12.1 C
New Delhi

कुत्रात् नीयते राहुल गांधी: अति साधु गुणवतस्य मादकं-मध्यप्रदेशस्य गृहमंत्री: नरोत्तम मिश्र: ! कहां से लाते हैं राहुल गांधी इतनी अच्‍छी क्‍वालिटी का नशा-मध्‍य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्र !

Date:

Share post:

कांग्रेस नेता राहुल गांधी: चिनेन कलहस्य मध्य मोदी सरकारे सततं बदति ! पूर्व दिवसानि सः अकथयत् स्म तत यदि तस्य सर्कारम् भवति तर्हि सेना १५ पलस्य अभ्यांतरम् चिनम् पश्च गमने बला करोतु ! सः प्रधानमंत्री: नरेंद्र मोदीयाम् कृषकानां युवानां वा उपेक्षाया: आरोपमपि आरोपयत् अकथयत् च् तत प्रधानमंत्रिम् तस्य शक्तिस्य आकलनम् नास्ति ! राहुल गांधीस्य तम् कथनम् गृहित्वा सम्प्रति मध्यप्रदेशस्य गृहमंत्री: नरोत्तम मिश्र: तस्मिन् नटनम् अकरोत् !

कांग्रेस नेता राहुल गांधी चीन से तनाव के बीच मोदी सरकार पर लगातार बोल रहे हैं ! पिछले दिनों उन्‍होंने कहा था कि अगर उनकी सरकार होती तो सेना 15 मिनट के भीतर चीन को पीछे हटने पर मजबूर कर देती ! उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर किसानों व युवाओं की अनदेखी का आरोप भी लगाया और कहा कि पीएम को इनकी ताकत का अंदाजा नहीं है ! राहुल गांधी के उस बयान को लेकर अब मध्‍य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्‍तम मिश्र ने उन पर तंज किया है !

चिनम् कृषकानि च् गृहित्वा राहुल गांधीस्य कथने कटाक्षम् कृत: नरोत्तम मिश्र: अकथयत् १० दिवसेषु ऋण मुक्तिम्, १५ पले चिनम् स्वच्छम्, अहम् तर्हि तम् गुरुम् नमनम् करोमि येन तम् पाठ्यति ! अति साधु गुणवत्तास्य अयम् मादकं नीयते कुत्रात् सन्ति !

चीन और किसानों को लेकर राहुल गांधी के बयान पर कटाक्ष करते हुए नरोत्‍तम मिश्र ने कहा 10 दिन में कर्ज माफ, 15 मिनट में चीन साफ, मैं तो उस गुरु को नमन करता हूँ जिसने इनको पढ़ाया है ! इतनी अच्‍छी क्‍वालिटी का ये नशा लाते कहां से हैं ?

तस्य अयम् टिप्पणीका राहुल गांधीस्य हरियाणा जनयात्राया: उपरांत आगतवान, येन सम्बोधित कृतः भौमवासरम् सः अकथयत् स्म तत चिनम् १२०० वर्ग महाल्वमैव अस्माकं क्षेत्रे अप्रवेश्यते प्रधानमंत्री: च् कथ्यति तत कश्चित भूमि न अधिक्रियते !

उनकी यह टिप्‍पणी राहुल गांधी की हरियाणा रैली के बाद आई है, जिसे संबोध‍ित करते हुए मंगलवार को उन्‍होंने कहा था कि चीन 1200 वर्ग किलोमीटर तक हमारे क्षेत्र में घुस आया है और प्रधानमंत्री कहते हैं कि कोई जमीन नहीं हड़पी गई !

