वैवाहिक कार्यक्रमं त्याग मंडपात् पलायिता दुल्हन, जयस्य प्रमाणपत्रं ग्रहणस्यानंतरम् वरस्य वरणं कृता ! रस्म अधूरी छोड़ मंडप से भागी दुल्हन, जीत का सर्टिफिकेट लेने के बाद दुल्हे का वरण किया !

0
476

रामपुरे एकस्य वधो: पाणिग्रहणस्य कार्य क्रमाणि चरति स्म सा च् वरम् वरमाला इति प्रदत्तकासीत् तत अस्यैव मध्य तस्या: निर्वाचनं जयस्य वार्तागतम् ! निर्वाचनम् जयस्य वार्ता लब्ध्वा वधु स्वयमम् नावरोधितुम् वरम् च् वरमाला प्रदत्तेन पूर्व मतगणना केंद्राय गता !

रामपुर में एक दुल्हन की शादी की रस्में चल रही थीं और वह दुल्हे को वरमाला पहनाने वाली थी कि इसी बीच उसके चुनाव जीतने की खबर आ गई ! चुनाव जीतने की खबर पाकर दुल्हन खुद को रोक नहीं पाई और दुल्हे को वरमाला पहनाने से पहले मतगणना केंद्र के लिए रवाना हो गई !

मतगणना केंद्रे वधो: परिधाने युक्त बालिकाम् दृष्ट्वा जनाः प्रथम तदा विस्मितं अभवत् पुनः अनन्तरे ज्ञातमभवत् तत बालिका बीडीसी इत्यस्य निर्वाचनम् जया सा च् स्व जयस्य प्रमाणपत्रं नीतुम् आगता !

मतगणना केंद्र पर दुल्हन के लिबास में सजी-धजी लड़की को देखकर लोग पहले तो हैरान हुए फिर बाद में पता चला कि लड़की ने बीडीसी का चुनाव जीता है और वह अपनी जीत का प्रमाणपत्र लेने आई है !

वस्तुतः, उत्तरप्रदेशे द्वय मई इतम् पंचायत निर्वाचनस्य मतगणना आरंभिता अस्यैव दिवसं पूनम शर्मा नामकस्य बालिकायाः पाणिग्रहणं आसीत् ! रामपुर जनपदस्य मिलक क्षेत्रस्य ग्राम मोहम्मदपुर जदीद ग्राम वासिन् पूनम वरम् वरमाला प्रदत्तकासीत् तत तया जयस्य सूचनां लब्धम् !

दरअसल, यूपी में दो मई को पंचायत चुनाव की मतगणना शुरू हुई और इसी दिन पूनम शर्मा नाम का लड़की की शादी थी ! रामपुर जिले के मिलक इलाके के ग्राम मोहम्मद पुर जदीद गांव निवासी पूनम दूल्हे को वरमाला पहनाने वाली थी कि उसे जीत की सूचना मिली !

वैवाहिक स्थलात् मतगणना केन्द्रस्याध्वा लगभगम् २० किलोमीटर इत्यास्ति ! जयस्य वार्ता लब्ध्वा पूनम स्वयमम् न अवरोधितुम् शक्नुता सा जयस्य प्रमाणपत्रम् नीताय रात्र्य: लगभगम् ९.३० वादनम् तत्र प्राप्ता ! जयस्य प्रमाणपत्रं नीयस्यानंतरम् पूनम यदा पुनरागता तदा पाणिग्रहणस्य शेष कार्यक्रमाणि पूर्णम् कृता !

विवाह स्थल से मतगणना केंद्र की दूरी करीब 20 किलोमीटर है ! जीत की खबर पाकर पूनम खुद को रोक नहीं पाई और वह जीत का प्रमाणपत्र लेने के लिए रात के करीब 9.30 बजे वहां पहुंच गई ! जीत का प्रमाणपत्र लेने के बाद पूनम जब वापस लौटी तो शादी की बाकी रस्में पूरी की गईं !

टीओआई इत्यस्यानुरूपम् स्नातकैव पाठिका पूनम कथिता इयम् मम पाणिग्रहणस्य सर्वश्रेष्ठ उपहारमस्ति कुत्रचिताधुनाहम् बीडीसी सदस्य निर्मिता ! अहम् स्व जीवने कदापि इदम् क्षणम् न विस्मृतुम् शक्नुता कुत्रचित वरमाला त्यक्त्वा पाणिग्रहणस्य सर्वाणि कार्यक्रमाणि पूर्णम् भवितं स्म !

टीओआई की रिपोर्ट के मुताबिक स्नातक तक पढ़ाई करने वाली पूनम ने कहा यह मेरी शादी का सर्वश्रेष्ठ उपहार है क्योंकि अब मैं बीडीसी सदस्य बन गई हूँ ! मैं अपने जीवन में कभी यह क्षण नहीं भूल सकती क्योंकि वरमाला छोड़कर शादी की सभी रस्में पूरी हो गई थीं !

अस्यैव कालम् मह्यं बदितम् तत अहम् बीडीसी इत्यस्य निर्वाचनम् ३१ मतै: जया ! मम श्वसुराल पक्षस्य जनाः प्रमाणपत्रं लब्धाय विवाह स्थलात् मह्यं गमनस्यानुमतिम् दत्तम् !

इसी दौरान मुझे बताया गया कि मैंने बीडीसी का चुनाव 31 वोटों से जीत लिया है ! मेरे ससुराल पक्ष के लोगों ने प्रमाणपत्र हासिल करने के लिए विवाह स्थल से मुझे जाने की अनुमति दी !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here