25.1 C
New Delhi

कोरोनासीत् चिनस्य जैविकास्त्रं ! चिनी वैज्ञानिका बदिता, शीघ्रम्विश्वस्य संमुखमागमिष्यति चिनस्य सत्यता ! कोरोना था चीन का जैविक हथियार ! चीनी वैज्ञानिक बोलीं, जल्द दुनिया के सामने आएगी चीन की सच्चाई !

Date:

Share post:

कोरोना विषाणु संपूर्ण विश्वे उत्पातमोत्पादयति ! प्रत्येक मासम् विषाणो: नव-नव रूपम् संमुखम् आगच्छन्ति यस्मात् सर्वकाराणां संकटानि अतिरिक्तं बर्धयन्ति !

कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में कोहराम मचा रखा है ! हर महीने वायरस के नए-नए म्यूटेंट सामने आते रहे हैं जिससे सरकारों की मुसीबतें और बढ़ रही हैं !

येन चिनेन अस्य महामार्या: आरंभाभवत् स्म तत्र अधुना न्यूनेण सममभियोगम् सन्ति ! इति विषाणो: जैविक भवम् गृहित्वा चिने सततं उंगल्य: उत्थिति !

जिस चीन से इस महामारी की शुरूआत हुई थी वहां अब ना के बराबर केस हैं ! इस वायरस के जैविक होने को लेकर चीन पर लगातार उंगुलियां उठती रही है !

चिनी वायरोलॉजिस्ट डॉ ली मेंग येन अमेरिकन सूचनायाम् प्रमाणित कृतमानः एकदा पुनः दृढ़ कथनं कृता तत विषाणु चिनस्यानुसंधान केंद्रे निर्मितमासीत् येन बोधपूर्वम् विश्वे प्रसृतं स्म !

चीनी वायरोलॉजिस्ट डॉ ली मेंग येन ने अमेरिकन रिपोर्ट पर मुहर लगाते हुए एक बार फिर दावा किया है कि वायरस चीन की लैब में निर्मित था जिसे जानबूझकर दुनिया में फैलाया गया था !

वस्तुतः, अमेरिकी अन्वेषण संस्थानस्य हस्ते केचन इदृशं प्रपत्रमागतम् यस्मिन् कथितं तत चिन ५ पूर्वेनैव कोरोना विषाणुम् तत्परं करोति स्म !

दरअसल, अमेरिकी खुफिया एजेंसी के हाथ में कुछ ऐसे दस्तावेज हाथ लगे है जिसमें कहा गया है कि चीन 5 साल पहले से ही कोरोना वायरस को तैयार कर रहा था !

मीडिया इत्येन कृतमानः डॉ ली मेंग येन कथिता अहम् पूर्वमपि चिन सर्वकारस्य लक्ष्ये आसीत् इति कालमपि च् अहम् चिनी सर्वकारस्य सर्वात् वृहद लक्षयमस्मि !

मीडिया से बात करते हुए डॉ ली मेंग येन ने कहा मैं पहले भी चीन सरकार के टारगेट पर थी और इस समय भी मैं चीनी सरकार की सबसे बड़ी टारगेट हूँ !

कुत्रचित जनवरी २०२० तमे अहम् कथिता स्म तत चिनी सर्वकार: कोरोना महामार्या: वास्तविकताम् गोप्यति ! अहम् उद्घटिता स्म तत विषाणुम् बोधपूर्वम् संपूर्ण विश्वे प्रसृतं !

क्योंकि जनवरी 2020 में मैंने कहा था कि चीनी सरकार कोरोना महामारी की असलियत को छुपा रही है ! मैंने खुलासा किया था कि वायरस को जानबूझकर दुनिया भर में फैलाया गया !

अहम् २०२० तमे येन प्रपत्रं विश्वस्य संमुखम् धृता स्म तस्मिन् स्पष्टमासीत् ततचिन पारंपरिक युद्धात् त्यक्त्वा जैविक अस्त्रानां प्रयोगस्य प्रयत्ने आसीत् ! मम उद्घाटनस्यानंतरम् चिनी सर्वकार: मम पार्श्वमागतः !

मैंने 2020 में जिस डॉक्यूमेंट को दुनिया के सामने रखा था उसमें साफ था कि चीन पारंपरिक युद्ध से हटकर जैविक हथियारों का इस्तेमाल करने की कोशिश में था ! मेरे खुलासे के बाद चीनी सरकार मेरे पीछे पड़ गई !

डॉ ली मेंग येन अग्रम् बदिता मह्यं इति क्षेत्रस्य संपूर्णाभिज्ञानमासीत् कुत्रचित अहम् इति क्षेत्रस्य विशेषज्ञास्मि मम च् अंतर्जालमपि सुव्यवस्थितमासीत्, इति कारणं चिनी सर्वकार: भीत: मम पश्च चागतः !

डॉ ली मेंग येन ने आगे बताया मुझे इस फील्ड की पूरी जानकारी थी क्योंकि मैं इस फील्ड की विशेषज्ञ हूँ और मेरा नेटवर्क भी ठीक-ठाक था, इस कारण चीनी सरकार डर गई और मेरे पीछे पड़ गई !

अहम् अद्य यतपि सत्यता कथयामि तत् स्व शक्त्याम् कथयामि, चिन मह्यं हननस्य प्रयासं कृतः, घातानि कारित: अद्यापि च् तत् इदृशं कृतस्य प्रयत्ने सन्ति !

