21.1 C
New Delhi

अद्योत्तराखंड गमिष्यति गृहमंत्री अमित शाह:, जलप्लावन प्रभावितं क्षेत्रान् करिष्यति निरीक्षणम् ! आज उत्तराखंड जाएंगे गृह मंत्री अमित शाह, बाढ़ प्रभावित इलाकों का करेंगे सर्वे !

Date:

Share post:

उत्तराखंडवर्षायाः अनंतरोत्पन्न स्थितीनां निरीक्षणाय अद्य गृहमंत्री अमित शाह: उत्तराखंड गमिष्यति ! शाह: सायं उत्तराखंड प्राप्यष्यति तत्र सः उच्च अधिकारिभि: राहत कार्ये च् संलग्ना: दलै: सह उच्च स्तरीय गोष्ठिम् करिष्यति !

उत्तराखंड में बारिश के बाद पैदा हुए हालातों का जायजा लेने के लिए आज गृह मंत्री अमित शाह उत्तराखंड जाएंगे ! शाह शाम को उत्तराखंड पहुंचेंगे जहां वह उच्च अधिकारियों और राहत कार्य में शामिल टीमों के साथ उच्च स्तरीय बैठक करेंगे !

यस्यातिरिक्तं गृहमंत्री उत्तराखंडे जलप्लावन प्रभावितं क्षेत्राणां निरीक्षणमपि करिष्यति ! इति मध्य नैनीताल जनपदस्य तल्ला रामगढ़े एनडीआरएफ इतस्य दळम् एकम् शवमन्वेषितं !

इसके अलावा गृह मंत्री उत्तराखंड में बाढ़ प्रभावित इलाकों का सर्वे भी करेंगे ! इस बीच नैनीताल जिले के तल्ला रामगढ़ में एनडीआरएफ की टीम ने एक शव बरामद किया है !

भवतः ज्ञापयन्तु तत उत्तराखंडस्य कुमाऊं क्षेत्रे भयकर: वर्षाया भौमवासरम् ४२ अन्य जनानां मृत्यु अभवन् तथा बहु भवनानि पतितानि ! बहु जनाः अद्यापि ध्वंसावशेषे अवरुद्धा: ! वर्षाजनित घटनासु अद्यैव मृतकानां संख्या ४६ अभवन् !

आपको बता दें कि उत्तराखंड के कुमाऊं क्षेत्र में मूसलाधार बारिश होने से मंगलवार को 42 और लोगों की मौत हो गयी तथा कई मकान ढह गए ! कई लोग अब भी मलबे में फंसे हुए हैं ! वर्षाजनित घटनाओं में अब तक मरने वालों की संख्या 46 हो गई है !

सर्वातधिकम् निधनानि नैनीताल जनपदे अभवत् तत्र २८ जनान् निधनमभवत् ! षड्-षड् जनानां मृत्यु अल्मोड़ा एवं चंपावत जनपदयो, एक-एकयो जनस्य मृत्यु पिथौरागढ़ उधमसिंह नगर जनपदयो अभवन् ! यस्यातिरिक्तं १२ जनाः आहता: ११ जनाः गोपिता: च् बद्यते !

सबसे अधिक मौतें नैनीताल जिले में हुई हैं जहां 28 लोगों को जान से हाथ धोना पड़ा है ! छह-छह लोगों की मौत अल्मोड़ा एवं चंपावत जिलों में, एक-एक व्यक्ति की मौत पिथौरागढ़ और उधम सिंह नगर जिले में हुई है। इसके अलावा 12 लोग घायल और 11 लोग लापता बताए जा रहे हैं !

यस्मात् पूर्व भौमवासरम् मुख्यमंत्री धामी वर्षा प्रभावितं क्षेत्राणां हवाई सर्वेक्षणम् कृतः प्रभाविताः जनै: च् वार्तालापम् कृतः ! सः राज्ये पूर्व द्वयो दिवसयो वर्षाजनित घटनासु मृता: जनानां परिजनान् ४-४ लक्ष रूप्यकाणि क्षतिपूर्ति दत्तस्यापि घोषणाम् कृतः !

इससे पहले मंगलवार को मुख्यमंत्री धामी ने वर्षा प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया और प्रभावित लोगों से बातचीत की ! उन्होंने राज्य में पिछले दो दिनों में वर्षाजनित घटनाओं में मारे गए लोगों के परिजन को चार-चार लाख रुपये मुआवजा देने की भी घोषणा की !

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपि दूरभाषे धामिणा वार्ता कृतः स्थित्या: च् निरीक्षणम् कृतः तथा प्रत्येकसंभवं सहाय्यस्याश्वासनम् दत्त: !

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी फोन पर धामी से बात की और स्थिति का जायजा लिया तथा हरसंभव सहायता का आश्वासन दिया।

उत्तराखंडस्य आरक्षक महानिदेशक: अशोक कुमार: कथित: तत नैनीतालस्य काठगोदाम लालकुआं उधमसिंह नगराणां रुद्रपुरे मार्गान्, सेतुन्, धुमयान गतस्य मार्गान् क्षतिमागतानि ! सः कथित: तत क्षतिग्रस्त धूमयान मार्गान् व्यवस्थिते न्यूनात् न्यूनम् चत्वारः-पंच दिवसानि गमिष्यति !

