24 C
New Delhi

आफताब: प्रथम श्रद्धायाः ग्रीवा मर्दित:, पुनः कृतवान ३५ खंडानि, १८ दिवसमेव क्षिपतुं रमेत् गात अंगानि, मुम्बै: अभवत् परिचयं, देहल्यां आनीत्वा हतवान ! आफताब ने पहले श्रद्धा का गला दबाया, फिर किए 35 टुकड़े, 18 दिन तक फेंकता रहा बॉडी पार्ट्स, मुंबई में हुई पहचान, दिल्ली में लाकर मारा !

Date:

Share post:

श्रद्धायाः आफताब अमीन पूनावालाया मुम्बै परिचयं अभवत् ! पुनः एकं दिवसं आफताब: देहल्यां ग्रीवा मर्दित्वा हतवान ! तस्य शवस्य ३५ खंडानि कृतवान ! १८ दिवसमेव रात्र्या: लगभगम् २ वादनम् सः गृहतः निसृत्वा श्रद्धायाः गात अंगानि देहल्यां इतः-उत: क्षिपतुं रमेत् !

श्रद्धा की आफताब अमीन पूनावाला से मुंबई में जान-पहचान हुई ! फिर एक दिन आफताब ने दिल्ली में श्रद्धा को गला दबाकर मार डाला ! उसके शव के 35 टुकड़े किए ! 18 दिन तक रात के करीब 2 बजे वह घर से निकल श्रद्धा के बॉडी पार्ट्स दिल्ली में इधर-उधर फेंकता रहा !

श्रद्धायाः हननस्य लगभगम् षड मासानि अनंतरमिदं रहस्योद्घाटनमभवत् ! १२ नवंबर २०२२ तमं आफताबस्य बंधनमभवत् ! मीडिया सूचनानां अनुरूपं श्रद्धा मूल रूपेण महाराष्ट्रस्य पालघरस्य वासिनासीत् ! आफताबतः तस्य मेलनम् मुम्बै अभवत् ! द्वयौ मलाडस्य एकेण कॉल सेंटर इत्यां कार्यम् कुरुत: आस्ताम् !

श्रद्धा की हत्या के करीब छह महीने बाद यह खुलासा हुआ है ! 12 नवंबर 2022 को आफताब की गिरफ्तारी हुई ! मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक श्रद्धा मूल रूप से महाराष्ट्र के पालघर की रहने वाली थी ! आफताब से उसकी मुलाकात मुंबई में हुई थी ! दोनों मलाड के एक कॉल सेंटर में साथ काम करते थे !

परिचयं केचन काळमनंतरम् प्रीत्यां परिवर्तितौ ! द्वयौ लिव इन रिलेशनशिप इत्यां रमिष्यत: ! यदा श्रद्धा पाणिग्रहणस्य भारम् कृतवती तदारंभे आफताब: न कृतवान ! अंते तया हतवान ! ज्ञाप्यते तत पाणिग्रहणस्य भारम् बर्धने आफताब: देहली आगतवान !

जान-पहचान कुछ समय बाद प्यार में बदल गई ! दोनों लिव इन रिलेशनशिप में रहने लगे ! जब श्रद्धा ने शादी का दबाव बनाया तो शुरुआत में आफताब ने टालमटोल की ! आखिर में उसे जान से ही मार डाला ! बताया जा रहा है कि शादी का दबाव बढ़ने पर आफताब दिल्ली आया !

पुनः छलेण श्रद्धामाहूतवान ! अत्रे अपि द्वयाभ्यां सह रमिष्यतः ! आरक्षकः पृच्छने आफताब: ज्ञाप्तवान तत १८ मई २०२२ तमम् तस्य पाणिग्रहणं गृहीत्वा श्रद्धाया बहु कलहम् अभवत् ! अस्यैव काळम् तं क्रोधे श्रद्धाम् ग्रीवा मर्दित्वा हतवान !

फिर बहाने से श्रद्धा को बुलाया ! यहाँ पर भी दोनों साथ रहने लगे ! पुलिस पूछताछ में आफताब ने बताया कि 18 मई 2022 को उसका शादी को लेकर श्रद्धा से काफी झगड़ा हुआ था ! इसी दौरान उसने गुस्से में श्रद्धा को गला दबाकर मार डाला !

अनंतरे साक्ष्य गोपनाय तस्या: शवस्य ३५ खंडानि कृतवान तेन च् देहल्या: भिन्न-भिन्न अंशेषु क्षिप्तवान ! इति मध्य महाराष्ट्रे उपस्थित: श्रद्धायाः ५९ वर्षीय पिता मदान वाकर: दीर्घकालात् पुत्र्या संपर्क न भूते तस्या: अन्वेषणमारंभयेत् ! ते पुत्र्या ज्ञापन् भवनस्य स्थाने प्राप्तवान तर्हि तत्र तालयंत्रम् स्थापितं लब्धवान !

