24 C
New Delhi

पंजाब मुख्यमंत्री अमरिंदरसिंहस्य विरुद्धम् मंत्रिण: विधायका: विरोधमारंभिताः ! पंजाब मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के खिलाफ मंत्रियों विधायकों ने खोला मोर्चा !

Date:

Share post:

पंजाबे नवजोत सिंह सिद्धो: कैप्टन अमरिंदर सिंहस्य च् मध्यस्य समाघातौ सम्प्रति निर्णायक रणे परिवर्तितौ, पंजाबस्य लगभगम् ३० कांग्रेस विधायका: नेतारः च् मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंहस्य विरुद्धम् विरोधमारंभिताः !

पंजाब में नवजोत सिंह सिद्धू और कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच का टकराव अब आर पार की जंग में बदल गया है,पंजाब के करीब 30 कांग्रेस विधायकों और नेताओं ने मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है !

इंद्रप्रस्थे कांग्रेस प्रमुखेण मेलितुम् पंच नेतारः इंद्रप्रस्थ प्रस्थानम् कृता: ! अद्य पंजाबस्य मंत्री तृप्त राजेंद्र सिंह बाजव: गृहे एतानि नेतृणाम् विधायकानां च् गोष्ठिमभवत् यस्यानंतरम् पंच सदस्यानां समूह निर्मयस्य निर्णयम् नीतं !

दिल्ली में कांग्रेस आला कमान से मिलने के लिए पांच नेता दिल्ली रवाना हो गए हैं ! आज पंजाब के मंत्री तृप्त राजेंद्र सिंह बाजवा के घर पर इन नेताओं और विधायकों की बैठक हुई जिसके बाद 5 सदस्यों की कमेटी बनाने का फैसला लिया गया है !

सूत्रा ज्ञापयन्ति तत नेतारः विधायका: च् राज्ये अधिकारिणां वृहदस्तरे स्थानांतरणतः अपि खिन्ना: सन्ति एतानि नेतृणाम् चभिमनम् सन्ति तत यत् आरक्षकरधिकारिण: नियुक्तानि ताः विधायकानां पक्षे मा सन्ति !

सूत्र बताते हैं कि ये नेता और विधायक राज्य में अधिकारियों के बड़े स्तर पर तबादले से भी नाराज हैं और इन नेताओं का मानना है कि जो पुलिस अधिकारी तैनात किए गए हैं वो विधायकों के पक्ष में नहीं हैं !

इति मध्याद्य कैप्टन अमरिंदर सिंहम् केचन परियोजनानामोद्घाटनम् कृतरासीत् तु तः यस्मिन् न प्राप्त: तर्हि द्वितीयम्प्रति हरीश रावतरपि स्व पंजाब भ्रमण त्रयचत्वारः दिवसाय विलंबित: !

इस बीच आज कैप्टन अमरिंदर सिंह को कुछ परियोजनाओं का उद्घाटन करना था लेकिन वो इसमें भी नहीं पहुंचे तो दूसरी तरफ हरीश रावत ने भी अपना पंजाब दौरा तीन चार दिन के लिए टाल दिया है !

तृप्त बाजवा: कथित: ममसलाहमस्ति तत मुख्यमंत्रीं परिवर्तनीयम् अन्यथा कांग्रेसम् नावशिष्यते ! वयं इति प्रकरणे बदितुम् सोनिया गांध्या मेलनायाद्य इन्द्रप्रस्थम् गच्छामः !

तृप्त बाजवा ने कहा मेरी राय है कि सीएम को बदला जाना चाहिए नहीं तो कांग्रेस नहीं बचेगी ! हम इस मामले पर बोलने के लिए सोनिया गांधी से मिलने आज दिल्ली जा रहे हैं !

चत्वारः मंत्रिण: तृप्त बाजवा: सुखजिंदर सिंह रंधावा, सुखबिंदर सिंह सरकारिया:, चरणजीत चन्नी: विधायक: परगट सिंहैः च् सह पंच नेतृणाम् एकः प्रतिनिधिमंडल: अद्य कांग्रेसस्य अंतरिमाध्यक्षा सोनिया गांध्या इंद्रप्रस्थे मेलिष्यन्ति !

चार मंत्रियों तृप्त बाजवा, सुखजिंदर सिंह रंधावा, सुखबिंदर सिंह सरकारिया, चरणजीत चन्नी और विधायक परगट सिंह समेत पांच नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल आज कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से दिल्ली में मिलेगा !

तत्रैव सिद्धो: सलाहकारौ प्यारे लाल गर्गम् मलविंदर सिंह मल्लीम् च् कांग्रेसम् कारणम् ज्ञापिताम् सूचना पत्रम् दत्तं ! इदम् सूचनापत्रम् प्यारे लाल गर्गस्य मलविंदर सिंह मल्लिण: च् कथनयो सोशलमीडिया लेख्यो दत्तम् !

वहीं सिद्धू के सलाहकारों प्यारे लाल गर्ग और मलविंदर सिंह मल्ली को कांग्रेस ने कारण बताओ नोटिस दिया है ! ये नोटिस प्यारे लाल गर्ग और मलविंदर सिंह मल्ली के बयान और सोशल मीडिया पोस्ट पर दिए गए हैं !

