28.1 C
New Delhi
Tuesday, June 15, 2021

ग्रामेषु तृतीय इंजन इत्यस्य सर्वकारः निर्मितुम् इच्छति स्म भाजपा-अखिलेश यादव: ! गांवों में तीसरे इंजन की सरकार बनाना चाहती थी बीजेपी-अखिलेश यादव !

Must read

समाजवादी दलाध्यक्ष: अखिलेश यादवः उत्तर प्रदेशे अभवत् पंचायत निर्वाचनम् परिणामान् अग्रिम् विधानसभा निर्वाचनम् भाजपाया: तरणी निर्मज्जस्य स्पष्टम् संकेतम् कथमानः भौमवासरम् कथितः तत ग्रामेषु तृतीय इंजन इत्यस्य सर्वकार: निर्मयस्य भाजपायाः स्वप्नम् क्षीणम् भवितं !

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश में हुए पंचायत चुनाव नतीजों को आगामी विधानसभा चुनाव को बीजेपी की नाव डूबने के स्पष्ट संकेत करार देते हुए मंगलवार को कहा कि गांवों में तीसरे इंजन की सरकार बनाने का बीजेपी का सपना चकनाचूर हो गया है !

अखिलेशः अत्र एके कथने कथितः तत पंचायत निर्वाचने सपा मतदातानां प्रथम चयनित दलम् रमितम् वृहद च् संख्यायाम् सपायाः जयस्य स्वच्छं संकेतम् सन्ति तत कृषकेषु, युवाषु ग्रामेवे च् तस्य स्वीकार्यता वर्तमानमस्ति !

अखिलेश ने यहां एक बयान में कहा कि पंचायत चुनाव में सपा मतदाताओं की प्रथम वरीयता वाली पार्टी रही है और बड़ी तादात में सपा की जीत के साफ संकेत हैं कि किसानों, नौजवानो और गांव तक में उसकी स्वीकार्यता बरकरार है !

सः कथितः तत जनाः दलम् जय दत्वा लोकतंत्रं रक्षणस्यापि प्रशंसनीय कार्यम् कृतवान !

उन्होंने कहा कि जनता ने पार्टी को जीत दिलाकर लोकतंत्र को बचाने का भी सराहनीय कार्य किया है !

सपाध्यक्ष: कथितः तत उत्तरप्रदेशस्य पंचायती निर्वाचनानां परिणामै: यत् संदेशम् लब्धति तत् वर्षं २०२२ तमे भवकः विधानसभा निर्वाचनेभ्यः अपि दिशा सूचकं प्रमाणित भविष्यति ! उत्तर प्रदेशे भाजपाराजस्य स्वच्छता निश्चितमस्ति !

सपा अध्यक्ष ने कहा कि उत्तर प्रदेश के पंचायती चुनावों के नतीजों से जो संदेश मिल रहा है वह वर्ष 2022 में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए भी दिशा सूचक साबित होगी ! उत्तर प्रदेश में बीजेपी राज का सफाया निश्चित है !

पंचायत निर्वाचनानां परिणामानि भाजपाया: तरणी निर्मज्जस्य भाजपा अनृतं दृढ़कथनं कृतस्य स्व स्वभावस्यानुसारं पंचायत निर्वाचनेषु अपि श्येन: नागच्छति !

पंचायत चुनावों के नतीजों ने बीजेपी की नाव डूबने के स्पष्ट संकेत दे दिए हैं ! उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी झूठे वादे करने के अपने स्वभाव के अनुसार पंचायत चुनावों में भी बाज नहीं आ रही है !

इदम् वास्तविकतामस्ति तत ग्रामेषु स्वैव तृतीय इंजन इतम् सर्वकार: निर्मयस्य तस्य स्वप्नम् पूर्ण रूपम् क्षतिग्रस्तम् अभवत् ! तेन प्रधानमंत्रिण: मुख्यमंत्रिण: च् गृहजनपदेषु अपि पराजयं अभवत् !

यह हकीकत है कि गाँवों में अपनी ही तीसरे इंजन वाली सरकार बनाने का उसका सपना बुरी तरह चकनाचूर हुआ है ! उसे प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के गृह जनपदों में भी मुंह की खानी पड़ी है !

अखिलेश: कथितः तत वाराणस्या:, गोरखपुरस्य, प्रयागराजस्यातिरिक्तं आजमगढ़ तः गृहित्वा इटावा एव भाजपाया: राजधानी लक्ष्मणनगरे अपि जनाः भाजपाम् न कृतवान !

अखिलेश ने कहा कि वाराणसी, गोरखपुर, प्रयागराज के अलावा आजमगढ़ से लेकर इटावा तक बीजेपी की कोई चाल काम नहीं आई और तो और राज्य की राजधानी लखनऊ में भी जनता ने बीजेपी को नकार दिया है !

उत्तरप्रदेशस्य पूर्व मुख्यमंत्री कथितः तत पंचायत निर्वाचनेषु सत्तायाः दुरुपयोगस्य मतानां च् परिवर्तनस्योपरांतं भाजपाम् पराजयं लब्धम् !

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि पंचायत चुनावों में सत्ता के दुरुपयोग और वोटों की हेराफेरी के बावजूद बीजेपी को हार मिली है !

सः कथितः तत मंत्रिण:, सांसदा:, विधायका: एवम् संपूर्ण राज्ये नियुक्तवा भाजपा जयस्य कुचक्राणि रचितं स्म तु जनाः तस्य भारे न आगतवान, ताः भाजपाम् तीक्ष्ण उत्तरं दत्तवान !

उन्होंने कहा कि मंत्रियों, सांसदों, विधायकों तक को पूरे राज्य में तैनात कर बीजेपी ने जीत की साजिशें रची थी पर जनता ने उसकी धौंस में नहीं आई, उसने बीजेपी को करारा जवाब दिया है !

सः कथितः तत भाजपाया: द्वेषम् समाजम् च् वर्तका: रणनीति पश्चिम बङ्गस्य निर्वाचनेषु तीक्ष्ण प्रकारम् दण्डिता: ! उत्तरप्रदेश जनपद पंचायतस्य संपूर्ण ३०५० आसनानां परिणामस्य अंतिम आंकड़ा: त्रय वादनैव इति प्रकारम् रमितम् !

उन्होंने कहा कि बीजेपी की नफरत और समाज को बांटने वाली रणनीति पश्चिम बंगाल के चुनावों में बुरी तरह पिटी है ! यूपी जिला पंचायत के कुल 3050 सीटों के परिणाम के अंतिम आंकड़े तीन बजे तक इस प्रकार रहे !

भाजपा ७६४ आसनानि ! समाजवादी दलम् ७६२ आसनानि ! बसपाम् ३६९ आसनानि ! कांग्रेसम् ८० आसनानि ! निर्दलीयं १०७५ आसनानि लब्धानि !

बीजेपी 764 सीटें ! समाजवादी पार्टी को 762 सीटें ! बीएसपी को 369 सीटें ! कांग्रेस को 80 सीटें ! निर्दलीय को 1075 सीटें मिली !

Disclaimer The author is solely responsible for the views expressed in this article. The author carry the responsibility for citing and/or licensing of images utilized within the text. The opinions, facts and any media content in them are presented solely by the authors, and neither Trunicle.com nor its partners assume any responsibility for them. Please contact us in case of abuse at Trunicle[At]gmail.com

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article