बाद में सबूत छिपाने के लिए उसके शव के 35 टुकड़े किए और उसे दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों में फेंक दिया ! इस बीच महाराष्ट्र में मौजूद श्रद्धा के 59 वर्षीय पिता मदान वाकर ने लंबे समय से बेटी से सम्पर्क न होने पर उसकी खोजबीन शुरू की ! वे बेटी बताए गए फ्लैट के पते पर पहुँचे तो वहाँ ताला लगा मिला !

अंततः ८ नवंबर २०२२ तमम् सः पुत्र्या: गोपनस्य सूचनां पंजीकृतवान ! आरक्षकः स्वानुसंधानस्य केंद्रे आफताबम् धृत्वा अन्वेषणमारंभयेत् ! आरोपिनः नंबर सर्विलांस इत्यां स्थापित्वा शनिवासरम् तेन अनुसंधानितवान !

आखिरकार 8 नवम्बर 2022 को उन्होंने बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई ! पुलिस ने अपनी जाँच के केंद्र में आफताब को रखकर खोजबीन शुरू की ! आरोपित का नंबर सर्विलांस पर लगाकर शनिवार को उसे खोज निकाला !

आरक्षकः पृच्छने आफताब: स्वपातकं स्वीकृतवान ! सम्प्रति आरक्षकः आफताबतः अभवत् पृच्छनस्य आधारे मृतका श्रद्धाया शवस्य अंशानि अन्वेषणे संलग्नं अभवत् !

पुलिस पूछताछ में आफताब ने अपना गुनाह कबूल किया ! अब पुलिस आफताब से हुई पूछताछ के आधार पर मृतका श्रद्धा के शव के हिस्से तलाशने में जुटी हुई है !

ज्ञाप्यते तताधुनैवारक्षकः केचन अस्थी: लब्धवान ! सूचनायाः अनुसारम् हननस्यानंतरम् १८ दिवसानि एव आफताब: नित्यरात्र्या: लगभगम् २ वादनम् गृहतः निस्सरति स्म ! श्रद्धायाः शवस्य खंडानि वनानां क्षिपते स्म कुत्रचित् पशवः तेन भक्ष्येत् !

बताया जा रहा है कि अभी तक पुलिस कुछ हड्डियों को बरामद कर पाई है ! रिपोर्ट के अनुसार हत्या के बाद 18 दिनों तक आफताब रोज रात के करीब 2 बजे घर से निकलता था ! श्रद्धा के शव के टुकड़ों को जंगलों के फेंक आता था ताकि जानवर उसे खा लें !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

जोधपुरस्य सर्वकारी विद्यालये हिजाब धारणे संलग्ना: छात्रा: ! जोधपुर के सरकारी स्कूल में हिजाब पहनने पर अड़ी छात्राएँ !

राजस्थानस्य जोधपुरे हिजाब इतम् गृहीत्वा प्रश्नं अभवत् ! सर्वकारी विद्यालये छात्रा: हिजाब धारणे गृहीत्वा संलग्नवत्य:, तु तेषां परिजना:...

मेलकम् दर्शनमगच्छन् हिंदू महिला: शमीम: सदरुद्दीन: चताडताम्, उदरे अकुर्वताम् पादघातम् ! मेला देखने गईं हिन्दू महिलाओं को शमीम और सदरुद्दीन ने पीटा, पेट पर...

उत्तरप्रदेशस्य फर्रुखाबाद जनपदे एकः हिंदू युवके, तस्य मातरि भगिन्यां च् घातस्य वार्ता अस्ति ! घातस्यारोपम् शमीमेण सदरुद्दीनेण च्...

हल्द्वानी हिंसायां आहूय-आहूय हिंदू वार्ताहरेषु अभवन् घातम् ! ऑपइंडिया इत्यस्य ग्राउंड सूचनायां रहस्योद्घाटनम् ! हल्द्वानी हिंसा में चुन-चुन कर हिंदू पत्रकारों पर हुआ हमला...

उत्तराखंडस्य हल्द्वानी हिंसायां उत्पातकाः आरक्षक प्रशासनस्यातिरिक्तं घटनायाः रिपोर्टिंग कुर्वन्ति हिंदू वार्ताहरानपि स्वलक्ष्यमकुर्वन् स्म ! ते आहूय-आहूय वार्ताहरेषु घातमकुर्वन्...

हल्द्वान्यां आहतानां सुश्रुषायै अग्रमागतवत् बजरंग दलम् ! हल्द्वानी में घायलों की सेवा के लिए आगे आया बजरंग दल !

हल्द्वान्यां अवैध मदरसा-मस्जिदम् न्यायालयस्य आज्ञायाः अनंतरम् प्रशासनम् धराभीम गृहीत्वा ध्वस्तकर्तुं प्राप्तवत् तु सम्मर्द: उग्राभवन् ! प्रस्तर घातमकुर्वन्, गुलिकाघातमकुर्वन्,...