दिवसं गृहे प्रवेशित:, प्रांगणे दुष्कर्म कृतः, सम्प्रति रांच्यां सहरुद्दीनस्य लक्ष्यं भूता १५ वर्षीय एसटी बालिका, इदमेवास्ति भीम-मीम इत्या: उद्घोषम् ! दिन दहाड़े घर में घुसा, आँगन में रेप किया, अब राँची में सहरुद्दीन का शिकार बनी 15 साल की ST लड़की, यही है भीम-मीम का नारा !

0
66

केवल प्रतीक चित्र

झारखंडे अंकिताम् पेट्रोल क्षिपित्वा दग्धस्य प्रकरणं अधुना शांतमपि न अभवत् तत वार्तास्ति राज्ये एकं अन्यावयस्कया सहानाचारमभवत् ! घटना रांच्या: नरकोपी आरक्षिस्थान क्षेत्रस्यास्ति ! तत्र मुस्लिम समुदायस्यैकः युवकः जनजातीय बालिकाम् स्व लक्ष्यं कृतवान !

झारखंड में अंकिता को पेट्रोल डालकर जलाने का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ कि खबर है राज्य में एक और नाबालिग के साथ अत्याचार हुआ है ! घटना राँची के नरकोपी थाना क्षेत्र की है ! वहाँ मुस्लिम समुदाय के एक युवक ने जनजातीय लड़की को अपना निशाना बनाया !

आरोपिण: परिचयं सहरुद्दीनस्य रूपे अभवत् ! तेन आरक्षकः बंधनम् कृत्वा कारागारम् प्रेषितमस्ति, हिंदुस्तानस्य सूचनां ज्ञाप्ति तत २८ अगस्त २०२२ तमम् दिवसस्य १० वादनमवयस्का जनजातीय बालिकाया दुष्कर्मस्य प्रकरणम् संज्ञाने आगतं स्म !

आरोपि की पहचान सहरुद्दीन के तौर पर हुई है ! उसे पुलिस ने पकड़कर जेल भेज दिया है, हिंदुस्तान की रिपोर्ट बताती है कि 28 अगस्त 2022 को दिन के 10 बजे नाबालिग जनजातीय लड़की से बलात्कार का मामला संज्ञान में आया था !

पीड़ितारक्षकं ज्ञापितासीत् तत सा रविवासरम् स्नातुं स्वगृहात् निःसृत्वा क्षेत्रम् प्रति गतवती स्म ! तु तदा तत्र तीव्र वर्षाम् भविष्यते ! बालिका स्वं रक्षतु-रक्षतु एकस्य वृक्षस्याधो स्थिताभवत् तत तदा तत्र २३ वर्षाय (केचन सूचनायां २६) सहरुद्दीन: आगतवान !

पीड़िता ने पुलिस को बताया था कि वो रविवार को नहाने के लिए अपने घर से निकलकर खेत की ओर गई थी ! लेकिन, तभी वहाँ तेज बारिश होने लगी ! लड़की खुद को बचाते-बचाते एक पेड़ के नीचे खड़ी हुई कि तभी वहाँ 23 (कुछ रिपोर्ट में 26) वर्षीय सहरुद्दीन आ गया !

सहरुद्दीन: प्रथम बालिकायावमान कर्तुं आरंभितः, यस्मात् भीत्वा सा गृहम् प्रति पलायिता ! अनंतरे सहरुद्दीन: बालिकायाः गृहे प्रवेशित: तस्या: च् प्रांगणे तस्या सह दुष्कर्म कृतवान ! यत् काळम् इदम् घटना घटितं अभवत् तत् काळम् बालिका गृहे सा एकलासीत् ! इदृशे सहवासिन: स्वरम् श्रुत्वा तस्या: सहाय्यं कृतवन्तः !

सहरुद्दीन ने पहले लड़की से छेड़छाड़ करनी शुरू की, जिससे घबराकर वह घर की ओर भागी ! बाद में सहरुद्दीन लड़की के घर में घुस गया और उसके आंगन में उसके साथ दुष्कर्म किया ! जिस समय ये घटना घटित हुई उस समय लड़की घर पर वह अकेली थी ! ऐसे में पड़ोस वालों ने आवाज सुनकर उसकी मदद की !

सहवासिन: सहरुद्दीनमवरुद्ध: घटनां प्रति नरकोपी आरक्षकम् ज्ञाप्ता: ! आरक्षकः त्वरित सहरुद्दीनम् बंधनम् कृतवान ! आरक्षिस्थाने पृच्छनस्य काळम् संमुखमागतवान तत सहरुद्दीन: बालिकायाः सहवासिनासीत् ! तस्या: अनुगमन प्रतिदिवसं करोति स्म ! अवयस्कायाः गृहवासिन: बहुधा आरोपिमवरोधनस्यापि प्रयत्नम् कृतवन्तः, तु सः न अवगम्यित: !

