कुत्रैव हस्तानि संयुक्तस्य स्थानमावृत्वा प्रार्थना, कुत्रैव शुक्रवासरमवकाशम्, झारखंडे द्रक्ष्यते पुनः सर्वकारी विद्यालयेषु उर्दू नाम, स्थानीयः भारयन्ति भारम् ! कहीं हाथ जोड़ने की जगह मोड़कर प्रार्थना, कहीं जुमे को छुट्टी, झारखंड में दिखने लगा फिर सरकारी स्कूलों पर उर्दू नाम, स्थानीय बनाते हैं दबाव !

0
94

झारखंडस्य पलामौ निर्मितं केचन सर्वकारी विद्यालयान् गृहीत्वा ज्ञातमभवत् तत तै: शनैः-शनैः उर्दू विद्यालयं यथा रचते ! कथितरूपे इति विद्यालये भवेत् परिवर्तनानां पश्च केचन स्थानीय जनानां हस्तानि सन्ति ! येषां जनानां भारस्य कारणं अधुना सर्वकारी विद्यालये प्रार्थना हस्ते संयुक्तवा नावृत्वा भवति !

झारखंड के पलामू में बने कुछ सरकारी स्कूलों को लेकर पता चला है कि उन्हें धीरे-धीरे उर्दू स्कूल जैसा बनाया जा रहा है ! कथिततौर पर इस स्कूल में हो रहे बदलावों के पीछे कुछ स्थानीय लोगों का हाथ है ! इन्हीं लोगों के दबाव के चलते अब सरकारी स्कूल में प्रार्थना हाथ जोड़कर नहीं मोड़कर होती है !

तत्रैव बहवः जनाः स्व बालकान् शुक्रवासरं विद्यालयं न प्रेष्यन्ति ! दैनिक जागरणस्य सूचनायाः अनुरूपम् प्रकरण छतरपुर प्रखंडस्य डाली पंचायतस्यास्ति ! अत्रे कक्षा १ तः ८ एवस्य पठनाय सर्वकारी विद्यालय उत्क्रमित मध्य विद्यालयं ठेंकहीटांडास्ति !

वहीं कई लोग अपने बच्चों को शुक्रवार को स्कूल नहीं भेज रहे हैं ! दैनिक जागरण की रिपोर्ट के मुताबिक मामला छतरपुर प्रखंड के डाली पंचायत का है ! यहाँ पर क्लास 1 से 8 तक की पढ़ाई के लिए सरकारी स्कूल उतक्रमित मध्य विद्यालय ठेंकहीटांड है !

आरोपमस्ति तत अस्यैव विद्यालये सर्वकारस्य नियमानां निर्वलोकनम् कृत्वा बालाकानां हस्तानि आवृत्वा प्रार्थना कारिते ! येन सह विश्रामपुरस्य डेहरिया स्थितं उत्क्रमित मध्य विद्यालये बहवः अभिभावकाः शुक्रवासरम् स्व बालाकान् विद्यालयं न प्रेष्यन्ति ! तत्रैव बानायाः सर्वकारी विद्यालयस्य नाम्न: अग्रम् उर्दू अधुनैव न निर्वर्तितं अस्ति !

आरोप है कि इसी स्कूल में सरकार के नियमों की अनदेखी कर के बच्चों के हाथो मोड़ कर प्रार्थना करवाई जा रही है ! इसी के साथ विश्रामपुर के डेहरिया स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय में कई अभिभावक शुक्रवार को अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेज रहे हैं ! वहीं बाना के सरकारी स्कूल के नाम के आगे उर्दू अभी तक नहीं हटाया गया है !

सूचनायाः अनुसारम् केचन कालाय उर्दू शब्दम् अपशिष्टेनावृतमासीत् यत्र पुनः अपशिष्ट मार्जितं अस्ति ! जागरणतः वार्ता कृतन् उत्क्रमित मध्य विद्यालय, ठेंकहीटांडस्य प्रधानाचार्य नागेंद्र राम: हस्तानि आवृत्वा भवेत् प्रार्थनाम् पूर्वतः आगच्छेत् परम्परा इति ज्ञापित: अस्ति !

रिपोर्ट के अनुसार कुछ समय के लिए उर्दू शब्द को कूड़े से ढक दिया गया था जहाँ फिर से कूड़ा हटा लिया गया है ! जागरण से बात करते हुए उत्क्रमित मध्य विद्यालय, ठेंकहीटांड के प्रिंसिपल नागेंद्र राम ने हाथ मोड़ कर हो रही प्रार्थना को पहले से आ रही परम्परा बताया है !

तत्रैव डाली पंचायतस्य प्रमुखा पूनम जायसवाल हस्तानि आवृत्वा प्रार्थनाम् सर्वकारी नियमानां विरुद्धम् ज्ञाप्यन् यस्मिन तत्क्षण संशोधनस्य याचनां कृता ! इति प्रकरणे संज्ञानम् नयन् पलामो: डीईओ सह डीएसई अनिल कुमार: कथित: तत सोमवासरं विद्यालयं अवरुद्धमस्ति !