कृषि विधिनां विरुद्धम् प्रथम पंजाब पुनः च् हरियाणायाम् ट्रैक्टर इति जनयात्रा निःसृतम् राहुल गांधी: अकथयत् चिने अति शक्तिम् न आसीत् तत तत् अस्माकं देशस्य अभ्यांतरम् एकम् पगम् आच्छादयते ! विश्वे अद्य एकैव देशमस्ति, हिन्दुस्तान, यस्य अभ्यांतरम् कश्चित अन्य देशस्य सेनाम् आगतवान १२०० वर्ग महाल्वम च् अगृहयते ! अस्माकं सरकारं भवति तर्हि चिनम् १५ पलस्य अभ्यांतरम् उत्थायस्य अक्षिप्यते ! अस्माकं सेना, अस्माकं वायुसेना, चिनम् उदतिष्ट्वा १०० महाल्वम पश्च अक्षिप्यते !

कृषि कानूनों के खिलाफ पहले पंजाब और फिर हरियाणा में ट्रैक्‍टर रैली निकालने वाले राहुल गांधी ने कहा चीन में इतना दम नहीं था कि वह हमारे देश के अंदर एक कदम डाले ! दुनिया में आज एक ही देश है, हिन्‍दुस्‍तान, जिसके अंदर किसी अन्‍य देश की सेना आई और 1200 वर्ग किलोमीटर ले गई ! हमारी सरकार होती तो चीन को 15 मिनट के भीतर उठा के फेंक देते ! हमारी सेना, हमारी वायुसेना चीन को उठाकर 100 किलोमीटर पीछे फेंक देती !

पीएम मोदीयाम् प्रहारम् कृतः सः अकथयत् प्रधानमंत्री: कथ्यति देशस्य भूमि कश्चितं न अगृह्यते ! अयम् स्वयमम् देशभक्तम् कथ्यति ! अयम् कीदृशं देशभक्तम् अस्ति ? केंद्र सरकारं प्रत्येन वर्तमानैव पारितम् त्रय कृषि विधिनां सम्बन्धे राहुल गांधी: अकथयत् प्रधानमंत्री: देशस्य शक्तिम् न ज्ञायति, कृषकस्य शक्तिम् न ज्ञायति, अयम् श्रमिकानां शक्तिम् न ज्ञायति, हिन्दुस्तानस्य शक्तिम् न विद्यति ! राहुल गांधीस्य इति कथनस्य सम्प्रति नरोत्तम मिश्र: उत्तरम् अददात् !

पीएम मोदी पर वार करते हुए उन्‍होंने कहा, प्रधानमंत्री कहते हैं देश की जमीन किसी ने नहीं ली ! ये खुद को देशभक्‍त कहते हैं ! ये कैसे देशभक्‍त हैं ? केंद्र सरकार की ओर से हाल ही में पारित तीन कृषि कानूनों के संबंध में राहुल गांधी ने कहा प्रधानमंत्री देश की शक्ति को नहीं जानते, किसान की शक्ति को नहीं जानते, ये मजदूरों की शक्ति को नहीं जानते, हिन्‍दुस्‍तान की शक्ति को नहीं समझते ! राहुल गांधी के इसी बयान का अब नरोत्‍तम मिश्र ने उत्तर दिया है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

