28.1 C
New Delhi
Thursday, August 5, 2021

किं तांडवैव अंतमस्ति अस्यानंतरमपि वा ? क्या तांडव ही अंत है या इसके बाद भी ?

Must read

क्षमा याचनम् अनीकपूर्ण दृश्यानि निर्वर्तयस्य वार्ता कथनस्यानंतरमपि अमेजन प्राइम इत्यस्य वेबसीरीज तांडवस्य निर्मातायाः संकटानि न्यून न भवन्ति !

माफी मांगने और विवादित दृश्‍यों को हटाने की बात कहने के बाद भी अमेजन प्राइम की वेबसीरीज तांडव के मेकर्स की मुश्‍किलें कम नहीं हो रही हैं !

संपूर्ण देशे अभवत्त विरोध:,अनीक: अपवादानां चनंतरम् अमेजन प्राइम इत्यस्य वेबसीरीज तांडवस्य विरुद्धम् मुंबई आरक्षकः अपि प्राथमिकी पंजीकृतः !

देशभर में हुए विरोध,विवाद और शिकायतों के बाद अमेजन प्राइम की वेबसीरीज तांडव के ख‍िलाफ मुंबई पुल‍िस ने भी एफआईआर दर्ज कर ली है !

यस्यानंतरम् तांडवस्य निर्मातायाः संकटानि बर्धित: दृश्यन्ते,इत्यात् पूर्व उत्तरप्रदेश आरक्षकः भिन्नम्भिन्न स्थानेषु चत्वारः प्राथमिकी तांडवस्य निर्मातायाः लेखकस्य च् विरुद्धम् पंजीकृतः स्म !

ज‍िसके बाद तांडव के मेकर्स की मुश्‍किलें बढ़ती नजर आ रही हैं,इससे पहले यूपी पुलिस ने अलग अलग स्‍थानों पर चार एफआईआर तांडव के मेकर्स और लेखक के खिलाफ दर्ज की थीं !

मीडिया इतम् लब्ध: अभिज्ञानस्यानुरूपम्,मुंबई आरक्षकः तांडवस्य निर्मातायाम् यत् प्राथमिकी पंजीकृतः तस्मिन् मुख्य कलाकार सैफ अली खानस्य नाममपि सम्मिलित: !

मीडिया को मिली जानकारी के अनुसार,मुंबई पुलिस ने तांडव के मेकर्स पर जो एफआईआर दर्ज की है उसमें लीड एक्‍टर सैफ अली खान का नाम भी शामिल है !

तत्रैव उत्तरप्रदेश आरक्षकेन पंजीकृतः प्राथमिक्याम् अमेजन इत्यस्य अपर्णा पुरोहित, निर्देशक: हिमांशु: लेखक: गौरव सोलंकिना सह केचन अज्ञाते अभियोगानि अनिर्मयते स्म ! इदृशेषु निर्माताया सह सह सैफ अली खानाय अपि पीड़ायाः वार्तास्ति !

वहीं यूपी पुलिस द्वारा दर्ज की गई एफआईआर में अमेजन की अपर्णा पुरोहित,डायरेक्‍टर अली अब्‍बास जफर,प्रोड्यूसर हिमांशु और लेखक गौरव सोलंकी सहित कुछ अज्ञात पर केस बनाया गया था ! ऐसे में मेकर्स के साथ साथ सैफ अली खान के लिए भी परेशानी की बात है !

ज्ञापयतु तत केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालयः अपि वेबसीरीज तांडवे हिंदू देवी देवानां उपहास्यते संबंधी अपवादानां संज्ञानयते स्म अमेजन प्राइम वीडियो इत्येन च् यस्मिन् प्रकरणे स्पष्टीकरणम् अयाच्यते स्म !

बता दें कि केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने भी वेब सीरीज तांडव में हिंदू देवी-देवताओं का उपहास उड़ाने संबंधी शिकायतों का संज्ञान लिया था और अमेजन प्राइम वीडियो से इस मुद्दे पर स्पष्टीकरण मांगा था !

कथ्यते तत वेब सीरीज इत्यस्य प्रथम एपिसोड इत्ये हिंदू देवी-देवानां असाधु चित्रणम् कृतवान येन धर्मिक भावना: आहत: अभव्यन्ते ! यस्मिन् अमर्यादित भाषाया: प्रयोगमपि अक्रियते, यस्मात् जनेषु बहु आक्रोश: !

कहा गया है कि वेब सीरीज के पहले एपिसोड में हिंदू देवी-देवताओं का गलत चित्रण किया गया है जिससे धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं ! इसमें अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल भी किया गया है,जिससे लोगों में काफी आक्रोश है !

अली अब्बास जफरस्य निर्देशने निर्मित एतम् वेबसीरीज इत्ये सैफ अली खान:,डिंपल कपाडिया, तिग्मांशु धूलिया:,सुनील ग्रोवर: यथा कलाकारा: दृश्यन्ते !

अली अब्‍बास जफर के न‍िर्देशन में बनी इस वेबसीरीज को गौरव सोलंकी ने लिखा है ! इस वेबसीरीज में सैफअली खान,डिंपल कपाडिया, तिग्‍मांशु धूलिया,सुनील ग्रोवर जैसे सितारे नजर आए हैं !

वेबसीरीज इत्ये उत्तरप्रदेश:,उत्तरप्रदेशस्य अधिवक्तानां चित्रम् अस्पष्टाय्,समाजस्य विभिन्न वर्गेषु प्रसारय्, जातिवादे नटनाय्,देवी देवानां अपकारस्य आरोपे निर्माता:,निर्देशक:,लेखक: अन्य च् जनानां विरुद्धम् प्राथमिकी पंजीकृतः स्म !


वेबसीरीज में यूपी पुलिस,यूपी के अधिवक्‍ताओं की छवि को धूमिल करने,समाज के विभिन्‍न वर्गों में द्वेष फैलाने,जातिवाद पर तंज कसने, देवी देवताओं के अपमान के आरोप में निर्माता, निर्देशक,लेखक और अन्य लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी !

तांडवैव न अपितु पीके,केदारनाथ,ओ माय गॉड,यथैव शतानि चलचित्रानि सन्ति यस्मिन् हिंदू देवी देवानां स्पष्टित्वा अपकारः कृतः तु अधुनैव बॉलीवुड इत्ये नावरोधयते किं हिंदूनां परिक्षाम् नीयन्तु सरकाराः बॉलीवुड इति वा ? कुत्रैव इदृशं नासि एतस्य तांडवस्यानंतरम् हिंदू तांडवे अवतिर्यते ?

तांडव ही नहीं अपितु पीके,केदारनाथ,ओ माय गॉड,जैसी सैकड़ो फिल्में हैं जिनमें हिंदू देवी देवताओं का खुलकर अपमान किया गया है लेकिन अभी तक बॉलीवुड पर बैन नहीं लगाया गया है क्या हिंदुओं का इम्तहान ले रही हैं सरकारें व बॉलीवुड ? कहीं ऐसा न हो इस तांडव के बाद हिंदू तांडव पर उतर आएं ?

Disclaimer The author is solely responsible for the views expressed in this article. The author carry the responsibility for citing and/or licensing of images utilized within the text. The opinions, facts and any media content in them are presented solely by the authors, and neither Trunicle.com nor its partners assume any responsibility for them. Please contact us in case of abuse at Trunicle[At]gmail.com

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article