34.1 C
New Delhi

यं युसुफम् मित्रमवगम्यति स्म उमेश कोल्हे, तमेव निःसृतमासीत् मृत्यु आदेश:, ग्रीवा कर्तनेण पूर्वम् कृतमासीतभ्यासम्, एनआईए सर्वम् ज्ञाप्तवान् ! जिस युसूफ को दोस्त समझते थे उमेश कोल्हे, उसने ही निकाला था मौत का फरमान, गला काटने से पहले की गई थी प्रैक्टिस, NIA ने सब कुछ बताया !

Date:

Share post:

महाराष्ट्रस्यामरावत्यां उमेश कोल्हे हननप्रकरणे तब्लीगी समाजस्य संबंधम् संमुखमागमनस्यानंतरम् एकम् नव रहस्योद्घाटनमभवत् ! एनआईए इत्या: चार्जशीट इत्या: अनुरूपमुमेशस्य १६ वर्षाणि पुरातन मित्रम् यूसुफ: इव सर्वात् प्रथम उमेशस्य नूपुर शर्मायाः समर्थकं स्क्रीनशॉट अन्य समुहेषु प्रसृतं कृतवान् स्म !

महाराष्ट्र के अमरवती में उमेश कोल्हे हत्याकांड में तबलीगी जमात का कनेक्शन सामने आने के बाद एक नया खुलासा हुआ है ! NIA की चार्जशीट के मुताबिक उमेश के 16 साल पुराने साथी युसूफ ने ही सबसे पहले उमेश का नूपुर शर्मा के समर्थन वाला स्क्रीनशॉट अन्य ग्रुपों में शेयर किया था !

हननेण पूर्वम् ग्रीवा कर्तनस्याभ्यासरपि कृतमासीत् ! जनानां सहाय्यस्य नामनि चालयेत् रुग्णवाहनान् सक्ष्यान् गोपनाय प्रयुज्यवान् स्म ! मीडिया सूचनानां अनुरूपम् उमेशस्य हनन, गुस्ताख नबी की एक सजा, सिर तन से जुदा, सिर तन से जुदा इति उद्घोषभिः प्रभाविता: आसन् !

हत्या से पहले गला काटने की प्रैक्टिस भी की गई थी ! लोगों की मदद के नाम पर चलाई जा रही एम्बुलेंस को सबूतों को छिपाने के लिए इस्तेमाल किया गया था ! मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उमेश की हत्या, गुस्ताख नबी की एक सजा, सिर तन से जुदा, सिर तन से जुदा वाले नारे से प्रभावित थे !

यस्मिन् व्हाट्सएप समूहे उमेश कोल्हे नूपुर शर्मायाः समर्थक: मेसेज प्रसृतं कृतवान् स्म, तस्य नाम ब्लैक फ्रीडम इत्यासीत् ! अस्मिनेव समूहे उमेशस्य १६ वर्षाणि पुरातन मित्रम् यूसुफरपि आसीत् ! उमेश: बहुधा यूसुफस्यार्थिक सहाय्यं कृतवान् स्म ! यूसुफ: उमेशस्य तैव मैसेज कलीम इब्राहिम व्हाट्सएप समूहे प्रेषित्वा फलम् प्रदर्शस्य वार्ताकथयत् !

जिस व्हाट्सएप ग्रुप में उमेश कोल्हे ने नूपुर शर्मा के समर्थन वाला मैसेज शेयर किया था, उसका नाम ब्लैक फ्रीडम था ! इसी ग्रुप में उमेश का 16 साल पुराना साथी युसूफ भी था ! उमेश कई बार युसूफ की आर्थिक मदद कर चुके थे ! युसूफ ने उमेश का वही मैसेज कलीम इब्राहिम व्हाट्सएप ग्रुप में भेज कर अंजाम दिखाने की बात कही !

