सार्वजनिक जीवने प्रधानमंत्री: नरेंद्र मोदिस्य विंशति वर्षम्, अमित शाहः अददात् शुभाशयः ! सार्वजनिक जीवन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 20 साल, अमित शाह ने दी बधाई !

0
185

गुजरातस्य मुख्यमंत्री: पुनः च् तस्य उपरांत प्रधानमंत्रीस्य रूपे नरेंद्र मोदी: सार्वजनिक जीवनस्य विंशतिम् वर्षे ७ अक्टूबर इतम् प्रवेशम् अक्रियते ! सार्वजनिक जीवने इति प्रकारस्य उप्लब्धिम् प्राप्त कृतं नरेंद्र मोदी: देशस्य प्रथम नेतारः सन्ति !

गुजरात के मुख्यमंत्री और फिर उसके बाद प्रधानमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी सार्वजनिक जीवन के 20वें साल में 7 अक्टूबर को प्रवेश कर गए ! सावर्जनिक जीवन में इस तरह की उपलब्धि हासिल करने वाले नरेंद्र मोदी देश के पहले नेता हैं !

पीएम मोदिस्य इति उप्लब्धियाम् केंद्रीय गृह मंत्री: अमित शाहः सः शुभाशयः अददात् ! नरेंद्र मोदी: सप्त अक्टूबर २००१ तमम् प्रथमदा गुजरातस्य मुख्यमंत्री: अनिर्मयत् ! अस्य उपरांत सः २०१४ तमेव सततं गुजरातस्य मुख्यमंत्री: अरहत् !

पीएम मोदी की इस उपलब्धि पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उन्हें बधाई दी ! नरेंद्र मोदी सात अक्टूबर 2001 को पहली बार गुजरात के मुख्यमंत्री बने ! इसके बाद वह 2014 तक लगातार गुजरात के मुख्यमंत्री रहे !

अमित शाहः स्व एकम् ट्वीते अकथयत् सप्त अक्टूबर इत्यस्य दिवसं देशस्य इतिहासे बहु महत्वपूर्णमस्ति ! वर्ष २००१ तमे इत्येव दिवसं नरेंद्र मोदी: गुजरातस्य मुख्यमंत्रिस्य रूपे शपथं ग्रहणतु ! अस्य उपरांत देशम् जनानां च् सेवायाम् नव कीर्तिमानम् निर्मयस्य यत् क्रमम् अचलयत् तः कदापि अस्थगित् न ! आश्रमत् आस्थगित् नमोस्य २० वर्षम् ! गुजराते वर्ष २००२, २००७, २०१२ तमे च् नरेंद्र मोदी: मुख्यमंत्रिस्य रूपे अचिनोत् !

अमित शाह ने अपने एक ट्वीट में कहा सात अक्टूबर का दिन देश के इतिहास में काफी महत्वपूर्ण है ! साल 2001 में इसी दिन नरेंद्र मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली ! इसके बाद देश और लोगों की सेवा में नए कीर्तिमान बनाने का जो सिलसिला चला वह कभी रुका नहीं ! बिना थके बिना रुके नमो के 20 साल ! गुजरात में साल 2002, 2007 और 2012 में नरेंद्र मोदी सीएम के रूप में चुने गए !

२०१४ तमे प्रथमदा लोकसभाया: निर्वाचनम् योद्धत् त्रयदा गुजरातस्य सीएम वसत: नरेंद्र मोदी: वर्ष २०१४ तमस्य लोकसभा निर्वाचन वाराणसी इत्येन अरणत् ! इति कालम् तस्य लोकप्रियतां गुजरातम् देशस्य च् प्रत्येक अंशेषु आसीत् !

2014 में पहली बार लोकसभा का चुनाव लड़ा तीसरी बार गुजरात का सीएम रहते हुए नरेंद्र मोदी ने साल 2014 का लोकसभा चुनाव वाराणसी से लड़ा ! इस समय उनकी लोकप्रियता गुजरात और देश के हर हिस्से में थी !

मोदिस्य अयम् लोकप्रियतां पश्य भाजपाम् वर्ष २०१३ तमे सः स्व प्रधानमंत्री पदस्य उम्मीदवारम् घोषितम् कृतवान ! वर्ष २०१४ तमम् निर्वाचनम् एनडीए नरेंद्र मोदिस्य नेतृत्वे अरणत् तेन च् बहु बहुमतम् प्राप्तम् अभवत् ! वर्ष २०१९ तमस्य लोकसभा निर्वाचने नरेंद्र मोदी: नेतृत्वे एनडीए इतम् पूर्वदास्य अपेक्षाम् बहु आसनानि अप्राप्यत् नरेंद्र मोदी: एकदा पुनः देशस्य पीएम अनिर्मयत् !