[tds_leads input_placeholder="Email address" btn_horiz_align="content-horiz-center" pp_checkbox="yes" pp_msg="SSd2ZSUyMHJlYWQlMjBhbmQlMjBhY2NlcHQlMjB0aGUlMjAlM0NhJTIwaHJlZiUzRCUyMiUyMyUyMiUzRVByaXZhY3klMjBQb2xpY3klM0MlMkZhJTNFLg==" msg_composer="success" display="column" gap="10" input_padd="eyJhbGwiOiIxNXB4IDEwcHgiLCJsYW5kc2NhcGUiOiIxMnB4IDhweCIsInBvcnRyYWl0IjoiMTBweCA2cHgifQ==" input_border="1" btn_text="I want in" btn_tdicon="tdc-font-tdmp tdc-font-tdmp-arrow-right" btn_icon_size="eyJhbGwiOiIxOSIsImxhbmRzY2FwZSI6IjE3IiwicG9ydHJhaXQiOiIxNSJ9" btn_icon_space="eyJhbGwiOiI1IiwicG9ydHJhaXQiOiIzIn0=" btn_radius="0" input_radius="0" f_msg_font_family="521" f_msg_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsInBvcnRyYWl0IjoiMTIifQ==" f_msg_font_weight="400" f_msg_font_line_height="1.4" f_input_font_family="521" f_input_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEzIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMiJ9" f_input_font_line_height="1.2" f_btn_font_family="521" f_input_font_weight="500" f_btn_font_size="eyJhbGwiOiIxMyIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEyIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMSJ9" f_btn_font_line_height="1.2" f_btn_font_weight="600" f_pp_font_family="521" f_pp_font_size="eyJhbGwiOiIxMiIsImxhbmRzY2FwZSI6IjEyIiwicG9ydHJhaXQiOiIxMSJ9" f_pp_font_line_height="1.2" pp_check_color="#000000" pp_check_color_a="#309b65" pp_check_color_a_h="#4cb577" f_btn_font_transform="uppercase" tdc_css="eyJhbGwiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjQwIiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJsYW5kc2NhcGUiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjMwIiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJsYW5kc2NhcGVfbWF4X3dpZHRoIjoxMTQwLCJsYW5kc2NhcGVfbWluX3dpZHRoIjoxMDE5LCJwb3J0cmFpdCI6eyJtYXJnaW4tYm90dG9tIjoiMjUiLCJkaXNwbGF5IjoiIn0sInBvcnRyYWl0X21heF93aWR0aCI6MTAxOCwicG9ydHJhaXRfbWluX3dpZHRoIjo3Njh9" msg_succ_radius="0" btn_bg="#309b65" btn_bg_h="#4cb577" title_space="eyJwb3J0cmFpdCI6IjEyIiwibGFuZHNjYXBlIjoiMTQiLCJhbGwiOiIwIn0=" msg_space="eyJsYW5kc2NhcGUiOiIwIDAgMTJweCJ9" btn_padd="eyJsYW5kc2NhcGUiOiIxMiIsInBvcnRyYWl0IjoiMTBweCJ9" msg_padd="eyJwb3J0cmFpdCI6IjZweCAxMHB4In0=" msg_err_radius="0" f_btn_font_spacing="1"]
spot_img

Related articles

रामचरितमानसस्यानादर:, रिक्तं रमवान् सपायाः हस्तम् ! रामचरितमानस का अपमान, खाली रह गए सपा के हाथ ?

उत्तर प्रदेशे वर्तमानेव भवत् विधान परिषद निर्वाचनस्य परिणाम: आगतवान् ! पूर्ण ५ आसनेभ्यः निर्वाचनमभवन् स्म् ! यत्र ४...

चीन एक ‘अलग-थलग’ और ‘मित्रविहीन’ भारत चाहता है

एक अमेरिकी रिपोर्ट के अनुसार, "पाकिस्तान के बजाय अब चीन, भारतीय परमाणु रणनीति के केंद्र में है।" चीन भी समझता है कि परमाणु संपन्न भारत 1962 की पराजित मानसिकता से मीलों बाहर निकल चुका है।

हमारी न्याय व्यवस्था पर बीबीसी का प्रहार

बीबीसी ने अपनी प्रस्तुति में भारत के तथाकथित सेकुलरवादियों, जिहादियों और इंजीलवादियों के उन्हीं मिथ्या प्रचारों को दोहराया है, जिसे भारतीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) ने न केवल वर्ष 2012 में सिरे से निरस्त कर दिया

मध्यप्रदेशे इस्लामनगरम् ३०८ वर्षाणि अनंतरम् पुनः कथिष्यते जगदीशपुरम् ! मध्यप्रदेश में इस्लाम नगर 308 साल बाद फिर से कहलाएगा जगदीशपुर !

मध्यप्रदेशस्य भोपालतः १४ महानल्वम् अंतरे एकं ग्रामम् इस्लामनगरमधुना जगदीशपुर नाम्ना ज्ञाष्यते ! केंद्र सर्वकार: ग्रामस्य नाम परिवर्तनस्याज्ञा दत्तवान्...