उत्तरप्रदेशे १५ कोटि जनान् निःशुल्के अन्नम् प्राप्तम्, योगी महोदयः ५ लक्ष युवान् दासता दत्त:-मोदिन् ! उत्तर प्रदेश में 15 करोड़ लोगों को मुफ्त में राशन पहुंचा है, योगी जी ने 5 लाख युवाओं को नौकरी दी-मोदी !

0
126

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदिन् उत्तरप्रदेशस्य ब्रह्मर्षिनगरे निर्वाचनी जनसभाम् संबोध्यन् कथित: तत भवन्तः यतत्रेयत् वृहत् संख्यायां भाजपामाशीर्वाद दत्तुं आगताः, यस्मात् स्पष्टमस्ति तत यूपीनिर्वाचने इतिदा अपि जयं लब्धकमस्ति !

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के बहराइच में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि आप सब जो यहां इतनी बड़ी संख्या में भाजपा को आशीर्वाद देने आए हैं, उससे साफ है कि यूपी चुनाव में इस बार भी जीत का चौका लगने वाला है !

एकदा २०१४, द्वितीयदा २०१७, तृतीयदा २०१९ इतिदा च् २०२२ जयस्य चतुरांक ! सः कथित: तत उत्तरप्रदेशमद्य विकासस्य यस्मिन् मार्गे चरिते, तस्मिन् डबल इंजन इतस्य सर्वकारः यत्यैवावश्यकी अस्ति ! अहम् २०१४ तमतः गृहीत्वा २०१७ तमेव याः बहु कुटुंबवादिनां !

एक बार 2014, दूसरी बार 2017, तीसरी बार 2019 और इस बार 2022 जीत का चौका ! उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश आज विकास के जिस रास्ते पर चल पड़ा है, उसमें डबल इंजन की सरकार उतनी ही जरूरी है। मैंने 2014 से लेकर 2017 तक इन घोर परिवारवादियों का !

तस्य कार्यम्, तस्य वणिजं, तस्य क्रियाकलापानि बहु निकषातः दर्शित: ! दुःख: भवति यावत् स्वस्वार्थाय बहु कुटुंबवादिनां सर्वकारा: जनानां हितम् स्वाहा इति कुर्वन्ति ! मोदिन् कथित: तत भवन्तः ज्ञातमस्ति तत निर्धनस्य गृहे कश्चिताघटितं तर्हि तस्मिन् कुटुंबे किं यापयति !

उनका कामकाज, उनका कारोबार, उनके कारनामें बहुत करीब से देखा है ! दुख होता है जब अपने स्वार्थ के लिए घोर परिवारवादियों की सरकारें जनता के हित को ही स्वाहा कर देती हैं ! मोदी ने कहा कि आप सभी को पता है कि गरीब के घर में कोई अनहोनी हो जाये तो उस परिवार पर क्या बीतती है !

पणस्य न्यूनता तर्हि निर्धनस्य जीवने द्वितीय संकटम् आनयति ! निर्धनस्यास्यैव पीड़ामवगम्यन् अस्माकं सर्वकारः प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमायोजना च् आरंभितौ स्म ! येषां योजनानां माध्यमेण वयं निर्धनम् २-२ लक्ष रूप्यकस्य सुरक्षाम् दत्ता: !

पैसे की कमी तो गरीब के जीवन पर दोहरा संकट ला देती है ! गरीब की इसी तकलीफ को समझते हुए हमारी सरकार ने प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना शुरू की थी ! इन योजनाओं के माध्यम से हमने गरीब को 2-2 लाख रुपये का सुरक्षा कवर दिया !

अद्योत्तरप्रदेशस्य अर्धाधिकं चत्वारः कोटितः अधिकं मम निर्धन भातृ भगिनी यै: योजनाभिः संलग्ना: ! भवतः ज्ञायित्वा प्रसन्नतां भविष्यति ततोत्तरप्रदेशस्य निर्धनकुटुंबान् विगतवर्षेषु लगभगम् १००० कोटि रूप्यकस्य सहाय्य सरलं तस्य कोषेषु दत्ता: !

आज यूपी के साढ़े 4 करोड़ से ज्यादा मेरे गरीब भाई बहन इन योजनाओं से जुड़े हुए हैं ! आपको जानकर खुशी होगी कि यूपी के गरीब परिवारों को बीते वर्षों में करीब 1,000 करोड़ रुपये की मदद सीधे उनके खाते में दी गई है !

प्रधानमंत्री कथित: ततास्माकं सर्वकारः संकटस्य काळम् कदापि कश्चितस्य सहाय्य न त्यजित:, अपितु निर्धनकुटुंबस्य सहाय्यभूत्वा स्थितुं रमति ! निर्धनेभ्यः सर्वकारस्यास्यैव संवेदनशीलताम् इति कोरोनायाः काले अपि द्रष्टमस्ति अनुभूतं च् !