अस्मिनेव समूहे हनस्यैकमन्यारोपिन् इरफान खान: अपि संलग्न: आसीत् ! चार्जशीट इत्यां ज्ञाप्तवान ततोमेशम् कश्चितापि स्थित्यां फलमेव प्राप्तुं यूसुफ: स्व एकः अन्य मित्रमातिब रशीदेणापि वार्ता क्रियेत् ! आतिब: यूसुफस्य वार्ताभिः सहमतिम् व्यक्तन् स्व एकमन्य मित्रम् मोहम्मद शोएबम् स्वेण सह संयुक्तवान् !

इसी ग्रुप में हत्या का एक अन्य आरोपित इरफान खान भी जुड़ा था ! चार्जशीट में बताया गया है कि उमेश को किसी भी हाल में अंजाम तक पहुँचने के लिए युसूफ ने अपने एक अन्य क्लाइंट आतिब रशीद से भी बात की ! आतिब ने युसूफ की बातों से सहमति जताते हुए अपने एक और साथी मोहम्मद शोएब को साथ जोड़ा !

अनंतरे इमे यूसुफस्य व्हाट्सएप समूहस्य मित्रम् इरफानेण मेलितवान् ! उमेशेण नूपुर शर्मा समर्थकं मैसेज एकमन्य व्हाट्सएप समूहम् परिहासे अब्दुल तौफीक शेख: प्रेषितवान् स्म ! यस्य कारणं समूह सदस्य: अब्दुल मुशिफिक अहमद:, शेख शकील: मुदस्सिर अहमद: अपि उमेशतः खिन्न: अभवन् स्म !

बाद में ये सभी युसूफ के व्हाट्सएप ग्रुप के साथी इरफान से मिले ! उमेश द्वारा नूपुर शर्मा के समर्थन वाला मैसेज एक और व्हाट्सएप ग्रुप हँसी मजाक में अब्दुल तौफीक शेख ने फॉरवर्ड किया था ! इसके चलते ग्रुप मेंबर अब्दुल मुशिफिक अहमद, शेख शकील और मुदस्सिर अहमद भी उमेश से भड़के हुए थे !

सूचनापत्रे अग्रम् ज्ञाप्तवान् ततोमेशम् फलमेव प्रदातुं ४ आरोपिन: १९ जून २०२२ तमम् गौसिया प्रांगणे गोष्ठिम् कृतरासीत् ! यस्मिन् मोहम्मद शोएब: स्वमित्रं शमीम अहमदमपि आहूतवान् स्म ! गोष्ठ्यां उमेशस्य हनस्योद्घोष: अभवत् ! हनन कृतस्याभियोज्यता मोहम्मद शोएब: आतिब रशीद: शमीम अहमद: च् नीयासु: !

रिपोर्ट में आगे बताया गया है कि उमेश को अंजाम तक पहुँचाने के लिए 4 आरोपितों ने 19 जून 2022 को गौसिया हाल में मीटिंग की थी ! इसमें मोहम्मद शोएब ने अपने साथी शमीम अहमद को भी बुलाया था ! मीटिंग में उमेश की हत्या का एलान हुआ ! कत्ल करने की जिम्मेदारी मोहम्मद शोएब, अतिब रशीद और शमीम अहमद ने ली !

इरफान: अस्मिन् हनने प्रत्येक भांत्या: सहाय्यस्य विश्वास: दत्तवान् ! इरफान घातस्य काळम् मोबाइल न नयस्य कृष्णवर्णस्य च् वस्त्रे मुखमाच्छादित्वा गमनस्योपदेश: ददातु ! गोष्ठ्या: अनंतरम् आतिब: शोएब: च् उमेशस्यापणमपि तेन परिचयहेतु गतवन्तौ आस्ताम् ! परिचयस्यानंतरमारोपिन: हन्तुं स्थानस्य निर्वाचनम् कृतवान् !