पड़ोसियों ने सहरुद्दीन को पकड़ा और घटना के बारे में नरकोपी पुलिस को बताया ! पुलिस ने फौरन सहरुद्दीन को गिरफ्तार किया ! थाने में पूछताछ के दौरान सामने आया कि सहरुद्दीन लड़की का पड़ोसी था ! उसका पीछा आए दिन करता था ! नाबालिग के घर वालों ने कई बार आरोपित को रोकने का भी प्रयास किया, पर वह नहीं माना !

२८ अगस्तम् बालिकाम् गृहे एकळं लब्ध्वा तं दुष्कर्मं कृतवान ! इति संबंधे राज्यस्य पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी ट्वीत कृत: अस्ति ! सः अलिखत्, झारखंडे पशुता विरमस्य नाम न नयति !

28 अगस्त को लड़की को घर में अकेला पाकर उसने दुष्कर्म को अंजाम दिया ! इस संबंध में राज्य के पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी ने ट्वीट किया है ! उन्होंने लिखा, झारखंड में हैवानियत की हद रुकने का का नाम नहीं ले रही है !

अस्यैव २८ अगस्तं नरकोपी, रांच्यां एका १५ वर्षीय जनजातीयावयस्का बालिकाया सह २३ वर्षीय सहरुद्दीन अंसारी तस्या: गृहे प्रवेशित्वा दिवसे बलात् दुष्कर्म कृतवान ! बालिकायाः अपवादम् बहूद्विग्नम् कर्ता सन्ति !

इसी 28 अगस्त को नरकोपी, राँची में एक 15 साल की जनजातीय नाबालिग लड़की के साथ 23 साल के सहरुद्दीन अंसारी ने उसके घर में घुसकर दिन में जबरन बलात्कार किया ! लड़की की शिकायत काफी विचलित करने वाली है !

भाजपा सांसद: संजय सेठ: घटनायां अलिखत्, अद्यपि अंकिता सिंहस्य चिता इति शीतमपि न अभवत्, दस्युन् दंडमपि न लब्धवान रांच्यां च् अवयस्का जनजातीय बालिकाया सहारोपिन् गृहे प्रवेशित्वा दुष्कर्मस्य घटनाम् कृतवान !

भाजपा सांसद संजय सेठ ने घटना पर लिखा, अभी अंकिता सिंह की चिता ठंडी भी नहीं हुई, दरिंदों को सजा भी नहीं मिली और राँची में नाबालिग जनजातीय लड़की के साथ आरोपि ने घर में घुसकर दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया !

झारखंडे कश्चितापि पुत्र्याः सुरक्षा सुनिश्चितं नास्ति ! केचन तर्हि शर्म करोतु सर्वकारस्य पथप्रदर्शका: ! ज्ञापयतु तत झारखंडस्य रांच्या: यत् दिवसं इदम् घटनामभवत् तैव दिवसं रांच्या: रिम्से दुमकायाः अंकितायाः निधनमभवत् स्म ! अंकितायाः अनुगमन अपि तस्या: सहवासिन् शाहरुख हुसैन: दीर्घकालेण करोति स्म !

झारखंड में किसी भी बेटी की सुरक्षा सुनिश्चित नहीं है ! कुछ तो शर्म करो सरकार के रहनुमाओं ! बता दें कि झारखंड के राँची में जिस दिन यह घटना हुई है उसी दिन राँची के रिम्स में दुमका की अंकिता ने दम तोड़ा था ! अंकिता का पीछा भी उसका पड़ोसी शाहरुख हुसैन लंबे समय से कर रहा था !

तासाम् मित्रतायाः, पाणिग्रहणस्य, धर्मांतरणस्य भारं भारयति स्म ! यद्यपि अंकिता यस्मै तत्परा नासीत् ! सा शाहरुखम् भर्तयति स्म ! अतएव शाहरुख: २३ अगस्त २०२२ तमम् स्व प्रतिशोधाय तस्या: उपरि पेट्रोल इत्या: केन क्षिपत: अग्निपेटिकाया च् अग्निम् ज्वलित: !

उस पर दोस्ती, निकाह, धर्मांतरण का दबाव बनाता था ! हालाँकि अंकिता इसके लिए तैयार नहीं थी ! वह शाहरुख को डाँटती थी ! इसीलिए शाहरुख ने 23 अगस्त 2022 को अपना बदला लेने के लिए उसके ऊपर पूरी पेट्रोल की कैन उलट दी और माचिस से आग लगा दी !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here