21.8 C
New Delhi

सीबीआई न्यायालयस्य समक्षम् उद्घाटयत् रिया चक्रवर्त्या: असत्यं ! नेटिजन्स अबदन् बंधनम् कुरु ! CBI ने कोर्ट के सामने उजागर किया रिया चक्रवर्ती का झूठ, नेटिजन्स बोले गिरफ्तार करो !

Date:

Share post:

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंहस्य मृत्यु प्रकरणं त्रीणि वर्षाणितः अधिकं अभवन्, तु अधुनैव इदम् संमुखमागतुं नाशक्नोत् तत अंततः तत दिवसं काभवत् स्म ! अरभे रिया चक्रवर्ती समेतं बहून् जनान् आहूयाहूय पृच्छनमभवन्, पुनः अनंतरे तै: अपि मुक्तपत्रम् ळब्धवन्तः !

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह की मौत मामले को 3 साल से भी ज्यादा हो गए हैं, लेकिन अभी तक ये सामने नहीं आ सका है कि आखिर उस दिन हुआ क्या था ! शुरू में रिया चक्रवर्ती समेत कई लोगों को बुला बुलाकर पूछताछ हुई, फिर बाद में उन्हें भी जमानत मिल गई !

यद्यपि अधुना एकदा पुनः यं प्रकरणम् सोशल मीडिया इत्यां उत्थायत् रिया चक्रवर्त्या: च् बंधनस्य याचना भवन्ति ! ट्विटर इत्यां #ArrestRheaChakraborty इति ट्रेंड करोति ! सीबीआई अनुसंधाने प्रश्नमुत्थायन्ते !

हालाँकि अब एक बार फिर इस मामले को सोशल मीडिया पर उठाया गया है और रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी की माँग हो रही है ! ट्विटर पर #ArrestRheaChakraborty ट्रेंड कर रहा है ! सीबीआई जाँच पर सवाल उठाए जा रहे हैं !

यत् काळम् ज्ञातमभवत् तताभियोगस्यारोपिना रिया चक्रवर्ती बॉम्बे उच्चन्यायालये वैदेश गमनस्य याचना कुर्वन्ती सीबीआई इत्या: लुक आउट सूचनापत्रमाह्वेयता दत्तासीत् ! यस्य केंद्रीय अनुसंधान ब्यूरो उच्चन्यायालये विरोधम् कृतवती !

इस दौरान पता चला है कि केस की आरोपित रिया चक्रवर्ती ने बॉम्बे हाई कोर्ट में विदेश जाने की माँग करते हुए सीबीआई के लुकआउट नोटिस को चुनौती दी थी ! जिसका केंद्रीय जाँच ब्यूरो ने बॉम्बे हाईकोर्ट में विरोध किया !

केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो बॉम्बे उच्चन्यायालये जस्टिस एएस गडकरी समक्ष: रियायाः याचिकायाः विरोध कृतनकथयत् तत यत् कंपनी प्रति रिया बहिः गमनस्य कार्यमावश्यकी ज्ञाप्तवती, ताधुना तस्य ब्रांड एंबेसडर नैवास्ति ! तस्य एम्बेसडर तु कियारा अडवाणी सन्ति !

केंद्रीय जाँच ब्यूरो ने बॉम्बे हाईकोर्ट में जस्टिस एएस गडकरी समक्ष रिया की याचिका का विरोध करते हुए कहा कि जिस कंपनी (Drools Pets Pvt. Ltd.) की ओर से रिया ने बाहर जाने के काम को जरूरी बताया है, वो अब उसकी ब्रांड एंबेसडर है ही नहीं ! उसकी एंबेस्डर तो कियारा आडवाणी हैं !

यस्यातिरिक्तं अन्वेषण संस्था न्यायालयतः अस्य प्रकरणस्य पूर्णानुसंधानाय पुष्टये च् काळम् याचितरस्ति ! ज्ञापयन्तु तत रिया चक्रवर्ती न्यायालयस्य लुकआउट सूचनापत्रम् केचन दिवसाय सस्पेंड कृतस्य याचना कुर्वन्ती अकथयत् स्म तत तया कार्यस्य कारणम् २७ नवंबरतः २ जनवरी एव दुबई इत्यस्य यात्रा कृतमस्ति !

इसके अलावा जाँच एजेंसी ने कोर्ट से इस मामले की पूरी जाँच और पुष्टि के लिए समय माँगा है ! बता दें कि रिया चक्रवर्ती ने कोर्ट के लुकआउट नोटिस को कुछ दिन के लिए सस्पेंड करने की माँग करते हुए कहा था कि उन्हें काम के सिलसिले में 27 नवंबर से 2 जनवरी तक दुबई की यात्रा करनी है !

अस्मिनेव सीबीआई विरोधम् कृतवत् न्यायालयतः चकथयत् यदैव तः अनुसंधानम् मा कुर्वाणि तत रियायाः तेन संस्थायाधुना किं संबंधम् ता च् किं बहिः गन्तुं इच्छति, तदैव तया वैदेश गन्तुं न ददातु !

