटीक ने बताया कि 20 जून को पुलिस आई और मुझे पूछताछ करने का बोलकर थाने ले गई ! थाना परिसर में पहले से कई लोग खड़े जो बोल रहे थे कि विशाल को हमें सौंप दो, हम इसके टुकड़े-टुकड़े कर देंगे !

इदम् श्रुत्वापि एसएचओ मौनमासीत् ! विशाल: ज्ञापितः तत मह्यं एसडीएम इत्या: समक्षं प्रस्तुतः, तत्रस्य कर्मचारिन् कलीम मोहम्मद: मया बलात् हस्ताक्षरम् कारीत: ! मह्यं दोषिन् कथित: ! अहम् अनुनयं कर्तुं रमित: अहम् केचन न कृतः, तु मम एकमपि न शृणुत: !

यह सुनकर भी एसएचओ चुप थे ! विशाल ने बताया कि मुझे एसडीएम के समक्ष पेश किया गया, वहां का कर्मचारी कलीम मोहम्मद ने मुझसे जबरन आरोप स्वीकार करवाया और हस्ताक्षर करवा लिया ! मुझे दोषी करार दिया गया ! मैं गिड़गिड़ाता रहा कि मैंने कुछ नहीं किया, लेकिन मेरी एक भी नहीं सुनी गई !

मह्यं सप्त दिवसानि यावत् मानसिक रूपेण प्रताड़ितः ! निर्दोष भविते अपि मह्यं कारागृहे रमितुं अभवत् ! सम्प्रति अहम् अनुसंधानाधिकारिन् विरुद्धं मानहान्या: अभियोगम् पंजीकरिष्यामि ! अत्र एसपी चंचल सत्यतागमनस्यानंतरमपि निर्दोसम् कारागृहम् प्रेषक: आरक्षकस्यापराध: मान्यस्यातिरिक्तं, आरक्षकस्योपलब्ध्य: गणने स्थितुं रमित: !

मुझे सात दिन तक मानसिक रूप से प्रताड़ित किया गया ! निर्दोष होने पर भी मुझे जेल में रहना पड़ा ! अब मैं जांच अधिकारी के खिलाफ मानहानि का केस दायर करूंगा ! इधर एएसपी चंचल सच्चाई सामने आने के बाद भी निर्दोष को जेल भेजने वाली पुलिस की गलती मानने के बजाए, उल्टा पुलिस की उपलब्धियां गिनाने में लगी रहीं !

सर्व समाजम् सीएम अशोक गहलोतमुच्चाधिकारी: च् पत्रम् लेखित्वा पूर्णप्रकरणस्याभिज्ञानं दत्तमस्ति ! सहैव याचनां कृतमस्ति तत आरक्षिस्थाने एकत्रितं सम्मर्द: यत् विशालम् खंड-खंड कृतस्य भर्त्सकः ददाति स्म, तेषां विरुद्धम् दृढ़ कार्यवाहिम् क्रियेत् !

सर्व समाज ने सीएम अशोक गहलोत और उच्च अधिकारियों को पत्र लिखकर पूरे मामले की जानकारी दी है ! साथ ही मांग की गई है कि थाने में जुटी भीड़ जो विशाल को टुकड़े-टुकड़े करने की धमकी दे रही थी, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए !

सहैव कलीम मोहम्मदस्य विरुद्धमपि कार्यवाहिम् क्रियेत्, यं एसडीएम कार्यालये विशालेण बलात् आरोपम् स्वीकृतं कारित: स्म ! सर्व समाजम् इदमपि याचनां कृतमस्ति तत विशालस्य विरुद्धम् इति षड्यंत्रे सम्मिलिता: अन्य जनानां विरुद्धमपि कार्यवाहिम् क्रियेत् !

साथ ही कलीम मोहम्मद के खिलाफ भी कार्रवाई की जाए, जिसने एसडीएम कार्यालय में विशाल से जबरन आरोप स्वीकार कराया था ! सर्व समाज ने यह भी मांग की है कि विशाल के खिलाफ इस षडयंत्र में शामिल अन्य लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाए !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here