21.8 C
New Delhi

२५० जनाः कृतवन्त: गृहागमनम्, प्रबल प्रताप जूदेव: गंगाजलेण प्रक्षालित: पादा: ! 250 लोगों ने की घर वापसी, प्रबल प्रताप जूदेव ने गंगाजल से पखारे चरण !

Date:

Share post:

बहवः हिंदवः स्वमूलधर्मे आनीतवान्, अखिल भारतीय गृहागमनम् प्रमुख: प्रबल प्रताप सिंह जूदेव: एकदा पुनः धर्मांतरितन् २५० जनानां गृहागमनम् कारितवान् ! ईसाई अभवन् इमे जनाः ३६ पृथक-पृथक कुटुंबै: आसन् !

कई हिन्दुओं को अपने मूल धर्म में ला चुके, अखिल भारतीय घर वापसी प्रमुख प्रबल प्रताप सिंह जूदेव ने एक बार फिर से धर्मांतरित हुए 250 लोगों की घर वापसी करवाई है ! ईसाई बन चुके ये सभी लोग 36 अलग-अलग परिवारों से थे !

भौमवासरम् (२१ फरवरी, २०२३) आयोजितं गृहागमनस्येदम् कार्यक्रम बूढ़ीमाई धाम, चिकनिपाल्याः इमलीपारा (बागबहार, जशपुर) छत्तीसगढ़े अभवत् ! अस्मिनवसरे वैदिक मंत्रोच्चारेण सह यजु: अपि आयोजनम् कृतवान् !

मंगलवार (21 फरवरी, 2023) को आयोजित घर वापसी का यह कार्यक्रम बुढ़ीमाई धाम, चिकनीपाली के इमलीपारा (बागबहार, जशपुर) छत्तीसगढ़ में हुआ ! इस अवसर पर वैदिक मंत्रोच्चार के साथ यज्ञ का भी आयोजन किया गया !

अभिज्ञानस्यानुरूपम्, प्रबल प्रताप: गृहागमन कर्ता: सर्वा: जनानां पादान् गंगाजलेण प्रक्षालित: ! अस्मिनवसरे धर्म जागरण समन्वय विभागतः एवं आर्य समाजतः संलग्ना: जनाः अपि उपस्थिता: आसन् ! अनंतरे वैदिक मंत्रै: सह भवत् यज्ञे गृहागमनकर्ता सर्वा: सदस्या: प्रतिभाग कृतवन्त: !

जानकारी के मुताबिक, प्रबल प्रताप ने घर वापसी करने वाले सभी लोगों के पैरों को गंगाजल से धुला ! इस अवसर पर धर्म जागरण समन्वय विभाग एवं आर्य समाज से जुड़े लोग भी मौजूद थे ! बाद में वैदिक मंत्रो के साथ हुए हवन में घर वापसी करने वाले सभी सदस्यों ने हिस्सा लिया !

अनंतरे सर्वा: एके स्वरे हिंदू देवी देवासु आस्था व्यक्तन् भविष्ये हिंदू धर्मे एव रमस्य संकल्प: कृतवन्त: ! अस्मिनवसरे वदन् प्रबल प्रताप: धर्मांतरणस्य कुचक्रम् राष्ट्रीयैकतायै अखंडतायै चत्यय: ज्ञाप्तवान् !

बाद में सभी ने एक स्वर में हिन्दू देवी देवताओं में आस्था जताते हुए भविष्य में हिन्दू धर्म में ही रहने का संकल्प लिया ! इस अवसर पर बोलते हुए प्रबल प्रताप ने धर्मांतरण की साजिश को राष्ट्रीय एकता और अखंडता के लिए खतरा बताया !

सः अकथयत् मिशनरी अस्माकं सनातन संस्कृतिम् संपादितुं इच्छन्ति ! प्रबल प्रताप: छत्तीसगढ़स्य कांग्रेस सर्वकारे तत्रस्य प्रशासने चपि मिशनरी इत्यानां कृत्यानदृष्टस्यारोपम् आरोप्यत् !

उन्होंने कहा कि मिशनरी हमारी सनातन संस्कृति को खत्म करना चाह रहे हैं ! प्रबल प्रताप ने छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार और वहाँ के प्रशासन पर भी मिशनरियों की करतूतों को अनदेखा करने का आरोप लगाया !

अवसरे उपस्थिता: अन्यानि संगठनानि अपि हिंदू समाजस्यैकतायां बलम् दत्तवन्तः परस्परं च् मेलित्वा रमस्याह्वानम् कृतवंत: ! गृहागमनस्य इदमायोजनम् बस्तर संभागे संत पदयात्रायाः काळमायोजितं अभवत् स्म् !

मौके पर मौजूद अन्य संगठनों ने भी हिन्दू समाज की एकता पर जोर दिया और आपस में मिल-जुल कर रहने का आह्वान किया ! घर वापसी का यह आयोजन बस्तर संभाग में संत पदयात्रा के दौरान आयोजित हुआ था !

