43.1 C
New Delhi

यकृतार्धमवशेषमासीत्, गातमेव निस्त्वचीकृतवान्, यया दिलदार अंसारिन् कर्तित: तया सह पशुता दर्श चिकित्सक: अपि विस्मित:, अकथयत्, कदा इदृशं मृत्युकारण परीक्षणं न कृतवान् ! किडनी बची थी आधी, चमड़ी तक छीली, जिसे दिलदार अंसारी ने काटा उसके साथ हैवानियत देख डॉक्टर भी हैरान, कहा, कभी ऐसा पोस्टमार्टम नहीं किया !

Date:

Share post:

झारखंडस्य साहिबगंजे दिलदार अंसारिणा रिबिका पहाड़िन्याः क्रूरताया हनस्य प्रकरणे अधुना बहु विस्मिकानि तथ्यानि संमुखमागतानि सन्ति ! प्रथम यत्र ज्ञातमभवत् स्म तत दिलदार: रिबिकायाः शवम् खण्डेषु-खण्डेषु विभक्तवान् !

झारखंड के साहिबगंज में दिलदार अंसारी द्वारा रिबिका पहाड़िन की बेरहमी से हत्या करने के मामले में अब कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं ! पहले जहाँ पता चला था कि दिलदार ने रिबिका के शव को टुकड़ों-टुकड़ों में काटा !

तत्रैवाधुनाभिज्ञानमभवत् तत अंसारिन् शवं कर्तनेण पूर्वम् रिबिकायाः गातम् निस्त्वचीकृतवान् स्म ! मृत्यु कारण परीक्षणं कर्ता चिकित्सक: अपि इदृशमेव क्रूरता दर्श विस्मित: आसीत् ! तस्य कथनमस्ति तत सः इदृशं मृत्यु कारण परीक्षणं कदापि न कृतवान् !

वहीं अब जानकारी हुई है कि अंसारी ने शव को काटने से पहले रिबिका के शरीर से उसकी चमड़ी छीली थी ! पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर भी ऐसी क्रूरता देख हैरान थे ! उनका कहना है कि उन्होंने ऐसा पोस्टमार्टम कभी नहीं किया !

दैनिक भास्करस्य सूचनापत्रस्यानुसारम्, मृत्यु कारण परिक्षणम् कर्ता चिकित्सकाः ज्ञाप्तवान् तत रिबिकायाः शवेण सह पशुताकरोत् ! तस्या: हनस्य अनंतरम् शवम् निस्त्वचीकृतवान् शवम् च् बहुषु खण्डेषु अकर्तयत् ! चिकित्सकस्य कथनमस्ति तत शवस्य लघु-लघु खंडानि कृतमासन् येन कर्तने अनुमानतः ७ तः ८ घटकानां काळम् गतवान् स्म !

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, पोस्टमार्टम कर रहे डॉक्टरों ने बताया है कि रिबिका के शव के साथ दरिंदगी की गई ! उसकी हत्या करने के बाद शव से खाल उतार दी गई और शव को कई टुकड़ों में काट दिया गया ! डॉक्टर का कहना है कि शव के छोटे-छोटे टुकड़े किए गए थे और इसे काटने में करीब 7 से 8 घंटे का वक्त लगा था !

सूचनापत्रस्यानुसारम्, चिकित्सकाः ज्ञाप्तवंताः तत मृत्युकारण परिक्षणाय रिबिकायाः अनुमानतः २८ अंगानि आनीतमासन् द्वे यकृते अर्द्धमास्ताम् ! चिकित्सकाः सहैव ज्ञाप्तवंता: तत येषुतः बहूनि अंगानि उपस्थितानि नासन् ! चिकित्सकानां अनुसारं रिबिकायाः शिरम्, बहवः अंगुलि:, वामांशस्य अस्थि इत्यादयः अंगानि मृत्युकारण परिक्षणाय न आनीतुं अशक्नोत् !