इरफान ने इस हत्या में हर तरह की मदद का भरोसा दिया ! इरफान ने हमले के वक्त मोबाइल न ले जाने और काले रंग के लिबास में चेहरा ढक कर जाने की सलाह दी ! मीटिंग के बाद आतिब और शोएब उमेश की दुकान भी उसे पहचानने गए थे ! पहचान के बाद आरोपितों ने हत्या के लिए जगह का चुनाव किया !

तदैव अस्मिन् समूहे मुशिफिक अहमद नाम्नः मौलवी अपि संलग्न: आसीत् ! मौलवी अपि नूपुरम् कारागार न प्रेषणेन खिन्न: आसीत् ! उमेशस्य हनन २० जूनमेव भवितमासीत् ! तु मोहम्मद शोएबेण शमीम अहमदेण च् रात्र्यां दीर्घ प्रतीक्षायाः अनंतरम् अपि उमेश: नागच्छेत् ! अस्य कारणं तत दिवसं उमेश: हतवान् !

तब तक इस गैंग में मुशीफिक अहमद नाम का मौलवी भी जुड़ चुका था ! मौलवी भी नूपुर को जेल न भेजे जाने से नाराज था ! उमेश की हत्या 20 जून को ही होनी थी ! लेकिन मोहम्मद शोएब और शमीम अहमद द्वारा रात में लम्बे इंतजार के बाद भी उमेश नहीं आए ! इसी के चलते उस दिन उमेश बच गए !

उमेशस्य हनने निष्फल: भूतस्यानंतरम् आरोपिन: परस्परं वार्ता कृतवन्तौ ! अस्मिन् चर्चायां रेकी कर्ता: शाहरुख:, अब्दुल तौफीक: अपि सम्मिलिता: आसन् ! निश्चित प्रारूपस्यानुरूपम् उमेशस्य हनन अग्रिम दिवसं कृतस्य तत्परता कृतवान् ! २१ जूनम् उमेशस्य रेकी मुदस्सिर अहमद:, शाहरुख: अब्दुल तौफीक: च् कुर्वन्ति स्म !

उमेश की हत्या में नाकाम रहने के बाद आरोपितों ने आपस में बात की ! इस चर्चा में रेकी करने वाले शाहरुख, अब्दुल तौफीक भी शामिल थे ! तय प्लान के तहत उमेश की हत्या अगले दिन करने की तैयारी की गई ! 21 जून को उमेश की रेकी मुदस्सिर अहमद, शाहरुख और अब्दुल तौफीक कर रहे थे !

शाहरुख: अङ्गोञ्छनेण मुखमाच्छादित: आसीत् ! इति काळम् त्र्याणि मोबाइल तं संयुक्ता: आसन् ! आरोपिन् शाहरुख रहबर: एनजीओ इत्यां रुग्णयान् चालयति स्म ! अस्यैव एनजीओ तः अब्दुल तौफीक: अपि संलग्न: अस्ति ! हनस्य दिवसं प्रारूपस्य अनुरूपम् हन्तक: मोहम्मद शोएब:, आतिब रशीद: शमीम अहमद: च् स्व मोबाइल रुग्णयाने धृतवान् स्म ! इदृशमारक्षकम् लोकेशन इत्या: आधारे प्रतारयितुं कृतवान् स्म !

शाहरुख ने गमछे से चेहरा ढंका था ! इस दौरान तीनों मोबाइल से कनेक्टेड थे ! आरोपित शाहरुख रहबर NGO में एम्बुलेंस चलाता था ! इसी NGO से अब्दुल तौफीक भी जुड़ा है ! हत्या के दिन प्लान के तहत कातिल मोहम्मद शोएब, अतिब रशीद और शमीम अहमद ने अपने मोबाइल एम्बुलेंस में रख दिए थे ! ऐसा पुलिस को लोकेशन के आधार पर चकमा देने के लिए किया गया था !