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार संकट के समय कभी भी किसी का साथ नहीं छोड़ती, बल्कि गरीब परिवार का संबल बनकर खड़ी रहती है। गरीबों के लिए सरकार की इसी संवेदनशीलता को इस कोरोना के काल में भी देखा है और महसूस किया है।

संपूर्णदेशे ८० कोटि जनान् लगभगम् २ वर्षतः निःशुल्के अन्नम् लब्धति अस्माकं चुत्तरप्रदेशे १५ कोटि जनान् निःशुल्के अन्नम् प्राप्तं ! निर्धनमद्य भाजपामाशीर्वादम् ददाति ! अस्यैव संकटस्य काळम् अस्माकं सर्वकारः इति वार्तायां बलम् दत्त: !

पूरे देश में 80 करोड़ लोगों को करीब 2 साल से मुफ्त में राशन मिल रहा है और हमारे उत्तर प्रदेश में 15 करोड़ लोगों को मुफ्त में राशन पहुंचा है। गरीब आज भाजपा को आशीर्वाद दे रहा है। इसी संकट के समय हमारी सरकार ने इस बात पर जोर दिया !

हिंदुस्तानस्य कश्चितापि जनाः धनिकोसि निर्धनं वा, नगरे वसति ग्रामे वा, महिलासि पुरुष: असि वा, कश्चितापि सुरक्षौषधितः न विमुक्तयेत् ! सुरक्षौषधिं गृहीत्वा याः जनाः भवतः उद्दतं ततेदंतर्हि भाजपायाः सुरक्षौषधिमस्ति, भाजपायाः कमलक: सुरक्षौषधिं अस्ति, अतएव सुरक्षौषधि मा नयतु !

हिंदुस्तान का कोई भी नागरिक अमीर हो या गरीब, शहर में रहता हो या गांव में, स्त्री हो या पुरुष हो, कोई भी वैक्सीन से छूट न जाए ! वैक्सीन को लेकर इन लोगों ने आप लोगों को उकसाया कि ये तो भाजपा की वैक्सीन है, भाजपा के कमल वाली वैक्सीन है, इसलिए वैक्सीन मत लगाओ !

यथा सुरक्षौषध्या: भवन्तः तस्य वार्ता: न शृणुम्, तादृशमेव निर्वाचने अपि तस्य वार्ता मा शृणुत् ! भवन्तः अस्माकं वार्ता मान्यतु टीका च् नयतु, अहम् भवतां धन्यवाद: कुर्यामि याः चित्राणि दृष्ट्वा उत्तर प्रदेशम् दुर्नामकृतस्यापि कार्यम् कृता: !

जैसे वैक्सीन में आपने उनकी बातें नहीं सुनी, वैसे चुनाव में भी उनकी बातें मत सुनना ! आपने हमारी बात मानी और टीका लगवाया, मैं आप का धन्यवाद करता हूँ ! इन लोगों ने तस्वीरें दिखाकर यूपी को बदनाम करने का भी काम किया !

पीएम मोदिन् कथित: ततोत्तर प्रदेशस्य कृषकान् स्वछंदपशुभिः भवितं संकटान् वयं गम्भीर्यताया नयामः ! वयं मार्गाणि अन्वेषणिताः अहम् च् भवतां इति चिंताम् पूर्ण रूपमवगम्यामि भवन्तः च् ज्ञापयामि तताहम् मार्गमनुसंधानित: ! १० मार्चम् आचार संहिता संपादनस्यानंतरम् !

पीएम मोदी ने कहा कि यूपी के किसानों को छुट्टा जानवरों से हो रही दिक्कतों को हम गंभीरता से ले रहे हैं ! हमने रास्ते खोजे हैं और मैं आपकी इस चिंता को पूरी तरह समझता हूँ और आपको बताता हूँ कि मैं रास्ता खोजकर लाया हूँ ! 10 मार्च को आचार संहिता समाप्त होने के बाद !

नव सर्वकारनिर्माणस्यानंतरं योगी महोदयस्य नेतृत्वे तान् सर्वान् योजनान् वयं आरंभिष्यामि ! अद्य श्व इमे दासताम् गृहीत्वा वृहत्-वृहत् दृढ़कथनानि कुर्वन्ति ! यस्य सत्यताहमद्य भवतः ज्ञापितुं इच्छामि !

नई सरकार बनने के बाद योगी जी के नेतृत्व में उन सारी नई योजनाओं को हम लागू कर देंगे ! आज कल ये लोग नौकरी को लेकर बड़े-बड़े दावे कर रहे हैं ! इनकी सच्चाई मैं आज आपको बताना चाहता हूँ !

उत्तरप्रदेशे योगी महोदयः लगभगम् पंच लक्ष युवान् सर्वकारी दासता दत्त: ! यद्यपि योगी महोदयस्य आगमनेण पूर्व १० वर्षम् एव यत् सर्वकारा: चरिता: सः १० वर्षे केवलं २ लक्ष जनान् इव दासता दत्त: स्म !

यूपी में योगी जी ने करीब पांच लाख युवाओं को सरकारी नौकरी दी ! जबकि योगी जी के आने से पहले 10 साल तक जो सरकारें चली उन्होंने 10 साल में सिर्फ 2 लाख लोगों को ही नौकरी दी थी !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here