गोरक्षपुरघातस्यारोपिन् पुनः कृतः सुरक्षाकर्मीषु घातं, चिकित्सकै: अपि कृतः अभद्रता ! गोरखपुर हमले के आरोपी ने फिर से किया पुलिस कर्मियों पर हमला, डॉक्टरों से भी की बदसलूकी !

0
224

गोरक्षपुर स्थितं गोरक्षनाथ मठे घातस्यारोपिन् मुर्तजा अब्बासिन् एकदा पुनः सुरक्षाकर्मीषु घातं कृतः, इदं घातम् तदा कृतः यदारक्षकः मुर्तजाया पृच्छनम् करोति स्म तदा च् तं आरक्षकः आरक्षि निरीक्षके च् घातम् कृतवन्तः !

गोरखपुर स्थित गोरक्षनाथ मठ पर हमले के आरोपी मुर्तजा अब्बासी ने एक बार फिर पुलिसकर्मियों पर हमला किया है, यह हमला तब किया गया जब पुलिस मुर्तजा से पूछताछ कर रही थी और तभी उसने पुलिस कांस्टेबल और इंस्पेक्टर पर हमला कर दिया !

इदमेव न मुर्तजा चिकित्सकै: सहापि अभद्रता कृतं अस्ति ! मुर्तजाया केवलं एटीएस पृच्छनम् करोति ! मुर्तजायाः षड फेसबुक अकाउंट तः एकेन अकाउंट तः अरबी भाषायां अपि चैट इति ळब्धमस्ति अरबी भाषायाः भाषायाः चैट इतमवबोधनाय भाषा विशेषज्ञस्य सहाय्य स्वीकरोति !

यही नहीं मुर्तजा ने डॉक्टरों के साथ भी बदसलूकी की है ! मुर्तजा से फिलहाल एटीएस पूछताछ कर रही है ! मुर्तजा के छह फेसबुक अकाउंट में से एक अकाउंट से अरबी भाषा में भी चैट मिली है और अरबी भाषा की चैट को समझने के लिए भाषा विशेषज्ञ की मदद ली जा रही है !

एटीएस लक्ष्मणनगर मुख्यालये मुर्तजाया पृच्छनम् करोति येन न्यायालयं १६ अप्रैल एव एटीएस इत्या: बंधने रमस्याज्ञाम् दत्तवान !

एटीएस लखनऊ मुख्यालय में मुर्तजा से पूछताछ कर रही है जिसे कोर्ट ने 16 अप्रैल तक एटीएस की कस्टडी रिमांड में रहने की इजाजत दी हुई है !

भवतः ज्ञापयन्तु तत त्रयाः अप्रैलस्य सायं, एक: आईआईटी स्नातक: गोरक्षपुरस्य प्रसिद्ध गोरक्षनाथ मंदिरस्य एके द्वारे द्वौ आरक्षककर्मिनौ तीक्ष्णास्त्रेण घातम् कृतवान परिसरे च् बलात् प्रवेशनस्य प्रयासम् कृतवान ! इदम् घातम् दृढ़सुरक्षायुक्तं मंदिरपरिसरे अभवत् !

आपको बता दें कि तीन अप्रैल की शाम को, एक आईआईटी स्नातक ने गोरखपुर के प्रसिद्ध गोरखनाथ मंदिर के एक गेट पर दो पुलिसकर्मियों पर धारदार हथियार से हमला किया और परिसर में जबरन प्रवेश का प्रयास किया ! यह हमला कड़ी सुरक्षा वाले मंदिर परिसर में हुआ !

दृष्टिगतमस्ति तत गोरक्षनाथमंदिरम् नाथ संप्रदायस्य सर्वोच्च पीठमस्ति उत्तरप्रदेशस्य च् मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ: इति पीठस्य महंत: सन्ति ! गोरक्ष पीठस्य स्थापना एकादश्यां शताब्द्यां अभवत् ! मकर संक्रांत्या: अवसरे अत्रैकं मासम् चरकं विस्तृत मेलकं भवति यत् खिचड़ी मेला इत्या: नाम्ना प्रसिद्धमस्ति !

गौरतलब है कि गोरखनाथ मंदिर नाथ संप्रदाय का सर्वोच्‍च पीठ है और उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ इस पीठ के महंत हैं ! गोरक्ष पीठ की स्थापना 11वीं शताब्दी में हुई ! मकर संक्रांति के अवसर पर यहां एक माह चलने वाला विशाल मेला लगता है जो खिचड़ी मेला के नाम से प्रसिद्ध है !

आरक्षकस्यानुसारम् मुर्तजा अल्लाहू अकबर इत्या: धार्मिकोद्घोषम् कृतस्यानंतरम् नवरात्रि उत्सवस्य काळम् भक्तै: परिपूर्णम् मंदिरे बलात् प्रवेशनस्य प्रयत्नम् कृतः !

पुलिस के अनुसार मुर्तजा ने अल्लाहू अकबर का धार्मिक नारा लगाने के बाद नवरात्रि उत्सव के दौरान भक्तों से भरे मंदिर में जबरन प्रवेश करने की कोशिश की !

अधिकारिण: ज्ञापिता: स्म तत घातक: जनः आतंकी घटनाम् कृतस्य अंतरात्माया मंदिर परिसरे प्रवेशनस्य प्रयासम् करोति स्म, येन पीएसी एवं आरक्षकानां युवा: विफल: कृतवन्तः ! सः ज्ञापित: स्म ततेति घटनायां पीएसी इत्या: युवानौ गम्भीर्य रूपेण आहतं कृतः !

अधिकारियों ने बताया था कि हमलावर व्यक्ति आतंकी घटना को अंजाम देने की बदनीयती से मंदिर परिसर में घुसने का प्रयास कर रहा था, जिसे पीएसी एवं पुलिस के जवानों ने नाकाम कर दिया ! उन्होंने बताया था कि इस घटना में हमलावर ने पीएसी के दो जवानों को गंभीर रूप से घायल कर दिया !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here