इदम् यात्रा जशपुरतः निःसृत्य रायपुरमेव गच्छति ! यात्रायाः मध्ये मिशनरी इत्याभिः प्रभावितं आदिवासी क्षेत्रेषु जनैः संवाद: क्रियते ! दृष्टिगतमस्ति तत प्रबल प्रताप जूदेव: यस्मात् पूर्वमपि गृहागमनस्य बहूनि कार्यक्रमानि आयोजितं अकारयत् !

यह यात्रा जशपुर से निकल कर रायपुर तक जा रही है ! यात्रा के बीच में मिशनरियों से प्रभावित आदिवासी क्षेत्रों में लोगों से संवाद किया जा रहा है ! गौरतलब है कि प्रबल प्रताप जूदेव इससे पहले भी घर वापसी के कई कार्यक्रम आयोजित करवा चुके हैं !

अस्मिन्नेव वर्षम् जनवरी २०२३ तमे जूदेव: छत्तीसगढ़स्य महासमुंद जनपदस्य बसनायां आयोजितं श्रीमद्भागवत कथायाः काळम् अनुमानतः ११०० ईसाई अभवन् हिन्दूनां सामूहिक गृहागमनम् अकारयत् स्म् ! अक्टूबर २०२२ तमे प्रबल प्रताप जूदेवस्योपस्थित्यां उड़ीसा सुंदरगढ़ जनपदे ईसाई अभवन् १७३ कुटुंबानां अनुमानतः ५०० जनाः हिंदूधर्मे गृहागमनम् कारितरासीत् !

इसी साल जनवरी 2023 में जूदेव ने छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले के बसना में आयोजित श्रीमद्भागवत कथा के दौरान करीब 1100 ईसाई बने हिन्दुओं की सामूहिक घर वापसी करवाई थी ! अक्टूबर 2022 में प्रबल प्रताप जूदेव की मौजूदगी में उड़ीसा सुंदरगढ़ जिले में ईसाई बने 173 परिवारों के लगभग 500 लोगों ने हिन्दू धर्म में घर वापसी की थी !

प्रबल प्रताप जूदेव: मार्च २०२२ तमे छत्तीसगढ़स्य महासमुंद जनपदे एकस्यान्य गृहागमनस्य कार्यक्रम कारितवान् स्म् ! तदा सः ईसाई अभवन् १२५० जनानां गृहागमनम् अकारयत् स्म् !

प्रबल प्रताप जूदेव ने मार्च 2022 में छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले में एक अन्य घर वापसी का कार्यक्रम करवाया था ! तब उन्होंने ईसाई बने 1250 लोगों की घर वापसी करवाई थी !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

जोधपुरस्य सर्वकारी विद्यालये हिजाब धारणे संलग्ना: छात्रा: ! जोधपुर के सरकारी स्कूल में हिजाब पहनने पर अड़ी छात्राएँ !

राजस्थानस्य जोधपुरे हिजाब इतम् गृहीत्वा प्रश्नं अभवत् ! सर्वकारी विद्यालये छात्रा: हिजाब धारणे गृहीत्वा संलग्नवत्य:, तु तेषां परिजना:...

मेलकम् दर्शनमगच्छन् हिंदू महिला: शमीम: सदरुद्दीन: चताडताम्, उदरे अकुर्वताम् पादघातम् ! मेला देखने गईं हिन्दू महिलाओं को शमीम और सदरुद्दीन ने पीटा, पेट पर...

उत्तरप्रदेशस्य फर्रुखाबाद जनपदे एकः हिंदू युवके, तस्य मातरि भगिन्यां च् घातस्य वार्ता अस्ति ! घातस्यारोपम् शमीमेण सदरुद्दीनेण च्...

हल्द्वानी हिंसायां आहूय-आहूय हिंदू वार्ताहरेषु अभवन् घातम् ! ऑपइंडिया इत्यस्य ग्राउंड सूचनायां रहस्योद्घाटनम् ! हल्द्वानी हिंसा में चुन-चुन कर हिंदू पत्रकारों पर हुआ हमला...

उत्तराखंडस्य हल्द्वानी हिंसायां उत्पातकाः आरक्षक प्रशासनस्यातिरिक्तं घटनायाः रिपोर्टिंग कुर्वन्ति हिंदू वार्ताहरानपि स्वलक्ष्यमकुर्वन् स्म ! ते आहूय-आहूय वार्ताहरेषु घातमकुर्वन्...

हल्द्वान्यां आहतानां सुश्रुषायै अग्रमागतवत् बजरंग दलम् ! हल्द्वानी में घायलों की सेवा के लिए आगे आया बजरंग दल !

हल्द्वान्यां अवैध मदरसा-मस्जिदम् न्यायालयस्य आज्ञायाः अनंतरम् प्रशासनम् धराभीम गृहीत्वा ध्वस्तकर्तुं प्राप्तवत् तु सम्मर्द: उग्राभवन् ! प्रस्तर घातमकुर्वन्, गुलिकाघातमकुर्वन्,...