सूचनापत्रे द्वयो सलाहकारयो उत्तरं मेलनस्यानंतरम् इव कार्यवाह्याम् निर्णयम् नीष्यते ! अंततः पंजाबे इदृशं काभवत् तत यस्यानंतरम् कांग्रेसम् कारणम् ज्ञापयन्तु सूचनापत्रम् निर्गत कर्तुमभवत् !

नोटिस पर दोनों सलाहकारों के जवाब मिलने के बाद ही कार्रवाई पर फैसला लिया जाएगा ! आखिर पंजाब में ऐसा क्या हुआ कि जिसके बाद कांग्रेस को कारण बताओ नोटिस जारी करना पड़ा !

कलहम् सिद्धो: द्वयौ सलाहकारौ मलविंदर सिंह मल्लिण: प्यारे लालस्य विवादास्पद कथनाभ्याम् आरंभितौ ! कैप्टन अमरिंदर सिंह: पकिस्तानस्य विरुद्धम् एकम् कथनम् दत्त: स्म यस्यानंतरम् प्यारे लाल: इति कथनम् पंजाबस्य हितानां विरुद्धम् ज्ञापित: !

विवाद सिद्धू के दो सलाहकारों मलविंदर सिंह मल्ली और प्यारे लाल के विवादास्पद बयानों से शुरू हुआ ! कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तान के खिलाफ एक बयान दिया था जिसके बाद प्यारे लाल ने इस बयान को पंजाब के हितों के खिलाफ बताया था !

यस्यातिरिक्तं सिद्धो: सलाहकार: मलविंदर: कश्मीरतः धारा ३७० इतम् निर्वर्ते विवादितं लेखम् अलिखत् स्म ! अस्यैवानंतरम् पंजाबस्य मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह: द्वयौ सलाहकारौ अवच्छेदे रमस्य ज्ञानम् दत्त: स्म !

इसके अलावा सिद्धू के सलाहकार मलविंदर ने कश्मीर से धारा 370 को हटाने पर विवादित पोस्ट लिखी थी ! इसी के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने दोनों सलाहकारों को हद में रहने की नसीहत दी थी !

यस्यानंतरम् कांग्रेसस्याभ्यांतरमपि इति प्रकारस्य कथनेषु कार्यवाह्या: याचनामोत्थीति ! मनीष तिवारी: सन्दीप दीक्षित: च् यान् गृहीत्वा तीक्ष्ण कथने दत्तौ !

इसके बाद कांग्रेस के भीतर भी इस तरह के बयानों पर कार्रवाई की मांग उठ रही है ! मनीष तिवारी और संदीप दीक्षित ने इसको लेकर कड़े बयान दिए हैं !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

जोधपुरस्य सर्वकारी विद्यालये हिजाब धारणे संलग्ना: छात्रा: ! जोधपुर के सरकारी स्कूल में हिजाब पहनने पर अड़ी छात्राएँ !

राजस्थानस्य जोधपुरे हिजाब इतम् गृहीत्वा प्रश्नं अभवत् ! सर्वकारी विद्यालये छात्रा: हिजाब धारणे गृहीत्वा संलग्नवत्य:, तु तेषां परिजना:...

मेलकम् दर्शनमगच्छन् हिंदू महिला: शमीम: सदरुद्दीन: चताडताम्, उदरे अकुर्वताम् पादघातम् ! मेला देखने गईं हिन्दू महिलाओं को शमीम और सदरुद्दीन ने पीटा, पेट पर...

उत्तरप्रदेशस्य फर्रुखाबाद जनपदे एकः हिंदू युवके, तस्य मातरि भगिन्यां च् घातस्य वार्ता अस्ति ! घातस्यारोपम् शमीमेण सदरुद्दीनेण च्...

हल्द्वानी हिंसायां आहूय-आहूय हिंदू वार्ताहरेषु अभवन् घातम् ! ऑपइंडिया इत्यस्य ग्राउंड सूचनायां रहस्योद्घाटनम् ! हल्द्वानी हिंसा में चुन-चुन कर हिंदू पत्रकारों पर हुआ हमला...

उत्तराखंडस्य हल्द्वानी हिंसायां उत्पातकाः आरक्षक प्रशासनस्यातिरिक्तं घटनायाः रिपोर्टिंग कुर्वन्ति हिंदू वार्ताहरानपि स्वलक्ष्यमकुर्वन् स्म ! ते आहूय-आहूय वार्ताहरेषु घातमकुर्वन्...

हल्द्वान्यां आहतानां सुश्रुषायै अग्रमागतवत् बजरंग दलम् ! हल्द्वानी में घायलों की सेवा के लिए आगे आया बजरंग दल !

हल्द्वान्यां अवैध मदरसा-मस्जिदम् न्यायालयस्य आज्ञायाः अनंतरम् प्रशासनम् धराभीम गृहीत्वा ध्वस्तकर्तुं प्राप्तवत् तु सम्मर्द: उग्राभवन् ! प्रस्तर घातमकुर्वन्, गुलिकाघातमकुर्वन्,...