इसी पर सीबीआई ने विरोध किया और कोर्ट से कहा कि जब तक वो जाँच न कर लें कि रिया का उस कंपनी से अब क्या संबंध है और वो क्यों बाहर जाना चाहती हैं, तब तक उन्हें विदेश न जाने दिया जाए !

सीबीआई इत्यस्य तर्क श्रुत्वा रिया चक्रवर्त्या प्रस्तुतं याचिकायां न्यायालयं दृष्टिपात नाकरोत् शृणुनस्य चग्रिम दिनांक २६ दिसंबर दत्तवान् ! न्यायालयं अकथयत् तत सः कार्यवहने शीघ्रता न करिष्यति ! सः सीबीआई काळम् दत्तवान् कदाचित् तः प्रतितथ्यस्य अनुसंधानम् कर्तुं अशक्नोत् !

सीबीआई की दलील सुन रिया चक्रवर्ती द्वारा डाली गई याचिका पर कोर्ट ने गौर नहीं किया और सुनवाई की अगली तारीख 26 दिसंबर दे दी ! कोर्ट ने कहा कि वह कार्यवाही में जल्दबाजी नहीं करेंगे ! उन्होंने सीबीआई को समय दिया है ताकि वो हर तथ्य की जाँच कर सकें !

दृष्टिगतमस्ति तत सुशांत सिंह राजपूत अभियोगस्यानुसंधानस्य काळं रिया चक्रवर्त्या: तस्या: च् भ्रात शौविकस्य विरुद्धम् २०२० तमे लुकआउट सूचनापत्रम् निर्गतं अभवत् स्म ! अस्य वर्षस्यारभे शौविकस्य विरुद्धम् निर्गत सर्कुलर अस्थायी रूपेण निलंबितं कृतवान् तु तेन वैदेश यात्रायाः आज्ञा ळब्धवान् ! अधुना अस्यैव सर्कुलर इत्यस्य निर्वर्ते रिया चक्रवर्ती संलग्नवती !

गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत केस की जाँच के दौरान रिया चक्रवर्ती और उनके भाई शौविक के खिलाफ 2020 में लुकआउट नोटिस जारी हुआ था ! इस साल की शुरुआत में शौविक के खिलाफ जारी सर्कुलर अस्थायी रूप से निलंबित किया गया तो उन्हें विदेश यात्रा की अनुमति मिल गई ! अब इसी सर्कुलर को हटवाने में रिया चक्रवर्ती जुटी हुई हैं !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

जोधपुरस्य सर्वकारी विद्यालये हिजाब धारणे संलग्ना: छात्रा: ! जोधपुर के सरकारी स्कूल में हिजाब पहनने पर अड़ी छात्राएँ !

राजस्थानस्य जोधपुरे हिजाब इतम् गृहीत्वा प्रश्नं अभवत् ! सर्वकारी विद्यालये छात्रा: हिजाब धारणे गृहीत्वा संलग्नवत्य:, तु तेषां परिजना:...

मेलकम् दर्शनमगच्छन् हिंदू महिला: शमीम: सदरुद्दीन: चताडताम्, उदरे अकुर्वताम् पादघातम् ! मेला देखने गईं हिन्दू महिलाओं को शमीम और सदरुद्दीन ने पीटा, पेट पर...

उत्तरप्रदेशस्य फर्रुखाबाद जनपदे एकः हिंदू युवके, तस्य मातरि भगिन्यां च् घातस्य वार्ता अस्ति ! घातस्यारोपम् शमीमेण सदरुद्दीनेण च्...

हल्द्वानी हिंसायां आहूय-आहूय हिंदू वार्ताहरेषु अभवन् घातम् ! ऑपइंडिया इत्यस्य ग्राउंड सूचनायां रहस्योद्घाटनम् ! हल्द्वानी हिंसा में चुन-चुन कर हिंदू पत्रकारों पर हुआ हमला...

उत्तराखंडस्य हल्द्वानी हिंसायां उत्पातकाः आरक्षक प्रशासनस्यातिरिक्तं घटनायाः रिपोर्टिंग कुर्वन्ति हिंदू वार्ताहरानपि स्वलक्ष्यमकुर्वन् स्म ! ते आहूय-आहूय वार्ताहरेषु घातमकुर्वन्...

हल्द्वान्यां आहतानां सुश्रुषायै अग्रमागतवत् बजरंग दलम् ! हल्द्वानी में घायलों की सेवा के लिए आगे आया बजरंग दल !

हल्द्वान्यां अवैध मदरसा-मस्जिदम् न्यायालयस्य आज्ञायाः अनंतरम् प्रशासनम् धराभीम गृहीत्वा ध्वस्तकर्तुं प्राप्तवत् तु सम्मर्द: उग्राभवन् ! प्रस्तर घातमकुर्वन्, गुलिकाघातमकुर्वन्,...