31.1 C
New Delhi
Thursday, May 26, 2022

वैश्विक सूर्य नमस्कारे राजनीति, महबूबा-उमरे दृष्टिम् आगते सांप्रदायिकतां ! वैश्विक सूर्य नमस्कार पर सियासत, महबूबा-उमर को नजर आई सांप्रदायिकता !

Must read

सर्वकारः मकर संक्रांत्या: अवसरे विद्यालयेषु वैश्विक सूर्य नमस्कार कार्यक्रमस्यायोजित: तु यस्मिन् राजनीति आरंभितं ! जम्मू-कश्मीरयो: पूर्व मंत्रिनौ महबूबा मुफ्तिम् उमर अब्दुल्लम् च् यस्मिन् संप्रदायिकतायाः वर्णम् दर्शिते !

सरकार ने मकर संक्रांति के मौके पर स्कूलों में वैश्विक सूर्य नमस्कार कार्यक्रम का आयोजन किया है लेकिन इस पर राजनीति शुरू हो गई है ! जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्रियों महबूबा मुफ्ती और उमर अब्लुल्ला को इसमें सांप्रदायिकता का रंग दिखा है !

एतौ नेतारौ सूर्यनमस्कारम् मुस्लिमानां धार्मिक प्रकरणेषु हस्तक्षेपं ज्ञापिते ! नेशनल कांफ्रेंसस्य नेता उमर: कथित: तत सर्वकारी लिपिकान् जनेषु धार्मिक प्रथानारोपणीयं ! तै: धार्मिकप्रकरणेषु हस्तक्षेपस्याधिकारम् नास्ति !

इन नेताओं ने सूर्य नमस्कार को मुस्लिमों के धार्मिक मामलों में दखलंदाजी बताया है ! नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर ने कहा है कि सरकारी बाबुओं को लोगों पर धार्मिक रिवाज नहीं थोपना चाहिए ! उन्हें धार्मिक मामलों में दखलंदाजी देने का अधिकार नहीं है !

तत्रैव पीडीपी प्रमुखा महबूबा येन शिक्षण संस्थासु सूर्यनमस्कारायोजितं कश्मीरीणां अपकर्ता ज्ञापिता ! उमर: स्वट्वीते कथित: श्व कश्चित मुस्लिम मुख्यमंत्री आदेशम् निर्गत्वा यदीदम् कथित: तत सर्वान् रमजानस्योपवासम् कृतमस्ति !

वहीं पीडीपी मुखिया महबूबा ने इसे शिक्षण संस्थाओं में सूर्य नमस्कार आयोजित करने को कश्मीरियों का अपमान करने वाला बताया है ! उमर ने अपने ट्वीट में कहा है कि कल कोई मुस्लिम मुख्यमंत्री आदेश जारी कर यदि यह कहे कि सभी को रमजान का उपवास करना है !

तर्हि अमुस्लिमसमुदायम् इदम् कीदृशं प्रतिभाति ? लिपिकान् धार्मिकप्रथान् जनेषु आरोपणेन वंचितं रमनीयं ! तै: धार्मिक प्रकरणेषु हस्तक्षेपस्याधिकारम् नास्ति ! तत्रैव पीडीपी नेता महबूबा कथिता तत भारतसर्वकारस्योद्देश्यं मुस्लिमसमुदायस्यापकार कृतमस्ति !

तो गैर-मुस्लिम समुदाय को यह कैसा लगेगा ? बाबुओं को धार्मिक प्रथाओं को लोगों पर थोपने से बाज आना चाहिए ! उन्हें धार्मिक मामलों में दखल देने का अधिकार नहीं है ! वहीं पीडीपी नेता महबूबा ने कहा है कि भारत सरकार का उद्देश्य मस्लिम समुदाय का अपमान करना है !

विद्यालयानां छात्रान् एवं शैक्षिककर्मिकान् नमाय बाध्य कर्तुम् सांप्रादायिक विचारम् बर्धका: अस्ति ! जनेषु एकस्य स्वस्थजीवनशैल्या: प्रारंभाय भारत सर्वकारस्यायुषमंत्रालय: सूर्यनमस्कारकार्यक्रमस्य आरंभम् कृतमस्ति !

स्कूलों के छात्रों एवं स्टॉफ को सूर्य नमस्कार के लिए बाध्य करना सांप्रदायिक सोच को बढ़ाने वाला है !
लोगों में एक स्वस्थ जीवन शैली की शुरुआत के लिए भारत सरकार के आयुष मंत्रालय ने सूर्य नमस्कार कार्यक्रम की शुरुआत की है !

स्वतंत्रतायाः अमृत महोत्सवस्योपलक्षे सर्वकारः एक जनवरीतः २० फरवरी एव संपूर्णदेशस्य विद्यालयेषु सूर्यनमस्कारस्य एवं योगासनस्यायोजनम् करोति ! आल इंडिया पर्सनल लॉ आयोगमपि सर्वकारस्य इति प्रथमतस्य विरोधम् कृतवान !

आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में सरकार एक जनवरी से 20 फरवरी तक देश भर के स्कूलों में सूर्य नमस्कार एवं योगासन का आयोजन कर रही है ! ऑल इंडिया पर्सनल लॉ बोर्ड ने भी सरकार के इस पहल का विरोध किया है !

मुस्लिम संगठनम् कथनम् प्रस्तुत्वा कथितं तत भारत एकं धर्मनिरपेक्षम् देशमस्ति एकस्य बहुसंख्यक समाजस्य च् प्रथान् सर्वेषु धर्मेषु आरोपितुं न शक्नुतं ! एआईएमपीएलबी मुस्लिम छात्रै: सूर्य नमस्कारस्य बहिष्कर्तुम् कथितं !

मुस्लिम संगठन ने बयान जारी कर कहा है कि भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है और एक बहुसंख्यक समाज के रीति रिवाजों को सभी धर्मों पर थोपा नहीं जा सकता ! एआईएमपीएलबी ने मुस्लिम छात्रों से सूर्य नमस्कार का बहिष्कार करने के लिए कहा है !

Disclaimer The author is solely responsible for the views expressed in this article. The author carry the responsibility for citing and/or licensing of images utilized within the text. The opinions, facts and any media content in them are presented solely by the authors, and neither Trunicle.com nor its partners assume any responsibility for them. Please contact us in case of abuse at Trunicle[At]gmail.com

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article

This is AWS!!!