भारतीय मूलस्य जनानां अंतेषद: अभवत् अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन: ! भारतीय मूल के लोगों के मुरीद हुए अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन !

0
316

फोटो साभार गूगल

अमेरिकायाः नव राष्ट्रपति जो बाइडेन: स्व द्वयेन मासेनापि न्यून कार्यकालस्य कालम् स्व प्रशासने ५० तः अधिकम् भारतीय मूलस्य जनानां नियुक्तैति !

अमेरिका के नए राष्ट्रपति जो बाइडेन अपने दो महीने से भी कम कार्यकाल के दौरान अपने प्रशासन में 50 से अधिक भारतीय मूल के लोगों की नियुक्ति कर चुके है !

यस्मिन् तदा बहु नियुक्तय: महत्वपूर्णम् शीर्षम् च् पदेषु अभवन् ! अमेरिकायाम् भारतीय मूलस्य जनानां प्रतिष्ठा बर्धितम् गृहित्वा स्वयं राष्ट्रपति प्रशंसमानः कथितः तत भारतीय मूलस्य अमेरिकी जनाः यूएस इत्ये पर्याच्छादित: !

इनमें तो कई नियुक्तियां महत्वपूर्ण और शीर्ष पदों पर हुई है। अमेरिका में भारतीय मूल के लोगों का डंका बजने को लेकर खुद राष्ट्रपति बाइडेन ने तारीफ करते हुए कहा है कि भारतीय मूल के अमेरिकी लोग यूएस में छाए हुए हैं।

स्व राष्ट्रपति पदस्य ५० दिवसतः अपि न्यूनकाले बाइडेन: स्व प्रशासने प्रमुख पदेषु न्यूनात्न्यून ५५ भारतीय-अमेरिकिभिः नियुक्त:,तस्मिन् बाइडेनस्य भाषण इति लेखकेन गृहित्वा नासायाः सर्कारस्य च् लगभगम् प्रत्येक क्षेत्रेषु कृतानि नियुक्त्य: इति सम्मिलतानि सन्ति !

अपने राष्ट्रपति पद के 50 दिनों से भी कम समय में,बाइडेन ने अपने प्रशासन में प्रमुख पदों पर कम से कम 55 भारतीय-अमेरिकियों को नियुक्त किया है,जिनमें बाइडेन के भाषण लेखक से लेकर नासा और सरकार के लगभग हर विंग में की गई नियुक्तियां शामिल हैं !

बाइडेन: नासायाः एकस्य अंतर्जाल माध्यमेन सम्मेलनस्य कालम् कथितः,भारतीय मूलस्य अमेरिकी देशस्य कार्यभार इति अनुपालयन्ति ! भवान् (स्वाति मोहन),मम उपराष्ट्रपति (कमला हैरिस),मम भाषण लेखक: (विनय रेड्डी:) अस्य केचन उदाहरणम् सन्ति !

बाइडेन ने नासा के एक वर्चुअल सम्मेलन के दौरान कहा,भारतीय मूल के अमेरिकी देश की कमान संभाल रहे हैं ! आप (स्वाति मोहन),मेरी वाइस प्रेसिडेंट (कमला हैरिस),मेरी स्पीच राइटर (विनय रेड्डी) इसके कुछ उदाहरण हैं !

भवतम् ज्ञापयतु तत नासायाः अद्यैवस्य सर्वात् महत्वाकांक्षी मंगलयान,मंगल ग्रहे अवतरितम् अस्य अभियाने च् डॉ. स्वाति मोहन नामकस्य एकस्य भारतीय मूलस्य वैज्ञानिकापि सम्मिलितं सन्ति यत् मंगल २०२० दिशानिर्देश,नैविगेशन एंड कंट्रोल ऑपरेशंस इत्यस्य प्रमुखा सन्ति !

आपको बता दें कि नासा का अब तक का सबसे महत्वकांक्षी मार्स मिशन,मंगल ग्रह पर उतर चुका है और इस अभियान में डॉ. स्वाति मोहन नाम की एक भारतीय मूल की वैज्ञानिक भी शामिल हैं जो मार्स 2020 गाइडेंस, नैविगेशन ऐंड कंट्रोल ऑपरेशंस की मुखिया हैं !

२० जनवरी इतम् संयुक्त राज्य अमेरिकायाः षडचत्वारिंशतानि राष्ट्रपत्या: रूपे शपथ ग्रहितानि बाइडेन: स्व प्रशासने प्रमुख पदेषु न्यूनात्न्यूनम् ५५ भारतीय-अमेरीकिनि कृत्वा इतिहासम् रचित: !

20 जनवरी को संयुक्त राज्य अमेरिका के 46 वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ लेने वाले बाइडेन ने अपने प्रशासन में प्रमुख पदों पर कम से कम 55 भारतीय-अमेरिकियों को नियुक्त करके इतिहास रचा है !

यस्मिन् उपराष्ट्रपति कमला हैरिस इति सम्मिलिता न सन्ति,यत् एकम् निर्वाचितपदम् अस्ति ! अस्यातिरिक्त बाइडेन प्रशासन: एकस्य भारतीय मूलस्य महिला नीरा टंडनम् बजट प्रमुख इति पदे पदस्थाय नामिता कृतः स्म तु समर्थन न लभ्धस्य भीतेन सा स्व नाम पुनर्नीता स्म !

इसमें उपराष्ट्रपति कमला हैरिस शामिल नहीं हैं, जो एक निर्वाचित पद है ! इसके अलावा बाइडेन प्रशासन ने एक और भारतीय मूल की महिला नीरा टंडन को बजट प्रमुख पद पर नियुक्ति के लिए नॉमिनेट किया था लेकिन समर्थन ना मिलने के डर से उन्होंने अपना नाम वापस ले लिया था !

बाइडेन प्रशासन: प्रथमदा स्व प्रशासनस्य प्रथम ५० दिवसेषु अति वृहद संख्यायाम् भारतीय- अमेरीकिनि नियुक्तम् कृतः ! पूर्व सप्ताह,डॉ विवेक मूर्ति: यूएस मुख्यशल्यचिकित्सकाय एकस्य अमेरिकी राज्यसभायाः आयोगस्य संमुखम् उपस्थितः अभवत् वनीता गुप्ता उप महान्यायवादी न्याय विभागाय नियुक्तम् भविता !

बाइडेन प्रशासन ने पहली बार अपने प्रशासन के पहले 50 दिनों में इतनी बड़ी संख्या में भारतीय-अमेरिकियों को नियुक्त किया है। पिछले हफ्ते,डॉ. विवेक मूर्ति ने यूएस सर्जन जनरल के लिए एक सीनेट कमेटी के सामने पेश हुए और वनीता गुप्ता एसोसिएट अटॉर्नी जनरल डिपार्टमेंट ऑफ जस्टिस के लिए नियुक्त हुईं !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here