स्मृति ईरानी राहुल गांधौ लक्ष्यम् लक्ष्यता ! स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर निशाना साधा !

1
334

कांग्रेसस्य पूर्वाध्यक्ष: राहुल गांधी: प्रदर्शन कर्तानि कृषकान् प्रति समर्थनम् व्यक्तमानः शुक्रवासरम् कथितः तत केंद्रीय कृषि विधेयकानि अवकरपात्रे क्षिप्यतैव इति प्रकरणानां केवलं हलमस्ति !

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रदर्शनकारी किसानों के प्रति समर्थन जताते हुए शुक्रवार को कहा कि केंद्रीय कृषि कानूनों को कूड़ेदान में फेंकना ही इस मुद्दे का एकमात्र समाधान है !

यदि सरकारः एतानि त्रयाणि विधेयकानि न पुनर्निय: तदा कृषकान्दोलनम् सम्पूर्ण देशम् विशेषतः च् नगरी क्षेत्रेषु प्रसृतिष्यते ! सः सरकारे कृषकेषु विभेतस्य-भर्तस्कस्य आरोपम् आरोप्यत: !

अगर सरकार ने इन तीनों कानूनों को वापस नहीं लिया तो किसान आंदोलन पूरे देश और खासकर शहरी इलाकों में फैल जाएगा ! उन्होंने सरकार पर किसानों पर डराने-धमकाने का आरोप लगाया !

अयम् दृढ़कथनमपि कृतः तत गाजीपुर सीमायाम् आरक्षकाः नियुक्त कृत्वा सिंघु सीमायाम् उपस्थितः कृषकेषु प्रस्तरप्रहारम् कृत्वा कृषकस्य धैर्यम् त्रोटतुम् न शक्नुते !

यह दावा भी किया कि गाजीपुर बॉर्डर पर पुलिस तैनात करके और सिंघु बॉर्डर पर मौजूद किसानों पर पथराव करके किसान का हौसला नहीं तोड़ा जा सकता है !

कांग्रेस नेता संवाददाताभिः कथितः देशस्य युवान् ज्ञापितुम् इच्छामि,तत एतानि विधेयकानि सम्बुध्यस्यावश्यक्तामस्ति ! प्रथम विधि अस्माकं मंडी इति व्यवस्थाम् क्षतिष्यते !

कांग्रेस नेता ने संवाददाताओं से कहा देश के युवाओं को बता देना चाहता हूँ,कि इन कानूनों को समझने की जरूरत है ! पहला कानून हमारी मंडी व्यवस्था को नष्ट कर देगा !

द्वितीय विधिना अयम् भविष्यति तत ४-५ उद्योगपत्य: यत्यापि अन्न संचितम् कर्तुम् इच्छन्ति,कर्तुम् शक्नोति ! इमानि विधेयकानि प्रारम्भस्यानंतरम् कृषकः स्व शष्यस्य मूल्यस्य न विपणष्यते !

दूसरा कानून से यह होगा कि 4-5 उद्योगपति जितना भी अनाज जमा करना चाहते हैं,कर सकते हैं ! ये कानून लागू होने के बाद किसान अपनी फसल के दाम का मोलभाव नहीं कर पायेगा !

राहुल गांधी: कथितः तत तृतीय विधे: अर्थायम् तत कृषकः न्यायालयः गन्तुम् न शक्नुत: ! एतानि त्रयाणाम् विधेयकानां विरुद्धम् कृषका: इंद्रप्रस्थस्य बाह्य उद्तिष्ठा: !

राहुल गांधी ने कहा कि तीसरा कानून का मतलब यह है कि किसान अदालत नहीं जा सकता ! इन तीन कानूनों के खिलाफ किसान दिल्ली के बाहर खड़े हैं !

स्मृति ईरानी राहुल गांधौ कटाक्ष कृतमानः कथिता भारताद्य नगरेषु हिंसायै राहुल गांधे: स्पष्टाह्वानम् पश्यानि,इत्यात् प्रथम कश्चितापि राजनीतिक नेता इदृशं न कृताः !

स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर कटाक्ष करते हुए कहा भारत ने आज शहरों में हिंसा के लिए राहुल गांधी के स्पष्ट आह्वान को देखा,इससे पहले किसी भी राजनीतिक नेता ने ऐसा नहीं किया है !

अयम् संक्षुभ्यकः,तु आशामासीत् तत सः इंद्रप्रस्थ आरक्षकानां ३०० तः अधिकम् आहताः जनान् प्रति केचन न कथितः ! वस्तुतः राहुल गांधीम् अननुयोक्तव्यपूर्ण कथनदत्तस्य प्रकृत्ति: भवित: !

यह चौंकाने वाला है,लेकिन उम्मीद थी कि उसने दिल्ली पुलिस के 300 से अधिक घायल लोगों के बारे में कुछ नहीं कहा ! दरअसल राहुल गांधी को गैरजिम्मेदाराना बयान देने की आदत पड़ चुकी है !

राहुल गांधी: अयमपि कथितः तत एतानि विधेयकै: सरकारः देशस्य मध्यमवर्गम् वृहद पीड़ाम् दाष्यते कुत्रचित आवश्यक वस्तुनां मूल्येषु वृद्धिम् भविष्यते !

राहुल गांधी ने यह भी कहा कि इन कानूनों से सरकार देश के मध्यम वर्ग को बड़ा पीड़ा देगी क्योंकि आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में इजाफा हो जाएगा !

कांग्रेस नेता कृषकनेतृन् दत्ता: विज्ञापनानि प्रकरण पंजीकृतस्य च् परोक्ष रूपेण उदाहरणम् दत्तमानः अयम् आरोपमपि आरोप्यत: तत सरकारः एनआईए इत्यस्य उपयोगित्वा कृषकाणाम् भर्तस्कयति ! राहुल गांधी: कथितः सरकारः कृषकान् दुर्नामस्य प्रयत्नम् करोति !

कांग्रेस नेता ने किसान नेताओं को दिए गए नोटिस और मामले दर्ज होने का परोक्ष रूप से हवाला देते हुए यह आरोप भी लगाया कि सरकार एनआईए का उपयोग कर किसानों को धमका रही है ! राहुल गांधी ने कहा सरकार किसानों को बदनाम करने की कोशिश कर रही है !

अद्य यत् भवति,सिंघु सीमायाम् सरकारः यत् कृषकेषु आक्रमणयति,कृषकान् हनयति,इमानि पूर्णतयानृतम् ! सः कथितः तत त्रयाणि विधेयकानि अवकरपात्रे क्षिप्यतैव इति प्रकरणानां एकमात्र हलमस्ति !

आज जो हो रहा है,सिंघू बॉर्डर पर सरकार जो किसानों पर आक्रमण कर रही है,किसानों को मार रही है,ये बिल्कुल गलत है ! उन्होंने कहा कि तीनों कानूनों को कूड़ेदान में फेंकना ही इस मुद्दे का एकमात्र समाधान है !

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here