मैं आज जो भी सच्चाई कह रही हूँ वो अपने दम पर कह रही हूँ, चीन ने मुझे मारने का प्रयास किया, हमले करवाए और अभी भी वो ऐसा करने की फिराक में हैं !

भवान् द्रक्ष्यते तत फेसबुक इति तस्य दृढ़कथनं निवर्तित: ! भवन्तः दृश्यतुम् शक्नोन्ति अधुना वृहद संख्यायाम् जनान् ज्ञातम् भवति तत विषाणु कश्चितैव देशेण नागतम् नैव च् इदम् कश्चितानुसंधान केन्द्रस्य दुर्घटनामासीत् !

आपने देखा होगा कि फेसबुक ने उनका दावा हटा दिया है ! आप देख सकते हैं अब बड़ी संख्या में लोगों को पता चल रहा है कि वायरस किसी देश से नहीं आया और ना ही ये कोई लैब एक्सीडेंट था !

शनैः-शनैः संपूर्ण विश्वस्य संमुखम् अस्य साक्ष्य संमुखमागमिष्यन्ति ! अहम् स्व साक्ष्यान् पूर्वैव सत्यापितं कृता तत विषाणु जैविकासीत् ! येन कारणं चिनी सर्वकार: मम पश्चागतः ! मह्यं आशामस्ति तत जनान् शीघ्र सत्यता ज्ञातम् भविष्यति !

धीरे-धीरे पूरी दुनिया के सामने इसके सबूत सामने आ जाएंगे ! मैं अपने सबूतों को पहले ही सत्यापित कर चुकी हूँ कि वायरस जैविक था ! इसीलिए चीनी सरकार मेरे पीछे पड़ी है ! मुझे उम्मीद है कि लोगों को जल्द सच्चाई पता चल जाएगी !

वायरोलॉजिस्ट ली मेंग येन यस्मात् पूर्वमपि विषाणो: मानव निर्मितस्य वार्ता कथिता ! ली कथिता स्म तत वुहाने अस्य प्राथमिक प्रयोगम् अक्रियते स्म यं च् प्रसारस्योद्देश्य विश्वस्य स्वास्थ्य प्रणालिम् क्षतिग्रस्त कृतमासीत् !

वायरोलॉजिस्ट ली मेंग येन इससे पहले भी वायरस के मानव निर्मित होने की बात कह चुकी हैं ! ली ने कहा था कि वुहान में इसका ट्रायल किया गया था और इसको फैलाने का मकसद दुनिया के हेल्थ सिस्टम को बर्बाद करना था !

सा दृढ़कथनं कृता स्म विषाणु चिनस्य वुहान स्थितमनुसंधान केंद्रे अक्रियते स्म तस्या: पार्श्व अस्य साक्ष्यमपि सन्ति !

उन्होंने दावा किया था वायरस चीन के वुहान स्थित लैब में तैयार किया गया था और उनके पास इसके प्रमाण भी हैं !

वायरोलॉजिस्ट ली मेंग येन यदा एकेन गोपनीय अनुसंधानेण अस्य सत्यतायाः अन्वेषणं कृता स्म तदा चिनी सर्वकार: तस्या: पश्चागतः यस्य अनंतरम् सा हांगकांग त्यज्यता यत्र सा कार्यरता स्म !

वायरोलॉजिस्ट ली मेंग येन ने जब एक गुप्त ऑपरेशन के जरिए इस की सच्चाई का पता लगाया था तो चीनी सरकार उनके पीछे पड़ गई जिसके बाद उन्होंने हांगकांग को छोड़ दिया जहां वो कार्यरत थी !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

कन्हैया लाल तेली इत्यस्य किं ?:-सर्वोच्च न्यायालयम् ! कन्हैया लाल तेली का क्या ?:-सर्वोच्च न्यायालय !

भवतम् जून २०२२ तमस्य घटना स्मरणम् भविष्यति, यदा राजस्थानस्योदयपुरे इस्लामी कट्टरपंथिनः सौचिक: कन्हैया लाल तेली इत्यस्य शिरोच्छेदमकुर्वन् !...

१५ वर्षीया दलित अवयस्काया सह त्रीणि दिवसानि एवाकरोत् सामूहिक दुष्कर्म, पुनः इस्लामे धर्मांतरणम् बलात् च् पाणिग्रहण ! 15 साल की दलित नाबालिग के साथ...

उत्तर प्रदेशस्य ब्रह्मऋषि नगरे मुस्लिम समुदायस्य केचन युवका: एकायाः अवयस्का बालिकाया: अपहरणम् कृत्वा तया बंधने अकरोत् त्रीणि दिवसानि...

यै: मया मातु: अंतिम संस्कारे गन्तुं न अददु:, तै: अस्माभिः निरंकुश: कथयन्ति-राजनाथ सिंह: ! जिन्होंने मुझे माँ के अंतिम संस्कार में जाने नहीं दिया,...

रक्षामंत्री राजनाथ सिंहस्य मातु: निधन ब्रेन हेमरेजतः अभवत् स्म, तु तेन अंतिम संस्कारे गमनस्याज्ञा नाददात् स्म ! यस्योल्लेख...

धर्मनगरी अयोध्यायां मादकपदार्थस्य वाणिज्यस्य कुचक्रम् ! धर्मनगरी अयोध्या में नशे के कारोबार की साजिश !

उत्तरप्रदेशस्यायोध्यायां आरक्षकः मद्यपदार्थस्य वाणिज्यकृतस्यारोपे एकाम् मुस्लिम महिलाम् बंधनमकरोत् ! आरोप्या: महिलायाः नाम परवीन बानो या बुर्का धारित्वा स्मैक...