रिपोर्ट के अनुसार, डॉक्टरों ने बताया कि पोस्टमार्टम के लिए रिबिका के करीब 28 अंग लाए गए थे और दोनों किडनियाँ आधी थीं ! डॉक्टरों ने साथ ही बताया कि इनमें से कई अंग मौजूद नहीं थे ! डॉक्टरों के अनुसार रिबिका के सिर, कई अंगुलियाँ, बाईं हिस्से की पसली इत्यादि अंग को पोस्टमार्टम के लिए नहीं लाया जा सका !

चिकित्सकाः ज्ञाप्तवंता: तत रिबिकायाः गर्भ: ळब्धं अस्ति, येनाग्रस्यानुसंधानाय धृतवान् यस्मात् पूर्वम् अस्मिन् प्रकरणे बुधवासरम् (२१ दिसंबर २०२२) नव रहस्योद्घाटनभवत् स्म ! आरक्षकस्यानुरूपम् दिलदार अंसारिण: माता मरियम निशा, रिबिकाम् केन प्रकारेण स्वमार्गतः निर्वर्तुं इच्छति स्म !

डॉक्टरों ने बताया कि रिबिका की बच्चेदानी मिली है, जिसे आगे की जाँच के लिए रख लिया गया है ! इससे पहले इस मामले में बुधवार (21 दिसंबर 2022) को नया खुलासा हुआ था ! पुलिस के मुताबिक दिलदार अंसारी की माँ मरियम निशा, रिबिका को किसी तरह से अपने रास्ते से हटाना चाहती थी !

यस्मै तां स्व सहोदर भ्रात: मोईनुल अंसारिम् २० सहस्रानि रूप्यकानि प्रथमे दत्तवती स्म ! वस्तुतः यं बोरियो आरक्षिस्थाने रिबिकायाः गोपनस्य सूचनां पंजीकृतवान् स्म, तत्रस्य एएसआई सुषमा कुमारी दिलदार अंसारिण: भ्रात: आमिर अंसारीतः पृच्छनम् कृतासीत्, यः यस्य रहस्योद्घाटन् कृतवान् स्म !

इसके लिए उसने अपने सगे भाई मोईनुल अंसारी को 20,000 रुपए एडवांस में दिए थे ! दरअसल जिस बोरियो थाना में रिबिका की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी, वहाँ की एएसआई सुषमा कुमारी ने दिलदार अंसारी के भाई आमिर अंसारी से पूछताछ की थी, जिसने इसका खुलासा किया था !

आरक्षकस्यानुसंधानं यथा:-यथाग्रम् बर्द्धति प्रकरणे रोमांचकानि रहस्योद्घाटन् भवन्ति ! मीडिया सूचना पत्राणां अनुसारम्, हनस्य काळम् रिबिका गर्भयुक्त आसीत् ! दिलदारस्य मातुल: तस्य च् मित्रम् रिबिकायाः हनेण पूर्वम् तया सह बलातपि कृतौ आस्ताम् ! सूत्राणां दृढ़कथनमस्ति ततारोपिन: पातकं स्वीकृतवंता: !

पुलिस की जाँच जैसे-जैसे आगे बढ़ रही है मामले में रौंगटे खड़े कर देने वाले खुलासे हो रहे हैं ! मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, हत्या के समय रिबिका गर्भवती थी ! दिलदार के मामा और उसके दोस्त ने रिबिका के कत्ल से पहले उसके साथ जबरदस्ती भी की थी ! सूत्रों का दावा है कि आरोपितों ने गुनाह कबूल लिया है !

इदमपि ज्ञातमभवत् तत रिबिकायाः भर्ता दिलदार अंसारिण: मातुल: मोइनुद्दीन अंसारिन् तस्य च् मित्रं मैनुल अंसारिन् दुष्कर्मस्यानंतरम् रिबिकायाः ग्रीवा मर्दित्वा हनन कृतवन्तौ ! हनस्यानंतरं शवं मातुलस्य मित्रम् मैनुल अंसारिण: गृहम् नीतवान् कुत्रचित् मोइनुद्दीनस्य गृहे शवम् खण्डेषु कर्तनाय परिपूर्ण स्थानम् नासीत् !