वहीं डाली पंचायत की मुखिया पूनम जायसवाल ने हाथ मोड़ कर प्रार्थना को सरकारी नियमों के विरुद्ध बताते हुए इसमें तत्काल सुधार की माँग की ! इस मामले पर संज्ञान लेते हुए पलामू के डीईओ सह डीएसई अनिल कुमार ने कहा कि सोमवार को स्कूल बंद है !

अतः भौमवासरम् विद्यालयोद्घाटने यस्यानुसंधानम् करिष्यते ! सः ज्ञापित: ततानुसंधाने यतापि दोषिन् ळब्धिष्यते तस्मिन् नियमानुसारम् कार्यवाहिम् करिष्यते ! दृष्टिगतमस्ति तत झारखंडस्य विद्यालयेषु इस्लामी कृत्यं स्वीकरणस्येदं प्रथम प्रकरणं नास्ति !

अतः मंगलवार को स्कूल खुलने पर इसकी जाँच की जाएगी ! उन्होंने बताया कि जाँच में जो भी दोषी पाया जाएगा उस पर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी ! गौरतलब है कि झारखंड के स्कूलों में इस्लामी तौर-तरीकों को अपनाए जाने का ये पहला मामला नहीं है !

जुलै २०२२ तमे सिंहभूम जनपदस्य गोइलकेरा प्रखंडे शिक्षक: रामेंद्र दुबे अकबर: नाम्न: आरोपिने शुक्रवासरस्यापेक्षा रविवासरमवकाशदत्तस्य कारणं स्वताडनस्यारोपमारोपित: आसीत् ! अकबरं सीएम सोरेनस्य दळम् झारखंड मुक्ति मोर्चाया संयुक्त: ज्ञापितमासीत् !

जुलाई 2022 में सिंहभूम जिले के गोइलकेरा प्रखंड में शिक्षक रामेन्द्र दुबे ने अकबर नाम के आरोपित पर शुक्रवार के बजाए रविवार को छुट्टी देने के चलते अपनी पिटाई का आरोप लगाया था ! अकबर को CM सोरेन की पार्टी झारखंड मुक्ति मोर्चा से जुड़ा बताया गया था !

जुलै २०२२ तमे इव झारखंडस्य ५ जनपदानां ७० इदृशम् विद्यालयानां नाम संमुखम् आगतवन्तः स्म यत्र रविवासरस्यापेक्षा शुक्रवासरमवकाशम् भवन्ति स्म ! येन सह तेषां विद्यालयानां प्रार्थना पद्धति परिवर्तितमासीत् ! जुलै इव झारखंडस्य लोहरदगायां सर्वकारी विद्यालयं उर्दू हाईस्कूल कृतस्य अपवादम् भाजपा नेता कृतः आसीत् !

जुलाई 2022 में ही झारखंड के 5 जिलों के 70 ऐसे स्कूलों के नाम सामने आए थे जहाँ रविवार के बजाए शुक्रवार को छुट्टी हो रही थी ! इसी के साथ उन स्कूलों की प्रार्थना पद्धति भी बदली हुई थी !जुलाई में ही झारखंड के लोहरदगा में सरकारी स्कूल को उर्दू हाईस्कूल बनाने की शिकायत भाजपा नेता ने की थी !

यस्मिन् झारखंडस्य शिक्षा विभागमनुसंधानस्याज्ञाम् दत्तवान स्म ! अस्यैव मासम् झारखंडोच्च न्यायालये पंकज यादव: नाम्न: एकः सामाजिक कार्यकर्ता जनहित याचिका प्रस्तुतन् ज्ञापित: आसीत् ! झारखंडस्य विद्यालयानां इस्लामीकरणम् भवति !

जिस पर झारखंड के शिक्षा विभाग ने जाँच के आदेश दिए थे ! इसी माह झारखंड हाईकोर्ट में पंकज यादव नाम के एक सामाजिक कार्यकर्ता ने जनहित याचिका डालते हुए बताया था ! झारखंड के स्कूलों का इस्लामीकरण हो रहा है !

याचिकायां पंकज यादव: विद्यालयेषु बालकेषु शरिया इति भारयस्यारोपमारोप्यन् उच्च न्यायालयेण येनावरोधनस्य याचना कृतः आसीत् ! यस्यातिरिक्तं सितंबर २०२२ तमे रांच्या: एके सर्वकारी विद्यालये केचन मुस्लिमा: प्रवेशित्वा मित्रता न कृते एकं छात्रां अपहरणस्य भर्त्सकः दत्ता: आसन् !

याचिका में पंकज यादव ने स्कूलों में बच्चों पर शरिया थोपे जाने का आरोप लगाते हुए उच्च न्यायालय से इसे रोकने की माँग की थी ! इसके अलावा सितम्बर 2022 में राँची के एक सरकारी स्कूल में कुछ मुस्लिमों ने घुस कर दोस्ती न करने पर छात्रा को उठा ले जाने की धमकी दी थी !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here