ओमिक्रोन इतस्यानंतरमधुना नवभयकर: विषाणुना उत्पादितं संकटम्, त्रिषुतः एकस्य रुग्णस्य निधनम् ! ओमिक्रॉन के बाद अब नए खतरनाक वायरस से मचा हडकंप, तीन में से एक मरीज की मौत !

0
121

केवल प्रतीक चित्र

ओमिक्रोन किं न तीव्रतायाः प्रसरकमसि, तु कोविड- १९ इतस्य तुलनायां न्यून घातकं रमितं ! तु अधुना विषाणो: एकमधिकं घातकं वैरिएंट न्योकोव दक्षिण अफ्रीकायां ळब्धितं ! चिनस्य वुहानानुसंधान कक्षस्य वैज्ञानिका: कथितरूपे चेतुं दत्त: !

ओमिक्रॉन भले ही तेजी से फैलने वाला हो, लेकिन कोविड-19 की तुलना में कम घातक रहा ! लेकिन अब वायरस का एक अधिक घातक वैरिएंट न्योकोव NeoCov दक्षिण अफ्रीका में पाया गया है ! चीन के वुहान लैब के वैज्ञानिकों ने कथित तौर पर चेतावनी दी है !

न्योकोव इतस्य मृत्युदरस्य संक्रमणस्य दरम् कुत्रैव अधिकमस्ति ! रूसी वार्ता संस्था स्पुतनिकस्यैकस्य सूचनायाः अनुसारम्, न्योकोव विषाणु मर्स-कोव विषाणुतः संलग्नमस्ति येन २०१२-२०१५ तमे मध्य पूर्वी देशेषु अन्वेषणितं स्म !

NeoCov की मौत दर और संक्रमण की दर कहीं अधिक है ! रूसी समाचार एजेंसी स्पुतनिक की एक रिपोर्ट के अनुसार, NeoCov वायरस MERS-CoV वायरस से जुड़ा है जिसे 2012-15 में मध्य पूर्वी देशों में खोजा गया था !

रूसी संस्था टॉस इतस्यानुसारम्, चिने वैज्ञानिका: लब्धिता: तत दक्षिण अफ्रीकायां चर्मचटकाषु ळब्धका: कोरोना विषाणो: न्योकोव संस्करणम् मर्स जवरस्य एकस्य संबंधिनिवास्ति यस्य लक्षणं प्रभावं च् सार्स कोव-२ इतस्य समम् सन्ति !

रूसी एजेंसी TASS के अनुसार, चीन में वैज्ञानिकों ने पाया कि दक्षिण अफ्रीका में चमगादड़ों में पाए जाने वाले कोरोनावायरस का NeoCov संस्करण MERS बुखार के एक रिश्तेदार की तरह है जिसके लक्षण और प्रभाव SARS CoV-2 के समान हैं !

सूचनायां इदमपि कथितं तत चिनी शोधकर्ता: लब्धिता: तत न्योकोव विषाणु इत्ये मृत्युदरम् बहु अधिकमस्ति, प्रत्येक त्रिषु संक्रमित जनेषुतः एकस्य मृत्यु भविष्यति ! लाघवस्य वार्ता इदमस्ति तत नव कोरोना विषाणु अद्यापि मानवेषु न प्रसृतं !

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि चीनी शोधकर्ताओं ने पाया है कि न्योकोव वायरस में मृत्यु दर बहुत अधिक है, हर तीन संक्रमित व्यक्तियों में से एक की मौत होगी ! राहत की बात यह है कि नया कोरोना वायरस अभी इंसानों में नहीं फैला है !

रूसी स्टेट वायरोलॉजी एंड बायोटेक्नोलॉजी अनुसंधान केंद्रम् एके कथने कथितं वेक्टर अनुसंधान केंद्रम् चिनी शोधकर्ताभि: न्योकोव कोरोना विषाणु इत्ये ळब्धं आंकड़ाभि: अवगतम् अस्ति ! दक्षिण अफ्रीकायां अद्यापीदम् न्योकोव विषाणु चर्मचटकायाः अभ्यांतरम् दर्शितं !

रूसी स्टेट वायरोलॉजी एंड बायोटेक्नोलॉजी रिसर्च सेंटर ने एक बयान में कहा वेक्टर अनुसंधान केंद्र चीनी शोधकर्ताओं द्वारा NeoCoV कोरोनावायरस पर प्राप्त आंकड़ों से अवगत है ! दक्षिण अफ्रीका में अभी यह न्योकोव वायरस चमगादड़ के अंदर देखा गया है !

इदमद्यापि केवलं पशुषु इव दर्शितं ! ध्यानदत्तकं वार्ता इदमस्ति तत कोविड-१९ इतस्य ओमिक्रोन वैरिएंट इतस्यापि सर्वात् पूर्वम् अफ्रीकायां ज्ञातुं अभवत् स्म ! यद्यपि येनारंभे चिंतायाः एकस्य प्रकारस्य रूपे दर्शितं स्म, अनंतरे शोधकर्ता: दर्शिता: ततेदम् तीव्रताया प्रसरति !

यह अभी केवल पशुओं में ही देखा गया है ! ध्यान देने वाली बात ये है कि COVID-19 के ओमिक्रॉन वैरिएंट का भी सबसे पहले अफ्रीका में पता चला था। हालांकि इसे शुरू में चिंता के एक प्रकार के रूप में देखा गया था, बाद में शोधकर्ताओं ने देखा है कि यह तेजी से फैल रहा है !

ओमिक्रोन इत्ये लाघवस्य वार्तैदम् रमितं तत रुग्णम् चिकित्सालये बहु न्यून रमितुं अभवत् मृत्युदरमपि न्यूनम् रमति ! विश्व स्वास्थ्य संगठनमपीति वार्तायां बलम् दत्तं तत बर्धन् टीकाकरणस्य कारणेन ओमिक्रोन इत्येन मृत्युदरे चिकित्सालये च् रमिते न्यूनतागतं !

ओमिक्रॉन में राहत की बात ये रही कि मरीज को अस्पताल में बहुत कम भर्ती होना पड़ा और मृत्यु दर भी कम रही है ! विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी इस बात पर जोर दिया है कि बढ़े हुए टीकाकरण की वजह से ओमिक्रॉन से मृत्यु दर और अस्पताल में भर्ती होने में कमी आई है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here