मोदी की यह लोकप्रियता देख भाजपा ने साल 2013 में उन्हें अपना प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया ! साल 2014 का चुनाव एनडीए नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में लड़ा और उसे प्रचंड बहुमत प्राप्त हुआ ! साल 2019 के लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी की नेतृत्व में एनडीए को पिछली बार के मुकाबले ज्यादा सीटें मिलीं और नरेंद्र मोदी एक बार फिर देश के पीएम बने।

गुजरातस्य सीएम वसत: मोदी: प्रदेशस्य चहुंमुखीम् विकासमकरोत् ! गुजरातस्य सीएम निर्मातैव २००१ तमे कच्छस्य भुजस्य च् भूकंपम् मोदिस्य नेतृत्वस्य एकम् वृहद परीक्षाम् नीयते तु सः इति प्राकृतिक आपदया विचलितं न अपितु स्व लगनस्य निष्ठाया: च् शक्ते इति प्रांतम् एकदा पुनः उद्तिष्ठयते !

गुजरात के सीएम रहते हुए मोदी ने प्रदेश का चौतरफा विकास किया ! गुजरात का सीएम बनते ही 2001 में कच्छ और भुज के भूकंप ने मोदी के नेतृत्व की एक बड़ी परीक्षा ली लेकिन वह इस प्राकृतिक आपदा से घबराए नहीं बल्कि इसका सामना दृढ़ इच्छाशक्ति से किया ! मोदी ने अपनी लगन एवं निष्ठा के दम पर इस इलाके को एक बार फिर से खड़ा कर दिया !

गुजरातस्य मुख्यमंत्रिस्य रूपे सः राज्यस्य मुख्य संरचनानि आवश्यकतेषु च् विशेषम् अदृष्टयते ! शिक्षाम्, स्वास्थ्यम्, कार्यम्, मार्गम्, विद्युतम् जलम् च् जनैव जनैव प्राप्ताय सः कल्याणकृतं योजनानि अचलयत् ! वाइब्रेंट इति गुजरात सम्मेलनेन सः गुजरातस्य उद्योगम् अर्थव्यवस्थाम् च् एकम् नवउच्चै अददात् !

गुजरात के सीएम के रूप में उन्होंने राज्य की बुनियादी संरचनाओं एवं जरूरतों पर विशेष ध्यान दिया ! शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार, सड़क, बिजली और पानी को जन-जन तक पहुंचाने के लिए उन्होंने कल्याणकारी योजनाएं चलाईं ! वाइब्रेंट गुजरात सम्मेलन के जरिए उन्होंने गुजरात के उद्योग एवं अर्थव्यवस्था को एक नईं ऊंचाई दी !

मई २०१४ तमे देशस्य प्रधानमंत्री: निर्मयस्य उपरांत मोदी: बहु वृहद निर्णयम् ग्रहणतु ! स्व प्रथम कैबिनेट इति सभायां अनाधिकृत धनम् पुनरागमनस्य निर्णयम् अभवत् ! अस्य उपरांत अर्थव्यवस्थायाम् सुधाराय जीएसटी नोटबन्दी इति च् यथा पगम् उत्थायत् !

मई 2014 में देश का प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी ने कई बड़े फैसले लिए ! अपनी पहली कैबिनेट की बैठक में कालाधन वापस लाने का फैसला हुआ ! इसके बाद अर्थव्यवस्था में सुधार के लिए जीएसटी और नोटबंदी जैसे कदम उठाए !

सामाजिक सुधाराय तत्क्षण त्रय तलाक इत्यस्य कुप्रथायाम् अवरोधाय त्रय तलाक इति विधेयकम् सम्पादितं अकार्यत् ! सर्जिकल स्ट्राइक बालाकोट स्ट्राइक इत्येन च् सः एकम् सख्त भारतस्य चित्रम् प्रस्तुयते !

सामाजिक सुधार के लिए तत्काल तीन तलाक की कुप्रथा पर रोक लगाने के लिए तीन तलाक विधेयक पारित कराया ! सर्जिकल स्ट्राइक एवं बालाकोट स्ट्राइक के जरिए उन्होंने एक मजबूत भारत की तस्वीर पेश की !

द्वयदा प्रधानमंत्री: निर्मयस्य उपरांत पीएम मोदी: जम्मू-कश्मीरम् विशेष राज्यस्य अंशम् दीयतम् अनुच्छेद ३७० इतम् समाप्त कृताय ऐतिहासिकम् निर्णयम् अग्रहणत् ! कोरोना पीड़ाया जनानि अर्थव्यवस्थाम् च् रक्षणार्थस्य तस्मिन् चिन्ताम् परिलक्ष्यत् ! मुख्यमंत्रिस्य प्रधानमंत्रिस्य च् रूपे नरेंद्र मोदी: भारतीय राजनीतिस्य इतिहासे स्व एकम् अन्यानि छविम् उत्सृज्यति !

दूसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद ने पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को खत्म करने के लिए ऐतिहासिक फैसला लिया ! कोरोना संकट से लोगों और अर्थव्यवस्था को बचाने की उनमें चिंता दिखी ! सीएम और पीएम के रूप में नरेंद्र मोदी ने भारतीय राजनीति के इतिहास में अपनी एक अलग छाप छोड़ी है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here