28.1 C
New Delhi
Tuesday, June 15, 2021

टिकरी सीमायाम् महिलाया सामूहिक दुष्कर्म प्रकरणे कृषक नेतृषु उत्थितं प्रश्नम्, कृषकः दुष्कर्मकारिण: वा ? टिकरी बॉर्डर पर महिला से गैंग रेप मामले में किसान नेताओं पर उठ रहे सवाल, किसान या बलात्कारी ?

Must read

प्रतीक चित्रम्

कृषकः आंदोलन स्थल टिकरी सीमायाम् एकेन युवतया सह सामूहिक दुष्कर्मस्य प्रकरण संमुखं आगतवान ! अस्य प्रकरणे कृषक नेतृषु प्रश्नम् उत्थयन्ति !

किसान आंदोलन स्थल टिकरी बॉर्डर पर एक युवती के साथ गैंग रेप का मामला सामने आया है ! इस मामले में किसान नेताओं पर सवाल उठ रहे हैं !

आरोपमारोपयति तत कृषक नेतृन् अस्य प्रकरणस्याभिज्ञानम् आसीत्, तु तानि आरक्षकं सूचितं न कृतवान !

आरोप लगाया जा रहा है कि किसान नेताओं को इस मामले की जानकारी थी, लेकिन उन्होंने पुलिस को सूचित नहीं किया !

युवत्या: कोरोनाया निधनं अभवत् ! पीडितायाः आंदोलन स्थले पुत्रिणा सह दुष्कर्मस्यारोपम् आरोपितमानः अभियोगं पंजीकृतं कारित: !

युवती की कोरोना से मौत हो चुकी है ! पीड़िता के पिता ने आंदोलन स्थल पर बेटी के साथ रेप का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया है !

योगेंद्र यादव: मीडिया इत्येन कथितः तत विधि अनुसारम्, अपवादस्य प्रथमाधिकारम् कुटुंबस्य आसीत्, वस्तुतः वयं निर्णयम् कृतवान यदि कुटुंबमपवादं पंजीकृते असमर्थमस्ति तदा वयं प्रकरणस्यापवादं करिष्यामः !

योगेंद्र यादव ने मीडिया से कहा कि कानून के अनुसार, शिकायत करने का पहला अधिकार परिवार का था, हालांकि हमने फैसला किया कि अगर परिवार शिकायत दर्ज करने में असमर्थ है तो हम मामले की शिकायत करेंगे !

पितु ८ मई इतम् बहादुरगढ़ आरक्षिकेंद्रे अपवादं पंजीकृतं कारित: केवलं च् द्वयो आरोपियो नाम नीत: ! वल्गु वार्ता इदमस्ति ततारक्षकः षड जनानारोपिम् निर्मित: ! पीडितायाः समर्थने वाचक बालिकामपि आरोपिम् निर्मित: !

पिता ने 8 मई को बहादुरगढ़ पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई और केवल दो आरोपियों का नाम लिया ! दिलचस्प बात यह है कि पुलिस ने छह लोगों को आरोपी बनाया है ! पीड़िता के समर्थन में बोलने वाली लड़की को भी आरोपी बनाया गया है !

प्राथमिक्या: अनुसारम्, युवतया सह कथित रूपेण पश्चिम बङ्गात् नव इंद्रप्रस्थं गन्तुकं धूमयाने अभद्रव्यवहारं कृतं कृषकाणाम् विरोध स्थलम् टिकरी सीमायाम् एके पटगृहे तया सह दुष्कर्ममपि कृतवान !

FIR के अनुसार, युवती के साथ कथित रूप से पश्चिम बंगाल से नई दिल्ली जाने वाली ट्रेन में छेड़छाड़ की गई और किसानों के विरोध स्थल टिकरी बॉर्डर में एक टेंट में उसके साथ बलात्कार भी किया गया !

केचन कालम् पूर्व, अस्य प्रकरणस्य एकारोपिम् एकं चलचित्रम् प्रस्तुतं कथितं च् तत दुष्कर्मस्य आरोपे कृषकाणाम् विरोधप्रदर्शनम् दुर्नामस्य कुचक्रमस्ति !