उत्तराखंड के पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने कहा कि नैनीताल के काठगोदाम और लालकुआं तथा ऊधम सिंह नगर के रुद्रपुर में सड़कों, पुलों और रेल पटरियों को नुकसान पहुंचा हैं ! उन्होंने कहा कि क्षतिग्रस्त पटरियों को ठीक करने में कम से कम चार-पांच दिन लगेंगे !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

[tds_leads input_placeholder="Email address" btn_horiz_align="content-horiz-center" pp_checkbox="yes" pp_msg="SSd2ZSUyMHJlYWQlMjBhbmQlMjBhY2NlcHQlMjB0aGUlMjAlM0NhJTIwaHJlZiUzRCUyMiUyMyUyMiUzRVByaXZhY3klMjBQb2xpY3klM0MlMkZhJTNFLg==" msg_composer="success" display="column" gap="10" input_padd="eyJhbGwiOiIxNXB4IDEwcHgiLCJsYW5kc2NhcGUiOiIxMnB4IDhweCIsInBvcnRyYWl0IjoiMTBweCA2cHgifQ==" input_border="1" btn_text="I want in" btn_tdicon="tdc-font-tdmp tdc-font-tdmp-arrow-right" btn_icon_size="eyJhbGwiOiIxOSIsImxhbmRzY2FwZSI6IjE3IiwicG9ydHJhaXQiOiIxNSJ9" btn_icon_space="eyJhbGwiOiI1IiwicG9ydHJhaXQiOiIzIn0=" btn_radius="0" input_radius="0" f_msg_font_family="521" f_msg_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsInBvcnRyYWl0IjoiMTIifQ==" f_msg_font_weight="400" f_msg_font_line_height="1.4" f_input_font_family="521" f_input_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEzIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMiJ9" f_input_font_line_height="1.2" f_btn_font_family="521" f_input_font_weight="500" f_btn_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEyIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMSJ9" f_btn_font_line_height="1.2" f_btn_font_weight="600" f_pp_font_family="521" f_pp_font_size="eyJhbGwiOiIxMiIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEyIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMSJ9" f_pp_font_line_height="1.2" pp_check_color="#000000" pp_check_color_a="#309b65" pp_check_color_a_h="#4cb577" f_btn_font_transform="uppercase" tdc_css="eyJhbGwiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjQwIiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJsYW5kc2NhcGUiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjMwIiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJsYW5kc2NhcGVfbWF4X3dpZHRoIjoxMTQwLCJsYW5kc2NhcGVfbWluX3dpZHRoIjoxMDE5LCJwb3J0cmFpdCI6eyJtYXJnaW4tYm90dG9tIjoiMjUiLCJkaXNwbGF5IjoiIn0sInBvcnRyYWl0X21heF93aWR0aCI6MTAxOCwicG9ydHJhaXRfbWluX3dpZHRoIjo3Njh9" msg_succ_radius="0" btn_bg="#309b65" btn_bg_h="#4cb577" title_space="eyJwb3J0cmFpdCI6IjEyIiwibGFuZHNjYXBlIjoiMTQiLCJhbGwiOiIwIn0=" msg_space="eyJsYW5kc2NhcGUiOiIwIDAgMTJweCJ9" btn_padd="eyJsYW5kc2NhcGUiOiIxMiIsInBvcnRyYWl0IjoiMTBweCJ9" msg_padd="eyJwb3J0cmFpdCI6IjZweCAxMHB4In0=" msg_err_radius="0" f_btn_font_spacing="1"]
spot_img

Related articles

अंकुरस्य प्रीतौ सबाभवत् सोनी ! अंकुर के प्यार में सबा बन गई सोनी !

उत्तर प्रदेशस्य बरेल्यां सबा बी नामक बालिका हिंदू बालक: अंकुर देवलतः पाणिग्रहण कर्तुं पुनः गृहमागतवती ! सम्प्रति सा...

रामचरितमानसस्यानादर:, रिक्तं रमवान् सपायाः हस्तम् ! रामचरितमानस का अपमान, खाली रह गए सपा के हाथ ?

उत्तर प्रदेशे वर्तमानेव भवत् विधान परिषद निर्वाचनस्य परिणाम: आगतवान् ! पूर्ण ५ आसनेभ्यः निर्वाचनमभवन् स्म् ! यत्र ४...

चीन एक ‘अलग-थलग’ और ‘मित्रविहीन’ भारत चाहता है

एक अमेरिकी रिपोर्ट के अनुसार, "पाकिस्तान के बजाय अब चीन, भारतीय परमाणु रणनीति के केंद्र में है।" चीन भी समझता है कि परमाणु संपन्न भारत 1962 की पराजित मानसिकता से मीलों बाहर निकल चुका है।

हमारी न्याय व्यवस्था पर बीबीसी का प्रहार

बीबीसी ने अपनी प्रस्तुति में भारत के तथाकथित सेकुलरवादियों, जिहादियों और इंजीलवादियों के उन्हीं मिथ्या प्रचारों को दोहराया है, जिसे भारतीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) ने न केवल वर्ष 2012 में सिरे से निरस्त कर दिया