ये भी पता चला है कि रिबिका के शौहर दिलदार अंसारी के मामा मोइनुद्दीन अंसारी और उसके दोस्त मैनुल अंसारी ने बलात्कार के बाद रिबिका की गला दबाकर हत्या की ! हत्या के बाद शव को मामा के दोस्‍त मैनुल अंसारी के घर ले जाया गया क्‍योंकि मोइनुद्दीन के घर पर लाश को बोटियों में काटने के लिए पर्याप्त जगह नहीं थी !

मैनुलस्य गृहे प्लास्टिक आस्तृत्वा शवस्य खंडानि कृतवान् ! शवस्य खंडानि कर्तुं यानि तीक्ष्णास्त्राणां प्रयुज्यं अभवत् तेषुतः केचन प्राप्ति: अभवन् किंचितस्य चन्वेषणं क्रियते ! रिबिकायाः निर्दयताया अभवत् हनेण तस्या: ग्रामस्य जनेषु आक्रोशमस्ति ! सर्वानां आरोपिनां काळपाशस्य याचनां कुर्वन्ति !

मैनुल के घर पर प्‍लास्टिक बिछाकर शव के टुकड़े किए गए ! शव के टुकड़े करने के लिए जिन धारदार हथियारों का इस्तेमाल हुआ उनमें से कुछ बरामद हो चुके हैं और कुछ की तलाश की जा रही है ! रिबिका की बेदर्दी से हुई हत्‍या से उसके गाँव के लोगों में आक्रोश है ! सभी आरोपितों की फाँसी की माँग कर रहे हैं !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

फैजान:, जिशानः, फिरोज: च् एकः वृद्ध आरएसएस कार्यकर्तारं अघ्नन् ! फैजान, जीशान और फिरोज ने बुजुर्ग RSS कार्यकर्ता को मार डाला !

राजस्थानस्य देवालयं प्रति गच्छन् एकः 65 वर्षीयः वृद्धस्य वध: अकरोत् । पूर्वं मृत्युः रोगेण अभवत् इति मन्यन्ते स्म,...

हिंदू बालिका मुस्लिम बालकः च् विवाहः अवैधः मध्यप्रदेशस्य उच्चन्यायालयः ! हिंदू लड़की और मुस्लिम लड़का शादी वैध नहीं-मध्यप्रदेश हाईकोर्ट !

मध्यप्रदेशस्य उच्चन्यायालयेन उक्तम् अस्ति यत् मुस्लिम्-बालकस्य हिन्दु-बालिकायाः च विवाहः मुस्लिम्-विधिना वैधविवाहः नास्ति इति। न्यायालयेन विशेषविवाह-अधिनियमेन अन्तर्धार्मिकविवाहेभ्यः आरक्षकाणां संरक्षणस्य...

भारतं अस्माकं भ्राता अस्ति, पाकिस्तानः अस्माकं शत्रुः अस्ति-अफगानी वृद्ध: ! भारत हमारा भाई, पाकिस्तान दुश्मन-अफगानी बुजुर्ग !

सहवासिन् पाकिस्तान-देशः न केवलं भारतस्य, अपितु अफ्गानिस्तान्-देशस्य च प्रतिवेशिनी अस्ति। अफ़्घानिस्तानस्य जनाः पाकिस्तानं न रोचन्ते। अफ्गानिस्तान्-देशे भयोत्पादनस्य प्रसारकानां...

बृजभूषण शरण सिंहस्य पुत्रस्य यात्रावाहनस्य फार्च्यूनर् इत्यनेन 2 बालकाः मृताः। बृजभूषण शरण सिंह के बेटे के काफिले में शामिल फॉर्च्यूनर से कुचल कर 2...

उत्तरप्रदेशस्य कैसरगञ्ज्-नगरे भाजप-अभ्यर्थी करणभूषणसिङ्घस्य यात्रावाहनस्य फार्च्यूनर् इत्यनेन 3 बालकाः धाविताः। अस्मिन् दुर्घटनायां 2 जनाः तत्स्थाने एव मृताः, अन्ये...