त्रया: मार्गे उमेशस्य प्रतीक्षा कुर्वन्ति स्म ! रात्र्यां १०:२० उमेश: यथैवापणं संवृत्य घंटाघर प्राप्तवान् तथैव हन्तका: तेनावरुद्धवान् जानौ च् कृत्वा तस्य ग्रीवा कर्तवान्, चार्जशीट इत्यां एनआईए इत्या: दृढ़ कथनमस्ति तत हनेण पूर्वम् मोहम्मद शोएब: ग्रीवा कर्तनस्याभ्यास: अपि कृतरासीत् ! ग्रीवायां घातम् मोहम्मद शोएब: कृतवान् स्म ! इतः सर्वा: आरोपिन: मुम्बै इत्या: आर्थर रोड कारागारे अवरुद्धा: सन्ति !

तीनों रास्ते में उमेश का इंतजार कर रहे थे ! रात 10:20 पर उमेश जैसे ही दुकान बंद कर घंटाघर पहुँचे वैसे ही कातिलों ने उन्हें रोक लिया और घुटने पर बिठा कर उनका गला काट दिया गया, चार्जशीट में NIA का दावा है कि कत्ल से पहले मोहम्मद शोएब ने गला काटने की प्रैक्टिस भी की थी ! गले पर वार मोहम्मद शोएब ने किया था ! फिलहाल सभी आरोपित मुंबई की आर्थर रोड जेल में बंद हैं !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

फैजान:, जिशानः, फिरोज: च् एकः वृद्ध आरएसएस कार्यकर्तारं अघ्नन् ! फैजान, जीशान और फिरोज ने बुजुर्ग RSS कार्यकर्ता को मार डाला !

राजस्थानस्य देवालयं प्रति गच्छन् एकः 65 वर्षीयः वृद्धस्य वध: अकरोत् । पूर्वं मृत्युः रोगेण अभवत् इति मन्यन्ते स्म,...

हिंदू बालिका मुस्लिम बालकः च् विवाहः अवैधः मध्यप्रदेशस्य उच्चन्यायालयः ! हिंदू लड़की और मुस्लिम लड़का शादी वैध नहीं-मध्यप्रदेश हाईकोर्ट !

मध्यप्रदेशस्य उच्चन्यायालयेन उक्तम् अस्ति यत् मुस्लिम्-बालकस्य हिन्दु-बालिकायाः च विवाहः मुस्लिम्-विधिना वैधविवाहः नास्ति इति। न्यायालयेन विशेषविवाह-अधिनियमेन अन्तर्धार्मिकविवाहेभ्यः आरक्षकाणां संरक्षणस्य...

भारतं अस्माकं भ्राता अस्ति, पाकिस्तानः अस्माकं शत्रुः अस्ति-अफगानी वृद्ध: ! भारत हमारा भाई, पाकिस्तान दुश्मन-अफगानी बुजुर्ग !

सहवासिन् पाकिस्तान-देशः न केवलं भारतस्य, अपितु अफ्गानिस्तान्-देशस्य च प्रतिवेशिनी अस्ति। अफ़्घानिस्तानस्य जनाः पाकिस्तानं न रोचन्ते। अफ्गानिस्तान्-देशे भयोत्पादनस्य प्रसारकानां...

बृजभूषण शरण सिंहस्य पुत्रस्य यात्रावाहनस्य फार्च्यूनर् इत्यनेन 2 बालकाः मृताः। बृजभूषण शरण सिंह के बेटे के काफिले में शामिल फॉर्च्यूनर से कुचल कर 2...

उत्तरप्रदेशस्य कैसरगञ्ज्-नगरे भाजप-अभ्यर्थी करणभूषणसिङ्घस्य यात्रावाहनस्य फार्च्यूनर् इत्यनेन 3 बालकाः धाविताः। अस्मिन् दुर्घटनायां 2 जनाः तत्स्थाने एव मृताः, अन्ये...