कुछ समय पहले, इस मामले के एक आरोपी ने एक वीडियो जारी किया और कहा कि बलात्कार के आरोप में किसानों के विरोध प्रदर्शन को बदनाम करने की साजिश हैं !

आरोपमस्ति तत कृषक सोशल सैन्यै: संलग्नम् आरोपिम् १० अप्रैल इतम् पश्चिमबङ्गतः धूमयाने तया सह आगतवान स्म ! यात्रायाः कालम् महिलायाः यौन उत्पीड़नमक्रियते सीमायाम् च् प्राप्ते तया सह सामूहिक दुष्कर्म इत्याक्रियते !

आरोप है कि किसान सोशल आर्मी से जुड़े आरोपी 10 अप्रैल को पश्चिम बंगाल से ट्रेन में उसके साथ आए थे ! यात्रा के दौरान महिला का यौन उत्पीड़न किया गया और बॉर्डर पर पहुंचने पर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया !

आरक्षकस्यानुसारम्, २५ अप्रैल इत्यस्य रात्रिम् पीड़ितं कोरोना विषाणो: चिकित्साय बहादुरगढ़स्य एके निजी चिकित्सालये सुश्रुषाहेतु नीतं ! ३० अप्रैल इतम् तस्या निधनम् भविता !

पुलिस के अनुसार, 25 अप्रैल की रात को पीड़िता को कोरोना वायरस के इलाज के लिए बहादुरगढ़ के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था ! 30 अप्रैल को उसकी मौत हो गई !

स्वापवादे पीडितायाः पितु मुख्यारोपिम् अनिल मलिके अनूप सिंहे च् आरोपमारोपितः तत तौ तस्य पुत्र्या: अपहरणस्य प्रयत्नमपि कृतौ स्म ! अन्यारोपिम् अंकुश सांगवान:, कविता, जगदीश बरार: योगिता सन्ति !

अपनी शिकायत में पीड़िता के पिता ने मुख्य आरोपी अनिल मलिक और अनूप सिंह पर आरोप लगाया कि उन्होंने उनकी बेटी का अपहरण करने की कोशिश भी की थी ! अन्य आरोपी अंकुश सांगवान, कविता, जगदीश बरार और योगिता हैं !

संयुक्त कृषकमोर्चा इति एके कथने कथितं तत सः स्व मृतक महिला सहकर्मीम् न्याय दत्ताय तस्य कुटुंबेन सह संयुक्तम् सन्ति !

संयुक्त किसान मोर्चा ने एक बयान में कहा है कि वह अपनी मृतक महिला सहकर्मी को न्याय दिलाने के लिए उसके परिवार से साथ एकजुट है !

कृषकमोर्चा इति कथितं तत न्यायाय इति रणम् गृहित्वा तत् प्रतिबद्धमस्ति ! इदमपि बदितं तत तथाकथित कृषक सोशल सैन्यस्य पटगृहम् अंकचित्रम् इत्यादि चनावृतानि !

किसान मोर्चा ने कहा है कि न्याय के लिए इस लड़ाई को लेकर वह प्रतिबद्ध है ! यह भी बताया गया कि तथाकथित किसान सोशल आर्मी के टेंट और बैनर आदि हटा दिए गए हैं !

संयुक्त कृषक मोर्चा इति कथितं तत आरोपेषु चरितं आंदोलने प्रतिबंधितं तस्य च् सामाजिक बहिष्काराय सार्वजनिक प्रार्थनामपि कृतवान !

संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा है कि आरोपियों पर जारी आंदोलन में प्रतिबंध लगा दिया गया है और उनके सामाजिक बहिष्कार के लिए सार्वजनिक अपील भी की गई है !

Disclaimer The author is solely responsible for the views expressed in this article. The author carry the responsibility for citing and/or licensing of images utilized within the text. The opinions, facts and any media content in them are presented solely by the authors, and neither Trunicle.com nor its partners assume any responsibility for them. Please contact us in case of abuse at Trunicle[At]gmail.com

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article